मोदी को बचाने के लिए सरकार ने हटाया चीनी घुसपैठ का विवरण : माकन - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 7 अगस्त 2020

मोदी को बचाने के लिए सरकार ने हटाया चीनी घुसपैठ का विवरण : माकन

government-hide-chinese-enter-makan
नयी दिल्ली, 06 अगस्त, कांग्रेस ने रक्षा मंत्रालय की वेबसाइट से चीनी सेना के घुसपैठ संबंधी विवरण को हटाने पर गहरी आपत्ति व्यक्त करते हुए कहा है कि सरकार ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को बचाने और हकीकत छिपाने के लिए यह कदम उठाया है। कांग्रेस प्रवक्ता अजय माकन ने गुरुवार को यहां संवाददाता सम्मेलन में कहा कि चीनी सेना की भारतीय सरजमीं पर रक्षा मंत्रालय का अपनी वेबसाइट पर पोस्ट किया गया यह महत्वपूर्ण विवरण है लेकिन दुर्भाग्य से सरकार ने इसे हटा दिया है। सरकार को सच्चाई का खुलासा करते हुए बताना चाहिए कि रक्षा मंत्रालय का विवरण सही है या प्रधानमंत्री ने सर्वदलीय बैठक में जो कहा वह सही है। उन्होंने कहा कि 19 जून को प्रधानमंत्री ने सर्वदलीय बैठक में कहा था 'ना तो कोई हमारी सीमा में घुसा है, ना ही कोई घुसा हुआ है और ना ही हमारी कोई पोस्ट उनके कब्जे में है’। उन्होंने कहा कि जब प्रधानमंत्री खुद इतनी बड़ी बड़ी बात कहते हैं तो उसके बाद कोई सवाल ही नहीं कर सकता लेकिन श्री मोदी ने जो कुछ कहा उनके यह सब कहने के बाद और उससे पहले भी इस संबंध में उपग्रह से मिली तस्वीरों, लद्दाख के नागरिकों और जमीनी स्तर पर मिली रिपोर्टों से कई सवाल खड़े हो जाते हैं। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी वेबसाइट से रक्षा मंत्रालय के विवरण को हटाने पर आपत्ति जताई और कहा कि चीनी घुसपैठ को नकारने तथा दस्तावेज हटाने से सच्चाई को छिपाया नहीं जा सकता है। उन्होंने कहा कि श्री मोदी के चीन के सामने खड़ा होने की बात तो छोड़िए उसका नाम लेने का भी उनमें साहस नहीं है।

कोई टिप्पणी नहीं: