मधुबनी : नगर जल निकासी को लेकर DM की नगर परिषद को फटकार ! - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 24 जुलाई 2020

मधुबनी : नगर जल निकासी को लेकर DM की नगर परिषद को फटकार !

  • जल निकासी के लिए किसी परमिशन की जरूरत नहीं

नगर जल निकासी को लेकर DM को नगर परिषद को फटकार ! जल निकासी के लिए किसी परमिशन की जरूरत नहीं. डीएम ने कार्यपालक पदाधिकारी को फटकार लगाते हुए कहा कि "आप नगर पालिक अधिनियम पढ़े हो, किसी की जमीन हो, बिल्डिंग भी तोडना है तो नाला निकासी के लिए तोड़ दो" तो तोड़ो -

मधुबनी 24, जुलाई, : जिला पदाधिकारी डॉ नीलेश रामचंद्र देवरे द्वारा आज मधुबनी शहर के विभिन्न मुहल्ले के जल जमाव का निरीक्षण किया गया।इस दौरान उनके साथ सदर अनुमंडल पदाधिकारी  श्री सुनील कुमार सिंह एवम् नगर कार्यपालक पदाधिकारी  एवम् कार्यपालक अभियंता भी मौजुद थे। शहर के कोतवाली चौक से दुमंथा रास्ते में 10 नंबर गुमटी के पास रेलवे लाइन के किनारे  का निरीक्षण  दौरान गाद , कचरे एवम् जलकुंभी को अविलंब सफाई कराने का निर्देश  नगर कार्यपालक पदाधिकारी को दिया ताकि पानी का बहाव तेज हो एवम् जल निकासी शीघ्र हो सके। इसी प्रकार रेलवे गुमटी न0 12 के पास स्थित विनोदानंद झा कॉलोनी जो विगत कई दिनों से जल जमाव के कारण लोगो के परेशानियों का सबब बना था। जिला पदाधिकारी को स्थानीय लोगों से पता चला कि  रेलवे गुमटी न0 12 के ओवरब्रिज निर्माण के दौरान पुलिया छोटा होने के कारण पानी  का बहाव अवरुद्ध हो गया है। जिला पदाधिकारी ने नगर कार्यपालक पदाधिकारी को बिहार नगर पालिका अधिनियम 2007 के तहत कारवाई करते हुए अविलंब पानी निकासी की व्यवस्था करने का आदेश दिया।  निरीक्षण के क्रम में रेलवे के 13 नंबर गुमटी के पास के जल निकासी द्वारो का निरीक्षण कर विद्यापति टावर के पास स्थित वाटसन कनाल की सफाई करने का निर्देश दिया।  आदर्श नगर के लोगो द्वारा जल जमाव के परेशानियों  के विरूद्ध सड़क जाम करने की सूचना मिलते ही जिला पदाधिकारी ने लोगो की समस्या को जानने वहां गए एवम् स्थानीय लोगों को इसका हल करने का आश्वासन दिया। साथ ही  इस समस्या के समाधान हेतु लहरियागंज के आगे बुबना मंदिर के समीप के पुलिया को तोड़कर बड़ा पुलिया निर्माण करने का निर्देश दिया।

कोई टिप्पणी नहीं: