झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 22 जुलाई - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 22 जुलाई 2020

झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 22 जुलाई

पारा मे फुटा कोरोना बम बिति रात मे निकले पांच संक्रमीत मरीज, नगर मे कोरोना के हुए 16 मरीज

jhabua news
पारा । बिति रात नगर के लिए एक बार फिर से बुरी खबर आई जिससे नगर मे हडकंप मचगया। विगत दिनो स्वास्थ्य विभाग द्वारा संक्रमीत मरीजो के सम्पर्क मे आए लोगो के सेम्पल लिए गए थे। जिनकी रिर्पोट देर रात आई । जिसमे से पांच लोगो का संक्रमीत होना पाया गया। जिला प्रशासन द्वारा विगत दिनो पारा नगर मे कोरोना के बढते संक्रमण को देखते हुए कोरोना कि चेन तोडने के लिए पारा नगर मे सात दिन का टोटल लाॅक डाउन किया गया था। इन सात दिनो मे इक्का दुक्का कोरोना के संक्रमीत मरीज मिले जिनकर संख्या 11 हो गई थी। सात दिन का टोटल लाॅक डाउन समाप्ति पर था कि रविवार कि देर रात एक बार फिर से पारा कोरोना बम फुटा व 5 लोगो कि रिर्पोट पाजिटिव आई।ं जिनमे से दो लोग कन्टेन्मेंट एरिया सदर बाजार हे। वही दो लोग राजगढ रोड के व एक बस स्टैण्ड के पास का है। कन्टेंमेन्ट झोन के दो लोग पाजिटिव आए हे उनके परिवार के दो सदस्य पुर्व मे ही कोंविड सेन्टर झाबुआ पर आईसोलेशन मे है। इस तरह एक ही परिवार के चार सदस्य आईसोलेशन मे पहुच गए। वही पारा मे संक्रमीत मरीज कि संख्या बढ कर 16 होगई जिसमे से कल तीन लोगो कि कोविड सेन्टर झाबुआ से छुट्टी हुई जिससे नागरिको मे हर्ष था। लेकिन ये खुशी ज्यादा देर न ठहर सकी वदेर रात मे ही इसने लोगो कि निंद उडादी। सदर बाजार का कन्टैमेंन्ट झोन खुलने कि बजाय बंद ही होता जा रहा है। वही जिला प्रशासन कि टोटल लाॅेक डाउन कि युक्ति भी कारगर साबित नही हो रही है। स्वास्थ्य विभाग पारा के कोरोना वारीर्यस डाॅ के एस डोडवा ने बताया कि आज फिर से पारा नगर के नए कनटेंमेन्ट झोन मे संक्रमीत मरीजो के सम्पर्क मे आए लोगो से सेम्पल लिए है। जिसमे से  16 लोग पाजिटिव पाए गए । वही आज नगर कि सुरक्षा मे लगे व कटेटमेंट झोन मे अपनी सेवाए दे रहे पुलिस विभाग के कर्मचारयो का भी सेम्पल लिये हैै।

जिला क्राइम ब्रांच पुलिस के प्रयास से पकडाया फरार मुजरीम

jhabua news
 झाबुआ। जिला पुलिस अधीक्षक झाबुआ के निर्देशन में क्राइम ब्रांच की युवा टीम स्थानीय पुलिस की सहायता से लगातार बेहतर कार्य कर रही है। विगत कुछ समय में उन्होंने वारंटी घोषित ईनाम के अनेक कुख्यात मुजरिमों को पकड़ने में सफलता पाई है। इसी कड़ी में एक बार फिर मुखबिर कि सूचना पर ईनामी आरोपी मड़िया पिता मांगू वसुनिया उम्र 38 साल निवासी मेहँदीखेड़ा को एएसआई राजेन्द्र शर्मा, प्रआर156 सुनिल राजपूत, प्रआर 055 नक्का भूरिया, आर 260 रुपेश गरवाल, आर 574 विजय, आर,49 तानसिंह, आर,472 नारजी भाबोर द्वारा आरोपी माड़िया को अवैध शराब के साथ घेराबंदी कर पकड़ा ।आरोपी मड़िया थाना कल्याणपुरा के अपराध क्र. 255ध्16 आईपीसी की धारा 395 एवं थाना कोतवाली झाबुआ में पारा पेट्रोल पम्प लूट अपराध क्र. 209ध्18 आईपीसी की धारा 395 व 25 बी आर्म्स एक्ट में स्थाई ईनामी वारन्टी था। टीम ने अथक परिश्रम कर आरोपी मड़िया को मय अवैध शराब के धरदबोचा। उक्त सफलता पर जिला पुलिस कप्तान ने पूरी टीम को बधाई देते हुए पुरुस्कृत किया है।

डेढ़ साल से फरार आरोपी भी पुलिस गिरफ्त में
जिले की युवा टीम ने चैकी अंतरवेलीया प्रभारी  सहायक उप निरीक्षक राजेंद्र शर्मा के नेतृत्व में प्रधान आरक्षक 156 सुनील राजपूत, प्रधान आरक्षक 055 नक्का भूरिया, आरक्षक 260 रुपेश गरवाल, आरक्षक 574 विजय द्वारा थाना मेघनगर के अपराध क्रमांक 294ध् 1998 आईपीसी धारा 420, 468, 471  भादवी के स्थाई फरारी वारंटी बाबू पिता रणछोड़ जाति पटेलिया उम 22 वर्ष निवासी अंतरवेलिया को घेराबंदी कर पकड़ कर अग्रिम कार्रवाई हेतु थाना मेघनगर को सुपुर्द कर दिया है। उक्त आरोपी करीब डेढ़ साल से पुलिस के साथ लुकाछिपी खेल रहा था।

स्वर्गीय टंडन का लम्बा सार्वजनिक जीवन जनता की सेवा में समर्पित रहा- सासद गुमानसिह डामोर
प्रदेष के राज्यपाल लालजी टंडन का मंगलवार सुबह निधन भाजपा ने स्मरण कर दी श्रद्धांजलि
jhabua news
झाबुआ । मध्य प्रदेश के राज्यपाल और भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता रहे लालजी टंडन का मंगलवार प्रातःकाल निधन हो गया । महामहिम राज्पाल श्री लालजी टंडन के निधन पर भारतीय जनता पार्टी जिला झाबुआ द्वारा शोक व्यक्त किया गया है  तथा हुतात्मा को श्रद्धांजलि अर्पित की गई है। क्षेत्रीय सांसद गुमानसिंह डामोर ने राज्यपाल श्री लालजी टंडन निधन पर दुख व्यक्त करते हुए कहा है कि लालजी टंडन को उनकी समाज सेवा के लिए सदैव याद किया जाएगा। उन्होंने भारतीय जनता पार्टी को उत्तर प्रदेश में मजबूत बनाने में अहम रोल निभाया, वे जनता की भलाई के लिए काम करने वाले नेता थे।. सांसद गुमानसिह डामोर ने कहा कि लालजी टंडन को कानूनी मामलों की भी अच्छी जानकारी रही और अटलजी के साथ उन्होंने लंबा वक्त बिताया। मध्यप्रदेश के राज्यपाल एवं उत्तर प्रदेश की एक कद्दावर शख्शियत लालजी टंडन के निधन का समाचार बहुत पीड़ादायक है.। उनका लम्बा सार्वजनिक जीवन जनता की सेवा में समर्पित रहा और उन्होंने अपने काम से एक अलग छाप छोड़ी है। स्वभाव से बेहद मिलनसार टंडनजी कार्यकर्ताओं के बीच भी बेहद लोकप्रिय थे ।. विभिन्न पदों पर रहते हुए उन्होंने जो विकास कार्य कराये उसकी सराहना आज भी उत्तर प्रदेश के लोग करते हैं। . ईश्वर समस्त शोक संतप्त परिवार को दुःख की इस घड़ी में धैर्य और संबल प्रदान करे। जिला भाजपा अध्यक्ष लक्ष्मणसिंह नायक ने प्रदेश के राज्यपाल श्री लालजी टंडन के निधन श्रद्धाजंलि अर्पित करते हुए कहा कि वे महान व्यक्तित्व थे, बाबूजी के नाम से उत्तर प्रदेश मे जनजन के प्रिय रहे है । उन्होने कई युवाओं को आगे बढ़ने में मदद की और विचारधारा सिखाई। लालजी टंडन कानून के ज्ञाता होने  के साथ ही सबको साथ लेकर काम करने वाले व्यक्तित्व के रूप  मे जाने जाते रहे है।  वे भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता के साथ ही प्रदेश के राज्यपाल के रूप  में भी उनकी प्रदेश विकास मे निर्वाह की गई भूमिका को सदैव याद किया जावेगा । भारतीय जनता पार्टी के कार्यालय मंत्री महेन्द्र तिवारी ने जानकारी देते हुए बताया कि प्रदेश के राज्यपाल लालजी टंडन के महाप्रयाण पर पूर्व विधायक शातिलाल बिलवाल, कलसिह भाबर, सुश्री निर्मला भूरिया, प्रदेश कार्यसमिति सदस्य दौलत भावसार, शैलेष दुबे, जिला महामंत्री श्यामा ताहेड, प्रफुल्ल गादिया, प्रवीण सुराणा, नगर मडल अध्यक्ष बबलु सकलेचा, जिला उपाध्यक्ष अजय पोरवाल, जिला मीडिया प्रभारी राजेन्द्र सोनी, जितु सेन, अर्पित कटकानी, पण्डित महेन्द्र तिवारी, अंकुर पाठक, ने भी राज्यपाल श्री लालजी टंडन के निधन पर शोक व्यक्त करते हुए उन्हे भावभीनी श्रद्धाजलि अर्पित की है। जिला भाजपा के सभी पदाधिकारियों, जिले के सभी मंडल अध्यक्षो, मोर्चा प्रकोष्ठो के पदाधिकारियो की ओर से महामहिम श्री टंडन जी को स्मरण कर उन्हे श्रद्धाजंलि अर्पित की है ।

हरियाली अमावस्या पर पर्यावरण संगोष्ठी के साथ परिसर में किया पौधरोपण

jhabua news
झाबुआ । रतलाम दिव्यानंद निराले बाबा पशु पक्षी हॉस्पिटल के विशाल परिसर में समन्वय मिशन के प्रेरक जैनाचार्य दिव्यानंद सूरीश्वर जी महाराज साहब ने पर्यावरण संगोष्ठी के कार्यक्रम में विचार प्रस्तुत करते हुए कहा कि पुत्र के जन्म लेने पर उसके खाने पीने रहने की संपूर्ण व्यवस्था करते हैं तो फिर ऑक्सीजन के लिए पेड़ क्यों नहीं लगाते हैं जिसने पेड़ नहीं लगाया उसे ऑक्सीजन लेने का कोई अधिकार नहीं है  हरियाली अमावस पर उन्होंने  कि वृक्ष धर्म संस्कृति का आधार है धर्म का प्राण है। उन्होंने स्पष्ट कहा कि वृक्ष का कोई विकल्प नहीं है एक वृक्ष की सेवा करना माता पिता और परमात्मा की सेवा से बढ़कर है क्योंकि इनके सहयोग के बिना वह एक पल भी जिंदा नहीं रह सकते। राष्ट्रसंत ने कहा कि प्रकृति की रक्षा करना धर्म भगवान और मोक्ष की रक्षा करने से बढ़कर है वृक्ष को काटना अपने पांव पर कुल्हाड़ी चलाने के समान है। जैन संत कहा कि आध्यात्मिक संस्कृति में वृक्ष जल पहाड़ धरती को भगवान की भांति पूजनीय माना है उपासना पद्धति के माध्यम से इनका नुकसान और छेड़छाड़ नहीं होनी चाहिए। निराले बाबा ने बताया कि धर्म के उपासना कर्मकांड के अंदर होली ,दिवाली, दुर्गा पूजा, गणेश चतुर्थी, रमजान आदि धार्मिक पर्व पर  प्रकृति नष्ट हो रही है धर्म आचार्यों को मिलकर प्रकृति की रक्षा को ध्यान में रखकर उपासना पद्धति का निर्माण करना होगा।  इस अवसर पर मुख्य अतिथि के रूप में गणपत जाधव राष्ट्रीय  स्वयं सेवक संघ के पूर्व  तहसील प्रमुख जावरा,पूर्व एकल विद्यालय प्रांत योजना थे । जिन्होने पर्यावरण पर विचार रखे । लोकेन्द्र गहलोत, मुकेश मालवीय, पंकज जोशी, राकेश शर्मा, लवी संचेती आदि भक्त जन उपस्थित थे। 

हरियाली छटा मे भगवान गोवर्धननाथ ने झुले मे बिराजित हो दिये दर्षन
  • हरियाली एव सोमवती अमावस्या पर भगवान के दर्षनो के लिये श्रद्धालुओं का लगा ताता

jhabua news
झाबुआ । हरियाली अमावस्या के पावन अवसर एवं श्रावण माह के तीसरे सोमवार के साथ ही सोमवती अमावस्या के संयोग पर  नगर के हृदय स्थल पर भगवान श्री गोवर्ध्रननाथजी की हवेली में सायकाल 6-30 बजे से भगवान श्री गोवर्धननाथजी को झुले पर आच्छादित हरियाली के बीच झुलाया गया । कोराना संक्रमण के चलते सोश्यल डिस्टेसिग का पालन करते हुए सायकाल भगवान के झुला दर्शन के लिये श्रद्धालुजन दो दो गज की दूरी बना कर उन्होने भगवान के श्री विग्रह के दर्शनो का लाभ लिया । इस पावन अवसर पर  पण्डित दिलीप आचार्य द्वारा भगवान के झुले का हरियाली से आच्छादित मनोहारी श्रृगार किया गया । पुष्टि परम्परा के अनुसार आश्विन कृष्णा अमावस्या (कोरट की आरती) के पूर्व पण्डित रमेश त्रिवेदी, गोकूलेश आचार्य, एवं कान्हा अरोडा की टीम द्वारेा आकर्षक कीर्तनों की संगीतमय प्रस्तुति दी गई । हरियाली अमावस्या के अवसर पर कोराना काल के चलते ज्यादा भक्तों को मंदिर में प्रवेश नही दिया जारहा है तथा बारी बारी से दर्शन लाभ दिये जारहे हे । पांच कीर्तनो के बाद भगवान श्री गोवर्धन जो झुले में रुपहरी गाज के श्याम वस्त्र, काछनी, सूथन, पटका, श्रीमस्तक पर जड़ाउ मुकूट, हीरे के आभुषण, वनमाला का श्रृँगार, पिछवाई-श्याम सुनहरी बूँटे से श्रृगारित थे तथा मदिर में  विविध खिलौने एवं भगवान के मनोरंज के साधन रखे गये थे, के दर्शन लाभ के लिये  दर्शनार्थियों का जमावडा बना रहा ।  आरती के बाद कार्यक्रम का समापन किया गया

जिले के प्रभारी सचिव श्री पोरवाल द्वारा कोविड-19 प्रबंधन की सघन समीक्षा
कोरोना वायरस संक्रमण की रोकथाम एवं बचाव के लिये कार्ययोजना तैयार की जाए -श्री पोरवाल
jhabua news
झाबुआ। जिले के प्रभारी सचिव श्री विवेक पोरवाल ने सोमवार को यहां कलेक्टेªट सभा कक्ष में कोविड-19 प्रबंधन की समीक्षा बैठक ली। प्रभारी सचिव श्री पोरवाल ने इस बैठक में जिले में चिकित्सकों पेरामेडिकल स्टाप की उपलब्धता की जानकारी प्राप्त की। श्री पोरवाल ने इस बैठक को सम्बोधित करते हुवे कहा कि कोरोना वायरस संक्रमण के बचाव एवं रोकथाम के लिये जिले में विशेष प्रयास करने की आवश्यकता है। व्यक्तियों को सर्दी, जुखाम, बुखार होने से जाॅच कराने पर पाजिटिव पाए जाने पर उन्हें तत्काल घर पर ही कोरेन्टाईन किया जाए और उसका इलाज भी प्रारम्भ कर दिया जाए। साथ ही सेम्पल की जाॅच रिपोर्ट नेगेटिव आने पर कोरेन्टाईन से मुक्त कर दिया जाए। पाजिटिव केश पाए जाने पर स्थानीय स्तर पर कोरेन्टाईन किया जाना बेहतर होगा। श्री पोरवाल ने कोरोना संक्रमण की रोकथाम एवं बचाव के लिये कार्ययोजना तैयार करने तथा दवावईयों की व्यवस्था सुनिश्चित करने के निर्देश दिये। इस बीमारी पर विजय पाने के लिये चुनाव की तैयारियों की भाॅंति कार्ययोजना तैयार कर इस चुनौति का डटकर सामना करें। साथ ही कम्युनिकेशन प्लान भी तैयार कर लिया जाए ताकि कहीं पर भी कोरोना वायरस के लक्षण के मरिजों की सूचना प्राप्त होने पर उनका स्वास्थ्य परीक्षण समय पर हो सकें और इस चुनौति का बेहतर ढं़ग से सामना किया जा सकें। उन्होंने कहा कि इस बीमारी से बचने के लिये लोगों को घर में रहने, सड़कों पर न घुमने, आपस में न मिलने तथा मास्क का उपयोग करने और सोसलडिस्टेंसिंग का कड़ाई से पालन करना चाहिये।उन्होंने आर.आर.टी. टीम की टेªनिंग शीघ्र रखी जाने के निर्देश दिये। उन्होंने अपेक्षा करते हुवे कहा कि इस जिले में अधिकारियों की टीम बहुत अच्छी है निश्चित रूप से इस बीमारी पर विजय प्राप्त कर लेंगे। बैठक के प्रारम्भ में कलेक्टर श्री प्रबल सिपाहा ने कोविड-19 कोरोना वायरस के संक्रमण की स्थिति की जानकारी देते हुवे अवगत कराया की जिले में माह मई में 13, जून में 3 तथा जुलाई माह में 68 इस प्रकार अब तक जिले में 84 व्यक्ति कोरोना पाॅजिटिव पाए गये हैं। इनमें से 39 व्यक्तियों का इलाज चल रहा है और 43 व्यक्तियों को उपचार उपरांत छुट्टी कर दी गई है तथा 3 व्यक्तियों की मृत्यु हो चुकी है। श्री सिपाहा ने कोरोना संक्रमण की रोकथाम तथा बचाव के लिये किये गये प्रबंध की जानकारी दी। श्री सिपाहा ने प्रभारी सचिव को आश्वस्थ किया कि इस बैठक में दिये गये निर्देशों का कड़ाई से क्रियान्वयन सुनिश्चित किया जावेगा और कोरोना वायरस के संक्रमण पर विजय पा ली जावेगी। बैठक में पुलिस अधीक्षक आशुतोष गुप्ता, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री सिद्धार्थ जैन, सहायक कलेक्टर श्री आकाशसिंह, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ. बी.एस. बारिया, सिविल सर्जन डाॅ. बी.एस. बघेल सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

अधिक संक्रमण वाले जिल¨ं में अब सप्ताह में 2 दिन रहेगा लाॅकडाउन
  • कार्यालय व प्रतिष्ठान 30 से 50 प्रतिशत तक कर्मचारी संख्या में संचालित ह¨ंगे
  • मुख्यमंत्री श्री च©हान ने क¨र¨ना की स्थिति एवं व्यवस्थाअ¨ं की समीक्षा की
झाबुआ। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह च©हान ने कहा है कि क¨र¨ना संक्रमण र¨कने के लिए अब प्रदेश के अधिक संक्रमण वाले जिल¨ं में सप्ताह में 2 दिन लगातार पूर्ण लाॅकडाउन रहेगा। इस द©रान आवश्यक सेवाएं छ¨ड़कर सभी गतिविधियां प्रतिबंधित रहेंगी। लाॅकडाउन रविवार क¨ रहेगा ही, दूसरा दिन शनिवार ह¨ या स¨मवार, यह जिला क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप के निर्णय अनुसार तय किया जाएगा। सभी जिल¨ं में रात्रिकालीन कफ्र्यू रात्रि 8 बजे से प्रातरू 5 बजे तक रहेगा। मुख्यमंत्री श्री च©हान मंत्रालय में वीडिय¨ कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से प्रदेश में क¨र¨ना की स्थिति एवं व्यवस्थाअ¨ं की समीक्षा कर रहे थे। मुख्यमंत्री श्री च©हान ने कहा कि संक्रमणमुक्त जिल¨ं क¨ छ¨ड़कर अन्य सभी जिल¨ं में राज्य एवं केन्द्र सरकार के सभी कार्यालय 30 प्रतिशत से 50 प्रतिशत क्षमता के साथ संचालित किए जाएंगे, अधिकारी शत-प्रतिशत आएंगे। निजी कार्यालय एवं व्यापारिक प्रतिष्ठान भी 30 प्रतिशत से 50 प्रतिशत क्षमता में संचालित ह¨ंगे। निजी दफ्तर तथा व्यापारिक संस्थान¨ में क¨ई क¨र¨ना पाॅजीटिव मिलने पर उसे 7 दिन के लिए बंद कर दिया जाएगा। 

गाँव¨ं पर दें विशेष ध्यान
समीक्षा में बताया गया कि प्रदेश के 53 गाँव¨ं में क¨र¨ना संक्रमण था, जिनमें से अब 17 गाँव¨ं में संक्रमण बचा है। मुख्यमंत्री श्री च©हान ने निर्देश दिए कि गाँव¨ं में विशेष सावधानी रखी जाए, जिससे संक्रमण आगे न बढ़े।

ज¨ अधिकारी-कर्मचारी गाइड लाइन का पालन नहीं करेंगे, दंडित ह¨ंगे
मुख्यमंत्री श्री च©हान ने निर्देश दिए कि यदि क¨ई अधिकारी-कर्मचारी मास्क नहीं लगाता है, फिजीकल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं करता है अथवा अन्य तरीके से क¨र¨ना गाइड लाइन का उल्लंघन करता है त¨ उनके विरूद्ध कार्रवाई की जाएगी। जबलपुर में एक शादी समार¨ह में कुछ शासकीय अधिकारिय¨ं द्वारा गाइड लाइन का उल्लंघन किए जाने क¨ मुख्यमंत्री ने अंत्यत गंभीरता से लेते हुए निर्देश दिए कि उनकी सूची उपलब्ध कराई जाए, उनके विरूद्ध कार्रवाई की जाएगी।

ग्वालियर एवं मुरैना में लाॅकडाउन से मिला लाभ
ग्वालियर एवं मुरैना जिले की समीक्षा में पाया गया कि वहाँ लाॅकडाउन से क¨र¨ना संक्रमण में कमी आई है। ग्वालियर में गत दिन¨ं 15 प्रतिशत तक पाॅजिटिविटी पहुंच गई थी, ज¨ कि अभी किए गए लाॅकडाउन के बाद 7 प्रतिशत रह गई है। मुरैना में लाॅकडाउन से पाॅजिटिविटी दर 1.6 प्रतिशत रह गई है। मुख्यमंत्री श्री च©हान ने निर्देश दिए कि जिला क्राइसिस समूह की बैठक कर आगे के लाॅकडाउन पर विचार किया जाए। लाॅकडाउन धीरे-धीरे ख¨ला जाए।

ष्बुरहानपुर माॅडलष् क¨ अपनाएं
मुख्यमंत्री श्री च©हान ने कहा कि बाॅर्डर जिला ह¨ने के बावजूद बुरहानपुर ने क¨र¨ना संक्रमण र¨कने में ज¨ कार्य किया है वह सराहनीय है। अन्य सभी जिले, विशेष रूप से अन्य राज्य¨ं के सीमावर्ती जिले, बुरहानपुर माॅडल क¨ अपनाएं। बुरहानपुर ने दूसरे राज्य से तथा संक्रमित क्षेत्र¨ं से आने वाले व्यक्तिय¨ं की माॅनीटरिंग का अच्छा सिस्टम बनाया अ©र उन्हें उनके घर¨ं में 14 दिन तक क्वारेंटाइन किया। इससे संक्रमण र¨कने में काफी मदद मिली।

संक्रमण र¨कने के लिए मेल-मिलाप कम करना ह¨गा
क¨र¨ना संक्रमण की समीक्षा में पाया गया कि भ¨पाल सहित अन्य जिल¨ं में जहाँ संक्रमण बढ़ा है, उसका एक प्रमुख कारण ल¨ग¨ं का आपस में मेल-मिलाप है। इसके लिए ल¨ग¨ं क¨ जागरूक करना ह¨गा कि अनावश्यक मेल-मिलाप न ह¨ तथा मिलते समय फिजीकल डिस्टेंसिंग का पूरा पालन किया जाए। कहीं भी अधिक संख्या में ल¨ग इकट्ठे न ह¨ं।

घर पर ही रहकर मनाएं आगामी सभी त्य©हार
मुख्यमंत्री श्री च©हान ने जनता से अपील की कि आगामी रक्षाबंधन, ईद आदि सभी त्य©हार घर पर रहकर ही मनाएं। सार्वजनिक रूप से क¨ई भी त्य©हार मनाने की अनुमति नहीं ह¨गी।

आशा कार्यकर्ता क¨ पल्स आॅक्सीमीटर
मंत्री डाॅ. प्रभुराम च©धरी ने सुझाव दिया कि हर गांव में आशा कार्यकर्ता क¨ पल्स आॅक्सीमीटर व टैम्प्रेचर गन उपलब्ध करवाए जाएं, जिससे क¨र¨ना मरीज¨ं की जल्दी पहचान आसान ह¨ सके। उन्ह¨ंने फीवर क्लीनिक क¨ अधिक प्रभावी बनाए जाने की भी बात कही। कलेक्टेªट झाबुआ में स्थित एन.आई. सी कक्ष में जिले के प्रभारी सचिव श्री विवेक पोरवाल, कलेक्टर श्री प्रबल सिपाहा, पुलिस अधीक्षक श्री आशुतोष गुप्ता, वन मण्डला अधिकारी श्री हरित, मुख्य कार्यपालन अधिकारी  जिला पंचायत श्री सिद्धार्थ जैन, सहायक कलेक्टर श्री आकाशसिंह, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ.बी.एस.बारिया, सिविल सर्जन डाॅ.बी.एस.बघेल, उप संचालक कृषि श्री एन.एस. रावत सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

कोई टिप्पणी नहीं: