बिहार : अब बिहार में जाति पूछ कर पुलिस में पदस्थापन होगा - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 18 सितंबर 2020

बिहार : अब बिहार में जाति पूछ कर पुलिस में पदस्थापन होगा

bihar-police-posting-by-caste
पटना: बिहार पुलिस मुख्यालय ने पुलिस थानों / आउटपोस्टों में पदस्थापन को लेकर सभी सभी एसपी, एसएसपी, डीआईजी और आईजी को एक चिठ्ठी लिखी है। इस चिठ्ठी में जो आदेश दिए गए हैं इसको लेकर कई तरह की चर्चाएं तेज हो गई है। दरअसल, इस पत्र में लिखा है कि पुलिस थानों / आउटपोस्टों में पदस्थापन में सभी वर्गों का प्रतिनिधित्व रखा जाय। पत्र में सभी एसपी, एसएसपी, डीआईजी और आईजी को कहा गया है कि पुलिस मुख्यालय द्वारा पूर्व में सभी जिलों को निर्गत निदेश के अनुसार राज्य के सभी पुलिस थानों/ऑउटपोस्टों में थानाध्यक्ष/ ओपी प्रभारी के पदस्थापन के क्रम में समाज के सभी वर्गों का प्रतिनिधित्व सुनिश्चित किया जाना है। किंतु, पुलिस मुख्यालय के उक्त निदेश के उल्लंघन के कतिपय दृष्टांत प्रकाश में आये हैं। पत्र में सभी एसपी, एसएसपी, डीआईजी और आईजी को को निदेश देते हुए कहा कि सभी अपने क्षेत्रान्तर्गत सभी थानों/आउटपोस्टों में थानाध्यक्ष/ओपी प्रभारियों के पदस्थापन के संबंध में समीक्षा करते हुए यह सुनिश्चित करें कि उक्त क्रम में यथासंभव समाज के सभी वर्गों को समुचित प्रतिनिधित्व दिया गया है। पत्र के मुताबिक सभी एसपी, एसएसपी, डीआईजी और आईजी इस कार्य को संपन्न करें। क्योंकि मुख्यालय द्वारा आयोजित बैठकों में इस कार्य की समीक्षा की जाएगी। हालांकि इस पत्र को लेकर यह बातें कही जा रही है कि अगर मुख्यालय द्वारा इस तरह का पत्र लिखा जाता है तो इस बात से भी इनकार नहीं किया जा सकता है कि अब पुलिस महकमे में जात-पांत के आधार पर ट्रांसफर-पोस्टिंग की जाएगी।

कोई टिप्पणी नहीं: