मधुबनी : जिला में संभावित वर्षापात एवम् बाढ़ की तैयारियों की समीक्षा हुई - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 9 जुलाई 2020

मधुबनी : जिला में संभावित वर्षापात एवम् बाढ़ की तैयारियों की समीक्षा हुई

flood-prepration-meeting-madhubani
मधुबनी, 09, जुलाई,  मुख्य सचिव के अध्यक्षता में  9-14 जुलाई को संभावित वर्षापात एवं बाढ़ की संभावना को लेकर प्रभावित होने वाले जिलों के जिलाधिकारियों के साथ उनकी तैयारी को लेकर समीक्षा की गई। जिला पदाधिकारी डाॅ0 निलेश रामचन्द्र देवरे , अपर समाहत्र्ता, आपदा प्रभारी, जिला चिकित्सा पदाधिकारी, कार्यपालक अभियंता, जल संसाधन एवं सूचना एवं जन-सम्पर्क पदाधिकारी ने विडियो काॅन्फ्रेसिंग में भाग लिया। जिला पदाधिकारी ने संभावित बाढ़ को लेकर मधुबनी जिले कि तैयारियों से मुख्य सचिव, आपदा विभाग के प्रधान सचिव को अवगत कराया ।उन्होंने बताया कि जिले के बाढ़ संभावित प्रखंडो जयनगर, मधेपुर, एवं झंझारपुर में एस0डी0आर0एफ0 की टीम एवं बोट की प्रतिनियुक्त कर दी गई। तटीय इलाकों के अंचलाधिकारी एवम् जन प्रतिनिधि से निरंतर संपर्क बनाए रखा जा रहा है। तटबंध के इलाको में रह रहे लोगो को अलर्ट करने हेतु निरंतर माइकिंग कराई जा रही है।  विगत वर्ष के बाढ़ के दौरान चयनित शरण स्थलो एवं कोमनिटी किचेंन को आपात स्थिति में चलने हेतु सभी तैयारी  पुर्ण कर ली गई है। तटबंधीय क्षेत्रों मे ड्रोंन के माध्यम से भी जलस्तर का नियंत्रण निरक्षण किया जा रहा है। आगामी संभावित बाढ़ के मद्देनजर अगले तीन दिनों के लिए वोंट को भाड़े पर रख लिया गया है। जिले में आपदा कन्ट्रोल रूम का नंबर 06276257576 को 24*7  सेवारत रखा गया है।

कोई टिप्पणी नहीं: