सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 26 अगस्त - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 26 अगस्त 2020

सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 26 अगस्त

कांग्रेस ने मनाई सेवादल के संस्थापक स्वतंत्रता सैनानी विचारक डॉ नारायण सुब्बाराव हार्डिकर की पुण्य तिथि
संप्रदायिक शक्तियों के सफाए के लिए कांग्रेस ने हार्डिकर के रास्तों पर चलने का लिया संकल्प
sehore news
सीहोर। जिला कांग्रेस  सेवादल अध्यक्ष नरेंद्र खंगराले के द्वारा जिल कांग्रेस कमेटी कार्यालय सीहेार में कांग्रेस सेवादल के संस्थापक डॉ नारायण सुब्बाराव हार्डिकर की पुण्य तिथि मनाई गई। स्वतंत्रता संग्राम  सैनानी एवं  विचारक नारायण सुब्बाराव  हार्डिकर की पुण्य तिथि  पर बुधवार को  कांग्रेसियों  ने उनके सुझाव रास्ते पर चलने का संकल्प लिया। जिला कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष बलबीर सिंह तोमर के मुख्य अतिथिय एवं मध्य प्रदेश कांंग्रेस सेवादल के प्रदेश सचिव राकेश राय की अध्यक्षता तथा कार्यकारी अध्यक्ष नईम नबाव राजीव  गुज़राती,राजेंद्र सिंह ठाकुर, दर्शन सिंह वर्मा, भूरा राजेश यादव, डॉ अनीस खान के विशेष अतिथिय में आयोजित हुआ। कार्यक्रम के दौरान  सेवादल कांग्रेस  के प्रदेश सचिव राकेश राय  ने कहा  की देश में फैली संप्रदायिकता का खातमा डॉ हार्डिकर के रास्तों पर चलकर हीं हो सकता है। जिला कांग्रेस अध्यक्ष बलवीर तोमर ने कहा की हार्डिकर एक महान विचारक होने के साथ अपने  समय  के ख्याति  प्राप्त  पत्रकार के साथ राज्यसभा  सदस्य  भी रहे। उन्होने सल १९२३ में सेवादल कांग्रेस  की स्थापना  की तथा स्वयं  स्वयं सेवकों को अनुशानित सिपाई के रूप में तैयार किया। यही कांग्रेस के स्वयं  सेवक सेवादल के कार्यकर्ता  अंग्रेजों के खिलाफ स्वतंत्रता आंदोलन में कांग्रेस के कवज बन गए थे। आजाद भारत ेें निर्माण में सेवादल के कार्यकर्ताओं  ने महत्वपूर्ण भूमिका  निभाई। कार्यक्रम में जिला सेवादल कांग्रेस अध्यक्ष नरेंद्र खंगराले ने कहा की कांगेस में सेवादल को फौजी अनुूशासन और जज्बे के लिए जाना जाता  है। तत्कालीन प्रधानमंत्री श्रीमति इंदिरा  गांधी ने  राजीव गांधी कांग्रेस में  इंट्री सेवादल के माध्यम   से  हीं कराई थी नेहरू से  लेकर राहुल गांधी तक  सब सेवादल को   कांग्रेस  का सच्चा  सिपाही करते रहे है।  कार्यक्रम का संचालन ब्लाक  सेवादल कांग्रेस  सीहेार के अध्यक्ष  मांगीलाल टिमरई एवं  जिला  सेवादल कांग्रेस के उपाध्यक्ष श्रवण वास्तावार ने किया  तथा  आभार व्यक्त सेवादल कांग्रेस  के  जिला  महामंत्री रमेश  राठौर के द्वारा  किया गया। कार्यक्रम   में  ब्रजेश  पटेल,   विवेक   राठौर, पवन राठौर, इंजिनियर जितेंद सिंह, अनीस  कुरैशी, शरद जोशी, कमल उपाध्यय, विनय  ळाटेले मुकेश  ठाकुर, मृदुल तोमर, मूल्लालाल मालवीय,  रामभजन मालवीय, पंकज शर्मा, शंकर मालवीय, धनश्याम जाटव, मनोज पटेल, सुनील दुबे, निशांत वर्मा,कमलेश परमार, राजेंद्र नागर गुलजारी वाजपेय,राकेश परचौले, नवेद खान,मुन्नवर खान,सलाउददीन,इरशाद खान, हनीफ कुरैशी, हिमाशु मालवीय आदि कांग्रेस  कार्याकर्ता शामिल रहे।


कर्जा माफ किया नहीं अब डिफाल्टर होकर अपमानित हो रहा है किसान
दस सूत्रीय मागों को लेकर राष्ट्रीय किसान मजदूर महासंघ ने एसडीएम को दिया  ज्ञापन
sehore news
सीहोर। राष्ट्रीय किसान मजदूर महासंघ से जुड़े सैकड़ों किसानों  ने बुधवार को मुख्यमंत्री शिवराज  सिंह चौहान के नाम दस सूत्रीय मांगों को लेकर जिलाध्यक्ष बलराम मुकाती के नेतृत्व में अनुविभागीय अधिकारी आदित्य जैन को कार्यालय पहुंच कर ज्ञापन दिया। किसानों की विभिन्न समस्याओं के निराकरण कराने की मांग राष्ट्रीय किसान मजदूर महासंघ के द्वारा सरकार से की गई। जिले के कई गाँवों मे अल्प वर्षा एवं हाल ही में अधिक वर्षा के कारण खेतों  में खड़ी खरीफ  सोयाबीन की फसलें कहीं अफलन तो कहीं पीला मोजेक रोग से प्रभावित होकर पूरी तरह नष्ट हो चुकी है । अधिकारियों से खेत को ईकाई मान कर तत्काल सर्वे अबतक नहीं कराया गया है।  सर्वे कराकर राहत राशि और बीमा राशि किसानों को दिलवाया जाए । खरीफ  वर्ष 2019 की राहत राशि केवल 25 प्रतिशत दी गई है जिस की 75 प्रतिशत शेष राशि तत्काल किसानों को दी जाए। बीते साल का फसल बीमा राशि  अभी तक भुगतान नही दिया गया है । किसानों को फसल बीमा तत्काल दिया जाकर किसानों का सकंट से उभारा जाए।

गांवों में बिजली की अघोसित कटौती बंद की जाए
मुकाती ने कहा  की किसान कर्ज माफी को लेकर कई किसान डिफाल्टर होकर अपमानित हो रहे है किसानों को सम्पूर्ण कर्ज मुक्त किया जाकर दुग्ध उत्पादक किसानों को खली चुरी का पैसा दिया जाए। महंगाई को देखते हुये दूध के रेट तत्काल बढाये जाए  बिजली के कृषि पम्प कनेक्शन बाप दादा के नाम चले आ रहे है मौके की परिस्थिति देख कर नामान्तरण किए जाए।   कृषि पम्प की बिजली के कई ट्रॉसफार्मर जले पडे है तथा तार झूल रहे है उनको ठीक करवाया। ग्रामीण क्षेत्रों मे घरेलू बिजली के केबल तथा ट्रांसफार्मर जले पडे है तथा बिजली अघोसित घंटों बंद रहती है । इस समस्या को तत्काल निपटाया जाय ।

किसानों के बेराजगार बेटो को छला गया
चिटफंड कम्पनियों में किसानों का काफी पैसा लगा है और किसानों के बेराजगार बेटो को छला गया है । इस कारण कई जगह लडाइ झगडा होता है अत: प्रदेश स्तर पर चिटफंड कम्पनियों पर कार्यवाही कर उनके मालिको से पैसा दिलवाया जाए । जमीन के फोती नामांतरण मे बहनों के नाम हटाये जाने को लेकर हो रही अन्धी लूट को सूचना पटल पर निश्चित दर्शाई दी जाण् ताकि किसान लूटने से बच सके । ज्ञापन देने वालों में अर्जुन मुकाती, पृथवी सिंह मेवाड़ा,  राधेश्याम वर्मा, प्रहलाद सिंह, पवन परमार, रामचरण मीणा, जसबंत सिंह मेवाड़ा, राजेंद्र गौर,  विष्णु जलोदिया,  देवकरण मेवाड़ा, सिद जाट, गब्बू मालवीय, धीसीलाल आदि कई किसान शामिल रहे।

कृषकों ने दिया मुख्यमंत्री के नाम विधायक को ज्ञापन

sehore newsसीहोर। बुधवार को श्यामपुर तहसील क्षेत्र के गांवों  के किसानों के द्वारा मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के नाम का ज्ञापन विधायक सुदेश राय को दिया गया। किसानों ने अतिकम बारिश और बाढ़ से खराब हुई सोयाबीन की फसलों का जल्द सर्वे कराकर मुआवजा राशि देने और फसल की बीमा राशि प्रदान करने की मांग की। विधायक श्री राय  ने किसानों को कहा की सभी प्रभावित किसानों को बीमा राशि और मुआवजा शीघ्र हीं दिलाया जाएगा जिस के लिए  कृषि मंत्री कमल पटेल से भी गुरूवार को विशेष चर्चा की जाएगी।

किसान बोले बीमा बाद में देना पहले बर्बाद हुई सोयाबीन का मुआवजा दो

sehore news
सीहेार। ग्राम चोड़ी और अमरोद के गा्रमीणों ने बुधवार को कलेक्ट्रेट पहुंचकर डिप्टी कलेक्टर विजय मंडलोई को ज्ञापन दिया। किसानों ने गजराज सिंह के नेतृत्व में कहा की सरकार फसल बीमा के पैसा बाद में दे दे लेकिन हाल हीं में कम बारिश और अधिक बारिश से खराब हुई सोयाबीन फसल का मुआवजा तुरंत सरकार किसानों को उपलब्ध करा दें जिस से की किसान दुख से उभर सकें और किसानों का सरकार पर भरोशा बना रहे। ज्ञापन देते समय  बाबूलाल पटेल, जसमत सिंह, रमेश कुमार, महेंद्र सिंह, लखन सिंह, गेंदालाल हेतम सिंह मेवाड़ा आदि किसान शामिल रहे। 

आज 14 की रिपोर्ट पॉजीटिव प्राप्त हुई वर्तमान में कुल पॉजीटिव एक्टिव व्यक्तियों की संख्या 153

मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकार डॉक्टर सुधीर कुमार डेहरिया ने बताया कि  आज 14 व्यक्तियों की कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजीटिव प्राप्त हुई है। जिसमें सीहोर के स्टेशन रोड़, वाल्मिकी नगर, गंगा आश्रम तथा कृष्णा विहार कॉलोनी से 1-1, आष्टा अन्तर्गत ग्राम मैना से 3, ग्राम पगारियाहाट, टीपापुरा, कजलास तथा मेहतवाड़ा से 1-1, इछावर के कांकडखेड़ा जोड़ भाउखेड़ी से 1 व्यक्ति, लाडकुई के नीमखेड़ी व श्यामपुर के खारी से 1 व्यक्ति की रिपोर्ट पॉजीटिव आई है। जिले में कोरोना पॉजीटिव/एक्टिव व्यक्तियों की संख्या 153 है। जिले में कोरोना संक्रमित व्यक्तियों की मृत्यु संख्या 18 है। आज 12 व्यक्तियों को डिस्चार्ज किया गया है। जिसमें श्यामपुर के 7, इछावर का 1 तथा आष्टा के 4 व्यक्ति शामिल है।  जिले में अब तक स्वस्थ होने के उपरांत डिस्चार्ज किए गए व्यक्तियों की संख्या 431 है। आज 635 व्‍यक्तियों के  सैम्पल कोरोना जांच हेतु लिए गए है। सीहोर शहरी क्षेत्र से आज  67 श्यामपुर के 128 आष्टा से 136 इछावर के 62  नसरूल्लागंज के 112 एवं बुदनी के 130 व्यक्तियों के कोरोना जांच हेतु सैम्पल लिए है। आज पॉजीटिव मिले नए कंटेनमेंट जोन सहित समस्त कंटेनमेंट एवं बफर जोन में स्वास्थ्य दलों द्वारा सघन स्वास्थ्य सर्वे किया जा रहा है। वहीं पॉजीटिव मिले व्यक्तियों के करीबी संपर्क वाले व्यक्तियों की पहचान कर उनकी सूची तैयार की जा रही है। प्रत्येक कंटेनमेंट जोन में सर्वे के लिए एक से दो दल लगाए गए है। सर्वे दल के प्रभारी चिकित्सा अधिकारियों को बनाया गया है तथा स्वास्थ्य सर्वे दल में ए.एन.एम., आशा कार्यकर्ता, आंगनबाडी कार्यकर्ताओं की ड्यूटी लगाई गई है। जिले में कुल कोरोना पॉजीटिव व्यक्तियों की संख्या 602 है जिसमें से 18 की मृत्यु हो चुकी है 431 स्वस्थ्‍ होकर डिस्चार्ज हो गए है तथा वर्तमान में 153 पॉजीटिव व्यक्तियों का उपचार चल रहा है।  आज कुल 635 सैंपल जांच हेतु लिए गए। जिले से अब तक कुल 10458 सेम्पल जांच के लिए भेजे गए थे जिनमें से 7201 सेंपलों की रिपोर्ट अब तक निगेटिव प्राप्त हुई है। आज 511 सैंपलों की रिपोर्ट निगेटिव प्राप्त हुई है। कुल 2610 सैंपलों की रिपोर्ट आना शेष है। पैथालॉजी द्वारा कोरोना वायरस सेंपल की रिजेक्ट संख्या कुल 45 है। जिले में कुल कंटेंमेंट एरिया 196 है जिनमें से 67 एक्टिव एवं 129 इनेक्टिव एरिया हैं। जिले में जो व्यक्ति होम क्वारंटाइन में है उनके निवास स्थान से सीधे संवाद हेतु जिला स्तरीय कोविड-19 काल सेंटर स्थापित किया गया है जिसका संपर्क नंबर.7247704181 है कोविड-19 से संबंधित जानकारी इस संपर्क नंबर पर ली व दी जा सकती है। वहीं जिला चिकित्सालय सीहोर में टेलीमेडिसीन के लिए संपर्क नंबर 07562-401259 जारी किया गया है तथा राज्य स्तर पर 104/181 नंबर पर काल करके भी टेलीमेडिसीन सेवा का लाभ लिया जा सकता है। 104  नंबर पर ई.परामर्श सेवा का भी लाभ लिया जा सकता है। ई.संजीवनी ओपीडी सेवा हेतु www.esanjeevaniopd.in पंजीयन कराया जा सकता है। कलेक्ट्रेट कार्यालय सीहोर में भी जिला स्तरीय काल सेंटर बनाया गया है जिसका संपर्क नंबर 07562.226470 है तथा होम क्वारंटाइन व्यक्तियों तथा उनके परिजनों के लिए हेल्पलाइन नंबर 18002330175 जारी किया गया है। जिस पर संस्थागत क्वारंटाइन अथवा होम क्वारंटाइन व्यक्ति अथवा उनके परिजन इमोशनल वेलनेस अथवा साईकोलाजिकल सपोर्ट एवं अन्य जरूरी परामर्श मानसिक सेवा प्रदाताओं से निःशुल्क प्राप्त कर सकते है।


कोरोना संक्रमित पाए गए व्यक्तियों के निवास स्थल को कलेक्टर ने किया कंटेंटमेंट क्षेत्र घोषित

जिले में कोरोना संक्रमित पाए गए व्यक्तियों के निवास स्थल को कलेक्टर श्री अजय गुप्ता द्वारा मध्यप्रदेश पब्लिक हेल्थ एक्ट 1949 की धारा 71 के तहत कंटेनमेंट एरिया घोषित किया गया है। कलेक्टर श्री गुप्ता द्वारा जारी आदेश अनुसार कोरोना पॉजिटिव पाए गए व्यक्तियों के निवास स्थान रेहटी तहसील के ग्राम नरेला को राजेंद्र भलावी के मकान से सुरेन के मकान तक, ग्राम लावा पानी को मिश्रीलाल के मकान से गबुलाल परते के मकान तक, अमर कमरे के मकान से अशोक कुमरे के मकान तक, आष्टा के ग्राम रामपुरा को उत्तर में खाली प्लाट दक्षिण में खाली प्लॉट पूर्व में रास्ता पश्चिम में खाली प्लॉट तक, ग्राम मैना को उत्तर में कोआपरेटिव बैंक पूर्व में रास्ता पश्चिम में प्रेम नारायण का गोदाम दक्षिण में ओम मेडिकल तक, मैं ना बस स्टैंड को उत्तर में नाथूलाल का मकान पूर्व में सलीम का खाली प्लाट पश्चिम में रास्ता दक्षिण में रास्ता तक इधर मैना के एक अन्य स्थान को उत्तर में देवकरण का मकान पूर्व में मानसिंह कुमार का मकान पश्चिम में रास्ता दक्षिण में रमेश कुमार के मकान तक कंटेनमेंट क्षेत्र घोषित किया गया है। कंटेनमेंट एरिया के अन्तर्गत पूर्ण रूप से आवागमन प्रतिबंधित रहेगा। कंटेनमेंट एरिया के समस्त निवासियों का होम कोरोनटाईन में रहना उचित होगा। कंटेनमेंट एरिया के अंदर भी आवागमन पूर्णत: प्रतिबंधित रहेगा।

जिले में अब तक 927.1 मि.मी. औसत वर्षा 

जिले में आज 26 अगस्त, 2020 की प्रात:8 बजे समाप्त पिछले चौबीस घन्टों में 1.2 मिलीमीटर औसत वर्षा दर्ज की गई है। इसे मिलाकर 1 जून से अभी तक जिले में 927.1 मि.मी औसत बारिश रिकार्ड की जा चुकी है जबकि गत वर्ष इस अवधि में 1020.2 मि.मी बारिश रिकार्ड की गई थी। अधीक्षक, भू-अभिलेख से मिली जानकारी के अनुसार पिछले चौबीस घन्टों में सीहोर में 6.2, आष्टा में 2 एवं इछावर में 1 मिमी बारिश दर्ज की गई है। जबकि श्यामपुर, नसरुल्लागंज, बुधनी, रेहटी, जावर में वर्षा की स्थिति शून्य रही। आंकड़ों के मुताबिक जिले में अभी तक सीहोर में 1113.9, श्यामपुर में 652, आष्टा में 910.6, जावर में 750, इछावर में 819, नसरुल्लागंज में 832, बुदनी में 1008 एवं रेहटी में 1331.6 मिमी बारिश दर्ज की गई है। गत वर्ष इस अवधि में सीहोर में 1318.4, श्यामपुर में 971, आष्टा में 1092, जावर में 675.9, इछावर में 1048, नसरुल्लागंज में 1158, बुधनी में 892 रेहटी में 1005.9 मिमी बारिश दर्ज की गई थी।

आनलाईन जैव विविधता क्विज, मिलेंगे आकर्षक पुरस्कार

जिला शिक्षा अधिकारी श्री एसपी सिंह बिसेन ने जानकारी देते हुए बताया कि मध्यप्रदेश राज्य जैव विविधता बोर्ड भोपाल तथा म0प्र स्कूल शिक्षा विभाग व वन विभाग के संयुक्त तत्वाधान कोविड-19 संक्रमण के कारण इस वर्ष जैव विविधता क्विज प्रतियोगिता का आयोजन आनलाइन किया जाएगा। जिसके दिशा निर्देश मध्यप्रदेश राज्य जैव विविधता बोर्ड द्वारा जारी किये गये है। प्रतियोगिता में जिले से कुल 200 टीमों का रजिस्ट्रेशन आनलाइन लिंक  के द्वारा 25 सितंबर 2020 तक किया जावेगा। इस प्रतियोगिता में जिले के समस्त शासकीय/अशासकीय विद्यालयों के कक्षा 9 वीं से 12 वीं तक के अध्ययनरत छात्र एवं छात्राओं का एक संस्था से 3 सदस्यीय एक दल भाग लेगा। हायर सेकण्ड्री विद्यालय से तीन सदस्यीय दल में 3 अलग-अलग कक्षाओं के तथा हाईस्कूल से तीन सदस्यीय दल में 2 सदस्य एक कक्षा से तथा एक अन्य कक्षा से होना अनिवार्य है।  विगत वर्षो की भाॅति इस वर्ष भी हाईस्कूल विद्यालय द्वारा कक्षा 9-10, से एवं हायर सेकण्ड्री विद्यालयों में कक्षा 9 से 12, के तीन छात्र-छात्राओं का चयन कर टीम बनाई जावेगी। विद्यालय टीम के पंजीयन की जिम्मेदारी संबंधित स्कूल प्रभारी शिक्षक की होगी  जिसका चयन स्कूल के प्राचार्य द्वारा किया जावेगा। प्रतियोगिता हेतु पंजीयन पहले आओं पहले पाओं के आधार पर होगी जोकि दिनांक 18 अगस्त से प्रारंभ हो गया है। अंतिम तिथि 25 सितंबर है। जिले से कुल 200 टीमों का आनलाइन रजिस्ट्रेशन होगा। दो चरणों में होगी प्रतियोगिता:-जिला स्तरीय मध्यप्रदेश राज्य जैव विविधता क्विज 2020 कार्यक्रम दिनांक 05 अक्टूबर 2020 को टप्त्ज्न्स् VIRTUL PLATFORM/ ONLINE के माध्यम से आयोजित किया जावेगा। जिसके अंतर्गत लिखित परीक्षा प्रातः 09 बज से 11 बजे तक आयोजित होगी। लिखित परीक्षा में प्रथम 7 स्थान प्राप्त करने वाली 7 टीमें क्विज/मल्टीमीडिया राउन्ड हेतु पात्र होगी जो उसी दिन VIRTUL PLATFORM/ ONLINE दोपहर 02 बजे से 04 बजे तक आयोजित किया जावेगा।  प्रथम तीन टीमों को नगद पुरूस्कार व प्रमाण पत्र प्रदान किये जाएंगे तथा सहभागी प्रमाण पत्र समस्त प्रतिभागियों को प्रदान किये जावेंगे। जिला स्तर पर प्रथम पुरस्कार, 3000 हजार रू.द्वतीय पुरस्कार, 2100/-रू.  तृतीय पुरस्कार, 1500/-रू.  व प्रमाण पत्र प्रदान किये जावेंगे। राज्य स्तरीय प्रतियोगिताः- मध्यप्रदेश राज्य स्तरीय जैव विविधता क्विज प्रतियोगिता INTERNATIONAL DAY FOR CLIMATE CHANGE के अवसर पर  24 अक्टूबर 2020 को आयोजित होगी। जिसमें प्रथम पुरस्कार -30,000 हजार रूपये, द्वितीय पुरस्कार 21,000 हजार रूपये, तृतीय पुरूस्कार 15,000 हजार रूपये व प्रमाण पत्र प्रदान किये जावेंगे। कार्यक्रम का समस्त विवरण एवं पंजीयन लिंक जैव विविधता बोर्ड की बेबसाइड www.mpsbb.nic.in पर उपलब्ध है। प्रतियोगिता हेतु वन मण्डलाधिकारी श्री रमेश गनावा एवं जिला शिक्षा अधिकारी श्री एस पी सिंह बिसेन ने प्रतियोगिता को सफल बनाने हेतु आवश्यक दिशा निर्देश जारी कर दिये है। प्रतियोगिता में क्विज मास्टर माधव सिंह यादव, माध्यमिक शिक्षक शासकीय हाईस्कूल मगरखेडा, सहायक क्विज मास्टर इंदर सिंह कीर , माध्यमिक शिक्षक, शा उत्कृष्ट उमावि आष्टा, को नियुक्त किया गया है।   

विद्यार्थियों में पढ़ने की आदत विकसित की जाएगी हमारा घर-हमारा विद्यालय के अंतर्गत शुरू हुआ ‘‘खूब पढ़ो अभियान‘‘ 

प्रदेश की समस्त शासकीय प्राथमिक एवं माध्यमिक शालाओं के बच्चों में रीडिंग हैबिट विकसित करने के उद्देश्य से ‘‘हमारा घर-हमारा विद्यालय‘‘ अंतर्गत ‘‘खूब पढ़ो‘‘ अभियान प्रारंभ किया गया है। भाषा की समझ समस्त विषयों को समझने का प्रमुख आधार है। अभियान का प्रथम चरण 24 अगस्त से शुरू किया गया है, जो कि 24 सितंबर 2020 तक जारी रहेगा। कोविड-19 की परिस्थिति को ध्यान में रखते हुए घर में ही उपलब्ध सीखने के संसाधनों जैसे पाठ्य-पुस्तक, अखबार, गीत-कहानी की पुस्तकें, उपन्यास आदि का उपयोग करते हुए भाषा-कौशल को विकसित करने व उसे नियमित रखने के लिये प्रत्येक बच्चे के अभिभावक, बड़े भाई-बहन द्वारा पढ़ने की गतिविधियाँ संपन्न कराई जा सकती हैं। इस संबंध में आयुक्त, राज्य शिक्षा केंद्र, श्री लोकेश कुमार जाटव ने सभी जिला अधिकारियों को निर्देशित किया है कि ‘‘खूब पढ़ो‘‘ अभियान की प्रमुख गतिविधियों सुनना-बोलना, लिखना-पढ़ना और एक मिनट के खेल को प्राथमिकता के आधार पर करवायें। सुनना-बोलना- बच्चे अपने घर में बड़ों से कहानी सुनें और उसे दोहराने का अभ्यास करें ताकि बच्चों की याददाश्त तेज हो सके। कहानियों के जरिये बच्चे नवीन शब्दों से परिचित होते हैं तथा उनका शब्दों का उच्चारण बेहतर होता है। पढ़ना-  विद्यार्थी अपनी पाठ्य-पुस्तक से प्रतिदिन कोई एक कहानी या कविता पढ़ें। पढ़ते समय घर के सदस्य उपस्थित रहें। उच्चारण की शुद्धता पर ध्यान दें। नवीन शब्दों के अर्थ खोजें, कहानी आगे बढ़ाएँ, कहानी पर चर्चा या प्रश्न करें, कहानी के पात्र के रूप में स्वयं को रखें और कहानी पर अभिनय करें। लिखना-  कहानी में आए नवीन शब्दों के अर्थ लिखें। बच्चे घर पर बड़े भाई-बहन या आस-पड़ोस के लोगों के सहयोग से प्रतिदिन एक पेज का हिंदी एवं अंग्रेजी में श्रुतलेख (इमला) एवं सुलेख करें। इसके साथ-साथ एक पेज हिंदी एवं एक पेज अंग्रेजी का प्रतिदिन देखकर लिखने का भी अभ्यास करें। एक मिनट का खेल- बच्चे आपस में मिलकर एक मिनट के खेल में शब्दों की समझ बढ़ा सकते हैं। सभी बच्चे एक मिनट में अधिकतम कितने शब्द पढ़कर समझ सकते हैं, इसकी जाँच करें। घड़ी या मोबाइल पर समय देखकर यह खेल बारी-बारी से सभी बच्चे खेल सकते हैं। बच्चे गणित सीखने के लिये संबंधित खेल भी खेल सकते हैं। जैसे आकृति पहचानने का खेल बच्चे अपने घर में पाई जाने वाली वस्तुओं जैसे बर्तन, फल, सब्जी इत्यादि लेकर उनकी आकृति पहचानकर परिवार के अन्य सदस्यों से इसकी जाँच करवा सकते हैं। आयुक्त, राज्य शिक्षा केंद्र, श्री लोकेश कुमार जाटव ने कहा है कि इस प्रकार की गतिविधियों से बच्चे के उच्चारण में सुधार होगा, उसका शब्दकोश बढ़ेगा और उसके आत्मविश्वास में भी वृद्धि होगी।

किसानों की फसलों को "यलो मोजेक" से बचाने के लिए तत्परता से कार्रवाई करें
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कृषि विभाग एवं कलेक्टर्स को दिए निर्देश
मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि प्रदेश के कई स्थानों से सोयाबीन की फसल में "यलो मोजेक" कीट लगने की सूचना आई है। यह बहुत गंभीर बात है। कृषि विभाग इस संबंध में तुरंत कार्रवाई करते हुए फसलों की इससे सुरक्षा के हरसंभव उपाय करें, जिससे किसानों की फसलों को नुकसान न हो। सभी कलेक्टर्स अपने जिलों में इसकी रोकथाम के उपाय सुनिश्चित कराएं। कार्य में थोड़ी भी लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी।     सोयाबीन उत्पादन करने वाले कृषकों को सलाह दी गई है कि पीला मोजाइक पर नियंत्रण के लिये प्रारंभिक अवस्था में ही अपने खेत में जगह-जगह पर पीला चिपचिपा ट्रैप लगाएं जिससे इसका संक्रमण फैलाने वाली सफेद मक्खी का नियंत्रण होने में सहायता मिले। इसके रोकथाम के लिए फसल पर पीला मोजाइक रोग के लक्षण देखते ही ग्रसित पौधों को अपने खेत से निष्कासित करें। ऐसे खेत में सफेद मक्खी के नियंत्रण के लिए अनुशंसित पूर्व मिश्रित सम्पर्क रसायन जैसे बीटासायफ्लुथ्रिन+इमिडाइक्लोप्रिड (350 मिली/हेक्टेयर) या पूर्व मिश्रित थायोमिथाक्सम $ लैम्बडा सायहेलोथ्रिन (125 मिली/हेक्टेयर) का छिड़काव करें जिससे सफेद मक्खी के साथ-साथ पत्ती खाने वाले कीटों का भी एक साथ नियंत्रण हो सकें। कुछ क्षेत्रों में लगातार हो रही रिमझिम वर्षा की स्थिति में पत्ती खाने वाली इल्लियों द्वारा पत्तियों के साथ-साथ फलियों को भी नुकसान पहुँचा रही है जिससे अफलन जैसी समस्या होने की संभावना है। पत्तियाँ खाने वाली इल्लियों के नियंत्रण के लिये संपर्क कीटनाशक जैसे इन्डोक्साकार्ब 333 मिली/हेक्टेयर या लैम्बडा सायहेलोथ्रिन 4.9 सीएस 300 मिली/हेक्टेयर का छिड़काव करें। कीटनाशक को प्रभावी ढंग से इल्लियों तक पहुँचाने के लिए नैपसेक स्प्रेयर से 500 लीटर या पॉवर स्प्रेयर से 120 लीटर पानी प्रति हेक्टेयर का उपयोग अवश्य करें। यदि पत्ती खाने वाली इल्लियों के साथ-साथ सफेद मक्खी का प्रकोप हो, कृषकों को सलाह हे कि नियंत्रण के लिये बीटासायफ्लुथ्रिन+ इमिडाक्लोप्रिड 350 मिली/हेक्टेयर, या थायमिथोक्सम $ लेम्बडा सायहेलोथ्रिन 125 मिली/हेक्टेयर का छिड़काव करें। सोयाबीन की फसल में नुकसान करने वाले अन्य कीटों से बचाव के लिये कृषकों को सलाह है कि अपने खेते में फसल निरीक्षण के उपरांत पाए गए कीट विशेष के नियंत्रण के लिए अनुशंसित कीटनाशक की मात्रा को 500 लीटर/हेक्टेयर, की दर से पानी के साथ फसल पर छिड़काव करें। छिड़काव के लिये पावर स्प्रेयर का उपयोग किये जाने पर 120 लीटर/हेक्टेयर पानी की आवश्यकता होगी एवं छिड़काव भी प्रभावकारी होगा। कुछ क्षेत्रों में सोयाबीन की फसल में फफूंदजनित एन्थ्रेकनोज तथा राइजोक्टोनिया एरियल ब्लाईट नामक बीमारी का प्रकोप होने की सूचना प्राप्त हुई है। अतरू इनके नियंत्रण के लिये सलाह है कि टेबूकोनाझोल (625 मिली/हेक्टैयर) अथवा टेबूकोनाझोल $ सल्फर (1 किग्रा/हेक्टेयर) अथवा पायरोक्लोर्स्टोबीन 20 डब्ल्यूजी (500 ग्राम/हेक्टैयर) अथवा हेक्जाकोनाझोल 5 प्रतिशत ईसी (800 मिली/हेक्टेयर) से छिड़काव करें।

जले हुए ट्रांसफार्मर बदलने में ढ़िलाई बर्दाश्त नहीं होगी – मुख्यमंत्री
वरिष्ठ अधिकारियों की बैठक में दिए निर्देश
जले हुए एवं खराब ट्रांसफार्मर युद्ध स्तर पर बदले जाएँ। साथ ही इस बात का ध्यान रखें कि ट्रांसफार्मर पूरी क्षमता के हों, जिससे दुबारा ट्रांसफार्मर फुकने की नौबत न आए। इसमें किसी भी प्रकार की ढ़िलाई बर्दाश्त नहीं होगी। यह निर्देश मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने विद्युत वितरण कंपनी के अधिकारियों को दिए। साथ ही कहा कि बिजली की अनावश्यक कटौती कतई न हो। उन्होंने गत दिवस राज्यसभा सांसद श्री ज्योतिरादित्य सिंधिया के साथ ग्वालियर एवं चंबल संभाग के वरिष्ठ अधिकारियों की बैठक लेकर विद्युत व्यवस्था, राशन वितरण एवं अन्य जनहितैषी योजनाओं की समीक्षा की। बैठक में ऊर्जा मंत्री श्री प्रद्युम्न सिंह तोमर भी मौजूद थे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने जोर देकर कहा कि बिजली के अनाप-शनाप अर्थात गैर वाजिब बिल कदापि न आएं। किसी भी हालत में ऐसी स्थिति सहन नहीं होगी। उन्होंने संबल योजना के हितग्राहियों की बिजली बिल संबंधी समस्याओं का त्वरित निराकरण करने के निर्देश भी दिए। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि विद्युत ट्रांसफार्मर बदलने की कार्रवाई पर निगरानी रखने के लिये “ट्रांसफार्मर रिप्लेसमेंट टीम” गठित की जायेंगीं। उन्होंने ऊर्जा मंत्री श्री प्रद्युम्न सिंह तोमर को ट्रांसफार्मर रिप्लेसमेंट टीम गठित करने की जिम्मेदारी सौंपी है। इस टीम में विधायकगण सहित अन्य जनप्रतिनिधिगण शामिल किए जायेंगे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने खराब विद्युत ट्रांसफार्मर की सूची तैयार कर प्रस्तुत करने के निर्देश भी दिए।  

कोई टिप्पणी नहीं: