सुशांत मामले की जांच में लगे आईपीएस विनय तिवारी अब सीबीआई में! - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 10 अगस्त 2020

सुशांत मामले की जांच में लगे आईपीएस विनय तिवारी अब सीबीआई में!

ips-vinay-tiwri-will-be-in-cbi
आईपीएस विनय तिवारी के नेतृत्व में बिहार पुलिस सुशांत मामले की जांच कर रही थी। इससे बीच BMC द्वारा केंद्र सरकार की गाइडलाइन का हवाला देकर जांच को प्रभावित करने के लिए आईपीएस विनय तिवारी को 14 दिनों के लिए होम क्वारंटाइन करने का आदेश जारी करते हुए होम क्वारंटाइन कर दिया। बाद में किरकिरी होने के बाद विनय तिवारी को वापिस पटना भेजा गया। लेकिन, अब सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार आईपीएस विनय तिवारी,जो कि अभी पटना सिटी के एसपी हैं। उन्हें गृह मंत्रालय के द्वारा केंद्रीय प्रतिनियुक्ति पर भेजा जा सकता है। सूत्रों के मुताबिक इस आशय में अनुरोध पत्र बिहार सरकार को भेजा जा चुका है। अगर बिहार सरकार इस विषय पर अपनी सहमति देती है तो आईपीएस विनय तिवारी को सुशांत मामले की जांच कर सीबीआई की टीम में शामिल किया जा सकता है। मालूम हो कि सुप्रीम कोर्ट के दखल के बाद BMC को विनय तिवारी को क्वारंटाइन से मुक्त कर बिहार भेजा गया। क्वारंटाइन किये जाने को लेकर उन्होंने कहा था कि मुझे नहीं, जांच को क्वारंटाइन किया गया था। इससे पूर्व की घटनाओं पर ध्यान दें तो बिहार सरकार द्वारा सुशांत मामले की सीबीआई जांच की अनुशंसा को स्वीकार करते हुए केंद्र सरकार ने जांच सीबीआई को सौंप दी है। मामले की जांच के लिए सीबीआई ने मनोज शशिधर के नेतृत्व में स्पेशल इंवेस्टिगेशन टीम (एसआईटी) का गठन किया है। मनोज शशिधर 1994 बैच के गुजरात कैडर के आईपीएस अधिकारी हैं और फिलहाल सीबीआई में संयुक्त निदेशक पद पर कार्यरत हैं। इनके साथ जांच में सीबीआई स्पेशल क्राइम ब्रांच के DIG गगनदीप गंभीर भी शामिल हैं। मामले में सीबीआई ने अब तक सुशांत सिंह राजपूत की गर्लफ्रेंड रिया चक्रवर्ती और उनके पिता इंद्रजीत चक्रवर्ती, संध्या चक्रवर्ती, शोविक चक्रवर्ती, सैमुअल मिरांडा और श्रुति मोदी समेत छह लोगों के ख़िलाफ़ एफ़आईआर दर्ज कर ली है। सोशल मीडिया पर ऐसी चर्चा हो रही है कि जल्द ही आईपीएस विनय तिवारी सीबीआई में शामिल हो सकते हैं। वरिष्ठ पत्रकार मीना दास नारायण समेत कई अन्य पत्रकारों ने इसको लेकर ट्वीट के माध्यम से जानकारी दी है। विनय तिवारी को जांच में शामिल किये जाने बाद लोगों को इंसाफ की उम्मीद बढ़ गयी है। साथ ही लोगों ने इस मसले को गृह मंत्री अमित शाह का मास्टर स्ट्रोक बताया है।

कोई टिप्पणी नहीं: