मधुबनी : डीएम ने किया ध्वजारोहण, विकास कार्यों की दी जानकारी - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 15 अगस्त 2020

मधुबनी : डीएम ने किया ध्वजारोहण, विकास कार्यों की दी जानकारी

mdhubnai-dm-flag-host
मधुबनी, 15 अगस्त20 74वें स्वतंत्रता दिवस के शुभ अवसर पर जिलाधिकारी डॉ नीलेश रामचंद्र देवरे ने मुख्य समारोह स्थल पुलिस केंद्र के मैदान में राष्ट्रीय ध्वज का ध्वजारोहण किया। इस अवसर पर स्थानीय जनप्रतिनिधि, पुलिस अधीक्षक, प्रशासनिक एवं पुलिस अधिकारी उपस्थित थे। जिला पदाधिकारी के द्वारा इस एतिहासिक अवसर पर मंच पर संबोधन के दौरान सर्वप्रथम समस्त जिला वासियों को स्वतंत्रता दिवस की हार्दिक शुभ कामना दिया । तत्पश्चात कोराना महामारी की चुनौती से निपटने हेतु जिला प्रशासन द्वारा किए जा रहे प्रयासों के साथ साथ मधुबनी जिला के चहुंमुखी विकास हेतु किए जा रहे कार्यों के बारे में विस्तृत जानकारी दी गई। जिला पदाधिकारी ने बताया कि जिला के सभी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों पर रैपिड एंटीजन, ट्रूनेट तथा आरटीपीसीआर तीनों विधि से कोराना टेस्ट की जा रही है।जिसमें आर टी पीसीआर को छोड़कर शेष जांच जिला में ही सम्पन्न हो रहे है।जिला में वर्तमान में कार्यरत 4 कोरोना केयर सेन्टर के अतिरिक्त सभी प्रखंडों में न्यूनतम 30बेड कोराना केयर सेंटर स्थापित किया जा रहा है। इसके साथ जिला कॉविड कंट्रोल रूम सह टेलीफोनिक परामर्श केंद्र स्थापित कर जिला के प्रशासनिक एवम् चिकित्सा अधिकारी के माध्यम से सभी प्रभावित लोगो से संपर्क स्थापित कर उनके स्वास्थ्य की अद्यतन स्थिति की जानकारी ली जाती है।जिला में प्रतिदिन लगभग 6000टेस्ट प्रतिदिन हो रहे है। वर्तमान में जिला में 50000 लोगो के टेस्ट किए जा चुके है।जिला में  Corona के संक्रमण से मृत्य दो व्यक्ति के आश्रित को मुख्यमंत्री सहायता कोष से ₹4 लाख का चेक दिया जा चुका है।
    

आपदा राहत के संबंध में जानकारी देते हुए जिला पदाधिकारी ने बताया कि जिला के चार बाढ़ प्रभावित प्रखंड मधेपुर,बिस्फी, बेनीपट्टी तथा हारलखी के पंचायतों के प्रभावित परिवार के लोगों को मुफ्त सहाय(G.R.)देने की कारवाही की जा रही है।साथ ही जिला में अतिवृष्टि से प्रभावित फसलों का सर्वेक्षण कराकर फसल अनुदान देने का भी कारवाही की जा रही है। जिला पदाधिकारी ने कृषि के क्षेत्र में बताया कि जिला में प्रधानमंत्री कृषि सम्मान निधि के अन्तर्गत प्राप्त कुल आवेदनों में से लगभग 3लाख 11हजार 3सौ 44लोगो का आवेदन भारत सरकार को अग्रसारित की जा चुकी है।धान के बीचडा एवम् रोपनी का लक्ष्य भी  प्राप्त कर लिया गया है।जिला में हर खेत की पानी योजना के अन्तर्गत खेतों का सर्वेक्षण कराया जा रहा है जिसमें 5प्रखंडों में पूर्ण हो चुका है तथा शेष बरसात के मौसम के बाद होगा।जिला के प्रत्येक प्रखंड में कृषि कार्यालय स्थापित किया जा चुका है तथा सभी पंचायतों में मौसम सूचना केन्द्र स्थापित करने हेतु स्थल का चयन किया जा चुका है। जिला में मुख्यमंत्री ग्राम परिवहन योजना के अन्तर्गत कुल 1995 लोगो को लाभ दिया जाना है जिसमें 1351लोगो को वाहन खरीदने हेतु अनुदान दिया जा चुका है। जिला में मनरेगा के तहत 1लाख30हजार परिवारों को रोजगार उपलब्ध कराते हुए 33लाख मानव दिवस का सृजन किया गया है।लॉक डाउन के दौरान बाहर से आए 47हजार प्रवासी को जॉब कार्ड उपलब्ध कराया गया है। जिला में जल जीवन हरियाली योजना के अन्तर्गत 3 लाख 84हजार पेड़ लगाए जा चुके है।  माननीय मुख्यमंत्री जी के महत्वाकांक्षी लक्ष्य के तहत प्रत्येक पंचायत में एक उच्च माध्यमिक विद्यालय स्थापित करने का है जिसके तहत 200पंचायतों में पहले से उच्च माध्यमिक विद्यालय थे शेष  199 पंचायतों में उच्च माध्यमिक विद्यालय स्थापित कर ली गई है।जिले के 136 विद्यालय में रैन वाटर हार्वेस्टिंग के साथ पठन पाठन का कार्य चल रहा है।  मुख्यमंत्री सात निश्चय योजना अन्तर्गत मधुबनी जिला के 4721 वार्डों में से 3692वार्डों में पेयजल की योजना एवम् 5523वार्डों में से 5287वार्डों में पकी नली की योजना पूर्ण हो चुकी है तथा शेष का कार्य प्रगति पर है। मधुबनी जिला के झंझारपुर अनुमंडल में एक राजकीय चिकित्सा महाविद्यालय,एक अभियंत्रण महाविद्यालय ,पंडौल तथा एक पारा मेडिकल कॉलेज,राजनगर में निर्माणधीन है।इसी प्रकार जिला के धरोहर मिथिला कला के प्रोत्साहन एवम् प्रचार प्रसार  हेतु सामान्य सुविधा केंद्र का निर्माण राजनगर के मांग्रौनी,रहिका के जितवारपुर,पंडौल के रामपुर तथा झंझारपुर के रैयाम में निर्माणाधीन है।मिथिला पेंटिंग के विक्री केंद्र हेतु रहिका के भौआरा में भवन निर्माणाधीन है।जिला में एक नए कृषि विज्ञान केंद्र के निर्माण हेतु झंझारपुर के सुखैत मौजा में भुमि हस्तांतरित की का चुकी है। झंझारपुर के अररिया संग्राम में स्थानीय हस्तशिल्प एवम् कला के उत्थान तथा क्षेत्रीय एवम् राष्ट्रीय कला के केंद्र के रूप एक अर्बन हाट के स्थल स्थांतरित की जा चुकी है। इसके अतिरिक्त जिला पदाधिकारी ने जिला में मध निषेध को प्रभावी बनाने,सामाजिक सुरक्षा के तहत सरकार द्वारा चलाए जा रहे कार्यक्रमो  भी मंच के माध्यम से जानकारी दी गई। अंत में जिला पदाधिकारी ने सभी जिला वासियों के सुखमय एवम् स्वास्थ्य जीवन की कामना की। Covid के  संक्रमण को देखते हुए जिला पदाधिकारी के समस्त ध्वजारोहण कार्यक्रम का लाइव टेलीकास्ट फेसबुक ,ट्विटर,यूट्यूब तथा केवल  चैनल के माध्यम से किया जा रहा था ताकि लोग अपने घर से इसका सीधा प्रसारण देख सके।

कोई टिप्पणी नहीं: