झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 23 जुलाई - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 23 जुलाई 2020

झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 23 जुलाई

पूर्व विधायक शांतिलाल बिलवाल ने प्रदेष के सहकारिता मंत्री भदौरिया से भेट कर जिले को आवण्टित करवाया 2500 टन यूरिया खाद
दो तीन दिन में हीे वितरित होने लगेगा पर्याप्त यूरिया
jhabua news
झाबुआ ।  जिले भर में बारिश की आमद के साथ ही किसानों को यूरिया खाद की समस्या का सामना करना पड रहा है । अंचल के किसानों की इस अहम समस्या को लेकर तथा किसानों को यूरिया खाद की आपूर्ति नही होने को लेकर झाबुआ के पूर्व विधायक शांतिलाल बिलवाल ने बुधवार को राजधानी भोपाल में प्रदेश के सहकारिता मंत्री अरवीन्द भदौरिया से भेट करके उन्हे खाद एवं यूरिया की समस्या को हल करने के लिये पत्र सौपा तथा किसानों की खेतीबाडी के इस समय में होने वाली परेशानियों को लेकर विस्तार से चर्चा भी की । सहकारिता मंत्री अरवीन्द भदौरिया ने आदिवासी अंचल के किसानो की इस समस्या को गंभीरता से लेते हुए तत्काल ही 2500 टन यूरिया झाबुआ एवं आलीराजपुर जिले को आबंण्टित कर के अधिकारियों को निर्देशित किया कि झाबुआ जिले को तत्काल ही यूरिया की खेप पहूंचाई जावें । ज्ञातव्य है कि पूर्व विधायक शांतिलाल बिलवाल की पहल पर सहकारिता मंत्री के निर्देशो ं के पालन मे आज शाम तक विजयपुर से  2500 टन की एक रेक मेघनगर रेल्वे स्टेशन के लिये रवाना कर दी गई है। श्री बिलवाल ने बताया कि जिले के सभी किसानों को दो तीन दिन में यूरिया खाद मांग के अनुसार आपूर्ति करना प्रारंभ कर दिया जावेगा । पूर्व विधायक शांतिलाल बिलवाल ने सहकारिता मंत्री श्री भदौरिया द्वारा त्वरित निर्णय एवं कदम उठाये जाने पर उनका आभार व्यक्त करते हुए जिले के किसानों की ओर से धन्यवाद ज्ञापित किया है । जिले के किसानों ने  पूर्व भाजपा विधायक शातिलाल बिलवाल के किसान हित मे किये गये प्रयासो की सराहना की गई है।

सर्वाधिक सक्रिय सदस्य बनाने पर कुदनपुर अध्यक्ष हटिला का किया सम्मान

jhabua news
झाबुआ ।  भारतीय जनता पार्टी ही देेश की एक मात्र ऐसी राजनैतिक पार्टी है जिसमें कार्य करने वाले कार्यकर्ताओं की हमेशा कदम होती है तािा उन्हे समय समय पर उचित सम्मान भी दिया जाता है। किसी भी दल मेे नये सदस्यो विशेष कर सक्रिय सदस्य बनाने का जिम्मेवारी अहम मानी जाती है और झाबुआ जिले में भाजपा के कुंदनपुर मडल के अध्यक्ष  सुरसिंह हटिला  ने भाजयुमो के जिलाध्यक्ष भानु भूरिया के सहयोग एव मार्गदर्शन मे जिले मे सर्वाधिक सक्रिय सदस्य बनाने का गौरव हासील किया है । इसके लिये भारतीय जनता पार्टी निश्वित ही ऐसे कार्य के प्रति समर्पित कार्यकर्ताओं का सम्मान करके अपने आप को गौरवान्वित मानती है । उक्त बात जिला  भाजपा के अध्यक्ष लक्ष्मणसिह नायक ने बुधवार को जिला भाजपा कार्यालय मे सक्रिय सदस्यता की बुके एव फाम्र्स प्राप्त करते हुए उपस्थित भाजपा पदाधिकारियों एवं कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहीं । भाजपा के जिला कार्यालय मंत्री पण्डित महेन्द्र तिवारी ने बताया कि जिले मे सक्रिय सदस्यता के फाम्र्स का सकलन जिला स्तर पर किया जारहा है जिसमे  सुरसिंह हटिला द्वारा सर्वाधिक सक्रिय सदस्य बनाने का कीर्तिमान बनाया गया है । श्री हटिला एवं भानु भूरिया ने श्री नायक को सक्रिय सदस्यता की बुके सौपी गई । इस अवसर पर कुंदनपुर के उपाध्यक्ष भारतसिह मेडा,सरपच  श्री मचार,  अंकुर पाठक, नाना राठौर, महेन्द्र तिवारी, राजेन्द्र सोनी  आदि उपस्थित  थे ।

