कश्मीर में फिर से कड़े प्रतिबंध लागू - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 4 अगस्त 2020

कश्मीर में फिर से कड़े प्रतिबंध लागू

ban-in-kashmir
श्रीनगर, 03 अगस्त, केन्द्रशासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर में कोरोना वायरस (काेविड-19) महामारी के प्रसार को रोकने के लिए श्रीनगर और घाटी के अन्य हिस्सों में सोमवार से फिर से कड़े प्रतिबंध लागू होने पर दुकानें और व्यावसायिक प्रतिष्ठान बंद रहे और सड़कों से वाहन नदारद रहे। जम्मू-कश्मीर से विशेष राज्य का दर्जा समाप्त करने और राज्य को पांच अगस्त को दो केन्द्रशासित प्रदेश में विभाजित करने की पहली सालगिरह से दो दिन पहले कड़े प्रतिबंध लागू किए गए हैं। कश्मीर घाटी के विभिन्न जिलों के उपायुक्त ने हालांकि कहा है कि काेरोना वायरस के मामलों में बढ़ोतरी के मद्देनजर प्रतिबंध लागू करने के आदेश दिये गये हैं। अधिकारियों ने यह भी कहा है कि कोरोना के प्रसार को रोकने के लिए लाॅकडाउन लगाया गया है। पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती की बेटी इल्तिजा मुफ्ती ने कहा है कि यह साफ तौर पर कश्मीर में लोगों के गुस्से को छिपाने के लिए किया जा रहा है। केन्द्रशासित प्रदेश में रविवार को कोरोना संक्रमण के 444 नये मामले सामने आए जिनमें से ऊधमपुर से रिकॉर्ड सर्वाधिक 69 नये मामले, जम्मू से 65 और श्रीनगर के 62 नये मामले हैं। कोरोना वायरस के संक्रमण से कल श्रीनगर से चार मामलों सहित कुल आठ लोगों की मौत हो गयी है। इसी के साथ प्रदेश में इस वायरस के संक्रमण से अभी तक 396 लोगों की मौत हो चुकी है। अधिकारियों ने कहा, “ कश्मीर घाटी में विशेषकर श्रीनगर में लोगों, वाहनों और सभी तरह की गतिविधियों पर कड़ाई से प्रतिबंध लगाया गया है। यह कोरोना संक्रमण से मौत और नये मामलों को लेकर सबसे ज्यादा प्रभावित क्षेत्र है।” उन्होंने कहा कि हालांकि आवश्यक सेवाओं और मेडिकल आपात स्थिति के अलावा सरकारी अधिकारियों, बैंक और निर्माण कार्य प्रतिबंध के दायरे में नहीं आएंगे और इन क्षेत्रों के लोगों काे उचित सत्यापन के बाद अपने कार्यक्षेत्र में जाने की अनुमति दी जाएगी। ग्रीष्मकालीन राजधानी के केन्द्र लाल चौक सहित सभी सड़कें और बाजार सील कर दिये गये हैं और लॉकडाउन का सख्ती से पालन करके कोविड-19 के प्रसार को रोकने के लिए जनता से सहयोग का अाग्रह किया जा रहा है। श्रीनगर में लॉकडाउन के मद्देनजर नये शहर, सिविल लाइंस, पुराना शहर में दुकानें और व्यावसायिक प्रतिष्ठान बंद रहे और सड़कों पर वाहनों की आवाजाही पूर्ण रूप से बंद रही। शहर में सुरक्षा बलों को तैनात किया गया है और इसके बाहरी इलाकों में भी लॉकडाउन सख्ती से लागू किया गया है। घाटी के अन्य हिस्सों उत्तर में सोपोर, बारामुला, कुपवाड़ा और उत्तर कश्मीर में अनंतनाग, पुलवामा, कुलगाम और शोपियां में इसी तरह के प्रतिबंध की रिपोर्ट मिल रही हैं।

कोई टिप्पणी नहीं: