झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 18 अगस्त - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 18 अगस्त 2020

झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 18 अगस्त

पूर्व विधायक शांतिलाल बिलवाल के नेतृत्व में दिया आमजन की समस्या को देखते हुये पुलिस अधीक्षक को सौंपा आवेदन
एसपी श्री गुप्ता ने इस ओर उचित कार्यवाही के लिये दिया आष्वासन
jhabua news
झाबुआ। प्रदेश भर में कोरोना वायरस संक्रमण काल के चलते जिला प्रशासन एवं स्वास्थ्य विभाग के द्वारा हर संभव प्रयास किये जा रहे है। वही उनके निर्देशो के अनुरूप ही सोश्यल डिस्टेसिंग का पालन एवं मुंह पर मास्क लगाने की कार्यवाही भी हो रही है। वही इन निर्देशो में ग्रामीण क्षेत्र से आये हुये लोगो को समझाने के लिये पूर्व विधायक शांतिलाल बिलवाल, मंडल अध्यक्ष बबूल संकलेचा, छितुंिसह मेडा, मंडल महामंत्री नाना राठौर सूयीाान पारू पारगी उपस्थित होकर पुलिस अधीक्षक अशुतोष गुप्ता को आवेदन सौपा गया। आवेदन मे बताया गया कि कोरोना संक्रमण रोग के चलते फैलने की गंभीर स्थिति को देखते हुये वर्तमान में झाबुआ जिले में बिना मास्क लगाये वाहन चलाने वालो पर आमजन से लगभग 500 रूपये की चालानी कार्यवाही की जा रही है। जिसमें श्री बिलवाल द्वारा बताया गया कि ग्रामीण क्षेत्र के अधिकांश लोग मजदूरी एवं खेती करते है। वे कम शिक्षित होने के कारण कोविड-19 जैसी महामारी को समझने में थोडा हिचकिचा रहे है। वही उन्हे इसके नियमो का भी कोई ज्ञान नही है। विगत 4 से 5 माहे तक लाॅकडाउन के कारण ग्रमाीण एवं शहरी क्षेत्र के आमजन के व्यवसाय बंद थे। जिनके कारण इनकी आर्थिक स्थिति कमजोर हुई है। जिससे की आमजन के द्वारा की जा रही चालानी कार्यवाही में 500 रूपये आज की स्थिति में किसी भी व्यक्ति के लिये वहन करना असंभव सा हो गया है। आमजन की उपरोक्त परेशानियो को ध्यान में रखते हुये मास्क लगाने की अनिवार्यता का पालन कराने के लिए आमजन को जागरूक किया जावे। साथ ही आमजन से सख्ती ना बरती जाये एवं आमजन को कम से कम एक बार हिदायत समझाईश देकर छोडने के साथ ही चालान की राशि कम करने की लिये निेेवेदन किया है। इस पर पुलिस अधीक्षक ने उनकी मांगो को मानते हुये इस ओर ध्यान देकर समस्या को सुधार करने का आश्वासन दिया। मंडल अध्यक्ष बबलू सकलेचा द्वारा बताया गया कि कोरोना संक्रमण इन दिनो संपूर्ण झाबुआ जिले को प्रभावित कर रहा है। जिसके कारण चाहे वह बच्चा हो या फिर जवान या फिर कोई वृद्ध कोई भी इससे अछुका नही है। इसके लिये जिला प्रशासन के द्वारा दिये गये निर्देशो का पालन करना जरूरी है। साथ ही सोश्यल डिस्टेसिंग ओर मुंह पर मास्क लगाकर ही घर से निकलने में ही सुरक्षा है। इसके लिये जिला प्रशासन से भी यह मांग की गई है कि ग्रामीण क्षेत्रो में जागरूकता की कमी होती है जिससे की वे इस महामारी के प्रकोप को समझ नही पा रहे है। इसके लिये गांव गांव विशेष अभियान चलाया जाये। वही कई ऐसी गतिविधिया की जाये जिससे की ग्रामीणो को सरल एवं संक्षिप्त में जल्द समझ आ जाये। 


’भाजपा महिला मोर्चा की पहल जिले भर में मिट्टी के गणेश का प्रशिक्षण’
’लंबोदर के आगमन की तैयारी, घर-घर विराजेगे मिट्टी के इको फ्रेंडली गणपति’
jhabaua news
झाबुआ। कोरोना काल को देखते हुए राज्य सरकार ने बड़े गणेश पांडाल पर रोक के साथ साथ बड़ी गणेश प्रतिमा न बनाने के  दिशा निर्देश मूर्तिकारों को जारी किए थे। भगवन की भक्ति और शक्ति के बीच इन दिनों पूरे  प्रदेश के साथ सबसे प्रथम पूज्नीय भगवान गणेश उत्सव की तैयारीयो में झाबुआ जिला भी जुटा है। इसी बीच झाबुआ भाजपा महिला मोर्चा की बहनों ने भाजपा जिला अध्यक्ष लक्ष्मण सिंह नायक के मार्गदर्शन, श्रीमती सूरज गुमान सिंह डामोर की संदर्शिका व भाजपा महिला मोर्चा जिलाअध्यक्ष  श्रीमती आरती भानपुरिया के नेतृत्व में पर्यावरण का संदेश देने के लिए मिट्टी के गणपति जिले भर तैयार करने का प्रशिक्षण अभियान चलाया हैं। मोर्चा की जिलाध्यक्ष आरती भानपुरिया में जानकारी देते हुए बताया कि मिट्टी के गणेश अभियान प्रशिक्षण की शुरुआत मंगलवार को मेघनगर विश्वकर्मा मंदिर,ग्राम खवासा में श्री भगत निवास स्थान एवं झाबुआ के राजवाड़ा गणेश मंदिर के साथ बुधवार को पेटलावद, रायपुरिया, राणापुर,पारा में भी महिलाओं को प्रशिक्षण दिया जा रहा है। गणेश प्रतिमा निर्माण के लिए बरगद, पीपल, नीम सहित कई तरह के बीजों का इस्तेमाल किया जा रहा है, ताकि उन्हें प्रतिमा के बीच में रखा जाए और जब गणेश विसर्जन किया जाए तो पौधा तैयार हो सके। साथ ही फिटकरी के गणपति भी तैयार किए गए हैं, ताकि विसर्जित करने पर तालाब का पानी साफ रहे। भाजपा महिला मोर्चा की ओर से प्रशिक्षण देने के लिए माटी कला बोर्ड के एक सदश्य जो कि मिट्टी की मूर्ति बनाने में एक्सपर्ट है उनके द्वारा जिले भर की महिलाओं को प्रशिक्षण दिया जा रहा है खवासा में प्रशिक्षण के दौरान कई बहनों ने सुपारी एवं लच्छे के गणपति को भी शानदार आकार देकर साथी बहनो को प्रशिक्षित किया। पूरे अभियान और आयोजन के पीछे झाबुआ भाजपा महिला मोर्चा का लक्ष्य है कि वह हर शहर गांव में जाकर जिले भर की सो बहनों को प्रशिक्षण दें और 100 बहने 1000 बहनो को मिट्टी के  गणेश जी बनाना सिखाएं ताकि घर-घर में हाथ से बने विघ्नहर्ता मंगलकर्ता भगवान गणेश को विराजित किया जाए।

’पर्यावरण सहेजने की दिशा में कार्य’
श्रीमती सूरज गुमान सिंह डामोर ने बताया कि पर्यावरण पर देना होगा ध्यानपर्यावरण संरक्षण का ध्यान रखना हम सभी का कर्तव्य है। इस बार घर में हाथ से बनाी बाप्पा की मूर्ति की स्थापना करना है। मूर्ति का विसर्जन भी घर में करना है। हमारे जिले में मिट्टी के गणपति बनाने में प्रशिक्षण  में सभी महिलाएं जुटी हैं। यह देखकर बहुत अच्छा लग रहा है। आज भी हमारी परंपरा और रीति-रिवाज को ध्यान में रखा जा रहा है। मिट्टी के गणपति बनाते समय उसमें विभिन्न पौधों के बीज भी डाले हैं, ताकि उसमें से पौधा तैयार हो सके। पिछले कई सालों से मिट्टी के ही गणेश तैयार करते हैं। प्रशिक्षण के दौरान श्रीमती सूरज द्वारा सभी बहनों को सभी को संकल्प भी कराया जा रहा है कि,कभी भी प्लास्टर ऑफ पेरिस की मूर्ति नहीं बनाएंगे।

’इन महिलाओं ने प्रशिक्षण में लिया भाग’
मेघनगर विश्वकर्मा मंदिर पर मेघनगर जनपद अधयक्ष सुशीला भाभर,श्रीमती सरिता चैहान श्रीमती मोटवानी श्रीमती शर्मा,समाजसेविका रेशमा,श्रीमती योग्यता प्रजापत,श्रीमती सिंघल,श्रीमति टीना शर्मा सुनिता चैहान,श्रीमती टीना,श्रीमती तरुणा गुप्ता, सिद्धिविनायक गणेश मंडल की महिलाएं व नन्ही बालिकाओं ने भी शिरकत की।खवासा में भाजपा महिला मोर्चा मंडल अध्यक्ष मंजू पाटीदार,राधा बाई पाटीदार,ज्योति व्यास,दुलारी पटेल,वही झाबुआ राजवाड़ा के रामदरबार भाजपा महिला मोर्चा की जिला महामंत्री कुंता सोनी, भाजपा महिला मोर्चा नगर मंडल अध्यक्ष प्रीति पांचाल, पायल पांचाल, हेमलता गेहलोदउजला सोनी, मुस्कान सोनी, विजय लक्ष्मी शुक्ला, प्रीति पांचाल, दीपा सोनी, सुनीता वर्मा,आशा सोनी शोभा कटारा,मीनू मकवाना,झमा सोनी, संतोष सोनी,सुनीता सोनी चंदा सोनी,आशा सोनी,गणेश मंदिर आदि महिलाओं ने प्रशिक्षण लिया।

जिलें में कोरोना योद्धाओं के रूप में राष्ट्रीय मानवाधिकार एवं महिला बाल विकास आयोग ने डॉक्टर्स व स्टॉफ का किया सम्मान
कोरोना योद्धा के रूप में पहला सम्मान पाकर गर्व की अनुभूति - डॉ सावन चैहान
jhabua news
झाबुआ/ मेघनगर /थांदला। वैश्विक महामारी से लड़ने में सहयोगी बने धरती के भगवान कहे जाने वाले डॉक्टर्स, लेब टेक्नीशियन व नर्सिंग स्टॉफ की सेवा कार्यों की सराहना करते हुए स्वतंत्रता दिवस पर उनके कार्य स्थल पर पहुँच कर राष्ट्रीय मानवाधिकार एवं महिला बाल विकास आयोग की टीम ने उन्हें कोरोना योद्धाओं के रूप में सम्मानित किया। इस अवसर पर सम्भागीय अध्यक्ष सुमित्रा राजू मेड़ा ने कहा कि जब कोरोना संक्रमण से पूरा देश जूझ रहा था, ऐसे में संसाधन के आभाव में अपनी जान की परवाह किये बिना दिलेरी के साथ कोरोना योद्धा बनकर डॉक्टर्स व पूरा स्वास्थ्य विभाग अपनी सेवाएं दे रहा है। कोरोना के भय से जब मरीज अपना हौसला खो देता है तब डॉक्टर्स उसे उम्मीद व जोश देता है। उनका सम्मान कर हमें गर्व की अनुभूति हो रही है। प्रदेशाध्यक्ष पवन नाहर ने कहा कि देश की जनता कोरोना काल में यदि किसी को सच्चा योद्धा मानती है तो वह स्वास्थ्य व पुलिस विभाग ही है जिन्होंने हमेशा हर मुसीबत का सामना डट कर किया है। वर्तमान समय आपदा को अवसर में बदलने का है जो डॉक्टर्स ने मानवीय सेवा भाव से करके दिखाया है। अपने सम्मान से अभिभूत कोरोना संक्रमण से लड़ने में दिन रात अपनी सेवाएं दे रहे डॉक्टर्स कि ओर से आरएमओ डॉ सावन चैहान ने कहा कि कोरोना योद्धा के रुप में पहला सम्मान पाकर गर्व कि अनुभूति हो रही है। यह विडंबना कहे या हमारा सौभाग्य की ईश्वर ने रुग्ण व बीमार व्यक्तियों की सेवा के लिये हमें चुना व जब वे मरीज स्वस्थ्य व प्रसन्न होकर घर लौटतें है तो दुआओं का खजाना हम पर लुटाते ही है आज उन्ही की भावना संगठन ने पूर्ण की है उसके लिये दिल से धन्यवाद। प्रभारी एन के पठान ने कहा कि संगठन के कार्य सराहनीय रहे है व हर परिस्थिति में हमें अनेक अवसर पर संगठन का सहयोग मिलता रहा है आज हमें सम्मानित किया गया इसके लिए पूरे विभाग की ओर से शुक्रिया अदा करता हूँ। मेघनगर बीएमओ सेलेक्षी वर्मा अपनी भावना देशभक्ति गीत के माध्यम से व्यक्त करते भावुक होते नजर आए। डॉक्टर्स व स्टॉफ के लिये आयोजित सम्मान कार्यक्रम में आयोग के प्रदेश उपाध्यक्ष अलीअसगर बोहरा, सम्भागीय अध्यक्ष नीलेश भानपुरिया, दशरथ कट्ठा, भूपेंद्र बरमण्डलिया, समाजसेवी भरत मिस्त्री, सिंघम सुनील डाबी सहित अनेक पत्रकार एवं समाज सेवी जन उपस्थित थे।

कोरोना योद्धाओं में लेब टेक्नीशियन व नर्सों के अहम योगदान पर तालियां बजाते हुए इनका हुआ सम्मान
कोरोना संक्रमण को फैलने से रोकने व संक्रमित मरीजों की सेवा में लगे झाबुआ जिला स्वास्थ्य अधिकारी बी एस बारिया, प्रभारी डॉ एन के पठान, वरिष्ठ सर्जन डॉ बी एस बघेल, जिला प्रोग्रामर डॉ राजाराम खन्ना, कोरोना हेड आरएमओ डॉ. सावन चैहान, मेडिकल ऑफिसर डॉ सुमित सोनी, जाबांज योद्धा लेब टेक्नीशियन निखिलेश नामदेव (छोटू भैया) व रामेश्वर सोलंकी हेड ऑफ नर्सिंग डिपार्टमेंट के साथ साथ मेघनगर के बीएमओ डॉक्टर सेलक्ष्मी वर्मा, डॉ रामेश्वर परमार, डॉ अमित गणावा, डॉ मनीष कुमार नायक, डॉक्टर पावस द्विवेदी, डॉक्टर विनोद नायक, डॉक्टर अंजना बामनिया सहित कोरोना संक्रमण में लगे लेब टेक्नीशियन व नर्सिंग स्टॉफ को सिल्वर व गोल्डन माला पहनाकर कोरोना योद्धा के आकर्षक सम्मान पत्र देकर सम्मानित किया। कार्यक्रम का संचालन प्रदेशाध्यक्ष पवन नाहर ने व सम्भागीय अध्यक्ष सुमित्रा राजू मेड़ा व जिलाध्यक्ष चेतना चैहान ने सभी डॉक्टर्स व स्टॉफ का आभार मानते हुए उपस्थित सदन के साथ देशवासियों को स्वतंत्रता दिवस की शुभकामनाएं व बधाई देते हुए सभी के आरोग्यता की कामना की।

थांदला नगर बना झाबुआ जिलें का कोरोना स्पॉट - प्रशासन की उदासीनता से फैल रहा संक्रमण

jhabua news
थांदला। प्रदेश व जिलें में जहाँ लॉक डाउन के समय कोरोना संक्रमण से लोग परेशान थे वही थांदला इससे अछूता ही था। लेकिन समय बदल लॉक डाउन खुला व देखते ही देखते दर्जनों केस आ गए। शासन प्रशासन की तैयारियों पर सवालिया निशान लगाते कोरोना मरीजों की संख्या में प्रतिदिन तेजी से इजाफा हो रहा है। पहले एक फिर दो फिर चार, छः आलम यह रहा कि एक ही दिन में 19 से ज्यादा केस दर्ज हो गए। अधिकरियों के पास पर्याप्त डेटा भी नही है जो बता सके कि वास्तव में नगर में कितने कोरोना मरीज है व कितने ठीक हो चुके है। एक अनुमान के अनुसार अभी तक 65 से अधिक व्यक्ति कोरोना की गिरफ्त में आ चुके है जिनमें से 4 की मौत ने नगर को दहशत में डाला हुआ है। वही 15 के करीब मरीज ठीक भी हुए है जो राहत भरी खबर है।

भाजपा के वरिष्ठ नेता व व्यापारी संघ अध्यक्ष भी कोरोना ग्रस्त
 नगर में हाल ही में दो दिन पूर्व किराना व्यापारी कोरोना पोजेटिव हुए ही थे कि आज आई खबर में भाजपा के वरिष्ठ नेता जिला उपाध्यक्ष एवं भाजपा नेत्री व प्रदेश मंत्री भी कोराना ग्रस्त हो गए।  इंदौर के निजी चिकित्सालय में कोरोना पोजेटिव होने की उन्होंने स्वयं पुष्टि करते हुए अपने संपर्क में आये सभी लोगों से होम कोरन्टीन होने की सलाह देते हुए जाँच कराने की बात कही है।

डर से ज्यादा समझदारी दिखाएं
नगर में अचानक बढते केस ने शासन प्रशासन की तैयारियों पर सवालिया निशान खड़ा कर दिया है। समूचे जिलें में कोरोना मरीजों को लाने के लिये केवल दो वाहन ही है। थांदला में बढ़ते केस को देखते हुए यहाँ की 108 एम्बुलेंस को भी इसी कार्य मे लगाया गया है बावजूद इसके कोरोना संक्रमित रिपोर्ट आ जाने के बाद घण्टो तक एम्बुलेंस मरीज तक नही पहुँच पा रही है वही सोशल मीडिया आदि से कोरोना की खबर तेजी से फैलने पर उस क्षेत्र गली मोहल्लों में डर का माहौल बन जाता है। कोरोना ग्रसित व्यक्ति के घर परिवार के सदस्यों का बाहर घूमना, कोरन्टीन झोन बनाने में देरी होना व कोरन्टीन जाली में रास्ता बनाकर बाहर घुमते व्यक्तियों तक प्रशासन का नही पहुँच पाना नगर में भय पैदा कर रहा है। नगर में भय मुक्त वातावरण बनाने के लिये नगर परिषद उपाध्यक्ष मनीष बघेल ने कहा कि भय नही समझदारी दिखाएं यदि स्वास्थ्य सम्बन्धी परेशानी है , श्वांस लेने में दिक्कत है दो जल्दी जाँच करवाएं। शासन के नियम का पालन करते हुए सामाजिक दूरी बनायें, मास्क पहने व अपने हाथों को धोते रहे। उन्होंने व्यापारियों से भी अनुरोध किया है कि इस समय बेवजह अपना सामान रोड़ पर रखकर अतिक्रमण नही करें व दुकानों में एक एक कर ग्राहक से व्यवहार करें। यदि इस प्रकार की समझदारी दिखाई जाती है तो नगर पुनः सुरक्षित हो जाएगा। आपको बता दे वर्तमान में जिलें में सबसे ज्यादा टेस्ट भी थांदला से हो रहे है यह भी यहाँ के संक्रमण केस ज्यादा होने की वजह माना जा रहा है।

आर्थिक सहायता स्वीकृत

झाबुआ। अनुविभागीय अधिकारी राजस्व मेघनगर श्री जे.एस.बघेल ने मेघनगर तहसील के ग्राम महुडा की 13 वर्षीय मोनिका पिता कालिया की 24 जून को सर्प दंश से मृत्यु हो जाने पर आर.बी.सी. 6 (4) के प्रावधानों के तहत् चार लाख रूपये की आर्थिक सहायता स्वीकृत की है। यह आर्थिक सहायता मृतक के पिता कालिया पिता वेस्ता भूरिया को दी जावेगी।


लोक सेवा केन्द्र मेघनगर के संचालक श्री अरोरा को तीन दिवस में जवाब प्रस्तुत करने के निर्देश

झाबुआ। मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री सिद्धार्थ जैन ने लोक सेवा केन्द्र मेघनगर के संचालक श्री धवल अरोरा को 11 अगस्त को लोक सेवा केन्द्र मेघनगर में जिला प्रबंधक द्वारा लोक सेवा केन्द्र के निरीक्षण के दौरान अनियमिताएं पाई जाने पर 3 दिवस में जवाब प्रस्तुत करने के निर्देश दिये हैं। निरीक्षण के दौरान उपस्थित सेवा प्रदाता में से दो सेवा प्रदाता द्वारा डेªस कोड का पालन नहीं करना पाया गया। आवेदन प्राप्त करने के लिये काउंटर सिस्टम लागू नहीं किया गया। आवेदकों को रसीद पावती नहीं दी गई, पेयजल, साफ-सफाई की उचित व्यवस्था नहीं की गई, सी.सी.टी.वी. का आई.पी. एडेªस उपलब्ध नहीं हैं जिससे जिला स्तर पर मानिटरिंग संभव नहीं हो पाया तत्काल सेवाओं के आवेदनों को आनलाईन करने में देरी की जा रही है। तत्काल सेवाओं के आवेदन में स्व घोषणा पत्र लगाया जाना अनिवार्य है परन्तु पाॅच आवेदनों पर घोषणा पत्र के स्थान पर आवेदन प्रारूप लगा होना पाया गया। निर्धारित अवधि में जवाब प्रस्तुत नहीं करने पर उनके विरूद्ध वैधानिक कार्यवाही की जावेगी।

चार हितग्राहियों के लिये राहत राशि स्वीकृत

झाबुआ। कलेक्टर श्री प्रबल सिपाहा ने अनुसूचित जाति एवं जनजाति अत्याचार निवारण अधिनियम के अंतर्गत चार हितग्राहियों को 25-25 हजार रूपयें के मान से कुल एक लाख रूपये की राहत राशि स्वीकृत की है। जिसमें ग्राम भगोर के (नायक टोड़ी) के संजय पिता कालूसिंह जाटव, श्रीमती मिनाक्षी पति संजय जाटव, श्री भीमा पिता शांतिलाल जाटव तथा श्रीमती टीना पति अर्जुन जाटव शामिल है।

एस.सी/एस.टीवर्ग के न्याय का मार्ग बने अभियोजन अधिकारी श्री पुरूषोत्तम षर्मा ने लोक अभियोजन अधिकारियों को दिया एस.सी/एस.टी एक्ट प्रषिक्षण

झाबुआ। मध्यप्रदेश लोक अभियोजन ने  सोमवार को आॅनलाईन वेबिनार के माध्यम से एस.सी/एस.टी एक्ट विषय पर एक दिवसीय प्रशिक्षण श्री पुरूषोतम शर्मा महानिदेषक संचालक लोक अभियोजक म.प्र. की अध्यक्षता में आयोजित किया गया। अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश इंदौर म.प्र. श्री प्राणश्ष कुमार प्राण ने मुख्य वक्ता एवं विषय विशेषज्ञ के रूप में तथा श्री संदीप पाण्डेय डीपीओ अजाक जबलपुर एवं श्रीमति अनिता शुक्ला डीपीओ अजाक इंदोर ने विशेषज्ञ के रूप में व्याख्यान दिया। जनसंपर्क संचनालय की जनसंपर्क अधिकारी श्रीमति मौसमी तिवारी द्वारा प्रशिक्षण कार्यक्रम की रूपरेखा प्रस्तुत की। श्री त्रिलोकचंद बिल्लौरे म.प्र. राज्य समन्वय एस.सी/एस.टी एक्ट डीडीपी धार द्वारा तैयार की गई तथा प्रशिक्षण में म.प्र. लोक अभियोजन विभाग के 600 से अधिक अभियोजन अधिकारी सम्मिलित हुए। प्रशिक्षण कार्यक्रम के मुख्य अतिथि श्री पुरूषोतम शर्मा ने अपने उद्बोधन में दलितों के साथ हो रहे अत्याचार के बारे में बताया तथा अपने अनुभवों को सभी के साथ साझा किया। दलितों को उपलब्ध कानून, प्रावधानों के विषय में विस्तार से बताया। भारतीय संविधान सिविल अधिकार संरक्षण अधिनियम 1955 तथा अनुसूचित जाति/अनुसूचित जनजाति (अत्याचार निवारण) अधिनियम 1989 के विषय में चर्चा की । उन्होने कहा कि दलित हमारे समाज के अभिन्न अंग है। दलित पर अत्याचार करने वालो को सख्त से सख्त सजा कराने की आवश्यकता है। जिसे समाज मे व्याप्त इस कुप्रथा का अंत किया जा सके। वर्तमान में म.प्र. के प्रत्येक जिले में विशेष न्यायालय का गठन किया है। म.प्र. में एस.सी/एस.टी एक्ट के 21158 प्रकरण लंबित है। म.प्र. में जिला होशंगाबाद, खण्डवा, सतना, सिवनी, उज्जैन व विदिशा के विशेष न्यायालय में उपसंचालन अभियोजन रेग्यूलर कैडर से संचालन किया जा रहा है। जहाॅ पर सजायाबी का प्रतिशत अच्छा है तथा शेष जिलों में जीपी, एजीपी द्वारा संचालन किया जा रहा है। उन्होंने यह भी बताया कि शेष जिलों में विशेष न्यायालय में प्रकरणों कि संख्या अधिक होने से रेग्यूलर कैडर के अधिकारियों द्वारा पैरवी करने के लिए शासन को प्रस्ताव भेजा गया इसी उद्देष्य की पूर्ति के लिए शर्मा द्वारा श्री त्रिलोकचंद्र बिल्लौरे को संपूर्ण राज्य के लिये एस.सी./एस.टी. एक्ट के प्रकरणों के प्रभारी निराकरण के लिए राज्य समन्वयक नियुक्त किया गया है। श्री शर्मा अपना पूर्ण विश्वास करते हुए श्री बिल्लौरे के नेतृत्व में म.प्र. के अभियोजन अधिकारी एस.सी./एस.टी. प्रकरणों में अपराधियों को अधिक से अधिक सजा से दंडित कराकर सभ्य समाज के निर्माण में महत्वपूर्ण योगदान देंगे। अपर सत्र न्यायाधीश इंदौर श्री प्राणेश कुमार प्राण ने अपने लेखन में एस.सी./एस.टी. के प्रकरणों के प्रभावी अभियोजन संचालन के विषय में बताया और अपराध का विचारण किस तरह से किया जाना चाहिए जिससे दोषियों को अधिकतम सजा कराई जा सके। उन्होंने भारतीय संविधान के अतंर्गत दलितो को प्राप्त अधिकार एवं एस.सी./एस.टी. एक्ट के प्रावधानों की प्रक्रिया संबंधी संपूर्ण जानकारी प्रशिक्षणार्थियों से साझा की। श्री संदीप पांडे एवं श्रीमति अनिता शुक्ला डीपीओ ने अपने व्याख्यान में एस.सी./एस.टी. एक्ट के प्रकरणों में अभियोजन संचालन के बारे में जानकारी दी। साथ ही अपने अनुभव सभी प्रशिक्षणार्थियों से साझा किये। जिला अभियोजन कार्यालय झाबुआ से जिला प्रमुख एवं समस्त अभियोजन अधिकारीगण ने आनलाईन वेबिनार प्रषिक्षण प्राप्त किया। कार्यक्रम का संचालन श्री संजय मीना डीपीओ धार द्वारा किया गया।
   
सहायक जिलस लोक अभियोजन अधिकारी को प्रमाण पत्र वितरित किया

jhabaua news
झाबुआ। जिला लोक अभियोजन कार्यालय में पदस्थ सहायक जिला लोक अभियोजन अधिकारी श्रीमति सिमी रत्नम को कोविड 19 महामारी के चलते शासन के द्वारा लगाये गये लाॅकडाउन के दौरान न्यायालय में विडियो कांफे्रेंसिग के जरिये अपनी उपस्थिति दर्ज करवाकर न्यायालय में प्रस्तुत जमानत आवेदन पत्रों तथा वाहन सुपुर्दगी नामेे में अभियोजन की ओर से शासन का पक्ष रखकर कार्य का संपादन किये जाने व लाॅकडाउन की अवधि के दौरान मुख्यालय में उपस्थित रहकर अपना पूर्ण सहयोग शासन को दिए जाने के परिणाम स्वरूप जिला दण्डाधिकारी श्री प्रबल सिपाहा द्वारा कोविड 19 की महामारी को दृष्टिगत रखते हुए इस वर्ष सीधे पुरस्कार वितरण न करते हुए संबंधित विभाग के उच्च अधिकारीयों को उनके कार्यालय में उचित माध्यम से भिजवाए गए। मंगलवार को अभियोजन उप संचालक श्री के.एस.मुवेल एवं जिला अभियोजन अधिकारी श्री एस.एस. खिची द्वारा अभियोजन अधिकारी एवं कार्यालय के समस्त अधिकारी एवं कर्मचारीगण की उपस्थिति में श्रीमति सिमी रत्नम सहा.जिला लोक अभियोजन अधिकारी को कार्यालय में प्रशस्ति पत्र प्रदान किया गया। प्रदत प्रशंसा पत्र के लिये जिला अभियोजन कार्यालय, झाबुआ के समस्त अधिकारीगण एवं कर्मचारीगण द्वारा शुभकामनाएॅं दी गई। यह जानकारी सहा.मिडिया सेल प्रभारी सुश्री शीला बघेल जिला अभियोजन कार्यालय झाबुआ द्वारा दी गई।

कोई टिप्पणी नहीं: