मधुबनी : प्रभारी मंत्री द्वारा कोविड 19 एवम् बाढ़ की समीक्षा की - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 9 अगस्त 2020

मधुबनी : प्रभारी मंत्री द्वारा कोविड 19 एवम् बाढ़ की समीक्षा की

flood-and-covid-inspaction-madhubani
मधुबनी  9अगस्त 20,, बाढ़ 2020 एवं कोविड-19 की समीक्षा हेतु दिनांक 09.08.2020 को  सभा कक्ष में श्री प्रेम कुमार माननीय मंत्री, कृषि, पशु एवं मत्स्य संसाधन विभाग की अध्यक्षता में आयोजित बैठक की गयी।   बैठक में आरक्षी अधीक्षक, मधुबनी, अपर समाहर्ता अवधेश राम, मधुबनी उप विकास आयुक्त अजय कुमार सिंह , , सिविल सर्जन,  मधुबनी, जिला पदाधिकारी के विशेष कार्य पदाधिकारी,जिला पशुपालन पदाधिकारी, जिला मत्स्य पदाधिकारी, जिला कृषि पदाधिकारी,जिला सूचना जनसंपर्क पदाधिकारी , बाढ़ नियंत्रण प्रमंडल, झंझारपुर के अभियंता, ग्रामीण कार्य विभाग, एन0एच0 के अभियंता आदि ने भाग लिया। सर्वप्रथम मंत्री द्वारा पृथ्वी दिवस के अवसर परजिला समाहरणालय परिसर मे एक पेड़ लगाया गया। तदोपरांत जिला सभागार में मंत्री ने सभी पदाधिकारियो को सम्बोधित करते हुए बाढ़ से प्रभावित परिवारों को सर्वेक्षण करा कर जी0आर0 का लाभ देने हेतु प्रभावित परिवारों की सूची शीघ्र तैयार करने हेतु निदेशित किये। सभी तटबंधों पर कड़ी निगरानी रखने तथा जहाॅ कहीं भी कटाव की संभावना बने उस पर तुरन्त कार्रवाई करने का निदेश दिये। साथ ही उन्होंने बाढ़ का मुख्य कारण शहरी एवं ग्रामीण अतिक्रमण को बताते हुए इसे शीघ्र अतिक्रमण मुक्त करने का आदेश अनुमंडल पदाधिकारी ,बेनीपट्टी को दिया ताकि जल निकासी जल्दी किया जा सके। बैठक के दौरान अपर समाहर्ता द्वारा बताया गया कि  जिला के बाढ़ प्रभावित चारो प्रखण्डो मधेपुर, मधवापुर, बिस्फी एवं बेनीपट्टी के 8 पूर्ण तथा 48 आंशिक प्रभावित पंचायत के  परिवार को जी0आर0 देने का प्रस्ताव प्राप्त हुआ । मंत्री ने बताया कि राज्य को चालू वित्तिय वर्ष में किसानों को यंत्रीकरण करने हेतु 100 करोड़ रूपया केन्द्र सरकार से प्राप्त हुआ है।जिला कृषि पदाधिकारी से जिला के फसल प्रभावित क्षेत्रों का सर्वे विवरणी शीघ्र विभाग को भेजने का निदेश दिया ताकि लाभूको को शीघ्र मुआवजा का भुगतान  की जा सके।  मंत्री द्वारा जिला पशुपालन पदाधिकारी, मधुबनी को निदेश दिया कि बाढ़ प्रभावित प्रखण्डो के पशुओ को उच्च स्थान पर रखने हेतु स्थल चयनित कर वहाॅ पर चिकित्सक, दवा एवं चारा की व्यवस्था सुनिश्चित करे।
        
कोविड-19 की समीक्षा के दौरान सिविल सर्जन, मधुबनी के द्वारा जिला का आंकड़ा दिया गया।सिविल सर्जन के अनुसार कोविड संबंधी अद्यतन प्रगति प्रतिवेदन इस प्रकार है।

1. अद्यतन लिये गये कुल सैम्पल:- 22981
2.अब तक पोजेटिव केश की संख्या:- 1869
3. निगेटिव केश की संख्या:- 19189
4. सैम्पल पेंडिग:- 477
5.एक्टिव केश की संख्या:- 741
6.रिकवर केश की संख्या:- 1126
7. मृत की संख्या:- 02
8. टूनेट मशीन:- 05
9.कोविड केयर सेन्टर पर बेड:- 1100
इस पर मंत्री ने संतोष व्यक्त करते हुए जिला प्रशासन एवम् पुलिस अधीक्षक को धन्यवाद दिया तथा मास्क चेकिंग को सख्त करने का निर्देश दिया गया।  सिविल सर्जन द्वारा जिला में उपलब्ध चिकित्सको की संख्या एवम् एम्बुलेंस को अप्रर्याप्त बताते हुए अतिरिक्त  उपलब्ध कराने का अनुरोध माननीय मंत्री से किया गया। मंत्री ने सकरी के पास सड़क की जर्जर स्थिति का चर्चा करते हुए एनएचएआई अभियंता को इसे शीघ्र मरम्मती कराने का आदेश दिया। अन्त में अपर समाहर्ता ने मंत्री का धन्यवाद ज्ञापन कर समीक्षा बैठक की समाप्ति की घोषणा की।

कोई टिप्पणी नहीं: