सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 23 अगस्त - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 23 अगस्त 2020

सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 23 अगस्त

नेशनल हाईवे अथॉरिटी और जिला प्रशासन बचाये   श्यामपुरवासियों की सीडीएस कंपनी से जान-बैरागी

sehore news
सीहेार। नेशनल हाईवे का ठेका लेकर श्यामपुर में सीडीएस कंपनी के द्वारा भंयकर लापरवाही ओर हठधर्मिता पूर्व कार्य किया जा रहा है। जिस कारण आम जनता के जानमाल को खतरा पैदा हो गया है। अखिल भारतीय किसान सभा के प्रांतीय महासचिव प्रहलाद दास बैरागी ने नेशनल हाईवे अथॉरिटी और जिला प्रशासन से श्यामपुरवासियों की जान सीडीएस कंपनी से बचाए जाने की मांग की है। बैरागी ने कहा की ओवर ब्रिज का कार्य लापरवाही तरीके से किया जा रहा है जबकि चौराहा क्षेत्र का ह्रदय स्थल ओर व्यापारिक क्षेत्र है। ग्रामीण लोग अपने कृषि एवं दैनिक उपयोग के समान की खरीदीने और जिला मुख्यालय जाने के लिए इसी चौराहे का इस्तमाल करते है। सड़क पर हाइवे होने के कारण काफी ट्रैफिक होता है ऐसे स्थान पर कार्य तत्काल करना था लेकिन कंपनी की घोर लापरवाही के कारण काम अधुरा डोड़ दिया गया है। कंपनी ने आम जनता के जीवन को संकट मे डाल रखा है। इसी प्रकार दोराहा जोड पर भी नाली निर्माण में लापरवाही की गई है। रहवासी क्षेत्र होने पर भी रपट नही बनाया गया है जिस  कारण नारिकों को परेशानी उठानी पड़ रहीं है।  कंपनी की जांच कर कड़ी कार्रवाई होना चाहिए जिस से की आम आदमी की जान किसी भी प्रकार का खतरा पैदा नहीं हो। कंपनी पर कार्रवाही नहीं कबी जाती है तो  नागरिको के जीवन की रक्षा के लिए अखिल भारतीय किसान सभा को जनांदोलन करने को मजबूर होना होगा।


चिंताहरण कॉलोनी में नही है नाली सड़क नागरिकों के घरों में घुसा बारिश का पानी

sehore news
सीहोर। चिंताहरण कॉलोनी गणेश मंंदिर रोड मौलाना अब्दुल कलाम वार्ड क्रमांक 32 में बीते सालों से सड़क और नालियों का अभाव बना हुआ है। बारिश के पानी की निकासी के लिए नाली नहीं होने से नागरिकों के घर में बारिश पानी घुस रहा है।  कच्ची सड़कों के कारण कॉलोनी में कीचड़ का माहौल बना हुआ है। नागरिकों का पैदल चलना भी दुश्वार हो गया है। क्षेत्रीय पार्षद आजम  नेता भी समस्याओं के निरकारण को लेकर गंभीर नहीं है। जिस का खामियाजा  नागरिकों को हीं भुगतना पड़ रहा है। अव्यवस्थाओं से पीडि़त नागरिकों ने   कई बार नगर पालिका  कार्यालय और कलेक्ट्रेट कार्यालय में सड़क और नाली निर्माण के लिए ज्ञापन दिया है लेकिन कोई सुनने को तैयार नहीं है। कॉलोनी के पवन अग्रवाल,धनीराम, लक्ष्मण सिंह, चिंता बाई, महेंद्र मेवाड़ा, अखलेष मेवाड़ा, पप्पू मेवाड़ा, मुकेश  विश्वकर्मा, भूपेंद्र राठौर, कमल ताम्रकार, कृष्णा राठौर, रजनी अग्रवाल ज्ञानचंद्र  द्वारका वर्मा, विजश् कुश्वाहा,  चेतन कुश्वाहा, संतोष  गोयल, रानी मेवाड़ा,  मनोरमा विश्वकर्मा,  रूकमणी विश्वकर्मा, मोहित अग्रवाल आदि ने नगर पालिका परिषद से कॉलोनी में सीसी सड़क और नालियों के निर्माण कराने की मांग की है।

जल भराव क्षेत्रों में पहुंचे विधायक सुदेश राय नागरिकों से की चर्चा,समस्या निवारण के निर्देश

sehore news
सीहोर। अतिवृष्ठी से प्रभावित शहर क्षेत्र के इंग्लिशपुरा कोतवाली चौराहा छावनी,शिवाजी कॉलोनी रानी मोहल्ला आदि क्षेत्र का विधायक सुदेश राय के द्वारा प्रशासनिक अधिकारियों के साथ  भ्रमण किया गया। कोतवाली चौराहा और मुख्य बाजार के दुकानदारों और रहवासियों ने विधायक श्री राय को बताया की भारी बारिश के कारण दुकानों में पानी घुस गया है जिस से काफी नुकसान हुआ है। विधायक श्री राय ने दुकानदारों के साथ पहुंचकर पानी भराव क्षेत्र का निरीक्षण किया और शीघ्र समस्या के निराकरण कराने के लिए प्रशासनिक अधिकारियों से कहा। विधायक सुदेश राय इंग्लिशपुरा पहुंचे कुलकुला माता मंदिर के सामने और शिवजा कॉलोनी क्षेत्र सहित नाले के किनारे बसे रानी मोहल्ला क्षेत्र के जल भराव से प्रभावित हुए नागरिकों के चर्चा की इस दौरान उन्होने नागरिकों से नाली के बहाव क्षेत्र में किए गए अतिक्रमण को स्वच्छा से हटाने के लिए भी कहा। नागरिकों ने घरों में पानी घुसने से हुए नुकसान को बताया। विधायक श्री राय ने जल भराव से पीडि़त नागरिकोंं को हर संभव मदद दिलाने का आश्वासन दिया। निरीक्षण के दौरान जिला पुलिस अधीक्षक शशिन्द्र सिंह एसडीएम आदित्य जैन नगर पालिका सीएमओ संदीप श्रीवास्तव सहित अन्य अधिकारी कर्मचारी उपस्थित रहे।

कलेक्टर ने किया बुधनी क्षेत्र के वर्षा प्रभावित ग्रामों का निरीक्षण

sehore news
रविवार को कलेक्टर श्री अजय गुप्ता द्वारा जिले के बुधनी विकासखंड अंतर्गत अतिवर्षा से प्रभावित ग्रामों का भ्रमण किया गया। कलेक्टर श्री गुप्ता ने बांद्राभान, शाहगंज, सरदार नगर, नांदनेर, आवलीघाट आदि ग्रामों में भ्रमण कर स्थानीय जन प्रतिनिधियों से चर्चा की  एवं भौतिक स्थिति का निरीक्षण किया, साथ ही हथनोरा ग्राम पंचायत में ग्रामीणों से सोयाबीन की फसलों में हुए नुकसान पर भी चर्चा की। उन्होंने  अनुविभागीय अधिकारी  बुधनी  को राजस्व अमले के साथ प्रभावित  सोयाबीन फसल का सर्वे करने के लिए निर्देशित किया। इस अवसर पर अनुविभागीय अधिकारी बुधनी सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

जिले में अब तक 921.9 मि.मी. औसत वर्षा

जिले में आज 23 अगस्त, 2020 की प्रात:8 बजे समाप्त पिछले चौबीस घन्टों में 34.2 मिलीमीटर औसत वर्षा दर्ज की गई है। इसे मिलाकर 1 जून से अभी तक जिले में 921.9 मि.मी औसत बारिश रिकार्ड की जा चुकी है जबकि गत वर्ष इस अवधि में 958.9 मि.मी बारिश रिकार्ड की गई थी। अधीक्षक, भू-अभिलेख से मिली जानकारी के अनुसार पिछले चौबीस घन्टों में सीहोर में 36, श्यामपुर में 37, आष्टा में 37, जावर में 91, इछावर में 28, नसरुल्लागंज में 14, बुधनी में 20, रेहटी में 10.4 मिमी बारिश दर्ज की गई है। आंकड़ों के मुताबिक जिले में अभी तक सीहोर में 1106.5, श्यामपुर में 650, आष्टा में 907.6, जावर में 750, इछावर में 818, नसरुल्लागंज में 830, बुदनी में 988 एवं रेहटी में 1325.4 मिमी बारिश दर्ज की गई है। गत वर्ष इस अवधि में सीहोर में 1254.4, श्यामपुर में 641, आष्टा में 1018, जावर में 646.9, इछावर में 956, नसरुल्लागंज में 1111, बुधनी में 797 रेहटी में 942.7 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई थी।

आज 12 की रिपोर्ट पॉजीटिव प्राप्त हुई, वर्तमान में कुल पॉजीटिव एक्टिव व्यक्तियों की संख्या 169

मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकार डॉक्टर सुधीर कुमार डेहरिया ने बताया कि  आज 12 व्यक्तियों की कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजीटिव प्राप्त हुई है। जिसमें सीहोर के इंदिरा कालोनी से 2 आष्टा के मैना से 3, ग्राम बांदरियाडाल, मेहतवाड़ा, आष्टा गंज, पगारिया राम, उमरदड़ से 1-1 व्यक्ति एवं बुदनी व श्यामपुर के अमरोद से 1-1 व्यक्ति की रिपोर्ट पॉजीटिव आई है। जिले में कोरोना पॉजीटिव/एक्टिव व्यक्तियों की संख्या 169 है। जिले में कोरोना संक्रमित व्यक्तियों की मृत्यु संख्या 18 है। आज 7 व्यक्तियों को डिस्चार्ज किया गया है। जिसमें सीहोर के 6, आष्टा से 1 व्यक्ति शामिल है।  जिले में अब तक स्वस्थ होने के उपरांत डिस्चार्ज किए गए व्यक्तियों की संख्या 379 है। आज 520 व्‍यक्तियों के  सैम्पल कोरोना जांच हेतु लिए गए है। सीहोर शहरी क्षेत्र से आज  14 श्यामपुर के 161 आष्टा से 134 इछावर के 60  नसरूल्लागंज के 63 एवं बुदनी के 88 व्यक्तियों के कोरोना जांच हेतु सैम्पल लिए है। आज पॉजीटिव मिले नए कंटेनमेंट जोन सहित समस्त कंटेनमेंट एवं बफर जोन में स्वास्थ्य दलों द्वारा सघन स्वास्थ्य सर्वे किया जा रहा है। वहीं पॉजीटिव मिले व्यक्तियों के करीबी संपर्क वाले व्यक्तियों की पहचान कर उनकी सूची तैयार की जा रही है। प्रत्येक कंटेनमेंट जोन में सर्वे के लिए एक से दो दल लगाए गए है। सर्वे दल के प्रभारी चिकित्सा अधिकारियों को बनाया गया है तथा स्वास्थ्य सर्वे दल में ए.एन.एम., आशा कार्यकर्ता, आंगनबाडी कार्यकर्ताओं की ड्यूटी लगाई गई है। जिले में कुल कोरोना पॉजीटिव व्यक्तियों की संख्या 566 है जिसमें से 18 की मृत्यु हो चुकी है 379 स्वस्थ्‍ होकर डिस्चार्ज हो गए है तथा वर्तमान में 169 पॉजीटिव व्यक्तियों का उपचार चल रहा है।  आज कुल 520 सैंपल जांच हेतु लिए गए। जिले से अब तक कुल 8574 सेम्पल जांच के लिए भेजे गए थे जिनमें से 6281 सेंपलों की रिपोर्ट अब तक निगेटिव प्राप्त हुई है। कुल 1682 सैंपलों की रिपोर्ट आना शेष है। पैथालॉजी द्वारा कोरोना वायरस सेंपल की रिजेक्ट संख्या कुल 45 है। जिले में कुल कंटेंमेंट एरिया 176 है जिनमें से 63 एक्टिव एवं 113 इनेक्टिव एरिया हैं। जिले में जो व्यक्ति होम क्वारंटाइन में है उनके निवास स्थान से सीधे संवाद हेतु जिला स्तरीय कोविड-19 काल सेंटर स्थापित किया गया है जिसका संपर्क नंबर.7247704181 है कोविड-19 से संबंधित जानकारी इस संपर्क नंबर पर ली व दी जा सकती है। वहीं जिला चिकित्सालय सीहोर में टेलीमेडिसीन के लिए संपर्क नंबर 07562-401259 जारी किया गया है तथा राज्य स्तर पर 104/181 नंबर पर काल करके भी टेलीमेडिसीन सेवा का लाभ लिया जा सकता है। 104  नंबर पर ई.परामर्श सेवा का भी लाभ लिया जा सकता है। ई.संजीवनी ओपीडी सेवा हेतु www.esanjeevaniopd.in पंजीयन कराया जा सकता है। कलेक्ट्रेट कार्यालय सीहोर में भी जिला स्तरीय काल सेंटर बनाया गया है जिसका संपर्क नंबर 07562.226470 है तथा होम क्वारंटाइन व्यक्तियों तथा उनके परिजनों के लिए हेल्पलाइन नंबर 18002330175 जारी किया गया है। जिस पर संस्थागत क्वारंटाइन अथवा होम क्वारंटाइन व्यक्ति अथवा उनके परिजन इमोशनल वेलनेस अथवा साईकोलाजिकल सपोर्ट एवं अन्य जरूरी परामर्श मानसिक सेवा प्रदाताओं से निःशुल्क प्राप्त कर सकते है।


प्रधानमंत्री श्री मोदी ने देश के गन्ना किसानों एवं विद्यार्थियों के हित में लिए क्रांतिकारी निर्णय 
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने केन्द्रीय मंत्रिमंडल के निर्णयों का स्वागत एवं प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी का आभार प्रकट किया
मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में केन्द्रीय मंत्रिमंडल द्वारा लिए गए निर्णयों का स्वागत करते हुए उनका धन्यवाद ज्ञापित किया है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा है कि केन्द्रीय मंत्रिमंडल द्वारा देश के गन्ना किसानों के कल्याण के लिए अभूतपूर्व निर्णय लिया गया है। किसान अब 285 रूपये प्रति क्विंटल की दर से अपना गन्ना बेच सकेंगे। देश के अन्नदाता को अब उनके पसीने की पूरी कीमत मिल सकेगी। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने केन्द्रीय मंत्रिमंडल द्वारा विद्यार्थियों के हित में नेशनल रिक्य्रूमेंट एजेंसी के गठन तथा उसके द्वारा ऑनलाइन परीक्षाएं आयोजित किए जाने के निर्णय का भी स्वागत किया है। इसके द्वारा आयोजित परीक्षाएं ऑनलाइन होंगी और प्रत्येक जिले में कम से कम एक परीक्षा केन्द्र अवश्य होगा। अब देश के युवाओं को एस.एस.सी., आर.आर.बी., आई.बी.पी.एस. की अलग-अलग परीक्षाओं के स्थान पर केवल एक ही परीक्षा सीईटी (कॉमन इलिजिबिलिटी टेस्ट-सामान्य योग्यता परीक्षा) देनी होगी। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा है इससे देश के गांव और दूरदराज के क्षेत्रों में रहने वाले युवाओं, बेटियों, दिव्यांगों को परीक्षा के लिए निरर्थक भागदौड़ और अनावश्यक व्यय से मुक्ति मिलेगी। यह एक क्रांतिकारी निर्णय है।  

लायसेंस विदेशी मंदिरा दुकानों पर करें विक्रय दरों का प्रदर्शन

शासन के नियमानुसार प्रदेश की समस्त देशी मंदिरा दुकानों पर विक्रय दरों के प्रदर्शन का प्रावधान है। इसी प्रकार विदेशी मंदिरा दुकानों पर भी ब्राण्डवार एवं लेबिलवार मंदिरा के विक्रय दरों का प्रदर्शन अनिवार्य रूप से किया जाए। आयुक्त अधिकारी द्वारा जिले में भी समस्त देशी एवं विदेशी मंदिरा दुकान के बाहर बोर्ड पर स्पष्ट रूप से पठनीय विक्रय दरों का प्रदर्शन किये जाने के निर्देश दिये है कि उन्होने कहा है कि यह बोर्ड सार्वजनिक रूप से दिखाई दे। लायसेंसी मंदिरा दुकानों से विक्रय दरो के प्रदर्शन के उपरांत ही मंदिरा विक्रय हो अन्यथा संबंधित लायसेसी के विरूद्ध नियमानुसार कार्यवाही सुनिश्चित की जाए।

एनआरए के तहत निर्णय लेने वाला मध्यप्रदेश देश का पहला राज्य  मुख्यमंत्री श्री चौहान ने प्रधानमंत्री श्री मोदी के निर्णय का किया स्वागत

मध्यप्रदेश सरकार ने निर्णय लिया है कि एनआरए द्वारा आयोजित परीक्षाओं में प्राप्त अंकों के आधार पर ही मध्यप्रदेश के युवाओं को नौकरी दी जाएगी। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने बताया कि प्रधानमंत्री श्री मोदी के निर्णय को अमल में लाने और एनआरए द्वारा आयोजित परीक्षाओं में प्राप्त अंकों के आधार पर ही नौकरी देने का अभूतपूर्व निर्णय लिया गया है। ऐसा निर्णय लेने वाला मध्यप्रदेश पहला राज्य है। इससे युवाओं का जीवन सहज सुगम बनेगा। देश के दूसरे राज्य भी मध्यप्रदेश की इस पहल को अपनाकर अपने युवा बेटे-बेटियों के कल्याण के लिए आगे आयेंगे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि हमने एक और अनूठा एवं क्रांतिकारी निर्णय लिया है, जिसमें प्रदेश की शासकीय नौकरियों के लिए युवाओं को अलग से कोई परीक्षा देने की आवश्यकता नहीं होगी। एनआरए की मेरिट के आधार पर निर्धारित श्रेणियों में प्रदेश के युवाओं को सरकारी नौकरी दी जाएगी। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि केन्द्र सरकार ने राष्ट्रीय भर्ती एजेंसी के गठन की मंजूरी दी है। जिसके तहत एक परीक्षा में बैठने वाले उम्मीदवारों को कई पदों के लिये प्रतिस्पर्धा का मौका मिल सकेगा। श्री चौहान ने कहा कि इस अनूठी व्यवस्था के तहत युवाओं को अलग-अलग आवेदन और अलग-अलग फीस भरने से मुक्ति मिलेगी। अभ्यर्थियों के समय की बचत के साथ भर्ती प्रक्रिया में पारदर्शिता भी आएगी। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि विद्यार्थियों के हित में प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी द्वारा ऑनलाइन परीक्षाएं आयोजित किए जाने का निर्णय भी स्वागत योग्य है। इसके द्वारा आयोजित परीक्षाएं ऑनलाइन होंगी और प्रत्येक जिले में कम से कम एक परीक्षा केन्द्र अवश्य होगा। अब देश के युवाओं को एस.एस.सी., आर.आर.बी., आई.बी.पी.एस. की अलग-अलग परीक्षाओं के स्थान पर केवल एक ही परीक्षा सीईटी (कॉमन इलिजिबिलिटी टेस्ट-सामान्य योग्यता परीक्षा) देनी होगी। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि इससे देश के गांव और दूरदराज के क्षेत्रों में रहने वाले युवाओं, बेटियों, दिव्यांगों को परीक्षा के लिए निरर्थक भागदौड़ और अनावश्यक व्यय से मुक्ति मिलेगी। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि मध्यप्रदेश को आत्मनिर्भर की दिशा में ले जाने के लिये जो समेकित प्रयास किये जा रहे है, उसमें प्रदेश की शासकीय नौकरियां प्रदेश के युवाओं को ही देने का निर्णय लिया गया है। हमारी प्राथमिकता है कि मध्यप्रदेश के संसाधन मध्यप्रदेश के बच्चों के लिये ही हो। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने आत्मनिर्भर भारत का जो सपना संजोया है, उसे हम आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश को साकार रूप देकर प्रधानमंत्री के सपने को मूर्तरूप देंगे।   

कोई टिप्पणी नहीं: