सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 15 सितम्बर - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 15 सितंबर 2020

सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 15 सितम्बर

पचास सालों से निवासरत बालमिकी नागरिकों को नहीं दिए मकानों के पट्टे

sehore news
सीहोर। अखिल भारतीय बालमिकी महासभा ने पचास सालों से मकानों में निवासरत बालमिकी समाज के नागरिकों को मालिकाना हक देने और स्टेशन रोड स्थित बालमिकी कॉलोनी में  स्वीकृत मांगलिक भवन निर्माण कार्य अतिशीघ्र कराये जाने की मांग की है। महासभा के कार्यकर्ताओं ने मंगलवार को जिलाध्यक्ष रितेश चंदेल के नेतृत्व में जिला प्रशासन को कलेक्ट्रेट पहुंचकर मांग पत्र दिया है।   चंदेल ने बताया कि नगर पालिका परिषद सीहोर द्वारा बालमिकी कॉलोनी स्टेशन रोड पर मांगलिक भवन बनाये जाने के लिए  भूमि की स्वीकृति दी है।  स्थान का आवंटित किया जा चुका है किन्तु अपरिहार्य कारणो से आज तक भवन का निर्माण नहीं किया गया है नगर पालिका परिषद द्वारा इस बावत परिषद में प्रस्ताव भी पारित किया जा चुका है।  कॉलोनी में  बने सरकारी मकानों  में पचास  से  अधिक  सालों से  नागरिक  रह रहे है  लेकिन  मकानों के पट्टे नहीं दिए जा रहे है जिस कारण नागरिकों को शासकीय योजनाओं का लाभ नहीं मिल रहा है।  

बढ़ रहा है कमजोर वर्गों पर अन्याय अत्याचार प्रजातांत्रिक समाधान पार्टी ने किया कलेक्ट्रेट में प्रदर्शन
राज्यपाल के नाम दिया  डिप्टी कलेक्टर को ज्ञापन
sehore news
सीहोर । प्रदेश  में कमजोर वर्गों पर बढते अन्याय,अत्याचार से आक्रोशित प्रजातांत्रिक समाधान पार्टी के कार्यकर्ताओं ने मंगलवार को कलेक्ट्रेट परिसर में नारेबाजी कर विरोध प्रकट किया। जातिवादी मानसिकता रखने वाले लोगों पर सख्त कार्रवाहीं और कमजोर वर्गों की सुरक्षा की मांग को लेकर राज्यपाल के नाम का ज्ञापन डिप्टी कलेक्टर को दिया।   प्रजातांत्रिक समाधान पार्टी के राष्टीय अध्यक्ष  कमल सिंह चौहान ने कहा इन्दौर जिले के देपालपुर तहसील के चटवाडा ग्राम में अनुसुचित जाति की महिला के शव का ग्राम के जातिवादी मानसिकता रखने वाले लोगो ने श्मशान घाट में अंतिम संस्कार नही होने दिया । शाजापुर जिले की कालापीपल तहसील के ग्राम दीगलाखेडी ग्राम में सेकडों मकान शासकीय भूमि पर बने हुए है । जिनमें अधिकतर सामान्य वर्ग के है , लेकिन जातिवादी सोच के कारण राजनैतिक व सामाजिक रूप से सक्षम लोगो ने प्रशासन से मिलकर पुलिस व तहसीलदार की उपस्थिति में जेसीबी चलाकर अनुसुचित जाति के कमलसिंह का मकान तोड दिया। शाजापुर जिले के ग्राम अरनिया कला में जातिवादी व दुषित मानसिकता के चलते प्रशासन पुलिस व कुछ प्रभावशाली लोगो ने संविधान निर्माता डा . अम्बेडकर की प्रतिमा को हटवा दिया । इसी प्रकार बावडीखेडा ग्राम में भी कुछ असामाजिक तत्वो के इशारो पर महिलाओं ने डॉ . अम्बेडकर की प्रतिमा को खंडित कर दिया। सीहोर जिले की आष्टा तहसील के ग्राम गवाखेडा के अनुसुचित जाति के परिवार के बुजुर्ग व्यक्तिओं के साथ सामान्य जाति के प्रभावशाली लोगो ने बेरहमी से मारपीट की आरोपियों की अबतक गिरफ्तारी नही की गई। प्रजातांत्रिक समाधान पार्टी ने मृतक के परिजनो को आर्थिक  सहायता  देने,  बाबा  साहब की प्रतिमा  तोडऩे वालों पर सख्त  कार्रवाहीं करने और कमजोर व पिछडे वगों की सुरक्षा की मांग राज्यपाल से की गई। ज्ञापन देने वालों में   प्रदेश प्रवक्ता जगदीश दविड़, जिलाध्यक्ष आरसी दवारिया,रमेशवर,  त्रिलोक बलवान, राजेश  मालवीय,  जितेंद्र मालवीय राजेश  चौहान,  बीएल बाम्बे,  धनराज सिंह, लाल सिंह गुणवान आदि कार्यकर्ता शामिल रहे।

किसान विरोधी तीनों अध्यादेश वापस लिए जाने की मांग   राष्ट्रीय किसान मोर्चा ने राष्ट्रपति  के  नाम  दिया  ज्ञापन

sehore news
सीहोर। केन्द्र सरकार द्वारा पारित किसान विरोधी तीन अध्यादेश वापस लिए जाने की मांग  को  लेकर मंगलवार को राष्ट्रीय किसान मोर्चा से जुड़े किसानों ने चांद सिंह मेवाड़ा के नेतृत्व में राष्ट्रपति के नाम का ज्ञापन डिप्टी कलेक्टर विजय कुमार मंडलोई को दिया। राष्ट्रीय किसान मोर्चा ने कहा कि तीनों कानून किसान हितैषी नहीं है बल्कि बड़े पैमाने पर मात्र पूंजीपतियों को फायदा पहुंचाने के लिए यह कानून पारित किया गया है,जिससे पूरे देश के किसानों में आक्रोश है ।  देशव्यापी आन्दोलन के पहले चरण के तहत देश के सभी 550 जिलों के जिलाधिकारियों के माध्यम से किसान विरोधी अध्यादेश वापस लेने के लिए  राष्ट्रपति को ज्ञापन भेजा गया है। कृषि उत्पाद व्यापार एवं वार्णिय संवर्धन एवं सहायता अध्यादेश 2020  मूल्य आश्वासन और कृषि सेवाओं के करारों के लिए किसानों का सशक्तिकरण और संरक्षण अध्यादेश 2020 आवश्यक वस्तु अधिनियम 1955 में संशोधन उपरोक्त आंदोलन करने के बाद भी किसान विरोधी अध्यादेश वापस नहीं लिए गए हैं। , उक्त किसान विरोधी कानून  वापस  नहीं  लिया  जाता  है तो किसान मोर्चा  आन्दोलन करने के लिए  विवश होगा। ज्ञापन देने वालों में तेहसिंह बहादूर, बलवान धनघोर शेर सिंह परमार, जनम  सिंह परमार,  जगदीश परमार, फूल सिंह चौहान शिवनारायण तोमर, देवराज  मालवीय, कमल सिंह मालवीय आदि किसान शामिल रहे।

मूल्यांकनकर्ताओं  ने कर दिया नम्बरों  का  घोटाला   केंद्र की गलती से फेल हो गए नेशनल ओपन स्कूल योजना के सौ प्रशिक्षाणार्थी, कलेक्ट्रेट पहुंच कर की गई कार्यवाहीं की मांग 

sehore news
सीहोर। नेशनल ओपन स्कूल योजना अंतर्गत शासकीय सुभाष हाई सेकेंड्री स्कूल में दो वर्षीय शिक्षक प्रशिक्षण कोर्स आयोजित किया गया। उत्कृष्ठ शिक्षक के प्रमाण पत्र के लिए प्रशिक्षण में सौ से अधिक प्रशिक्षाणार्थियों ने हिस्सा लिया। द्वितीय वर्ष के परीक्षा परिणाम देखकर प्रशिक्षाणार्थियों के हौश उड़ गए। तीन सालों से योजना अंतर्गत सुभाष स्कूल मेंं प्रशिक्षण ले रहे सौ प्रशिक्षाणार्थियों को मूल्यांकन में नेशनल ओपन स्कूल केंद्र भोपाल के द्वारा फेल कर दिया गया।  प्रशिक्षाणार्थियों को भोपाल स्थित केंद्र ने बताया की योजना  के  तहत पूर्णांक 200 तय किए  गए  थे लेकिन सुभाष स्कूल  प्रशिक्षण केंद्र के द्वारा 100 अंक को पूर्णांक मानकर नम्बर प्रदान किए  गए जिस से सभी सौ से अधिक प्रशिक्षाणार्थी फेल हो गए। परिणाम स्वरूप बोर्ड के द्वारा प्रशिक्षाणर्थियों की अंक सूचियां हीं रोक ली गई है। जिस के कारण अब न तो शिक्षित बेरोजगार शासकीय शिक्षक सेवा के लिए पात्र बचे है और न हीं अशासकीय स्कूल संचालक डिग्री के बिना नौकरी दे रहे है। इस संबंध में प्रशिक्षाणार्थियों ने डिप्टी कलेक्टर  विजय  कुमार  मंडलोई एवं  जिला शिक्षा  अधिकारी एसपी सिंह बिसेन  को ज्ञापन दिया है। प्रशिक्षाणार्थी अजय सिंह यादव अनिल परमार,मोहिनी खत्री, कविता परमार,  किरण चौधरी, विनीता राठोर, सुनील गौर, तनुजा सोनकर, प्रीति मैडम, सपना ओझा, मंजू मेवाड़ा, वर्षा, पाटीदार, विनीता गौर, विक्रम पाटीदार, सुनीता सोनी, छगनलाल गौर, सुनीता गौर, आरती पाटीदार, मंगला आदि ने सौ से अधिक शिक्षित बेरोजगारों का भविष्य खराब करने वाले मूल्यांकनकर्ताओं पर सख्त कार्यवाहीं कराने की मांग की है।  

नए हितग्राहियों को नवीन पात्रता पर्ची  का वितरण कार्यक्रम आज

जिला आपूर्ति अधिकारी श्री शैलेष शर्मा ने जानकारी देते हुए बताया कि संचालक खाद्य नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण के निर्देश अनुसार राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा कार्यक्रम के अन्तर्गत खाद्यान्न सुरक्षा के लिए जिले में 73062 नवीन हितगग्राहियों को योजना में जोड़ा गया है। जिन्हें नवीन पात्रता पर्ची जारी की गई है। इन हितग्राहियों को उचित मूल्य की दुकानों से सितंबर माह 2020 से ही पात्रता अनुसार परिवार के प्रत्येक सदस्य को 5 किलो खाद्यन्न 1 रुपये प्रति किलोग्राम की दर से उपलब्ध कराया जाएगा। इसके अतिरक्त नबंवर माह तक समस्त परिवारों को 5 किलो अतिरिक्त खाद्यान्न एवं 1 किलो दाल नि:शुल्क प्रदान की जाएगी तथा प्रति परिवार को 1 किलो नमक एवं 1.5 केरोसीन तेल भी प्रदान किया जाएगा। श्री शर्मा ने बताया कि जिला मुख्यालय सीहोर में नवीन पात्र परिवारों को लाभांवित करने के लिए 16 सितंबर 2020 को स्थानीय नगरपालिका टाउनहाल में प्रात: 11 बजे कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि सहकारिता एवं लोक सेवा प्रबंधन मंत्री श्री अरविन्द भदौरिया की अध्यक्षता एवं विशेष अतिथि विधायक सीहोर श्री सुदेश राय, इछावर विधायक श्री करण सिंह वर्मा, आष्टा विधायक श्री रघुनाथ सिंह मालवीय, नगरपालिका अध्यक्ष सीहोर श्रीमती अमिता अरोरा की उपस्थित में होगा।

37 यक्तियों की कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजीटिव प्राप्त हुई, वर्तमान में कोरोना एक्टिव/पॉजीटिव की संख्या 433 है

मुख्य  चिकित्सा अधिकारी डॉक्टर  सुधीर कुमार डेहरिया ने बताया कि 37 व्यक्तियों की कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजीटिव प्राप्त हुई है। सीहोर से 11 व्यक्तियों की कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजीटिव प्राप्त हुई है। संक्रमित व्यक्ति बग्गीखाना, बडियाखेड़ी, आफिसर कॉलोनी, पुराना बस स्टेण्ड, विश्वनाथपुरी, राठौर मोहल्ला, कस्बा के रहने वाले है। इछावर के विकासखंड अन्तर्गत 12 व्यक्तियों की कोरोना रिपोर्ट पॉजीटिव आई है जो तोरनिया, रामनगर, महात्मा गांधी वार्ड, खेरी, ब्रिजिशनगर, नेहरु वार्ड इछावर, बरखेड़ाकुर्मी के निवासी हैं। श्यामपुर विकासखण्ड अंतर्गत 1 व्यक्तियों की कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजीटिव प्राप्त हुई है। जो भटोनी का निवासी है। आष्टा विकासखण्ड से 9 व्यक्तियों की कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजीटिव मिली है। संक्रमित व्यक्ति फारेस्ट आफिस, कजलास, वार्ड नंबर 18, काछी मोहल्ला, अलीपुर के निवासी है। बुदनी अन्तर्गत ट्रायडेंट कंपनी के 3 व्यक्ति पॉजीटिव आए हैं। वहीं नसल्लागंज एसबीआई शाखा लाड़कुई से 01 व्यक्ति की कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजीटिव प्राप्त हुई है। जिले में एक्टिव/ पॉजीटिव व्यक्तियों की कुल संख्या 433 हो गई है। जिले में कोरोना संक्रमण से मृत्यु की संख्या बढ़कर 25 हो गई है। आज कोविड केयर सेंटर सीहोर से 11 व्यक्तियों को रिकवर होने के उपरांत डिस्चार्ज किया गया है। जिले में रिकवर होने के उपरांत डिस्चार्ज किए गए व्यक्तियों की संख्या बढ़कर 663 हो गई है। आज 388 व्यक्तियों के  सैम्पल कोरोना जांच हेतु लिए गए है। सीहोर शहरी क्षेत्र से आज  120 सैम्पल जांच हेतु लिए गए है। श्यामपुर से 51 सैमल लिए गए है, आष्टा से 54, नसरूल्लागंज के 55, बुदनी के 50 तथा इछावर के 58 सैम्पल कोरोना जांच हेतु लिए गए है। आज पॉजीटिव मिले नए कंटेनमेंट जोन सहित समस्त कंटेनमेंट एवं बफर जोन में स्वास्थ्य दलों द्वारा सघन स्वास्थ्य सर्वे किया जा रहा है। वहीं पॉजीटिव मिले व्यक्तियों के करीबी संपर्क वाले व्यक्तियों की पहचान कर उनकी सूची तैयार की जा रही है। प्रत्येक  कंटेनमेंट जोन में सर्वे के लिए एक से दो दल लगाए गए है । सर्वे दल के प्रभारी चिकित्सा अधिकारियों को बनाया गया है तथा स्वास्थ्य सर्वे दल में ए.एन.एम. आशा कार्यकर्ता, आंगनबाडी कार्यकर्ताओं की ड्यूटी लगाई गई है। जिले में कुल कोरोना पॉजीटिव व्यक्तियों की संख्या 1121 है जिसमें से 25 की मृत्यु हो चुकी है 663 स्वस्थ होकर डिस्चार्ज हो गए है तथा वर्तमान में 433 पॉजीटिव व्यक्तियों का उपचार चल रहा है।  आज कुल 388 सैंपल जांच हेतु लिए गए। जिले से अब तक कुल 18634 सेम्पल जांच के लिए भेजे गए थे जिनमें से 16349 सेंपलों की रिपोर्ट अब तक निगेटिव प्राप्त हुई है। आज 318 सैंपलों की रिपोर्ट निगेटिव प्राप्त हुई है। कुल 1099 सैंपलों की रिपोर्ट आना शेष है। पैथालॉजी द्वारा कोरोना वायरस सेंपल की रिजेक्ट संख्या कुल 65 है। जिले में कुल कंटेंमेंट एरिया 326 है जिनमें से 97 एक्टिव एवं 229 इनेक्टिव एरिया हैं। जिले में जो व्यक्ति होम क्वारंटाइन में है उनके निवास स्थान से सीधे संवाद हेतु जिला स्तरीय कोविड-19 काल सेंटर स्थापित किया गया है जिसका संपर्क नंबर-7247704181 है कोविड-19 से संबंधित जानकारी इस संपर्क नंबर पर ली व दी जा सकती है। वहीं जिला चिकित्सालय सीहोर में टेलीमेडिसीन के लिए संपर्क नंबर 07562-401259 जारी किया गया है तथा राज्य स्तर पर 104/181 नंबर पर काल करके भी टेलीमेडिसीन सेवा का लाभ लिया जा सकता है। 104  नंबर पर ई-परामर्श सेवा का भी लाभ लिया जा सकता है। ई-संजीवनी ओपीडी सेवा हेतु www.esanjeevaniopd.in पंजीयन कराया जा सकता है। कलेक्टेट कार्यालय सीहोर में भी जिला स्तरीय काल सेंटर बनाया गया है जिसका संपर्क नंबर 07562-226470 है तथा होम क्वारंटाइन व्यक्तियों तथा उनके परिजनों के लिए हेल्पलाइन नंबर 18002330175 जारी किया गया है। जिस पर संस्थागत क्वारंटाइन अथवा होम क्वारंटाइन व्यक्ति अथवा उनके परिजन इमोशनल वेलनेस अथवा साईकोलाजिकल सपोर्ट एवं अन्य जरूरी परामर्ष मानसिक सेवा प्रदाताओं से निःशुल्क प्राप्त कर सकते है।

कोविड-19 होम आइ्र्रसोलेशन के लिए प्रदान की गई किट किट में दवा, सहित 15 प्रकार की सामग्री

sehore news
मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ.सुधीर कुमार डेहरिया ने जानकारी दी कि जो कोविड-19 पाजीटिव आने के उपरांत होम आईसोलेषन में रखें गए है उन्न्हें किसी भी प्रकार की तकलीफ ना हो इसलिए स्वास्थ्य विभाग की ओर से एक किट उपलब्ध कराई जा रही है। किट में दिषा निर्देषों का ब्रोषर, जिसमें कोविड-19 पाजीटिव व्यक्ति की भूमिका, होम आईसोलेशन हेतु आवष्यक व्यवस्थाएं क्या हो इसकी जानकारी, कोविड-19 पाजीटिव व्यक्ति के उच्च जोखिम संपर्क में कौन है, होम आईसोलेशन के दौरान क्या सावधानियां बरती जानी चाहिए। होम आईसोलेषन रोगी के घरेलू सदस्यों हेतु सतर्कताएं, होम आईसोलेटेड व्यक्ति हेतु आवष्यक जानकारियां, लेक्षण जिनके प्रति सजग रहकर चिकित्सकीय परामर्श लेना है। कोविड-19 व्यक्ति में लक्षण उत्पत्ति पर परिवहन व्यवस्थाएं इत्यादि की विस्तृत जानकारी ब्रोशर में प्रदान की गई है। चिकित्सकीय परामर्श हेतु जिला कोविड कंट्रोल एवं कमांड सेंटर बनाया गया है जिसका संपर्क नंबर 07562-226470 जारी किया गया हैं वहीं जिला सर्वेलेंश अधिकारी का संपर्क नंबर 7247704297 तथा जिला कोविड कंट्रोल एवं कमांण्ड सेंटर का वाट्सएप्प नंबर  9479595519 जारी किया गया है जिस पर संपर्क कर जानकारी ली एवं दी जा सकती है इस नंबर पर वीडियो काॅल भी की जा सकती है। आईसोलेशन  किट मे फीवर क्लिनिक की सूची, संपर्क नंबरों की जानकारी, जिला कोविड केयर सेंटर, डेडिकेटेड कोविड केयर सेंटर, डेडिकेटेड कोविड हेल्थ संेटर, डेडिकेटेड कोविड अस्पताल की जानकारी उपलब्ध कराई गई है। डॉ.डेहरिया ने बताया कि दवाओं में एजीथ्रोमाईसिन टेबलेट, मल्टीविटामिन, सिट्रेजिन टेबलेट, पेरासिटोमाल, जिंक टेबलेट,टेबलेट विटामिन सी इत्यादि उपलब्ध कराई जा रही है। डॉ डेहरिया ने कहा संक्रमण की स्थिति को देखते हुए सभी व्यक्ति मास्क का उपयोग अनिवार्य रूप से करें्र, समय-समय पर सेनिटाईजर अथवा साबुन से हाथ धोएं तथा सोषल डिस्टेंष का पालन करें उन्होंने कहा वैष्विक महामारी के इस दौर में  सावधानी ही बचाव हैं।

सीहोर में आयोजित नवीन पात्रता पर्ची कार्यक्रम में सहकारिता मंत्री होंगे शामिल सम्पूर्ण प्रदेश में आज मनेगा अन्न उत्सव

16 सितम्बर का दिन प्रदेश के 37 लाख लोगों के लिए आशा-उत्साह और आनंद का दिन है। इन सभी को पात्रता पर्ची प्रदान कर अन्न उत्सव के अंतर्गत राशन वितरण आरंभ किया जाएगा। कोरोना काल में यह बड़ी राहत है। जिला मुख्यालय पर आयोजित शासकीय खेलकूद संस्थान भोपाल नाका में आयोजित नवीन पात्रता पर्ची वितरण कार्यक्रम में सहकारिता एवं लोक सेवा प्रबंधन विभाग मंत्री मध्यप्रदेश शासन श्री अरविन्द भदौरिया शामिल होंगे। जारी दौरा कार्यक्रम अनुसार मंत्री श्री भदौरिया 16 सितंबर को प्रात: 10 बजे भोपाल से कार द्वारा प्रस्थान कर प्रात:11 बजे सीहोर सर्किट हाउस पहुंचेंगे। प्रात: 11:30 बजे शासकीय खेलकूद संस्थान भोपाल नाका में आयोजित नवीन पात्रता पर्ची वितरण कार्यक्रम में शामिल होंगे। दोपहर 1:30 बजे भोपाल के लिए प्रस्थान करेंगे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने हितग्राहियों की पात्रता श्रेणी के अंतर्गत ऑटो चालकों को जोड़ने के निर्देश भी दिए। मुख्यमंत्री श्री चौहान 16 सितम्बर को प्रदेश में खाद्य सुरक्षा अधिनियम के अंतर्गत सम्मिलित हुए 37 लाख नए हितग्राहियों को पात्रता पर्ची और राशन वितरण कार्यक्रम के लिए जारी तैयारियों की समीक्षा कर रहे थे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि इसके बाद भी जो जरूरतमंद होगा उसे इस अभियान से जोड़ा जाएगा। राज्य सरकार हर गरीब के साथ खड़ी है। कार्यक्रम आयोजन में पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग तथा नगरीय निकायों का भी सहयोग लिया जाएगा। समन्वय भवन में आयोजित राज्यस्तरीय कार्यक्रम के मुख्य अतिथि होंगे मुख्यमंत्री श्री चौहान- अन्नपूर्णा योजना के अंतर्गत अन्न उत्सव के नाम से आयोजित राज्यस्तरीय कार्यक्रम का मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान 16 सितम्बर को प्रातः 11.45 बजे भोपाल के समन्वय भवन में शुभारंभ करेंगे। मुख्यमंत्री श्री चौहान हितग्राहियों से चर्चा भी करेंगे। प्रदेश के प्रत्येक जिले में आयोजित कार्यक्रम में राज्य के मंत्रीगण, सांसद तथा विधायकगण एक साथ खाद्यन्न वितरण का शुभारंभ करेंगे। इसके साथ ही सभी ग्राम पंचायतों और वार्डों में भी अन्न उत्सव मनाया जाएगा। राज्यस्तरीय कार्यक्रम और मुख्यमंत्री के उद्बोधन का सीधा प्रसारण दूरदर्शन सहित सभी प्रमुख इलेक्ट्रॉनिक चेनल्स और वेबकॉस्ट के माध्यम से फेसबुक/ट्विटर पर सीधा प्रसारण होगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने निर्देश दिए है कि सभी आयोजन स्थल पर कोरोना से बचाव की सावधानियों का अनिवार्यत: पालन सुनिश्चित किया जाए। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने आयोजन में दिव्यांगजन, वृद्धजन, महिलाओं आदि की सुविधा का ध्यान रखने के निर्देश भी दिए। 9 जिलों में जुड़े एक लाख से अधिक हितग्राही- बैठक में जानकारी दी गई कि राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम 2013 के अंतर्गत फेरी वाले, हम्माल, तुलावटी, केश शिल्पी, बीपीएल कार्ड धारक, बीड़ी श्रमिक, साइकिल रिक्शा और हाथ ठेला चालक जैसी 25 श्रेणी के 37 लाख पात्र हितग्राही अन्न उत्सव से लाभान्वित होंगे। प्रदेश में इन्दौर, मुरैना, जबलपुर, भोपाल, ग्वालियर, भिण्ड, छिंदवाड़ा, छतरपुर तथा सागर में  एक-एक लाख से अधिक नवीन हितग्राहियों को जोड़ा गया है। प्रदेश में 25 हजार 176 उचित मूल्य दुकानें संचालित हैं। 

जिले में अब तक 1305.2 मि.मी. औसत वर्षा

जिले में आज 15 सितंबर, 2020 की प्रात:8 बजे समाप्त पिछले चौबीस घन्टों में 7.3 मिलीमीटर औसत वर्षा दर्ज की गई है। इसे मिलाकर 1 जून से अभी तक जिले में 1305.2 मि.मी औसत बारिश रिकार्ड की जा चुकी है जबकि गत वर्ष इस अवधि में 1555.4 मि.मी बारिश रिकार्ड की गई थी। अधीक्षक, भू-अभिलेख से मिली जानकारी के अनुसार पिछले चौबीस घन्टों में श्यामुपर में 5, आष्टा में 23, जावर में 13, इछावर में 17 मिमी बारिश दर्ज की गई है। जबकि सीहोर, नसरुल्लागंज, बुदनी एवं रेहटी में वर्षा की स्थिति शून्य रही। आंकड़ों के मुताबिक जिले में अभी तक सीहोर में 1437.2, श्यामपुर में 924, आष्टा में 23, जावर में 1083, इछावर में 1248, नसरुल्लागंज में 1189, बुदनी में 1507 एवं रेहटी में 1804 मिमी बारिश दर्ज की गई है। गत वर्ष इस अवधि में सीहोर में 1844.2, श्यामपुर में 1422.2, आष्टा में 1536, जावर में 1140.9, इछावर में 1556, नसरुल्लागंज में 1805, बुधनी में 1456 रेहटी में 1804 मिमी बारिश दर्ज की गई थी।

शासकीय सेवकों और उनके आश्रित सदस्यों के इलाज के व्यय की प्रतिपूर्ति होगी

मध्यप्रदेश शासन के शासकीय सेवक एवं उनके परिवार के आश्रित सदस्य, जो आपदा कोविड-19 से संक्रमित होते हैं, ऐसे मरीज के इलाज के लिए प्रदेश के सभी जिलों के अशासकीय निजी चिकित्सालय (नर्सिग होम एक्ट के तहत पंजीकृत निजी चिकित्सालय) में आंतरिक रोगी (आईपीडी) के रूप में जांच, उपचार एवं दवाइयों के चिकित्सा व्यय की प्रतिपूर्ति होगी। स्वास्थ्य आयुक्त डॉ. संजय गोयल ने इस आशय का आदेश सभी विभाग, विभागाध्यक्ष, संभागीय आयुक्त सहित सभी जिला कलेक्टर को भेजा है। कोविड-19 के इलाज में उपयोग आने वाली दवाइयां-टेबलेट फेविपिराविर, इंजेक्शन रेमडिसिविर एवं टोसिलिजुमेब आदि के नाम शामिल हैं। उन्होंने कहा कि शासकीय सेवक कोविड-19 इलाज के चिकित्सा देयक अपने विभाग के माध्यम से जिले के सिविल सर्जन-सह-मुख्य अस्पताल अधीक्षक मध्यप्रदेश के प्रति हस्ताक्षर कराने के बाद शासकीय सेवक के संबंधित विभाग द्वारा ऐसे चिकित्सा देयकों की नियमानुसार भुगतान की कार्यवाही की जाएगी। यह व्यवस्था आपदा कोविड-19 के मरीजों के चिकित्सा देयकों पर लागू होगी। इसके लिए परिपत्र में 16 विभिन्न बिंदुओं के संबंध में स्थिति भी स्पष्ट की गई है।  

चुनाव लड़ने वाले उम्मीदवारों और राजनीतिक दलों के लिये आयोग के निर्देश
आपराधिक प्रकरणों का विवरण तीन बार प्रकाशित-प्रसारित कराना होगा
भारत निर्वाचन आयोग ने चुनाव लड़ने वाले उम्मीदवारों के साथ ही उन्हें नामांकित करने वाले राजनीतिक दलों को आपराधिक प्रकरण यदि हैं, तो उसके संबंध में संबंधित प्रत्याशी और राजनीतिक दल को निर्वाचित प्रक्रिया के दौरान तीन बार समाचार-पत्र और टेलीविजन पर प्रकाशित-प्रसारित कराना होगा। भारत निर्वाचन आयोग के उप सचिव श्री पवन दीवान ने बताया कि आयोग ने आपराधिक प्रकरणों के प्रचार के संबंध में संबंधित प्रत्याशी और रानजीतिक दल जो उन्हें चुनाव के लिये नामांकित करते हैं, उनके लिये अपने निर्देशों को और कारगर एवं सरल करने का निर्णय लिया है। आयोग सदैव इस नैतिक मापदण्ड पर जोर देते हुए चुनावी प्रजातंत्र की बेहतरी के लिये प्रयासरत है। उन्होंने बताया कि आयोग द्वारा उक्त संदर्भ में दिये गये निर्देशानुसार अभ्यर्थी और नामांकित करने वाले राजनैतिक दलों को आपराधिक प्रकरणों से संबंधित जानकारी का प्रथम प्रचार नाम वापसी की अंतिम तिथि के 4 दिन के अंदर, द्वितीय प्रचार नाम वापसी की अंतिम तिथि के 5 से 8 दिन के बीच और तृतीय प्रचार चुनाव प्रचार के 9वें दिन से अंतिम दिन के मध्य मतलब कि मतदान के 2 दिन पहले तक करवाना अनिवार्य होगा। इस टाइम लाइन से वोटरों को अपनी पसंद का उम्मीदवार चुनने के लिए सुविज्ञ तरीका प्राप्त होगा। आयोग के उप सचिव ने बताया कि ऐसे प्रत्याशी जो चुनाव लड़े बिना विजयी हुए हैं और इन्हें नामांकित करने वाले राजनीतिक दलों के प्रचार के संबंध में भी यह स्पष्ट किया जाता है कि उन्हें भी आपराधिक प्रकरणों यदि कोई है तो उसके संबंध में चुनाव लड़ रहे प्रत्याशी और उनके राजनीतिक दलों के लिए लागू प्रचार के निर्देशों के पालन करना पड़ेगा। आयोग द्वारा लिए हुए निर्णय अनुसार अभी तक इस विषय में जारी सभी फॉरमेट और निर्देश का सार संग्रह सभी हितग्राहियों की सुविधा के लिये प्रकाशित किया जा रहा है। इसके माध्यम से इस विषय पर वोटरों और अन्य हितग्राहियों में अधिक जागरूकता निर्माण में मदद मिलेगी। पूर्ववर्ती आपराधिक प्रकरण वाले चुनाव लड़ रहे प्रत्याशी और उनको नामांकित करने वाले राजनीतिक दलों को इस संबंध में जारी समस्त निर्देशों का अनुपालन करना अनिवार्य है। यह संशोधित दिशा-निर्देश तत्काल प्रभाव से लागू होंगे।   

दिव्यांगजनों को 17 सितम्बर को वितरित होंगे उपकरण

सामाजिक न्याय एवं नि:शक्तजन कल्याण मंत्री श्री प्रेम सिंह पटेल ने प्रदेश के सभी कलेक्टर्स से प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के जन्म-दिवस 17 सितम्बर को दिव्यांगजनों को कृत्रिम अंग सहायक उपकरण प्रदाय करने के निर्देश दिये हैं। कलेक्टर्स से कहा गया है कि वे अपने जिले में केन्द्रीय योजना के तहत पात्र दिव्यांगजनों को आवश्यकतानुसार उपकरणों का वितरण सुनिश्चित करें। 

DCBR और DVR (ID) पाठ्यक्रम में ऑनलाईन आवेदन करने की अंतिम तिथि 30 सितंबर

राष्ट्रीय मानसिक स्वास्थ्य पुनर्वास संस्थान  (NIMHR) संस्थान में DCBR और DVR (ID) पाठ्यक्रम में 30-30 सीटें उपल ब्ध हैं, जिसकी पात्रता 10+2 में 50% अंक है। उपरोक्त दोनों पाठ्यक्रम में प्रवेश हेतु ऑनलाइन प्रवेश प्रक्रिया भारतीय पुनर्वास परिषद द्वारा 14 सितंबर से प्रारंभ की गई है, जिसकी अंतिम तिथि दिनांक 30 सितंबर है। NIMHR में प्रवेश हेतु इच्छुक छात्र-छात्राएं भारतीय पुनर्वास परिषद (RCI) की वेबसाइट पर जाकर आवेदन कर सकते हैं। अतिरिक्त जानकारी हेतु website: nimhr.ac.in एवं Email : nimhrsehore @gmail.com  तथा दूरभाष नंबर 07562-223960 पर संपर्क किया जा सकता है।

कोई टिप्पणी नहीं: