बिहार : 500 विपन्न बाढ़ पीड़ित परिवारों के बीच में राहत सामग्री वितरित - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 30 अगस्त 2020

बिहार : 500 विपन्न बाढ़ पीड़ित परिवारों के बीच में राहत सामग्री वितरित

महात्मा गांधी सेवा आश्रम मध्य प्रदेश के सहयोग से एकता परिषद बिहार ने राशन वितरण किया 
flood-relief-bihar
कुढ़नी, 30 अगस्त। मुजफ्फरपुर जिले के कुढ़नी प्रखंड अंतर्गत मोहनपुर और मुरौल गाँव में एकता परिषद् के द्वारा दो दिवसीय 29-30 अगस्त को 500 विपन्न बाढ़ पीड़ित परिवारों के बीच में राहत सामग्री का वितरण किया गया।इस बात की जानकारी विजय गौरेया ने दी है। इसके पहले जन संगठन एकता परिषद ने पटना जिले  के नौबतपुर और बिहटा में कोविड-19 से पीड़ित परिवारों ने फलदार वृक्षों का रोपन किया।इसके बाद राशन वितरण किया गया। महात्मा गांधी सेवा आश्रम मध्य प्रदेश के सहयोग से एकता परिषद बिहार ने राशन वितरण किया । इसी तरह आज आज मुजफ्फरपुर जिले  के कुढ़नी ब्लॉक में सूखे खाद्य सामग्री में चूड़ा, गुड़, चना, बिस्कुट ने आदि वितरित किया गया।बाढ़ के कारण प्रभावित 500 लोगों में हाशिए पर आ जाने वाले परिवार अधिक थे। प्रदीप प्रियदर्शी, मंजू डूंगडूंग, राम लखिन्द्र प्रसाद आदि सफलता पूर्ण वितरण में योगदान किये।इन लोगों ने पी वी राजगोपाल, रनसिंह परमार और रमेश भाई को धन्यवाद दिया जो बाढ़ और महामारी पीड़ितों के बीच सूखा खाघान्न की व्यवस्था करा दी।

कोई टिप्पणी नहीं: