राष्ट्रपति चुनाव के बाद जी-7 की मेजबानी करना चाहते हैं ट्रम्प - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 11 अगस्त 2020

राष्ट्रपति चुनाव के बाद जी-7 की मेजबानी करना चाहते हैं ट्रम्प

trump-wants-g7-host
वाशिंगटन, 11 अगस्त, अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने सोमवार को कहा कि नवम्बर में होने वाले राष्ट्रपति चुनाव के बाद वह सात प्रमुख औद्योगिक देशों के समूह की मेजबानी करना चाहते हैं और इसके लिए वह अब भी रूस को आमंत्रित करना चाहते हैं। क्रीमिया पर कब्जा करने के बाद रूस को इस समूह से बाहर कर दिया गया था। व्हाइट हाउस में एक संवाददाता सम्मेलन में ट्रम्प ने कहा, ‘‘ मैं चुनाव के बाद इसे करना चाहता हूं। ’’ उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस के कारण बैठक आमने-सामने या टेली कॉन्फ्रेंस के जरिए हो सकती है। ट्रम्प ने कहा कि उन्होंने अपने कर्मियों से रविवार को कहा था कि वह चुनाव के बाद एक शिखर सम्मेलन करेंगे। इससे सभी लोगों को महत्वपूर्ण बैठक के बारे में सोचने के लिए समय मिल जाएगा। यूरोपीय संघ ने जून में जी-7 सदस्यों की बात का समर्थन करते हुए कहा था कि रूस को समूह में वापस शामिल नहीं होने देना चाहिए। वहीं ट्रम्प ने कहा कि वह इस साल शिखर सम्मेलन में रूस, ऑस्ट्रेलिया, दक्षिण कोरिया और भारत को आमंत्रित करने की योजना बना रहे हैं। कनाडा, फ्रांस, जर्मनी, इटली, जापान, ब्रिटेन और अमेरिका जी-7 के सदस्य हैं। 27 देशों का समूह यूरोपीय संघ भी इसकी बैठकों में हिस्सा लेता है। यूक्रेन पर आक्रमण और क्रीमिया पर कब्जे के बाद 2014 में रूस को इससे निकाल दिया गया था। इससे पहले यह जी-8 कहलाता था।

कोई टिप्पणी नहीं: