जमशेदपुरः लाइव पेंटिंग बनाकर केरल के मृत हथिनी को आर्टिस्ट सुमन ने दी श्रद्धांजलि - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 6 जून 2020

जमशेदपुरः लाइव पेंटिंग बनाकर केरल के मृत हथिनी को आर्टिस्ट सुमन ने दी श्रद्धांजलि

जमशेदपुर की युवा पेंटर सुमन प्रसाद ने लाइव पेंटिंग बनाकर केरल में मृत हथिनी के प्रति संवेदना प्रकट की है. पेंटर सुमन प्रसाद के उत्साहवर्धन के लिए पूर्व विधायक कुणाल षाड़ंगी भी पेंटिंग देखने पहुंचे. उन्होंने लाइव पेंटिंग के कॉन्सेप्ट की सराहना की है.
tribute-by-live-painting
जमशेदपुर (आर्यावर्त संवाददाता)  केरल में गर्भवती हथिनी को पटाखों से भरे अनानास खिलाकर क्रूरता से मारने के मामले में जमशेदपुर में भी खासा आक्रोश है. लोग सोशल मीडिया पर अपनी भावनाएं व्यक्त कर दोषियों को सजा दिलाने की वकालत कर रहे हैं. वहीं, जमशेदपुर के कदमा निवासी युवा पेंटर सुमन प्रसाद ने गुरुवार को लाइव पेंटिंग बनाकर मृत हथिनी के प्रति संवेदना प्रकट की है.  पेंटर सुमन प्रसाद के उत्साहवर्धन के लिए पूर्व विधायक कुणाल षाड़ंगी भी पेंटिंग देखने पहुंचे. उन्होंने लाइव पेंटिंग के कॉन्सेप्ट को सराहते हुए कहा कि केरल के इस अमानवीय घटना ने देश को झकझोर दिया है. ये पशु क्रूरता की पराकाष्ठा है. इधर, पिछले दो दिनों से पूर्व विधायक कुणाल षाड़ंगी भी गर्भवती हथिनी के दोषियों को सजा दिलाने के लिए ऑनलाइन हस्ताक्षर अभियान चला रहे हैं. पूर्व विधायक कुणाल षाड़ंगी ने लोगों से ऑनलाइन सिग्नेचर मुहिम से जुड़ने का आह्वान किया ताकि दोषियों को कठोरतम सजा मिले. इधर, कदमा निवासी पेंटर सुमन प्रसाद के भावुक पेंटिंग को सराहते हुए षाड़ंगी ने कहा कि केरल की घटना से हम सभी मर्माहत और हतप्रभ हैं. सुमन प्रसाद ने अपनी पेंटिंग के जरिए हथिनी को श्रद्धांजलि अर्पित किया है. पेटिंग में सुमन ने दर्शाया है कि कैसे गर्भवती हथिनी की मौत पर उसके पेट में पल रहे बच्चे की आवाज सुनाई दे रही है. कैसे इस अमानवीय और नृशंस कृत्य पर स्वयं भगवान गणेश रो रहे हैं. उन्होंने कहा कि दलमा सेंचुरी वाले इस शहर में हाथी को लेकर एक खास भावना है.

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...