शांति समिति की बैठक संपन्न

jhabua news
कालीदेवी। आगामी त्योहारों के मद्देनजर तहसीलदार जप सीईओ  बीएमओ थाना प्रभारी व गांव के गणमान्य नागरिकों की उपस्थिति में शांति समिति की बैठक संपन्न हुई । बैठक में थाना प्रभारी गौरव पाटिल ने बताया कि आगामी समय में आने वाले त्यौहार नागपंचमी ईद रक्षाबंधन को सादगी पूर्ण मनाएं कोरोना संक्रमण को देखते हुए चेहरे पर हमेशा  मास्क लगाकर रखें सामाजिक दूरी बनाकर रखें किसी भी आयोजन में 5 से ज्यादा लोग एक जगह पर एकत्रित ना हो सार्वजनिक आयोजन की सूचना प्रशासन व पुलिस को दें तहसीलदार प्रवीण ओहरिया ने कहा कि कोई भी सार्वजनिक आयोजन बिना प्रशासन को सूचना दिए ना करें धार्मिक आयोजन में 5 से ज्यादा लोग एक जगह पर एकत्रित ना हो आपस में दूरी बनाकर रखें सड़क दुकानों पर भीड़ ना लगने दे अपनी दुकानों के बाहर अनावश्यक किसी को ना बैठने दे पुलिस व प्रशासन का सहयोग करें कोरोना संक्रमण के प्रति लोग जागरूक नहीं है नियम सभी के लिए बने हैं सभी को उसका पालन करना चाहिए बीएमओ शैलेश बबेरिया ने कहा कि सभी व्यापारी अपनी दुकानों पर सैनिटाइजर रखें चेहरे पर मास्क लगाएं जप सीईओ एम एल टाक ने कहां की सचेत रहे शासन के नियमों का पालन करें बुजुर्गों बच्चों को भीड़भाड़ से दूर रखें उपस्थित नागरिकों ने गांव में खुले में हो रहे मांस विक्रय  पर बंदी लगाने का कहा।

86 वां गणेषोत्सव  कोविड जागरूकता पर्व के रूप  में मनाया जावेगा
  • मंदिर में किसी भी प्रकार के सांस्कृतिक एवं सार्वजनिक आयोजन नही होगें
  • सार्वजनिक गणेष मंडल की बैठक में लिये गये महत्वपूर्ण निर्णय
jhabua news
झाबुआ । नगर के सबसे पुराने सार्वजनिक गणेश मंडल द्वारा पिछले 85 वर्षो से नगर के राजवाडा चैक पर गणेशोत्सव का आयोजन किया जाता रहा है। सार्वजनिक गणेश मंडल का 86 वां गणेशोत्सव 22 अगस्त से 1 सितम्बर तक मनाये जाने को लेकर मंडल के अध्यक्ष राजेन्द्र प्रसाद अग्निहौत्री की अध्यक्षता एवं महासचिव नानालाल कोठारी की मुख्य आतिथ्य में पैलेस गार्डन में बुधवार रात्री को बैठक का आयोजन किया गया । इस वर्ष कोविड-19 केे देश भर में बढते प्रकोप एवं कोराना  वायरस महामारी को देखते हुए 11 दिवसीय गणेशोत्सव के सभी कार्यक्रमों को निरस्त करते हुए  कोविड जागरूकता पर्वै के रूप  में मनाये जाने का सर्वानुमति से निर्णय लिया गया । बैठक में जानकारी देते हुए नीरजसिंह राठौर के सुझाव को मान्य किया गया कि इस वर्ष सांस्कृतिक आयोजनों आदि को निरस्त किया जाकर कोराना जागरूकता के लिये सार्वजनिक गणेश मंडल अपनी भूमिका का निर्वाह करेगा ।  बैठक में नानालाल कोठारी ने बताया कि इस बार सोश्यल डिस्टेसिंग का पालन करते हुए 22 अगस्त को राजवाडा स्थित श्री सत्यनारायण मंदिर में दो बा्रह्मणां की उपस्थिति में लालसिंह चैहान सपत्नीक मुख्य जजमान के रूप  में श्री गणेशजी की स्थापना विधि विधान से करेगें । पूरे 11 दिवसीय आयोजन के दौरान किसी भी प्रकार के ढाल ढमाके, ध्वनि विस्तारक यंत्रों, लाउडस्पीकर आदि का उपयोग नही किया जावेगा । सिर्फ मंदिर की साज सज्जा ही करवाई जावेगी । मंदिर में दर्शनों के आने वाले श्रद्धालुओं के लिये सोश्यल डिस्टेटिंग का पालन करना  सुनिश्चित किया गया है । सार्वजनिक गणेशोत्सव द्वारा इस बार कोविड-9 कोराना वायरस से बचाव के लियेे एक अपील भी जारी करेगा जिसे नगर में घर घर वितरित की जावेगी ।गणेशात्सव के दौरान प्रतिदिन प्रातः एवं सांयकालीन आरती सिर्फ मंदिर के पूजारी द्वारा ही की जावेगी । 22 अगस्त को गणेशजी की प्रतिमा को परम्परागत तरिके से सोश्यल डिस्टेसिंग के साथ मंदिर में बिना किसी ढोल ढमाकों के साथ लाई जावेगी । इस बार सार्वजनिक गणेशोत्सव के लिये किसी भी प्रकार का आर्थिक सहयोग भी नही लिया जावेगा । मंदिर में स्थापित की जाने वाली प्रतिमा नीरजसिंह राठौर तथा पूजनादि अनुष्ठान के मुख्य जजमान लालसिंह चैहान रहेगें । बैठक में डा. केके त्रिवेदी, नानालाल कोठारी, राजेन्द्र प्रसाद अग्निहौत्री, लालसिंह चैहान, नीरजसिंह राठौर, रामगोपाल सोनगरा, रविराजसिंह राठौर, अब्दुल रहीम, राजेन्द्र सोनी, योगेश सोनी, अशोक शर्मा, अजय पंवार, विष्णु व्यास एवं पण्डित जनार्दन शुक्ला आदि ने भी बैठक में सहभागिता कर अपने सुझाव दिये । सर्वानुमति से तय किया गया कि इस बार गणेशोत्सव में किसी भी प्रकार के सार्वजनिक एवं सांस्कृतिक आयोजन नही किये जावेगें । अन्त मे आभार प्रदर्शन करते हुए नानालाल कोठारी ने बताया कि आगामी अन्तिम बैठक 12 अगस्त बुधवार को पैलेस गार्डन में रात्री 8 बजे होगी जिसमें सभी सदस्यों की उपस्थिति प्रार्थनीय है ।

किसान भाई अपनी फसलों का बीमा करवाकर जोखिम से बचें

झाबुआ। प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना का उद्देष्य प्राकृतिक आपदाओं से फसल क्षति होने पर बीमित कृषकों को क्षतिपूर्ति उपलब्ध करा के वित्तीय समर्थन प्रदान करना है, ताकि कृषक, कृषि व्यवसाय में बने रहते हुये उन्नत तकनीकी का उपयोग एवं टिकाऊ- नवीन/ अभिनव कृषि के लिए प्रोत्साहित हों। उप संचालक कृषि श्री एन.एस.रावत ने अवगत कराया है कि मौसम की अनिष्चितता को देखते हुए, प्राकृतिक आपदाओं, कीट एवं रोगों से किसी भी अधिसूचित फसल के नष्ट होने की स्थिति में किसानों को बीमा आवरण एवं वित्तीय समर्थन प्राप्त हो सके, इसके लिये कृषि विभाग द्वारा किसानों सेे अपील की गई हैं कि अधिक से अधिक संख्या में अपनी फसलों का 31 जुलाई 2020 के पूर्व फसल बीमा करवाना सुनिष्चित करें। जिससे फसलों में प्राकृतिक आपदाओं से होने वाले नुकसान की भरपाई होकर, जोख्मि से बचा जा सके। जिले के सभी किसान प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना का लाभ खरीफ मौसम में ले सकते है। यह योजना शासन द्वारा किसानों के हित में खेती किसानी उद्यम को समुचित आर्थिक सुरक्षा प्रदान करने के उद्देष्य से प्रारंभ की गई है। खरीफ मौसम में सभी अनाज दलहन, तिलहन फसलों के लिए बीमित राषि का मात्र अधिकतम 2 प्रतिषत प्रीमियम कृषकों द्वारा देय है तथा कपास फसल के लिए अधिकतम 5 प्रतिषत प्रीमियम देय है। शेष प्रीमियम राज्य एवं केन्द्र सरकार द्वारा वहन किया जाता है। खरीफ 2020 में फसलों का बीमा कराने की अंतिम तिथि 31 जुलाई 2020 है। इच्छुक कृषक अंतिम तिथि के पूर्व अपनी अधिसूचित फसलों का बीमा करवा सकते है। अधिसूचित क्षेत्रों में अधिसूचित फसलें उगानेवाले बटाईदारों और काष्तकारों सहित सभी किसान अपनी फसलों का बीमा आच्छादन प्राप्त करने हेतु पात्र है। योजना सभी कृषकों हेतु स्वैच्छिक की गई है। अल्पकालिक फसल ऋण प्राप्त करने वाले कृषकों की फसलों का बीमा संबंधित बैंक द्वारा किया जावेगा। अऋणी कृषक अपनी अधिसूचित फसलों का बीमा बैंक, लोकसेवा केन्द्र एवं कार्यरत बीमा कंपनी के अधिकृत एजेण्ट के माध्यम से करवा सकते है। अऋणी कृषकों के लिए आवष्यक दस्तावेज फसल बीमा प्रस्ताव फार्म। आधार कार्ड। पहचान पत्र - शासन द्वारा मान्य दस्तावेज, जैसे वोटर कार्ड, राषन कार्ड, पेन कार्ड, आधार कार्ड, समग्र आई.डी. ड्रायविंग लायसेंस इत्यादि। भू - अधिकार पुस्तिका। बुवाई प्रमाण-पत्र पटवारी या ग्राम पंचायत सचिव द्वारा जारी। समस्त ऋणी एवं अऋणी कृषकों हेतु आधार कार्ड अनिवार्य है तथा मोबाईल नं. वांछित है। स्वैच्छिक बीमा जो ऋणी कृषक  अपनी फसलों का बीमा नहीं कराना चाहते हो, वे बीमांकन की अंतिम तिथि 31 जुलाई 2020 से 7 दिवस पूर्व अर्थात् 24 जुलाई 2020 तक संबंधित बैंक में लिखित में आवेदन कर निर्धारित प्रपत्र भरकर योजना से बाहर जा सकते है। खरीफ 2020 हेतु अधिसूचित की गई फसलें  जिला स्तर पर:- उडद फसल तहसील स्तर पर झाबुआ एवं रामा में मूंगफली एवं कपास फसल। राणापुर में ज्वार, मूंगफली एवं कपास फसल। मेघनगर, थांदला एवं पेटलावद में कपास फसल। फसल बीमा के संबंध में अधिक जानकारी प्राप्त करने अथवा समस्या समाधान के लिए निकटवर्ती बैंक शाखा, प्राथमिक सहकारी साख समिति, कृषि, उद्यानिकी विभाग के मैदानी अमले तथा विकासखण्ड स्तरीय शासकीय सेवकों से सम्पर्क कर सकते हैं।

जिले में पिछले 24 घण्टें में 1.2 मि.मी. औसत वर्षा दर्ज

झाबुआ। जिले में पिछले 24 घण्टे में 1.2 मि.मी. औसत वर्षा दर्ज की गई है। रामा में 3.4 मि.मी., थांदला में 3.8 मि.मी. वर्षा दर्ज की गई है। अधीक्षक  भू - अभिलेख से प्राप्त जानकारी के अनुसार जिले में इस वर्ष 1 जून से अब तक 302.7 मि.मी. औसत वर्षा दर्ज की गई है। थांदला में सर्वाधिक 402.2 मि.मी. तथा सबसे कम रानापुर में 164.0 मि.मी. वर्षा दर्ज की गई है। इस दौरान झाबुआ में 368.2 मि.मी., रामा में 257.2 मि.मी., पेटलावद में 299.6 मि.मी., मेघनगर में 325.0 मि.मी. वर्षा हो चुकी है। जबकि जिले में गतवर्ष इसी अवधि में 377.6 मि.मी. औसत वर्षा दर्ज की गई थी। झाबुआ में 334.4 मि.मी., रामा में 420.0 मि.मी., थांदला में 466.6 मि.मी., पेटलावद में 359.6 मि.मी., रानापुर में 395.0 मि.मी. तथा मेघनगर में 290.0 मि.मी. वर्षा दर्ज की गई थी।  

\आगामी चार दिनों का मौसम पूर्वानुमान

झाबुआ। जिले में आने वाले चार दिनों में आसमान में मध्यम घने से घने बादल रहने, अधिकतम व न्यूनतम तापमान 33.0 से 34.0 व 23.0 से 24.0 डि.से. के बीच रहने, हवा पश्चिम से दक्षिण - पश्चिम दिशा से 15.8 से 19.6 कि.मी./घंटा चलने एवं आगामी चार दिनों में 22.0 मि.मी. वर्षा होने का अनुमान है। मौसम विभाग से प्राप्त जानकारी के अनुसार जिले में 23 जुलाई को आसमान में घने बादल रहने तथा 24 जुलाई से 26 जुलाई तक आसमान में मध्यम घने बादल रहने का अनुमान है। आगामी तीन दिनों में हवा पश्चिम दिशा से तथा 26 जुलाई को हवा दक्षिण-पश्चिम दिशा से चलने का अनुमान है। इसी प्रकार 23 जुलाई को 8.0 मि.मी., 24 जुलाई को 3.0 मि.मी., 25 जुलाई को 5.0 मि.मी., तथा 26 जुलाई को 6.0 मि.मी. वर्षा होने का अनुमान है।

कोई टिप्पणी नहीं: