मधुबनी : इप्टा द्वारा डॉ राहत इंदौरी को दी गयी श्रद्धांजलि - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 12 अगस्त 2020

मधुबनी : इप्टा द्वारा डॉ राहत इंदौरी को दी गयी श्रद्धांजलि

ipta-madhubani-tribute-to-rahat-indari
मधुबनी (आर्यावर्त संवाददाता) भारतीय जननाट्य संघ (इप्टा) मधुबनी इकाई के द्वारा मशहूर शायर डॉ राहत इंदौरी को भावपूर्ण श्रद्धांजलि अर्पित की गई। जिसमें वर्तमान परिदृश्य को देखते हुए डिजिटली श्रद्धांजलि सन्देश जारी की गई। ज्ञात हो कि इंदौरी साहब ने मंगलवार शाम मध्य प्रदेश के इंदौर स्थित एक अस्पताल में अपनी अंतिम सांस ली । वहां उन्हें आज दो बार दिल का दौरा पड़ा था, लेकिन उन्हें बचाया नहीं जा सका। इकाई के अध्यक्ष अरविंद प्रसाद ने शोक संदेश देते हुए लिखा कि इंदौरी साहब हरदिल अज़ीज शायर थे। उन्होंने युवाओं के साथ साथ सभी के दिलों पर राज किया, हमने आज मुशायरे के एक जान को खो दिया। मधुबनी इकाई उपाध्यक्ष श्री सुरेश कुमार बैरोलिया ने अपनी श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए कहा कि डॉ राहत इंदौरी लोगों के ख़यालों और जज़्बातों को शब्दों में बांध कर शायरी के जरिये पेश करने वाले शायरों में से एक थे। वहीं बिहार इप्टा के राज्यसचिव श्री इंद्रभूषण रमण 'बमबम' ने अपने शोक संदेश में कहा कि उर्दू अदब में इंदौरी साहब का अपना एक अलग मुकाम था। उनकी शायरी में बेबाकी थी और देश के मौजूदा हालात को भी वे अपनी शायरी में बड़े खूबसूरत अंदाज में पेश करते थे। मधुबनी इप्टा के इकाई सचिव श्री अर्जुन राय ने शोक संदेश देते हुए कहा विख्यात उर्दू शायर और गीतकार राहत इंदौरी साहब के निधन से शायरी जगत में उत्पन्न निर्वात की भरपाई लंबे समय तक संभवतः नही हो सकेगी। साथ ही इप्टा मधुबनी के  मनोज कुमार, श्रीप्रसाद दास, कौशल नायक, विकास कुमार, अभिषेक आकाश, प्रभात रंजन, रमेश, रौशन कुमार, रंजीत रॉय, पंचम प्रकाश, मृत्युंजय, पूजा, धीरज, मिथिलेश, प्रेमलता, मालविका, चंदन मिश्रा सहित अन्य साथी ने भी शोक संदेश के जरिए डॉ राहत इंदौरी के प्रति अपनी श्रद्धांजलि अर्पित की।

कोई टिप्पणी नहीं: