सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 13 अगस्त - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 13 अगस्त 2020

सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 13 अगस्त

अनुकंपा नियुक्ति आदेश के लिए मुख्यमंत्री के नाम कलेक्टर को ज्ञापन देगा म प्र स्थाईकर्मी कल्याण संघ 
दैनिक वेतन भोगी  कर्मचारियों को नियमित करने  के स्थान पर स्थाईकर्मी नाम देकर सरकार ने बहला दिया~ गेहलोत
सीहोर। अनुकंपा नियुक्ति आदेश की मांग को लेकर म प्र स्थाईकर्मी कल्याण संघ के द्वारा मंगलवार को जिलाध्यक्ष गजराजसिह गेहलोत के नेतृत्व में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के नाम कलेक्टर अजय गुप्ता को ज्ञापन दिया जाएगा। दैनिक वेतन भोगी स्थाई कर्मी दिवंगत कर्मचारियों के परिजनों को कई वर्षो से अनुकंपा नियुक्ति नहीं दी जा रहीं है जबकी अन्य श्रेणी के अधिकारियों कर्मचारियों की मृत्यु के बाद उनके परिजनों को सरकार के द्वारा सीधे हीं नियुक्ति प्रदान की जा रहा है। प्रदेश में करीब एक हजार कर्मचारियों की मृत्यु बीते सालों में हो चुकी है। जिससे उन दिवंगत स्थाई दैनिक वेतन भोगी कर्मचारियों के परिजन बेरोजगार होकर दयनीय स्थिति में जीने को विवश है। श्री गहलोत ने कहा की दैनिक वेतन भोगी से सरकार ने वर्ष 2016 में कर्मचारियों को नियमित करने के स्थान पर स्थाईकर्मी नाम देकर कर्मचारियों को बहला दिया। जबकी कर्मचारी मूलभूत सुविधाओं से वंचित है। म प्र स्थाईकर्मी कल्याण संघ के केवलराम सोनिया, ब्रजेंद्र सिंह तोमर, हरि प्रसाद राठौर,शेषनारायण शर्मा,संतोष आर्य,ओमप्रकाश, संतोष यादव ने ज्ञापन प्रदर्शन के दौरान कलेक्ट्रेट में मंगलवार 18 अगस्त सुबह 11 बजे सम्मिलित होने की अपील सभी दैनिक वेतन भोगी स्थाई कर्मी दिवंगत कर्मचारियों के परिजनों से की है।

ग्वालटोली में हर्षोल्लास से मनाया गया श्रीकृष्ण जन्मोत्सव गोविंदाओं ने फोड़ी माखन मिश्री के प्रसाद से भरी मटकियां

sehore news
सीहोर। भगवान श्रीकृष्ण का जन्मोत्सव बुधवार की रात गंज स्थित छोटी ग्वालटोली में हर्षोल्लास से मनाया गया। महिलाओं और बच्चों ने मिलकर मनमोहन नंदलाल की झांकी को सजाया। श्रद्धालुओूं के द्वारा भगवान की नन्नी प्रतिमा का आकर्षक श्रृंगार कर पालने में झुलाया गया। गोविंदा बने युवकों ने माखन मिश्री प्रसाद से भरी मटकियों को फोड़ा। श्रीकृष्ण भक्तों ने देर रात तक भजन कीर्तन नृत्यकर जमांष्टमी उत्सव मनाया। युवा यादव महासभा जिलाध्यक्ष प्रवीण यादव और शिवसेना जिलाध्यक्ष गब्बर यादव मित्र मंडली के द्वारा संयुक्त रूप से छोटी ग्वालटोली में भगवान श्रीकृष्ण का जन्मोत्सव मनाया गया। बैलगाड़ी के उपर सुंदरझांकी का निर्माण किया गया। घर घर में बच्चों को कहैन्या का रूप दिया गया। श्रद्धालुओं के द्वारा विधिवत भगवान की पूजा अर्चना की गई। नंदलाल का जन्म होते ही बड़ी ग्वालटोली स्थित राधेश्याम मंदिर और छोटी ग्वालटोली में हर्ष छा गया। खुशियों के मध्य घंटी और घडिय़ाल शंख बजाए गए। श्रद्धालुओं को माखन मिश्री का प्रसाद वितरण किया गया। कार्यक्रम के दौरान युवा यादव महासभा जिलाध्यक्ष प्रवीण यादव के नेतृत्व में कार्यकर्ताओं के द्वारा श्रद्धालुओं को कोरोना महामारी से बचने के लिए सोशल डिस्टेंस का पालन करते हुए मास्क का वितरण किया गया।

ओबीसी आरक्षण की क्रिमीलेयर शर्तो में किया साजिशन बदलाव , राष्ट्रपति के नाम दिया ओबीसी महासभा ने 15 सूत्रीय मांगों का ज्ञापन

sehore news
सीहोर। ओबीसी जातिगत जनगणना कराने एवं ओबीसी आरक्षण की क्रिमीलेयर शर्तो में साजिशन बदलाव के विरोध में ओबीसी महासभा जिला संयोजक चांद सिंह मेवाड़ा के नेतृत्व में कार्यकर्ताओं द्वारा गुरूवार को कलेक्ट्रेट पहुंचकर महामहीम राष्ट्रपति प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री के नाम डिप्टी कलेक्टर विजय कुमार मंडलोई को ज्ञापन दिया। ओबीसी महासभा जिला संयोजक श्री मेवाड़ा ने कहा की राज्य सरकार कैविनेट एवं विधानसभा सत्र बुलाकर ओबीसी जातिगत जनगणना कराये जाने का प्रस्ताव पारित किया जाए। केंद्र सरकार को अवगत कराते हुए मंडल आयोग की अनुशंसा को पूर्णत: लागू किया जाए। राज्यवार विधानसभामओ में सीटें और लोकसभा में 353 सीटे आरक्षित की जाए । सरकार द्वारा ओबीसी आरक्षण में असंवैधानिक ग्रीमीलेयर की शर्तो में साजिशन सैलरी , कृषि आय को जोड़कर भविष्य में ओबीसी वर्ग की बहुत बड़ी आबादी को ओबीसी आरक्षण से बाहर किये जाने की साजिश की जा रहीे है।   ओबीसी महासभा ने सरकार की मंशा अनुरुप बीपी शर्मा रिपोर्ट पर रोक लगाई जाने। असंवैधानिक क्रिमीलेयर को हटाया जाने। लगातार शासकीय विभागों के किये जा रहे निजीकरण की प्रक्रिया को तत्काल बंद किया जाने। देशभर में 54 प्रतिशत से अधिक संख्या वाले पिछड़े वर्ग को सरकार द्वारा दिए गए 27 प्रतिशत आरक्षण के विरुद्ध प्रस्तुत याचिकाओ में शासन का पक्ष मजबूती से रख जाने। संविधान के तहत शासकीय प्रशासकीय , न्याय पालिका राहित क्षेत्रों में 543 ओबीसी गारक्षण लागु कराया जाना सुनिश्चित किया जाए। परीक्षा परिणाम में आरक्षित वर्ग के अभ्यर्थियों के रिजल्ट को साजिशन रोकने वाले अधिकारियों के विरूध कार्यवाही सुनिक्षित की जाने। ओबीसी वर्ग के पिछडे , अतिपिछड़े कर्मचारियों अधिकारियों ,अधिवक्ताओं के साथ सामान्य वर्ग अधिकारियों द्वारा जातिगत भेदभाव के कारण शोषण ,अन्याय अत्याचार के बढ़ते मामलों पर रोक लगाई जाने। उत्तरप्रदेश के गन्ना किसानों सहित देशभर में किसानों की वर्तमान उपज मूल्य बढ़ाकर तीन गुना किया जाने , स्वामीनाथन आयोग रिपोर्ट को लागू किया जाने । बेरोजगार युवक युवतियों के रामग्र विकास सुनिक्षित करने के लिये मासिक बेरोजगारी भत्ता , न्यूनतम आवेदन शुल्य , किराया भत्ता जैसी सुविधाओ के साथ रोजगार गारंटी बिल भी लाया जाने । झारखंड सामाजिक कार्यकर्ता धरुण कुमार द्वारा प्रशासनिक घोटालो की शिकायतों को दबाने के लिये व्यक्तिगत प्रताड़णा पर अंकुश लगाया जाने। दोषियों के विरुद्ध कार्यवाही सुनिश्चित की जाने । ओबीसी महासभा पदाधिकारियों पर धारा 188 में दर्ज केस वापस लिए जाने । राज्य सरकार में ओबीसी के रिक्त पदों वैकलोंग  को अतिशीघ्र भरा जाने । ओबीसी वर्ग का अभ्यर्थियों को शासकीय नौकरियों से बंचित रखने की जातिवादी अधिकारियों की साजिशन मुहिम पर रोक लगाई जाने । केंद्र सरकार द्वारा स्वीकृत केंद्रीय विद्यालय समयाक्ष देशभर के विकासखण्ड में प्रस्तावित हज़ारो मॉडल स्कूल को बनाया जाना सुनिशित किया जाने । परीक्षा में ओबीसी वर्ग को प्रदत्त आरक्षण लागू किया जाना सुनिश्चित किया जाने जैसी मांग ओबीसी महासभा के द्वारा की गई है। ज्ञापन सौपने वालों मेंं जिला महासचिव मनोज पाटीदार,वरिष्ठ सदस्य देवेश कुमार,भारतीय  विद्यार्थी मोर्चा पूर्व प्रदेशाध्यक्ष राजेश मालवीय,जिला संयोजक बहुजन क्रांति मोर्चा जितेंद्र कुमार मालवीय आदि शामिल रहे।                    


सोयाबीन में मोजैक रोग लगने की संभावना  तीन लाख चालीस हजार हेक्टेयर में है फसल किसानों को दी गई कीट व्याधि प्रबन्धन सलाह

sehore news
सीहोर। सोयाबीन फसल अन्तर्गंत लगभग जिले में 3 लाख 40 हजार  हेक्टेयर रकबा है। सोयाबीन फसल में कीटों का प्रकोप मौसम की अनुकूलता के कारण तेजी से बढ़ा है। तना मक्खी कीट प्रकोप के कारण सोयाबीन फसल स्थान- स्थान पर पीली पड़ रही है, जो पीला मोजैक रोग जैसा प्रतीत होता है। कृषि विज्ञान केंद्र के वरिष्ठ कृषि वैज्ञानिक जे. के. कनौजिया ने बताया  की फसल में अर्धंकुण्डलक इल्ली, तम्बाकू इल्ली, चने की सूंडी, तना मक्खी व सफेद मक्खी कीटों का प्रकोप अत्यधिक दिखाई दे रहा है। पीले पौधों के तने को चीरकर देखने पर पीले रंग की बारीक इल्ली दिखाई देती है। ये इल्ली तने के आन्तरिक भाग को खाकर नष्ट कर देती है जिससे पौधा पीला पड़कर सूखने लगता है। तम्बाकू व चने की इल्ली, फूलों, फलियों व दानों को खाकर व काटकर नष्ट कर देती है। हरी अर्धकुण्डलक इल्ली पौधे के कोमल भाग- पत्तिया व फूलों को खा जाती है। एक इल्ली एक दिन में लगभग 2-3 पौधे के फूलों को नष्ट करने की क्षमता रखती है। इन कीटों के अत्यधिक प्रकोप होने पर सोयाबीन फसल में बाँझपन की स्थिति निर्मित हो जाती है। सोयाबीन उत्पादक कृषकों को यह सलाह दी जाती है कि कीटों की पहचान कर नोवाल्यूरान 5.25 प्रतिषत एस. सी. $ इमामेक्टिन बेन्जोएट 0.9: 250 मिली. अथवा क्लोरेन्ट्रानिलीप्रोल 18.5 एस.सी. 40 मिली. अथवा लेम्डासाइलोथ्रिन 5 क्लोरेन्ट्रानिलीप्रोल 10: 100 मिली. प्रति एकड़ की दर से छिड़काव करें। सफेद मक्खी कीट के प्रकोप की स्थिति में थायमेथाक्सॉम 25: डब्ल्यू. जी. 60 ग्रा. अथवा डाइफेन्थीयूरॉन 50: डब्ल्यू. जी. 200 ग्रा. प्रति एकड़ छिड़काव की अनुशंसा की गई है। कीटनाषकों के छिडकाव के लिए अनुशंसित की गई कीटनाशक की मात्रा व पानी की मात्रा का विषेष ध्यान रखें। पावर स्प्रेयर से छिड़काव करने पर 100 ली. पानी की मात्रा व हस्त चलित बैटरी चलित पंप से छिड़काव करने पर 150-200 ली. पानी की मात्रा प्रति एकड़ का उपयोग अवश्य करे।

आज 7 की रिपोर्ट पॉजीटिव प्राप्त हुई, वर्तमान में कुल पॉजीटिव एक्टिव व्यक्तियों की संख्या 120
8 हुए डिस्चार्ज कुल डिस्चार्ज किए गए व्यक्तियों की संख्या 282
मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकार डॉक्टर सुधीर कुमार डेहरिया ने बताया कि  आज 7 व्यक्तियों की कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजीटिव प्राप्त हुई है। जिसमें छीपापुरा, कस्बा, इंदिरा कॉलोनी सीहोर से 1-1 व्यक्ति बुदनी ट्रायडेंट स्थित आवासीय कॉलोनी से 1 श्यामपुर अन्तर्गत डोडी से 1 तथा इछावर आष्टा से 1-1 व्यक्ति की रिपोर्ट पॉजीटिव आई  है। जिले में कोरोना पॉजीटिव/एक्टिव व्यक्तियों की संख्या 120 है। आज 8 व्यक्तियों को डिस्चार्ज किया गया है। जिसमें सीहोर के 4, इछावर के 3 तथा श्यामपुर का 1 व्यक्ति शामिल है। जिले में अब तक स्वस्थ होने के उपरांत डिस्चार्ज किए गए व्यक्तियों की संख्या 282 है। जिले में कोरोना संक्रमित व्यक्तियों की मृत्यु संख्या 14 है।  आज 250 यक्तियों के  सैम्पल कोरोना जांच हेतु लिए गए है। सीहोर शहरी क्षेत्र से आज  65 सैम्पल जांच हेतु लिए गए है। श्यामपुर के 43, आष्टा से 64 इछावर के 21, नसरूल्लागंज के 45 तथा बुदनी के 22 व्यक्तियों के कोरोना जांच हेतु सैम्पल लिए है। आज पॉजीटिव मिले नए कंटेनमेंट जोन सहित समस्त कंटेनमेंट एवं बफर जोन में स्वास्थ्य दलों द्वारा सघन स्वास्थ्य सर्वे किया जा रहा है। वहीं पॉजीटिव मिले व्यक्तियों के करीबी संपर्क वाले व्यक्तियों की पहचान कर उनकी सूची तैयार की जा रही है। प्रत्येक कंटेनमेंट जोन में सर्वे के लिए एक से दो दल लगाए गए है। सर्वे दल के प्रभारी चिकित्सा अधिकारियों को बनाया गया है तथा स्वास्थ्य सर्वे दल में ए.एन.एम., आशा कार्यकर्ता, आंगनबाडी कार्यकर्ताओं की ड्यूटी लगाई गई है।  जिले में कुल कोरोना पॉजीटिव व्यक्तियों की संख्या 416 है जिसमें से 14 की मृत्यु हो चुकी है 282 स्वस्थ्‍ होकर डिस्चार्ज हो गए है तथा वर्तमान में 120 पॉजीटिव व्यक्तियों का उपचार चल रहा है। आज कुल 250 सैंपल जांच हेतु लिए गए। जिले से अब तक कुल 6219 सेम्पल जांच के लिए भेजे गए थे जिनमें से 5127 सेंपलों की रिपोर्ट अब तक निगेटिव प्राप्त हुई है। आज 135 लोगों की रिपोर्ट निगेटिव आई है। कुल 634 सैंपलों की रिपोर्ट आना शेष है। पैथालॉजी द्वारा कोरोना वायरस सेंपल की रिजेक्ट संख्या कुल 42 है। जिले में जो व्यक्ति होम क्वारंटाइन में है उनके निवास स्थान से सीधे संवाद हेतु जिला स्तरीय कोविड-19 काल सेंटर स्थापित किया गया है जिसका संपर्क नंबर.7247704181 है कोविड.19 से संबंधित जानकारी इस संपर्क नंबर पर ली व दी जा सकती है। वहीं जिला चिकित्सालय सीहोर में टेलीमेडिसीन के लिए संपर्क नंबर 07562-401259 जारी किया गया है तथा राज्य स्तर पर 104/181 नंबर पर काल करके भी टेलीमेडिसीन सेवा का लाभ लिया जा सकता है। 104  नंबर पर ई.परामर्श सेवा का भी लाभ लिया जा सकता है। ई.संजीवनी ओपीडी सेवा हेतु www.esanjeevaniopd.in पंजीयन कराया जा सकता है। कलेक्ट्रेट कार्यालय सीहोर में भी जिला स्तरीय काल सेंटर बनाया गया है जिसका संपर्क नंबर 07562.226470 है तथा होम क्वारंटाइन व्यक्तियों तथा उनके परिजनों के लिए हेल्पलाइन नंबर 18002330175 जारी किया गया है। जिस पर संस्थागत क्वारंटाइन अथवा होम क्वारंटाइन व्यक्ति अथवा उनके परिजन इमोशनल वेलनेस अथवा साईकोलाजिकल सपोर्ट एवं अन्य जरूरी परामर्श मानसिक सेवा प्रदाताओं से निःशुल्क प्राप्त कर सकते है।

जिले में अब तक 550.1 मि.मी. औसत वर्षा

जिले में आज 13 अगस्त, 2020 की प्रात:8 बजे समाप्त पिछले चौबीस घन्टों में 31.4 मिलीमीटर औसत वर्षा दर्ज की गई है। इसे मिलाकर 1 जून से अभी तक जिले में 550.1 मि.मी औसत बारिश रिकार्ड की जा चुकी है जबकि गत वर्ष इस अवधि में 804.3 मि.मी बारिश रिकार्ड की गई थी। अधीक्षक, भू-अभिलेख से मिली जानकारी के अनुसार पिछले चौबीस घन्टों में सीहोर में 7, श्यामपुर में 5, आष्टा में 44, जावर में 40, इछावर में 63, नसरुल्लागंज में 26, बुधनी में 42, रेहटी में 24 मिमी बारिश दर्ज की गई है। आंकड़ों के मुताबिक जिले में अभी तक सीहोर में 491.5, श्यामपुर में 333, आष्टा में 568.6, जावर में 466, इछावर में 439, नसरुल्लागंज में 597, बुदनी में 609 एवं रेहटी में 896.4 मिमी बारिश दर्ज की गई है। गत वर्ष इस अवधि में सीहोर में 1030.2, श्यामपुर में 748, आष्टा में 864, जावर में 516, इछावर में 809, नसरुल्लागंज में 940, बुधनी में 692 रेहटी में 823.4 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई थी।

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजनान्तर्गत अब 17 अगस्त तक फसल बीमा करा सकेंगे

जिले के ऐसे किसान जो प्रधानमंत्री फसल बीमा योजनान्तर्गत 31 जुलाई तक फसलों का बीमा नहीं करवा पाये हैं उन्हें एक मौका और मिलेगा। प्रदेश सरकार ने फसल बीमा कराने की अंतिम तिथि 17 अगस्त तक के लिये बढा दी है। किसान कल्याण तथा कृषि विकास मंत्री श्री कमल पटेल, द्वारा बताया गया कि कई किसान भाई 31 जुलाई तक फसल बीमा नहीं करवा पाये थे ऐसे सभी किसान भाई 17 अगस्त तक प्रधानमंत्री फसल बीमा के तहत अपनी फसलों का बीमा करवा सकते है। फसल बीमा के संबंध में अधिक जानकारी प्राप्त करने अथवा समस्या समाधान के लिए निकटवर्ती बैंक शाखा, प्राथमिक सहकारी साख समिति, कृषि, उद्यानिकी विभाग के मैदानी अमले तथा विकासखण्ड स्तरीय शासकीय सेवकों से सम्पर्क कर सकते हैं।  

रेरा में सम्प्रवर्तक त्रैमासिक विवरणीय अब 15 अगस्त तक जमा कर सकेंगे

म.प्र भू-संपदा विनियामक प्राधिकरण (रेरा) द्वारा भोपाल सहित अन्य स्थानों पर लॉकडाउन को ध्यान में रखते हुए सम्प्रवर्तकों की सुविधा के लिए त्रैमासिक विवरणीय को ऑनलाईन जमा करने की तिथि बढ़ाकर 15 अगस्त 2020 कर दी गयी है। सम्प्रवर्तकों को अभी प्राधिकरण में 30 जून 2020 की त्रैमासिक विवरणीय 31 जुलाई तक जमा करनी थी।

लंबित रजिस्ट्रेशन तत्काल एन.एस.पी. पोर्टल दी गई प्रक्रियानुसार प्राप्त करें

भारत सरकार अल्पसंख्यक कार्य मंत्रालय नई दिल्ली के माध्यम से संचालित अल्पसंख्यक छात्रवृत्ति योजनाये वर्ष 2020-21 हेतु भारत सरकार द्वरा निर्मित स्कॉलशिव पोर्टल पर पंजीकृत जिले की शैक्षणिक संस्थाओं का रजिस्ट्रेशन लंबित है तो वे संस्थाये तत्काल एन.एस.पी. पोर्टल पर दी गई प्रक्रियानुसार रजिस्ट्रेशन प्राप्त करने की कार्यवाही तथा एन.एस.पी. पोर्टल पर ऑनलाईन आवेदन करने वाले विद्यार्थियों की शतप्रतिशत आधार सीडिंग/प्रमाणीकरण की कार्यवाही करना सुनिश्चित करें। यदि नेशनल स्कॉलशिप पोर्टल पर प्रदर्शित हो रही किसी भी संस्था की उक्त कार्यवाही लंबित रहती है एवं विद्यार्थी छात्रवृत्ति से वंचित रहते है। तो इसकी समस्त जिम्मेदारी संस्था प्रमुख की होगी।  

डी.एल.एड. प्रथम एवं द्वितीय वर्ष 2020 की परीक्षा 01 सितम्बर से

माध्यमिक शिक्षा मण्डल मध्यप्रदेश भोपाल द्वारा डी.एल.एड. नियमित प्रथम एवं द्वितीय वर्ष 2020 की परीक्षा कार्यक्रम मण्डल द्वारा जारी किया गया है। उक्त परीक्षायें 01 सितम्बर से 11 सितम्बर 2020 तक प्रथम वर्ष की प्रात: 09 बजे से 12 बजे एवं द्वितीय वर्ष की परीक्षा दोपहर 02 बजे से 05 बजे तक आयोजित की जाएगी। परीक्षा कार्यक्रम मण्डल की वेबसाईट www.mpbse.nic.in पर देखे जा सकते है। उल्लेखनीय है कि मण्डल द्वारा संचालित सत्र 2019-20 की प्रारंभिक शिक्षा में पत्रोपाधि पाठ्यक्रम नियमित प्रथम, द्वितीय वर्ष परीक्षा वर्ष 2020 का परीक्षा कार्यक्रम आगामी आदेश तक स्थगित किया गया था।  

गंदगी भारत छोड़ो-मध्यप्रदेश अभियान 16 से 30 अगस्त तक

गंदगी भारत छोड़ो अभियान को मध्यप्रदेश में जन-जन तक पहुँचाया जायेगा। गंदगी भारत छोड़ो-मध्यप्रदेश अभियान मध्यप्रदेश में 16 अगस्त से 30 अगस्त तक चलाया जायेगा। अभियान में शहरों में व्यक्तिगत तथा सार्वजनिक शौचालयों की साफ-सफाई और कचरा प्रबंधन पर नागरिकों को संवेदित और जागरूक किया जायेगा। अभियान में 16 और 17 अगस्त को स्वच्छता शपथ एवं व्यक्तिगत शौचालयों का रखरखाव और सफाई पर अशासकीय संगठनों के माध्यम से झुग्गीबस्तियों एवं अन्य मौहल्लों में नागरिकों से चर्चा की जायेगी। निकाय में आवासीय परिसरों, प्रमुख स्थानों और कार्यालयों में स्वच्छता की शपथ दिलाई जायेगी। 18 से 20 अगस्त तक नो प्लास्टिक और रिसाइकिल, रियूज, रिड्यूज और रिफ्यूज (चार-आर) के संबंध में निकायों, युवाओं और विद्यार्थियों से ऑनलाइन संवाद और परिचर्चाओं का आयोजन किया जायेगा। नागरिक संगठनों एवं जन-प्रतिनिधियों के माध्यम से बाजारों और सार्वजनिक स्थलों पर प्लास्टिक प्रतिबंध के संबंध में जागरूकता गतिविधियाँ आयोजित की जायेंगी। नागरिकों द्वारा प्लॉग रन का आयोजन किया जायेगा। अभियान में 21 से 23 अगस्त तक कोविड-19 के संबंध में लोगों को नेपकिन और उपयोग किये गये मास्क आदि के सुरक्षित निपटान के संबंध में जागरूक किया जायेगा। नगरीय निकाय द्वारा कोरोन्टाइन केन्द्रों की स्वच्छता, मास्क पहनने की समझाइश और निकायों में सफाईकर्मियों को सम्मानित करने का कार्य किया जायेगा। अभियान में 24 से 26 अगस्त तक आवासीय परिसरों में स्रोत पर अपशिष्ट पृथक्कीकरण, घरेलू हानिकारक कचरे का सुरक्षित निपटान करने के संबंध में जन-जागरूकता के साथ ही स्व-सहायता समूह के सदस्यों एवं आवासीय संघों से चर्चा की जायेगी। अंतिम चरण में 26 से 30 अगस्त तक निकायों एवं सहयोगी संगठनों के सहयोग से स्वच्छता श्रमदान तथा निकायों द्वारा सभी सार्वजनिक शौचालयों के अंदर और बाहर विशेष सफाई अभियान चलाया जायेगा। कार्यक्रमों में मास्क पहनने और सोशल डिस्टेंसिंग प्रोटोकॉल का अनिवार्य रूप से पालन करने तथा कंटेनमेंट जोन में यह गतिविधियाँ नहीं करने के निर्देश दिये गये हैं। जहाँ भी ये कार्यक्रम किये जायें, वहाँ दान-दाताओं से प्राप्त मास्क वितरित करने के लिये स्टॉल लगाये जायें। गतिविधियों की नियमित रिपोर्टिंग की जाये। इसके लिये गूगल लिंक नगरीय प्रशासन एवं विकास संचालनालय से जारी की जायेगी। अभियान का व्यापक प्रचार-प्रसार कर नागरिकों को जागरूक एवं प्रोत्साहित किया जाये।

कोई टिप्पणी नहीं: