बिहार : बगहा शहर सुरक्षात्मक कार्य का भी मुख्यमंत्री ने हवाई सर्वेक्षण किया - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 7 अगस्त 2020

बिहार : बगहा शहर सुरक्षात्मक कार्य का भी मुख्यमंत्री ने हवाई सर्वेक्षण किया

  • मुख्यमंत्री गंडक बराज, वाल्मीकिनगर,पश्चिम चम्पारण का निरीक्षण किया। निरीक्षण के क्रम में मुख्यमंत्री ने बराज के संचालन से संबंधित विस्तृत जानकारी वहां उपस्थित वरीय अधिकारियों से ली। मुख्यमंत्री ने बराज संचालन कार्य को तत्परतापूर्वक कराने का निर्देश दिया.....
cm-visit-baghaa-for-flood-inspaaction
बगहा,07 अगस्त। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने आज गंडक नदी पर बने पिपरा-पिपरासी तटबंध का हवाई सर्वेक्षण किया। यह तटबंध उत्तर प्रदेश एवं बिहार की सीमा पर निर्मित है। मुख्यमंत्री ने पिपरा-पिपरासी तटबंध के 32.38 किलोमीटर से 32.56 किलोमीटर के बीच क्षतिग्रस्त बोल्डर स्टड संरचनाओं के पुनस्र्थापना कार्य का हवाई सर्वेक्षण किया। साथ ही बगहा शहर सुरक्षात्मक कार्य का भी मुख्यमंत्री ने हवाई सर्वेक्षण किया। मुख्यमंत्री गंडक बराज, वाल्मीकिनगर,पश्चिम चम्पारण का निरीक्षण किया। निरीक्षण के क्रम में मुख्यमंत्री ने बराज के संचालन से संबंधित विस्तृत जानकारी वहां उपस्थित वरीय अधिकारियों से ली। मुख्यमंत्री ने बराज संचालन कार्य को तत्परतापूर्वक कराने का निर्देश दिया। उन्होंने गंडक बराज के 1 से लेकर 18 फाटकों का गहन निरीक्षण किया तथा फाटकों के संचालन से संबंधित जानकारी ली। मुख्यमंत्री बराज के निरीक्षण के पश्चात गंडक बराज के कंट्र्ोल रूम का भी जायजा लिया तथा गंडक बराज से विगत दिनों में डिस्चार्ज किए गए पानी की भी जानकारी ली। मुख्यमंत्री ने सावधानीपूर्वक कार्यों का निष्पादन करने का निर्देश संबंधित अधिकारियों को दिया।

मुख्यमंत्री ने कंट्र्ोल रूम परिसर में स्थानीय स्तर पर निर्मित पेवर ब्लाॅक की लगायी गई प्रदर्शनी का अवलोकन किया। उच्च गुणवत्तापूर्ण पेवर ब्लाॅक की मुख्यमंत्री ने सराहना की तथा वहां उपस्थित कामगारों की हौसला अफजाही की। उन्होंने पेवर ब्लाॅक का निर्माण करने वाले कामगारों से बातचीत के क्रम में कहा कि राज्य सरकार द्वारा लाॅकडाउन के दौरान वापस लौटे व्यक्तियों को उनके घर के पास ही रोजगार मुहैया कराने के लिए हरसंभव प्रयास किये जा रहे हैं ताकि उन्हें किसी परेशानी का सामना नहीं पड़ना पड़े तथा उनका जीविकोंपार्जन हो सके। जिलाधिकारी पश्चिम चम्पारण कुंदन कुमार ने मुख्यमंत्री को बताया कि लाॅकडाउन के दौरान वापस लौटे कामगारों, श्रमिकों को उनके हुनर के अनुसार रोजगार मुहैया कराया जा रहा है। कई श्रमिकों एवं कामगारों को रोजगार उपलब्ध कराने का कार्य युद्धस्तर पर लगातार जारी है। निरीक्षण के दौरान विधायक वाल्मीकिनगर धीरेन्द्र प्रताप सिंह उर्फ रिंकू सिंह, विधान पार्षद भीष्म सहनी, जदयू जिलाध्यक्ष-सह- पूर्व सांसद कैलाश बैठा, मुख्यसचिव दीपक कुमार, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव चंचल कुमार,जल संसधान विभाग के सचिव संजीव हंस, आयुक्त तिरहुत प्रमंडल पंकज कुमार, जिलाधिकारी कुंदन कुमार, पुलिस अधीक्षक बगहा सहित अन्य वरीय अधिकारी उपस्थित थे।

कोई टिप्पणी नहीं: