बिहार : मुज़फ़्फ़रपुर के SKMCH में अत्याधुनिक PICU वार्ड अब कोविड वार्ड - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 14 अगस्त 2020

बिहार : मुज़फ़्फ़रपुर के SKMCH में अत्याधुनिक PICU वार्ड अब कोविड वार्ड

new-picu-ward-in-skmch-now-covid-waard
मुजफ्फरपुर में भी कोरोना संक्रमण के तेजी से बढ़ते मामलों को देखते हुए अब राज्य सरकार का स्वास्थ्य महकमा हरकत में आ गया है । हालात पर प्रभावी नियंत्रण को लेकर मुजफ्फरपुर में कोविड-19 से संबंधित रोगियों के इलाज के लिए व्यापक व प्रभावी चिकित्सा उपलब्ध कराने की दिशा में SKMCH के मेडिकल कालेज में प्लाज्मा थेरेपी शुरू करने के साथ अत्याधुनिक पीकू वार्ड 100 बेड को कोविड अस्पताल के डेडिकेट वार्ड के रूप में काम में लाने की कवायद शुरू की गई है।जो 2 से 3 दिनों में शुरू हो जाएगा। एसकेएमसीएच में AES बच्चों के लिए बने हुए अत्याधुनिक पीकू वार्ड को फिलहाल विशेष कोविड केयर सेंटर के रूप में इस्तेमाल किया जाएगा जहा गंभीर रूप से पीडित कोरोना पॉजिटिव मरीजो का इलाज किया जाएगा और इस PICU वार्ड में अगले 2 से 3 दिनों के भीतर कोरोना मरीजो के इलाज को शुरू किया जाएगा। इस नई व्यवस्था शुरू होने के साथ ही एसकेएमसीएच मेडिकल कालेज के वर्तमान कोविड अस्पताल को 100 बेड वाले अत्याधुनिक पीकू भवन में शिफ्ट किया जाएगा तो 70 बेड के इंसेफ्लाइटिस वार्ड को भी अब इसके लिए इस्तेमाल किया जाना है। जिसके बाद अब 170 बेड कोरोना के मरीज के इलाज के लिए इस्तेमाल जाना है और वही पीकू वार्ड में भर्ती एईएस के अन्य बच्चों को अस्पताल के पुराने पीकू वार्ड में शिफ्ट किया जाएगा। इसके पूर्व में पूरे वार्ड को सैनेटजेशन किया जाना है। जिला में कोरोना के लिए यह डेडिकेट कोविड केअर के ही रूप में कार्य करना है। एस के एम सी एच के अधीक्षक डॉ सुनील कुमार शाही ने बताया कि 100 बेड का पीआईसीयू है यह सुविधा पहले से ही है शिफ्ट करने की व्यवस्था की जा रही है जो आईसीयू को भी बनाया गया है जिसमें अभी सात आठ पेसेंट मौजूद है जब इनकी स्थिति सुधरेगी तो धीरे-धीरे डिस्चार्ज कर दिया जाएगा कम से कम 2 से 3 दिन लगेंगे तैयारियां सब कुछ हो चुकी है। क्योंकि एक पेशेंट अभी यहां मौजूद है जब यहां से डिस्चार्ज किया जाएगा उसके बाद ही पी आई सी यू वार्ड को 48 घंटे को लेकर पूरे तरह से सैनिटाइज किया जाएगा। फिर उसमें बीमार बच्चो को शिफ्ट कर ने के बाद नए बने पीकू वार्ड को कोविड अस्पताल के रूप में यूज किया जाएगा। पहले से जहां रेस्ट हाउस था उसमें ऑक्सीजन युक्त बेड लगाकर यूज किया जा रहा था वहां 46 बेड है तो टोटल मिलाकर अब 170 बेड हो जाएगी। 1 से 2 दिन लगेगा सारी व्यवस्था है सही हो जाएगी।

कोई टिप्पणी नहीं: