झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 14 अगस्त - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 14 अगस्त 2020

झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 14 अगस्त

झाबुआ में 5 लाख की लूट एक दर्जन हथियारबंद बदमाशों ने दिया वारदात को अंजाम 
माइक्रो फाइनेंस कंपनी के एजेंटों से हुई लूट 

jhabua news
झाबुआ। माइक्रो फाइनेंस कंपनी के एजेंटों से 5 लाख रुपये की लूट का मामला सामने आया है। बताया जा रहा है कि लगभग एक दर्जन हथियारबंद बदमाशों ने लूट की घटना को अंजाम दिया है। बदमाशों ने धारिया (फरसे) की नोक पर लूट की है। घटना की सूचना मिलने पर पुलिस टीम के साथ मौके पर पहुंची और घेराबंदी करने में लगी हुई है। यह घटना थांदला थाना क्षेत्र के समीप बायपास रिंग रोड की है, जहां माइक्रो फाइनेंस कंपनी के एजेंटों से 5 लाख रुपये की लूट की गई है। माइक्रो फाइनेंस के कर्मचारी 4 गांव से कलेक्शन करके तीन अलग अलग दो पहिया वाहन पर पेटलावद हेड ऑफिस लौट रहे थे। तभी 6 मोटरसायकलों पर आये लगभग एक दर्जन हथियारबंद बदमाशों ने धारिया दिखाकर लगभग 5 लाख रुपये की लूट की है। प्राप्त जानकारी अनुसार बंधन बैंक के कर्मचारी ग्राम मोरझरी, पंचखेरिया, मदरानी के आसपास से कलेक्शन करके पेटलावद की और आ रहे थे। तभी ग्राम रुंडीपाडा के समीप थांदला लिमडी बायपास पर 12 से अधिक अज्ञात बदमाशों ने धारिये की नोक पर कर्मचारियों से लूट की घटना को अंजाम दिया। लूट की खबर मिलने पर थाना प्रभारी विवेक शर्मा अपनी टीम के साथ मौके पर पहुंचे और मामले को जांच मे लिया।

जिला कांग्रेस कार्यालय प्रांगण में होगा  झंडा वंदन

झाबुआ ! 74 वें स्वतंत्रता दिवस के पावन अवसर पर स्थानीय जिला कांग्रेस कमेटी प्रांगण में दिनांक 15 अगस्त शनिवार को प्रातः 9रू00 समारोह पूर्वक झंडा वंदन किया जाएगा शहर कांग्रेस अध्यक्ष गौरव सक्सेना एवं जिला कांग्रेस प्रवक्ता हर्ष भट्ट ने बताया कि कॅरोना संक्रमण के कारण  इस बार स्वतंत्रता दिवस का कार्यक्रम सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए  सीमित संख्या में मनाया जाएगा पूर्व केंद्रीय मंत्री पूर्व प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष एवं क्षेत्रीय विधायक कांतिलाल भूरिया के द्वारा झंडा वंदन किया जाएगा कार्यक्रम की अध्यक्षता जिला कांग्रेस अध्यक्ष निर्मल मेहता करेंगे झंडा वंदन के पश्चात प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष कमलनाथ जी के संदेश का वाचन किया जाएगा! जिला कांग्रेस ने जिले के समस्त ब्लॉक अध्यक्षों को निर्देश दिए हैं कि वे अपने ब्लॉक मुख्यालय पर स्वतंत्रता के दिवस  के अवसर पर झंडा वंदन करें! इस कार्यक्रम में विधायक वॉल सिंह मेडा विधायक वीर सिंह भूरिया  जिला कांग्रेस कार्यवाहक  अध्यक्ष रूप सिंह डामोर एहेमचंद डामोर पूर्व विधायक जेवियर मेडा युवा नेता डॉ विक्रांत भूरिया ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष कान्हा गुंडिया सहित सीमित संख्या में कांग्रेस जन  उपस्थित रहेंगे!

पर्युषण पर्व पर पशु वध व मांस विक्रय पर प्रतिबंध लगाने जैन समाज व आईजा ने सौंपा ज्ञापन

jhabua news
थांदला। जैन समाज के आध्यात्मिक आलोचना के महापर्व पर्युषण आगामी 15 अगस्त से प्रारंभ हो रहे है जो 24 अगस्त तक चलेंगे। इस दौरान माननीय सर्वोच्च न्यायालय के निर्णय एवं एनीमल वेलफेयर बोर्ड ऑफ इंडिया ने एडवाइजरी जारी करते हुए पूरे भारत में पशु वध एवं मांस विक्रय प्रतिबंधित किया है। स्थानकवासी जैन समाज अध्यक्ष जितेंद घोड़ावत, मंत्री प्रदीप गादिया, मूर्तिपूजक जैन समाज के वरिष्ठ मार्गदर्शक यतीश छिपानी, उमेश आर पिचा, तेरापंथ महासभा अध्यक्ष अरविंद रुनवाल, ऑल इंडिया जैन जर्नलिस्ट एसोसिएशन (आईजा) के प्रदेशाध्यक्ष पवन नाहर, कमलेश कुवाड़, समकित तलेरा श्री ललित जैन नवयुवक मंडल अध्य्क्ष कपिल पिचा, उपाध्यक्ष गौरव लोढ़ा ने तहसील कार्यालय पहुँच कर श्रीमान एसडीएम जे एस बघेल को ज्ञापन सौंपते हुए उक्त आदेशों की कॉपी संलग्न कर उसके परिपालन में नगर व आसपास के क्षेत्रों में पूर्णतया पशु वध एवं मांस विक्रय पर रोक लगाने की मांग की है। उन्होंने बताया कि अहिंसा के अवतार श्रमण भगवान महावीर स्वामी सभी जीवों के प्रति दया व करुणा भाव रखते थे एवं उनके द्वारा अहिंसा को परम धर्म बताया गया है, पर्युषण पर्व अहिंसात्मक आस्था रूप समस्त जीवों को अभयदान देने के लिये प्रसिद्ध है इसलिए इन पावन दिनों में किसी भी प्रकार की हिंसा के लिये कोई स्थान नही है अतः श्रीमान इन पावन दिनों के लिये आदेश जारी करते हुए सम्पूर्ण भारत की तर्ज पर नगरीय सीमा में पशु वध एवं मांस विक्रय पर सख्त प्रतिबंध लगाए।

महापर्व पर्यूषण मे कत्लखाने बंद करने हेतू दिया ज्ञापन

झाबुआ।  आगमी 15अगस्त शनिवार से श्वेताम्बर समाज के आठ दिवसीय पर्यूषण महापर्व प्रारम्भ होने वाले है। इन आठ दिनो मे हिंसा आदि के कार्य न हो तथा जीवों के प्रति सबके मन मे दया भाव हो इसलिए इन आठ दिनो तक कत्ल खाने एवं मांस आदि पर पूर्ण प्रतिबंध हो। इस विषय को लेकर एक ज्ञापन जिला कलेक्टर प्रबल सिपाहा को स्थानीय जैन संगठनो द्वारा दिया गया। उक्त जानकारी देते हुये जैन श्रैताम्बर श्रीसंध के सहसचीव रिंकू रूनवाल ने बताया की सकल श्वैताम्बर जैन श्री संघ के अध्यक्ष संजय मेहता, स्थानक श्री संघ के अध्यक्ष प्रदीप रूनवाल, तेरापंथ जैन संघ झाबुआ के अध्यख पंकज कोठारी की सहमति से श्री मलबा जैन श्वेताम्बर महासंघ के केन्द्रीय प्रवक्ता यशवंत भंडारी , भारतीय जैन संघटना के जिला अध्यक्ष सुनील संघवी चातुर्मास समिति के अध्यक्ष अनिल रूनवाल,  ने जिला कलेक्टर कार्यालय मे जिला कलेक्टर श्री प्रबल सिपाहा से मुलाकत कर उन्हे इस बाबत एक ज्ञापन सौपा। ज्ञापन मे कहा गया की केन्द्र सरकार एवं केंद्रीय पशु कल्याण बोर्ड के निर्देश अनुसार पर्यूषण पर्व पर पशु हत्या पर पूर्णतः रोक लगी दी गईं हे , परन्तु स्थानीय प्रशासन के ढीले रवेये के कारण उक्त महत्वपूर्ण आदेश का पालन नही होता जिसके कारण प्रतिबंध के बावजूद कत्लखाने चालु रहते हे तथा मांस विक्रय बे रोक थोक जारी रहता हे जो कि केन्द्र सरकार एवं पशु कल्याण बोर्ड के आदेश की खुली अवहेलना हे अतः इस वर्ष इसका सख्ती से पालन कराया जाय।

कार्यवाई का दिया आश्वसन
जैन संस्थाओ केपदाधिकारियों द्वारा दिये ज्ञापन पर कलेक्टर श्री सिपाहा ने आवश्यक कार्यवाई करने का आश्वसन दिया तथा उक्त संबंध मे आवश्यक कार्यवाई करने हेतू नगर पालिका के सी .एम .ओ .को निर्देशित किया

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजनान्तर्गत अब 17 अगस्त तक फसल बीमा करा सकेंगे

झाबुआ। जिले के ऐसे किसान भाई जो प्रधानमंत्री फसल बीमा योजनान्तर्गत 31 जुलाई तक फसलों का बीमा नहीं करवा पाये हैं उन्हें एक मौका ओर मिलेगा। प्रदेश सरकार ने फसल बीमा कराने की अंतिम तिथि 17 अगस्त तक के लिये बढा दी है। किसान कल्याण तथा कृषि विकास मंत्री श्री कमल पटेल, द्वारा बताया गया कि कई किसान भाई 31 जुलाई तक फसल बीमा नहीं करवा पाये थे ऐसे सभी किसान भाई 17 अगस्त तक प्रधानमंत्री फसल बीमा के तहत अपनी फसलों का बीमा करवा सकते है। फसल बीमा के संबंध में अधिक जानकारी प्राप्त करने अथवा समस्या समाधान के लिए निकटवर्ती बैंक शाखा, प्राथमिक सहकारी साख समिति, कृषि, उद्यानिकी विभाग के मैदानी अमले तथा विकासखण्ड स्तरीय शासकीय सेवकों से सम्पर्क कर सकते हैं।

जिले में आदान गुण नियंत्रण के लिए उर्वरक के लक्ष्य से अधिक नमूने लिये गए, 80 नमूने मानक स्तर के पाये गए

झाबुआ।  कृषि विभाग द्वारा खरीफ 2020 में जिले में आदान गुण नियंत्रण के अन्तर्गत उर्वरक के 89 नमूने लेने का लक्ष्य था, जिसके विरूद्ध अब तक 134 नमूने लिए गए। इनमें से 87 नमूनों की जांच रिपोर्ट आ गई है। इनमें से 80 नमूनों की रिपोर्ट मानक स्तर की पाई गई है और 7 नमूनों की जांच रिपोर्ट अमानक स्तर की पाई गई है। उप संचालक किसान कल्याण तथा कृषि विकास श्री एन.एस. रावत ने अवगत कराया कि उर्वरक के 7 नमूने अमानक स्तर के पाये गए है उन विक्रेताओं को कारण बताओं सूचना पत्र जारी किया गया है। इस खरीफ मौसम में जिले में बीज के 150 नमूने लिये जाकर जांच के लिए भेजे गए। जांच में 54 नमूनों की रिपोर्ट प्राप्त हो गई है जो कि मानक स्तर की पाई गई है। इसी प्रकार जिले में इस खरीफ सीजन में पौध संरक्षण औषधि के 16 नमूने लेने का लक्ष्य के विरूद्ध 16 नमूने लिये गए। जिनमें से 8 नमूनों की जांच रिपोर्ट आ चुकी है। इनमें से 6 नमूने मानक स्तर के तथा 2 नमूने अमानक स्तर के पाये गए है। अमानक स्तर के पाये गये नमूनों में विक्रेताओं के विरूद्ध कारण बताओं सूचना पत्र जारी किये गए हैं। उप संचालक कृषि ने जिले में बीज के अवैध भण्डारण करने वाले 2 व्यक्तियों पर एफ.आई.आर दर्ज करवाई है। इसी प्रकार उर्वरक के अवैध भण्डारण करने पर एक व्यक्ति के खिलाफ एफ.आई. आर दर्ज करवाई गई है और 2 उर्वरक प्रतिष्ठान का लायसेंस निरस्त किया गया है।

प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत्जि ले में 4 हजार 278 आवासों का निर्माण कार्य पूर्ण

झाबुआ। जिला पंचायत द्वारा प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत् वर्ष 2019-20 में 15 हजार 31 हितग्राहियों के आवास स्वीकृत करने का लक्ष्य था। जिसके विरूद्ध अब तक 14 हजार 393 हितग्राहियों को आवास स्वीकृत किये जा चुके है। मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री सिद्धार्थ जैन से प्राप्त जानकारी के अनुसार जिले में इस योजना के तहत् स्वीकृत आवासों में से 4 हजार 278 आवासों का निर्माण कार्य पूर्ण किया जा चुका है और 10 हजार 753 आवासों का निर्माण कार्य प्रगति पर है।

आगामी दो दिनों का मौसम पूर्वानुमान

झाबुआ। मौसम विभाग से प्राप्त जानकारी के अनुसार जिले में आगामी 2 दिनों में घने बादल रहने, अधिकतम व न्यूनतम 27.0 से 29.0 व 22.0 से 23.0 डि.से. के बीच रहने, हवा पश्चिम दिशा 23.3 से 24.4 कि.मी./घंटा चलने एवं 16.0 मि.मी. वर्षा होने का अनुमान है।

डाइग्नोस्टिक टीम द्वारा खरीफ फसलों में कीट व्याधि के प्रकोप के नियंत्रण के लिए तकनीकी सलाह

झाबुआ,। खरीफ फसलों में कीट व्याधियों के प्रकोप की निरन्तर निगरानी रखने के उद्देष्य से डाइग्नोस्टिक टीम जिसमें उप संचालक किसान कल्याण तथा कृषि विकास श्री एन.एस. रावत, सहायक संचालक कृषि श्री एस.एस रावत, कृषि विज्ञान केन्द्र के वैज्ञानिक डाॅ. आर. के. त्रिपाठी, वरिष्ठ कृषि विकास अधिकारी श्री ए.एस. बारिया तथा सम्बन्धित क्षेत्र के ग्रामीण कृषि विस्तार अधिकारी श्री प्रकाष बामनिया एवं संतोष मुणिया द्वारा विकासखण्ड मेघनगर के ग्राम सजेली भीमजी तथा नरसिंगपुरा क्षेत्र का सघन भ्रमण कर श्री दलसिंह पिता जहिंग, गोविन्दसिंह पिता दल्ला एवं श्यामलाल पिता रामसिंह से जीवन्त सम्पर्क कर खेत में लगी सोयाबीन एवं मक्का फसलों का अवलोकन किया गया। भ्रमण के दौरान फसलों की स्थति बेहतर देखी गई। कहीं कहीं आंशिक रूप से सोयाबीन फसल में पीला मोजैक रोग एवं मक्का फसल में फाल आर्मीवर्म का प्रकोप देखा गया। जिनके नियंत्रण के लिए दल द्वारा अनुसंशित फफुन्दनाषक एवं कीटनाषक का उचित घोल बनाकर फसलों पर छिडकाव करने की तकनीकी सलाह दी गई। सोयाबीन, उडद, मूंग की फसल में फफुंदजनित पीला मोजैक वायरस के नियंत्रण के लिए टेबुकोनाजोल (625 मि.ली./ हेक्टर) अथवा टेबुकोनाजोल$सल्फर 1 किलो/हेक्टर अथवा हेक्जाकोनाजोल 5 प्रतिषत ई.सी. 800 मिली./हेक्टर की दर से छिड़काव करने की सलाह दी गई। कपास की फसल में रस चूषक कीट एफिड का प्रकोप होने पर एसीटामेप्रिड दवा का 10 मिली प्रति स्प्रे पंप के मान से घोल बनाकर छिडकाव करने की सलाह किसानों को दी गई। मक्का फसल में माहू का प्रकोप होने पर अनुषंसित कीटनाषक इमीडाक्लोप्रिड दवा की 10 मिली. प्रति स्प्रे पंप का उचित घोल बनाकर छिडकाव करने की सलाह दी गई। मक्का फसल में फाल आर्मी वर्म के नियंत्रण के लिए क्लोरपायरीफाॅस 20 ई.सी. दवा 2 एम.एल. या स्पिनोसॅड 45 एस.सी. 0.3 मिली या एमामेक्टीन बेन्जोएट 5 एस.जी. 0.4 ग्राम या इंडोक्झाकार्ब 14.5 प्रतिषत एस.सी. 1 एम.एल. या थायोमेथाक्झॅम$लॅम्बडासायहेलोर्थिन 0.5 मिली. दवा प्रति लीटर पानी में घोल बना कर छिडकाव करने की सलाह दी गई। विभाग द्वारा किसान भाईयो से यह अपील की जाती है कि अपनी फसल पर निरन्तर निगरानी रखें व समय पर कीट नियंत्रण के लिए सामूहिक रूप से प्रयास करें तथा अनुषंसित कीटनाषक दवा का उचित समय पर उचित घोल बना कर छिडकाव करे। वर्षा ऋतु के दौर मे ढलाव वाले (निचले स्तर) खेतों मे जल भराव की स्थति बनने पर उचित जल निकास के लिए नाली बनवाये। अधिक जानकारी के लिए कृषि विज्ञान केन्द्र एवं नजदीकी कृषि कार्यालय से सम्पर्क करें एवं मैदानी अमलों से उचित मार्गदर्षन लेवे।

कोई टिप्पणी नहीं: