उनको इतिहास के बासी पन्ने मुबारक : तेजस्वी - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 4 अगस्त 2020

उनको इतिहास के बासी पन्ने मुबारक : तेजस्वी

tejswi-attack-bjp
पटना 03 अगस्त, बिहार विधानसभा में प्रतिपक्ष के नेता तेजस्वी प्रसाद यादव ने कोरोना महामारी और बाढ़ से जूझ रहे बिहार में सत्ता पक्ष और विपक्ष को जहां साथ मिलकर सकारात्मक राजनीति करने की नसीहत दी वहीं इस विषम परिस्थिति में खराब स्वास्थ्य व्यवस्था को लेकर सरकार पर हमला बोला और कहा कि पंद्रह वर्ष की विफलता छुपाने के लिए भूतकाल की बातें कर कटाक्ष करने वालों को इतिहास के बासी पन्ने मुबारक हो। श्री यादव ने सोमवार को सम्राट अशोक कन्वेंशन केंद्र के ज्ञान भवन में आहूत सोलहवें विधानसभा के एकदिवसीय अंतिम सत्र (मॉनसून सत्र) में कोरोना और बाढ़ पर हुई विशेष चर्चा के दौरान कहा, “जब 15 वर्ष के कार्यकाल में कोई सकारात्मक काम ही नहीं किया तो सरकार में शामिल लोग अब मुझ पर कटाक्ष ही कर सकते हैं। मैं आलोचना से नहीं घबराता, आलोचकों को गले लगाता हूं। जितनी उनकी आलोचना की धार तेज होगी उतनी ही तेज मेरी रफ्तार होगी। जितना आप प्रपंच करेंगे उतना ही हम प्रबल होंगे। वह कटाक्ष कर भूतकाल की बात करते हैं जबकि मैं भविष्य की बात करता हूं। इतिहास के बासी पन्ने आपको मुबारक।”

कोई टिप्पणी नहीं: