चुनाव आयोग के नए दिशा निर्देशो से सत्ताधारी दल को मिलेगा लाभ : कांग्रेस - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 22 अगस्त 2020

चुनाव आयोग के नए दिशा निर्देशो से सत्ताधारी दल को मिलेगा लाभ : कांग्रेस

ec-new-policy-profitable-for-government-congress
नयी दिल्ली 21 अगस्त,  कांग्रेस ने कोरोना महामारी के बीच विधानसभा चुनाव के लिए चुनाव आयोग के नए दिशानिर्देशों को सत्ताधारी पार्टी को लाभ पहुंचाने वाला करार दिया और कहां कि इसमें निष्पक्ष, पारदर्शी और स्वतंत्र चुनाव संपन्न होना संभव नहीं है। कांग्रेस महासचिव के सी वेणुगोपाल ने शुक्रवार को यहां जारी एक विज्ञप्ति में कहा कि आयोग को कोरोना महामारी के दौरान चुनाव कराने के लिए जो सुझाव कांग्रेस तथा अन्य विपक्षी दलों ने दिए हैं उनका समावेश इन दिशानिर्देशों में नहीं किया गया है और ऐसा करना लोकतंत्र के लिए अच्छा नहीं है। चुनाव आयोग देश में कोरोना महामारी को देखते हुए राज्यों में विधान सभा चुनाव कराने के बारे में नए दिशा निर्देश जारी किए हैं जिनके तहत कोई उम्मीदवार ऑनलाइन नामांकन पत्र भर सकता है और हलफनामा तथा जमानत की राशि भी जमा कर सकता है। उन्होंने कहा के चुनाव आयोग के नए दिशा निर्देश निष्पक्ष स्वतंत्र और पारदर्शी चुनाव के लिए पर्याप्त नहीं है और इसमें सत्ताधारी दल को लाभ पहुंचाने की कवायद की गई गई है। कांग्रस तथा अन्य विपक्षी दलों ने कोरोना महामारी के बीच आयोग को जो सुझाव दिए थे उन्हें पूरी तरह से नजरअंदाज किया गया है। कांग्रेस नेता ने कहा की ईवीएम मशीन से चुनाव नही कराने की सलाह को खारिज किया गया है। उनका कहना था कि बहुत बड़ी आबादी मतदान में हिस्सा लेंगी और इन मशीनों का इस्तेमाल करेगी जिनसे बीमारी और फैल सकती है। इसका खयाल चुनाव आयोग ने नहीं रखा है । साथ ही ग्रामीण और शहरी मतदाताओं के लिए दिशानिर्देशों में कोई फर्क नहीं किया गया है। गौरतलब है कि चुनाव आयोग ने कोरोना महामारी के बीच विधान सभा तथा उप चुनाव कराने के लिए हाल ही में नए दिशा निर्देश जारी किए हैं।

कोई टिप्पणी नहीं: