मधुबनी : लोजपा के बिहार फर्स्ट बिहारी फर्स्ट का आह्वान - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 17 अगस्त 2020

मधुबनी : लोजपा के बिहार फर्स्ट बिहारी फर्स्ट का आह्वान

ljp-bihar-first-bihari-first-slowgun
मधुबनी (आर्यावर्त संवाददाता) जूम ऐप के जरिए विडिओ काॅन्फ्रेन्सिंग में लोक जनशक्ति पार्टी के सभी जिला अध्यक्षों प्रदेश पदाधिकारियों माननीय सांसद एवं लोजपा के माननीय विधायकों के साथ  सीधा संवाद करते हुए लोक जनशक्ति पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष सांसद युवा बिहारी श्री चिराग पासवान जी ने आज बताया कि बिहार सरकार द्वारा इस वैश्विक महामारी कोरोना के टेस्टिंग मामले में बिहार की जनता के साथ खिलवाड किया जा रहा है उन्होंने बिहार सरकार के स्वास्थ्य सचिव एवं कई जिला अधिकारियों के साथ हुई वार्ता का हवाला देते हुए बताया कि अब तक जो बिहार में कोरोना की टेस्टिंग की जा रही है उस में 90% से अधिक टेस्टिंग रैपिड एंटीजन टेस्ट किट से की जा रही है जिस की विश्वसनीयता आईसीएमआर के मुताबिक शत प्रतिशत सही है यह जरूरी नहीं है आईसीएमआर ने केवल कंटेनमेंट जोन में ही त्वरित कोरोना जाँच हेतु रैपिड एंटीजन टेस्ट किट के इस्तेमाल की मंजूरी दी है साथ ही इस जांच के बाद नेगेटिव पाए गए संदेहास्पद मरीजों की निश्चित रूप से आरटी पीसीआर के माध्यम से भी पुनः जांच सुनिश्चित कराने की सलाह दी गई है जबकि बिहार शायद विश्व में पहला राज्य है जहां rt-pcr से कोरोना की टेस्टिंग का दर काफी नगण्य है जो सीधे-सीधे बिहार सरकार द्वारा आम जनता को मौत के मुंह में धकेलने जैसा है। टेस्टिंग के बाद जो आंकड़े आ रहे हैं वह भी काफी संदेहास्पद है जब टेस्टिंग बढ़ रही है तो आंकड़े भी बढ़ने चाहिए जबकि आँकड़े स्थिर है जो कहीं ना कहीं इस संदेह को मजबूत करता है कि या तो आंकड़े सही नहीं है या सरकार द्वारा आंकड़े छुपाये जा रहे हैं ।

राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री चिराग पासवान जी ने बताया कि लोक जनशक्ति पार्टी का लक्ष्य केवल सत्ता पाना या सत्ता में रहना नहीं है बल्कि बिहार की आम जनता की पीड़ा को दूर कर बिहारी गौरव की रक्षा हेतु बिहार फर्स्ट बिहारी फर्स्ट को मजबूत बनाना है जबकि कुछ दल केवल सत्ता एवं कुर्सी के लिए इस वैश्विक महामारी कोरोना काल में चुनाव कराने की वकालत करके बिहारी आम आवाम को मौत के मुंह में धकेलना चाहते हैं ।  राष्ट्रीय अध्यक्ष ने एनडीए के कद्दावर दलित नेता और मंत्री श्याम रजक को जिस तरह से जदयू से निकालते निकालने हुए मंत्री पद से बर्खास्त किया गया उसे दुर्भाग्यपूर्ण बताया । चिराग पासवान ने स्थानीय निकाय एवं पंचायत प्रतिनिधियों के बीच लोजपा के बिहार फर्स्ट बिहारी फर्स्ट पैगाम को पहुंचाने तथा उन्हें पार्टी की विचारधारा के साथ जोड़ने का आह्वान किया ।उक्त आशय की जानकारी मधुबनी लोजपा जिला अध्यक्ष श्री बचनू मंडल ने दी ।

कोई टिप्पणी नहीं: