मधुबनी :बाढ़ पीड़ितों के लिए दो साल में बनवाएंगे 10 लाख मकान : यशवंत - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 4 अगस्त 2020

मधुबनी :बाढ़ पीड़ितों के लिए दो साल में बनवाएंगे 10 लाख मकान : यशवंत

yashwaant-sinha-in-madhubani
मधुबनी (आर्यावर्त संवाददाता) समाजवादी जनता दल (डेमोक्रेटिक) दो वर्षों के भीतर बिहार में बाढ़ पीडि़तों के लिए दस लाख मकान बनाएगा। प्रत्येक परिवार को दो बेडरूम का मकान उपलब्ध कराया जाएगा। उपर्युक्त घोषणा देश के पूर्व वित्त मंत्री सह पूर्व विदेश मंत्री यशवंत सिन्हा ने झंझारपुर एनएच किनारे एक होटल में प्रेसवार्ता के दौरान की। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार भले अपनी पीठ थपथपाए, लेकिन देश की आर्थिक हालत बद से बदतर है। उन्होंने कहा कि बिहार सरकार बाढ़ और कोरोना, दोनों में बुरी तरह विफल साबित हुई है। पूर्व वित्त मंत्री ने कहा कि बिहार में प्रतिवर्ष बाढ़ आती है, लेकिन सरकार बाढ़ रोकने के लिए सही कदम नहीं उठा रही है। बाढ़ रोकने के जो उपाय हो रहे हैं, वह काली कमाई का जरिया बना हुआ है। यहां के शासन का प्रशासन पर नियंत्रण नहीं है। उन्होंने कहा कि सरकार अगर बाढ़ नहीं रोक सकती, सुरक्षात्मक तटबंध नहीं बना सकती, तो कम से कम बाढ़ के समय पीडि़तों को रखने की तो व्यवस्था करे, लेकिन बिहार में ऐसा नहीं हो रहा है। अधिकांश पीडि़त आबादी एनएच पर शरण लिए हुए है। उन्होंने कहा कि बिहार सरकार का बजट सवा दो लाख करोड़ रुपये का है। पीडि़तों के दस लाख मकान बनाए जाने पर दो हजार करोड़ की राशि खर्च आएगी, लेकिन इस योजना को सजद (डी) भीख मांगकर भी दो वर्षों में पूरा करेगी। उन्होंने कहा कि हमारा गठबंधन बिहार विधानसभा के चुनाव में मजबूती से उतरेगा। वहीं, पूर्व केंद्रीय मंत्री देवेंद्र प्रसाद यादव ने कहा कि लोग वर्चुअल रैली कर रहे हैं। हमलोग सीधे जनता से संवाद कर रहे हैं। लोगों की पीड़ा में हम उनके साथ हैं। उन्होंने केंद्र और राज्य सरकार को हर मोर्चे पर विफल बताया। इस प्रेसवार्ता के दौरान बिहार के पूर्व मंत्री नागमणि के अलावा संगठन के डॉ. सत्यानंद शर्मा, अफाक रहमान भी साथ थे। इससे पूर्व प्रबोध चंद्र दास ने दोनों पूर्व मंत्री का मिथिला परंपरा अनुसार पाग-दोपट्टा से सम्मान किया।

कोई टिप्पणी नहीं: