सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 10 अगस्त - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 10 अगस्त 2020

सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 10 अगस्त

पंवार मिशन मोदी अगेन प्रकोष्ठ जिलाध्यक्ष नियुक्त  

sehore news
सीहोर। मिशन मोदी अगेन प्रकोष्ठ का जिलाध्यक्ष भाजपा युवा नेता निर्मंल पंवार  को नियुक्त किया गया। भाजपा कार्यकर्ताओ द्वारा पंवार को युवा जिलाध्यक्ष बनाए जाने पर हर्ष व्यक्त किया गया। वरिष्ठ भाजपा नेता मानसिंह पंवार, मोहन चौरसिया, प्रदीप बिजोरिया, हरीश राठोर, राजेश माक्षी, विपिन सास्ता, राजु बोयत, नैतीक राय, शुभम राठोर, दीपक राजपूत, हृदय महेशवरी, धीरज महेशवरी, हिरदेश राठोर, धीरज राठोर, महेश तीवारी, मयंक साहू, मुन्ना शर्मा, अरूण वर्मा रोहित वर्मा, भगवत सिंह परमार धर्मेंद्र पवांर आदि ने वरिष्ठ नेतृत्व का आभार व्यक्त कर पंवार को बधाई दी।

आज 12 की रिपोर्ट पॉजीटिव प्राप्त हुई इछावर निवासी एक कोरोना संक्रमित महिला की मृत्यु हो गई,कुल मृत्यु संख्या 14 वर्तमान में कुल पॉजीटिव एक्टिव व्यक्तियों की संख्या 118

मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकार डॉक्टर सुधीर कुमार डेहरिया ने बताया कि  आज शाम को 12 व्यक्तियों की कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजीटिव प्राप्त हुई है। संक्रमितों में सीहोर के 6 व्यक्ति शामिल है। जिसमें टीगर मोहल्ला गंज के 4 व्यक्ति, कस्बा का 1 तथा दांगी स्टेट से 1 व्यक्ति की रिपोर्ट पॉजीटिव प्राप्त हुई है। श्यामपुर विकासखण्ड अंतर्गत छतरपुरा से 1 व्यक्ति, बुदनी के बकतरा से 4 तथा नसरूल्लागंज से 1 व्यक्ति की रिपोर्ट पॉजीटिव प्राप्त हुई है। इछावर कुम्हारपुरा निवासी 1 संक्रमित महिला की भोपाल के हमिदिया अस्पताल में मृत्यु हो गई। 27 जुलाई को उसकी कोरोना जांच रिपोर्ट पाॅजीटिव प्राप्त होने के उपरांत उसे उपचार के लिए भोपाल के हमिदिया चिकित्सालय में भर्ती किया गया था जहां उसकी 8 अगस्त को मृत्यु हो गई वहीं सीहोर के तिलकपार्क निवासी 1 व्यक्ति की मृत्यु 4 अगस्त को भोपाल  में हुई थी जिसकी डेथ रिपोर्ट आज प्राप्त हुई है। जिले में कोरोना संक्रमित व्यक्तियों की मृत्यु संख्या 14 हो गई है।  आज 08 व्यक्तियों को स्वस्थ होने के उपरांत डिस्चार्ज किया गया है। डिस्चार्ज किए गए व्यक्तियों में सीहोर शहरी क्षेत्र से 6 व्यक्ति तथा बुदनी विकासखण्ड के 2 व्यक्ति शामिल है। जिले में अब तक कोरोना संक्रमण के उपरांत स्वस्थ होकर डिस्चार्ज किए गए व्यक्तियों की कुल संख्या 250 हो गई है। जिले में वर्तमान में एक्टिव/ पॉजीटिव व्यक्तियों की संख्या 118 है। जिले में कोरोना संक्रमित व्यक्तियों की मृत्यु संख्या 14 हो गई है।  आज 157 व्यक्तियों के  सैम्पल कोरोना जांच हेतु लिए गए है। सीहोर शहरी क्षेत्र से आज  43 सैम्पल जांच हेतु लिए गए है। श्यामपुर के 28, बुदनी से 09, आष्टा से 16, इछावर के 30, नसरूल्लागंज के 31 व्यक्तियों के कोरोना जांच हेतु सैम्पल लिए गए है। आज पॉजीटिव मिले नए कंटेनमेंट जोन सहित समस्त कंटेनमेंट एवं बफर जोन में स्वास्थ्य दलों द्वारा सघन स्वास्थ्य सर्वे किया जा रहा है। वहीं पॉजीटिव मिले व्यक्तियों के करीबी संपर्क वाले व्यक्तियों की पहचान कर उनकी सूची तैयार की जा रही है। प्रत्येक कंटेनमेंट जोन में सर्वे के लिए एक से दो दल लगाए गए है। सर्वे दल के प्रभारी चिकित्सा अधिकारियों को बनाया गया है तथा स्वास्थ्य सर्वे दल में ए.एन.एम., आशा कार्यकर्ता, आंगनबाडी कार्यकर्ताओं की ड्यूटी लगाई गई है। जिले में कुल कोरोना पॉजीटिव व्यक्तियों की संख्या 382 है जिसमें से 14 की मृत्यु हो चुकी है 250 स्वस्थ्‍ होकर डिस्चार्ज हो गए है तथा वर्तमान में 118 पॉजीटिव व्यक्तियों का उपचार चल रहा है। आज कुल 157 सैंपल जांच हेतु लिए गए। जिले से अब तक कुल 5709 सेम्पल जांच के लिए भेजे गए थे जिनमें से 4815 सेंपलों की रिपोर्ट अब तक निगेटिव प्राप्त हुई है। आज 101 लोगों की रिपोर्ट निगेटिव आई है। कुल 483 सैंपलों की रिपोर्ट आना शेष है। पैथालॉजी द्वारा कोरोना वायरस सेंपल की रिजेक्ट संख्या कुल 29 है।  जिले में जो व्यक्ति होम क्वारंटाइन में है उनके निवास स्थान से सीधे संवाद हेतु जिला स्तरीय कोविड-19 काल सेंटर स्थापित किया गया है जिसका संपर्क नंबर.7247704181 है कोविड.19 से संबंधित जानकारी इस संपर्क नंबर पर ली व दी जा सकती है। वहीं जिला चिकित्सालय सीहोर में टेलीमेडिसीन के लिए संपर्क नंबर 07562-401259 जारी किया गया है तथा राज्य स्तर पर 104/181 नंबर पर काल करके भी टेलीमेडिसीन सेवा का लाभ लिया जा सकता है। 104  नंबर पर ई.परामर्श सेवा का भी लाभ लिया जा सकता है। ई.संजीवनी ओपीडी सेवा हेतु www.esanjeevaniopd.in पंजीयन कराया जा सकता है। कलेक्ट्रेट कार्यालय सीहोर में भी जिला स्तरीय काल सेंटर बनाया गया है जिसका संपर्क नंबर 07562.226470 है तथा होम क्वारंटाइन व्यक्तियों तथा उनके परिजनों के लिए हेल्पलाइन नंबर 18002330175 जारी किया गया है। जिस पर संस्थागत क्वारंटाइन अथवा होम क्वारंटाइन व्यक्ति अथवा उनके परिजन इमोशनल वेलनेस अथवा साईकोलाजिकल सपोर्ट एवं अन्य जरूरी परामर्श मानसिक सेवा प्रदाताओं से निःशुल्क प्राप्त कर सकते है।

धारा 144 के तहत कलेक्टर ने किए प्रतिबंधात्मक आदेश जारी

प्रदेश में कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव के लिए राज्य शासन द्वारा दिए गए निर्देशों के परिपालन में कलेक्टर एवं जिला दंडाधिकारी श्री अजय गुप्ता ने धारा 1973 के तहत भारतीय दंड प्रक्रिया संहिता की धारा 144 के तहत प्रतिबंधात्मक आदेश जारी किया है। जारी आदेश अनुसार जिले की संपूर्ण राजस्व सीमा में कोई भी धार्मिक कार्य त्यौहार का आयोजन सार्वजनिक स्थानों पर नहीं किया जाएगा न ही कोई जुलूस या रैली निकाली जाएगी। साथ ही सार्वजनिक स्थानों नर किसी भी प्रकार की मूर्ति या ताजिया आदि स्थापित नहीं किए जाएंगे। सभी अपने- अपने घरों ने पूजा उपासना करें। धार्मिक उपासना स्थलों पर कोविड 19 के संक्रमण के बचाव के लिए आवश्यक है कि एक ही समय में 5 से अधिक व्यक्ति इकट्ठे न हो। साथ ही उपासना स्थलों पर फेस कवर एवं सोशल डिस्टेंसिंग के मानकों का कड़ाई से पालन किया जाना सुनिश्चत करें। आदेश का उल्लंघन करने वाले व्यक्ति के विरुद्ध धारा 188 के तहत वैधानिक कार्यवाही एवं धारा 51-60 के तहत भी कार्यवाही की जाएगी।

कोविड केयर सेंटर में रोटरी क्लब  द्वारा प्रदान किए गए काफी पैकेट

sehore news
इंदौर-भोपाल हाईवे पर स्थित न्यू कोविड केयर सेंटर सीहोर मंे रोटरी क्ल्ब सीहोर द्वारा सीसीसी में भर्ती व्यक्तियों के लिए  प्री मिकस्ड काफी के पैकेट भेंट किए गए।  इस अवसर पर मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ सुधीर कुमार डेहरिया, जिला कोविड केयर सेंटर प्रभारी डाॅ.जे.डी.कोरी, जिला एपिडियोमीलाजिस्ट डा.रूचिरा उईके, रोटरी क्लब सीहोर के अध्यक्ष श्री कपील अग्रवाल, श्री आर.के.रैना, श्री जाली कुरियन, श्री आर.एन.नागोदिया सहित कोविड केयर सेंटर से डा.इब्रान खान, डा. राजकुमार अहिरवार, कोविड केयर संटर स्टोर प्रभारी श्री कपील दुफारे सहित अन्य ड्यूटी स्टाफ एवं  कर्मचारी उपस्थित थे

डेंगू और चिकनगुनिया से बचाव और सावधानी की अपील 

वर्षा ऋतु के दौरान जल जनित बीमारी आदि के साथ डेंगू और चिकनगुनिया के फैलने की संभावना के दृष्टिगत स्वास्थ्य विभाग ने नागरिकों से सावधानी बरतने की सलाह दी है।

डेंगू के लक्षण  - तेज बुखार, आंखों के पीछे दर्द, मांसपेशियों और सिर में तेज दर्द, मसूड़े व नाक से खून बहना और शरीर पर लाल चकत्ते होना डेंगू के लक्षण हो सकता है। चिकनगुनिया के लक्षण- तेज बुखार, सिर दर्द, जोड़ों में सामान्य दर्द और शरीर पर लाल चकत्ते आना आदि चिकनगुनिया के प्रमुख लक्षण हैं। डेंगू चिकन गुनिया के लक्षण नज़र आने पर नजदीकी उपचार केंद्र पर अपनी जाँच कराएं। उपचार यह लक्षण पाए जाने पर शासकीय चिकित्सालय में नि:शुल्क खून की जांच कराएं जांच में डेंगू या चिकनगुनिया पाए जाने पर डॉक्टर की सलाह के अनुसार पूरा उपचार ले। डेंगू एवं चिकनगुनिया का वाहक एंडीज मच्छर रुके हुए साफ पानी पीना होता है और दिन के समय काटता है पूरी बाह के कपड़े पहने तथा पानी को जमा ना होने दें इससे बचने के लिए घरों के आसपास सफाई रखें सभी कंटेनर जिनमें पानी भरा हो एवं कूलर के पानी सप्ताह में एक बार खाली कर सुखाकर उनमें नया पानी भरें आप दिन में भी सोते समय मच्छरदानी का उपयोग करें।

डेंगू एवं चिकनगुनिया से बचाव - पानी के बर्तन ढक कर रखें। अनुपयोगी सामग्रियों जैसे कूलर, ड्रम टंकी, बाल्टी आदि में पानी जमा ना होने दें। दोबारा उपयोग से पूर्व उन्हें अच्छी तरह सुखाएं। हैंड पंप के आसपास भी पानी इकट्ठा ना होने दें जमा पानी पर मिट्टी का तेल या इंजन का जला हुआ तेल डालें। आसपास सफाई रखें सोते समय मच्छरदानी का उपयोग करें पूरी बाद के कपड़े पहने  और पानी में मच्छर नहीं पनपने दें। स्वास्थ्य विभाग ने कहा है कि सावधनी बरतकर दोनो बीमारियों से बचाव किया जा सकता है।    

कोविड-19 के फस्ट कान्टेक्ट की सेम्पल टेस्टिंग तथा क्वारंटाईन संबंधि निर्देश 

संचालनालय स्वास्थ्य सेवायें मध्यप्रदेश स्वास्थ्य आयुक्त द्वारा कोविड-19 के फस्ट कान्टेक्ट की सेम्पल टेस्टिंग तथा क्वारंटाईन संबंधी समस्त कलेक्टर एवं समस्त मुख्य चिकित्सा अधिकारी मध्यप्रदेश को दिशा-निर्देश जारी किए गए है। जारी दिशा-निर्देशों में कोविड-19 संक्रमण से पॉजिटिव पाए गए रोगियों के संपर्क में आए हुए व्यक्ति उच्च जोखिम समूह में आते है।इनमें वे लोग सम्मिलित किए गए है जो पॉजिटिव रोगी से 1 मीटर से कम दूरी या मास्क एवं अनय सुरक्षा उपायों को अपनाए बगैर सम्पर्क मे आए हो। जैसे कि परिवार के सदस्य, सहकर्मी, शारीरिक सम्पर्क में आने वाले सेवा प्रदाता। इन श्रेणी के उच्च जोखिम वाले फस्ट कॉन्टेक्ट को 24 घण्टे के भीतर चिन्हित किया जाना सुनिश्चित किया जाना अत्यन्त आवश्यक है। ऐसे सभी व्यक्तियों को समुदाय से पृथक करते हुए उनहे 14 दिन के लिए क्वारंटाईन किया जाए। साथ ही घर पर पृथक सुविधा न होने पर परिस्थिति में चिन्हाकित सीसीसी क्वारंटाईन सेंटर पर रखा जाए। इसके साथ ही ICMR की मार्गदर्शिका अनुसार ऐसे फस्ट कॉन्टेक्ट का थ्रोट-स्वाब/नेजल-स्वाब द्वारा कोविड-19 जॉच के लिए सेम्पल तत्काल तब ही लिया जाए जब उन्हे SARI/ILI के लक्षण हो। इसके साथ ही अन्य परिस्थिति (एसिम्प्टोमेटिक) फस्ट कॉन्टेक्ट का सैम्पल कलेक्शन पॉजिटिव आए व्यक्ति के सम्पर्क दिनांक से पॉच से दस दिन के भीतर लिया जाए। पांचा दिन के पहले लिए गए सैम्पल की टेस्ट रिपोर्ट नेगेटिव आने की संभावन अधिक होती है। इस स्थिति में ऐसे लक्षण रहित संक्रमित व्यक्ति समुदाय में संक्रमण फैलाने का कारण बनते है। होम क्वारंटाईन में लक्षण प्रकट होने पर फस्ट कॉन्टेक्ट को उनके लक्षण अनुसार सीसीसी या डीसीएचसी में भर्ती कराया जाए।

कोई टिप्पणी नहीं: