मधुबनी : डीएम ने की रैपिड एंटीजन टेस्ट समेत स्वास्थ्य केन्द्रों की समीक्षा। - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 3 अगस्त 2020

मधुबनी : डीएम ने की रैपिड एंटीजन टेस्ट समेत स्वास्थ्य केन्द्रों की समीक्षा।

जिला पदाधिकारी डॉ नीलेश रामचंद्र देवरे के द्वारा जिला में रैपिड एंटीजन टेस्ट समेत  कोरोना मरीजों के दी जाने वाली विभिन्न  सुविधाओं के मुद्दो पर  अनुमंडल पदाधिकारी, प्रखंड विकास पदाधिकारी तथा प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों के विभिन्न पदाधकारियों के साथ की समीक्षा।
  • सिविल सर्जन,मधुबनी भी थे मौजूद।

dm-mdhubnai-inspaction-covid-test-and-hospital
मधुबनी, 3 अगस्त : जिला पदाधिकारी डॉ नीलेश रामचंद्र देवरे द्वारा जिला के सभी  अनुमण्डलाधिकारी,  प्रखण्ड विकास पदाधिकारी/  एम0ओ0आई0सी0 /बीसीएम/ बी0एच0एम0 के साथ प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों पर हो रहे रैपिड एंटीजन टेस्ट , कॉरोना केयर सेंटर तथा होम आइसोलेशन के मरीजों  को दी जा रही सुविधाओं  की  समीक्षा  विडियो कान्फ्रेंसिग के माध्यम से किया गया। इस दौरान  सिविल सर्जन तथा विशेष कार्य  पदाधिकारी एवम् अन्य पदाधिकारी उनके साथ उपस्थित थे। जिला पदाधिकारी ने सभी  प्रखण्डो के प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र में कार्यरत चिकित्सा प्रभारी एवं बी0एच0एम0 से प्रतिदिन हो रहे रैपिड एंटीजन टेस्ट  की संख्या बढ़ाने तथा इसकी संख्या प्रतिदिन प्रतिकेंद्र न्यूनतम  50  टेस्ट करने  का टारगेट भी दिया। साथ ही ततक्षण पोर्टल में उनका एंट्री करने का निर्देश दिया गया। मरीजों के पॉजिटिव आने पर काउंसिलिंग करने का निर्देश पीएचसी प्रभारी को दिया गया।होम आइसोलेट मरीजों से प्रतिदिन दो बार   बात करने एवम् उनको मेडिसिन किट उपलब्ध कराने का निर्देश दिया  साथ ही ANM  से उन होम आइसोलेट मरीजों का फॉलो अप लेने का भी निर्देश दिया गया। ब्लॉक स्तर पर  कोराना के लक्षण वाले मरीजों को रखने के लिए आइसोलेशन वार्ड चिन्हित करने का निर्देश प्रखंड विकास पदाधिकारी एवम् प्रभारी चिकित्सा पदाधकारी को दिया।जिला पदाधिकारी ने सभी अनुमंडल पदाधिकारी को अपने अनुमंडल में इन कार्यों की मॉनिटरिंग करने का आदेश दिया।

कोई टिप्पणी नहीं: