अयोध्या हुई राममय : हर कोना भक्तिरस से सराबोर - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 4 अगस्त 2020

अयोध्या हुई राममय : हर कोना भक्तिरस से सराबोर

ayodhya-with-ram-music
अयोध्या (उप्र), चार अगस्त, अयोध्या नगरी को बुधवार पांच अगस्त का इंतजार है, जब राम मंदिर निर्माण की शुरूआत भूमि पूजन से होगी । हर ओर पुलिस के बैरियर, पीले बैनर, दीवारों पर नये पेंट का नजारा और भजन—कीर्तन है तथा हर कोना भक्तिरस से सराबोर दिख रहा है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के अलावा तमाम बडे राजनेता और साधु संतों सहित 175 आमंत्रित लोग इस ऐतिहासिक अवसर के साक्षी बनेंगे । कोरोना वायरस के प्रसार को लेकर चिन्तित प्रशासन लोगों को अयोध्या आने से बचने को कह रहा है । जनता से अपील की गयी है कि वे घरों में ही रहकर यह उत्सव मनायें । भूमि पूजन कार्यक्रम का सीधा प्रसारण किया जाएगा । अयोध्या की ओर जाने वाले हर रास्ते पर प्रस्तावित राम मंदिर और राम लला के चित्रों वाली होर्डिंग लगायी गयी है । हनुमानगढी क्षेत्र में पुलिस का सायरन और भजन दोनों ही भगवान राम की भक्ति में लीन दिख रहे हैं । मोदी बुधवार को हनुमानगढी के दर्शन करेंगे। अधिकतर दुकानों का रंग-रूप संवर गया है व चटक पीले रंग का पेंट लगाया गया है । बडी संख्या में पुलिस बल तैनात हैं ।

इस मौके को खास बनाने के लिए खंभों को पीले कपडे से लपेटा गया है व फूलों से सजाया गया है । कार्यक्रम के एक दिन पहले अयोध्या जा रहे वाहनों की जांच की जा रही है। पुलिसकर्मी आने-जाने वालों के मोबाइल नंबर सहित पूरा ब्यौरा नोट कर रहे हैं । वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक दीपक कुमार ने बताया कि कोविड—19 दिशानिर्देशों का पालन करने पर अधिक ध्यान दिया जा रहा है । हम किसी बाहरी व्यक्ति को अयोध्या नगरी में प्रवेश नहीं करने देंगे । निषेधाज्ञा लागू कर दी गयी है और एक साथ चार से अधिक लोग कहीं एकत्र नहीं हो सकते हैं । उन्होंने बताया कि बाजार और दुकानें खुली रहेंगी लेकिन कोविड नियमों का कडाई से अनुपालन करना होगा । अयोध्या के निवासियों को पहचान पत्र दिखाने पर आने-जाने की सुविधा रहेगी । एसएसपी ने बताया कि मंदिर अैर मस्जिद खुले रहेंगे लेकिन भूमि पूजन के अलावा बुधवार को कोई अन्य धार्मिक कार्यक्रम नहीं होगा । अयोध्या में रह रहे लोगों की चेकिंग की जा रही है ताकि सुनिश्चित हो सके कि कोई बाहरी व्यक्ति यहां आकर नहीं टिका है । शहर में संवेदनशील जगहों पर पिकेट लगायी गयी हैं और पुलिसकर्मी पूरी तरह मुस्तैद हैं । इस बीच रेस्तरां चलाने वाले मयंक गुप्ता ड्यूटी पर तैनात कुछ पुलिसकर्मियों को खाने के पैकेट दे रहे हैं । उन्होंने बताया कि दिन में दो बार वह पुलिसकर्मियों को टिफिन दे रहे हैं । करीब एक सौ पुलिसकर्मियों को वह टिफिन सेवा प्रदान कर रहे हैं ।

कोई टिप्पणी नहीं: