बिहार : सिमरिया बिन्द टोली निवासियों को किया घर से बेघर। - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 15 सितंबर 2020

बिहार : सिमरिया बिन्द टोली निवासियों को किया घर से बेघर।

administration-remove-home-simaria
अरुण ( बेगूसराय )  सिमरिया घाट बिन्द टोली में सीपीआई के कार्यकर्ताओं का सम्मेलन रखा गया था, जिसमें विभिन्न मुद्दों को लेकर बात हुई, बात करते हुए हमारे सीपीआई के अंचल मंत्री और तेघड़ा विधानसभा के पूर्व सीपीआई प्रत्याशी रामरतन सिंह के द्वारा सिमरिया घाट के लोगों को कहा गया कि आपके समाज के साथ अगर कोई खड़ा है तो वो है "सीपीआई" दुख हो या सुख हो सीपीआई सिमरिया घाट के लिए हमेशा खड़ा रहा है, आज सिमरिया घाट में बिना मुआवजा दिए बे-वजह घर से बेघर कर दिया यहाँ के लोगों को या यूँ कहें कि यहाँ के लोगों के उपर महिला हो या बच्चे हो प्रशासन के द्वारा पीटा गया और जबरदस्ती खाली भी करवाया गया तो कोई अतिश्योक्ति नहीं। अभी तक पीड़ित परिवार के बीच ना तो राशन कार्ड दिया गया और नहीं रास्ता बनवाया गया और नहीं बिजली की कोई भी सुविधा ही दिया गया है।सिमरिया के पीड़ित लोग को इस भीषण गर्मी में क्या हालत होती होगी ये कभी किसी ने भी नहीं सोचा ही नहीं। इसी बात को लेकर जिला के एटक नेता प्रहलाद सिंह बोले कि अभी भी बहुत पीड़ित परिवार ऐसे हैं जिनके पास रहने को जमीन नहीं मिला है, अगर सिमरिया घाट के पीड़ित जनता को उचित मुआवजा नहीं मिलता उसकी क्षति-पूर्ति नहीं होती है तो हमलोग आंदोलन करेंगे।आम जनता का जो अधिकार है वो सरकार और पदाधिकारी को मुहैय्या कराना होगा।आज पाँच से छः महीने बीतने को चला लेकिन अभी तक पीड़ित परिवार के बीच सरकार के द्वारा कुछ व्यवस्था नहीं किया गया है।इस मौके पर उपस्थित सिमरिया घाट के नौजवान नेता रौदी कुमार, कुंदन कुमार, आनंद कुमार, जवाहर भगत, रामबालक निषाद, अमरजीत कुमार, रोहित जी, रामबदन महतो, छोटन महतो, बिजो महतो, कृपाली महतो, जोकेलाल निषाद, अजय पासवान, राकेश कुमार, आदालत महतो, शत्रुध्न कुमार, विलाश निषाद, पंचायत देवी, कुंती देवी , शनिचरी देवी, जितनी देवी, रूपनी देवी, सहित समाज के अन्य भी कई गणमान्य व्यक्तियों के साथ कई पीड़ित परिवार भी उपस्थित रहे।

कोई टिप्पणी नहीं: