दुमका उप चुनाव में हेमंत से बदला लेगी जनता : अमर बाउरी - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 1 सितंबर 2020

दुमका उप चुनाव में हेमंत से बदला लेगी जनता : अमर बाउरी

amar-baouri-attack-hemant-soren
दुमका, 01 सितम्बर, झारखंड के पूर्व मंत्री अमर कुमार बाउरी ने हेमंत सोरेन सरकार पर करारा प्रहार करते हुए मंगलवार को कहा कि नौ माह के कार्यकाल में सभी मोर्चे पर विफल सरकार को दुमका और बेरमो की जनता उप चुनाव में करारा जवाब देगी। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) अनुसूचित जाति मोर्चा की झारखंड इकाई के प्रदेश अध्यक्ष श्री बाउरी ने यहां भाजपा की वरिष्ठ नेता डॉ. लुईस मरांडी एवं जिलाध्यक्ष निवास मंडल की मौजूदगी में आयोजित संवाददाता सम्मेलन से पूर्व भारत रत्न पूर्व राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी के निधन पर गहरा शोक व्यक्त करने के साथ दो मिनट का मौन रखा और उन्हें श्रद्धांजलि दी। इसके बाद श्री बाउरी ने संवाददाताओं को संबोधित करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को 2019 के चुनाव में 2014 की तरह ही दुमका और बरहेट में भी हार का डर था इसलिए उन्होंने बरहेट और दुमका दोनों ही सीटों से चुनाव लड़ा और जब उनकी पार्टी कार्यकर्ताओं ने दिन रात मेहनत कर उन्हें जीत दिला दी तो उन्होंने दुमका सीट को छोड़कर बरहेट को प्राथमिकता दी। इससे साफ जाहिर होता है कि मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के लिए दुमका प्राथमिकता में नहीं है।

भाजपा नेता ने कहा कि मुख्यमंत्री द्वारा दुमका सीट से इस्तीफा दिये जाने से दुमका की जनता खुद को ठगा हुआ महसूस कर रही है। उन्होंने कहा कि अब यहां की जनता झारखंड मुक्ति मोर्चा (झामुमो) के झांसे में नहीं आयेगी और वर्ष 2014 में जिस तरह यहां उन्हें हार का सामना करना पड़ा, उसी तरह से इस बार के उपचुनाव में भी दुमका की जनता उन्हें जवाब देगी और छलावा करने के लिए हार का स्वाद चखायेगी। श्री बाउरी ने दुमका सहित राज्य भर की विधि-व्यवस्था पर सवाल उठाते हुए कहा कि राज्य में हत्या, लूटपाट, उग्रवाद, बलात्कार जैसी घटनाएं अखबारों की सुर्खियां बन रही है। उन्होंने कहा कि पूर्ववर्ती रघुवर सरकार ने झारखंड की जो सकारात्मक छवि बनाई थी वो फिर से नकारात्मक दिशा की तरफ बढ़ रहा है।

कोई टिप्पणी नहीं: