जिला कांग्रेस ने चुनाव की तैयारी की, मुद्दों पर सरकार को घेरा - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 25 सितंबर 2020

जिला कांग्रेस ने चुनाव की तैयारी की, मुद्दों पर सरकार को घेरा

congress-ready-for-election-in-madhubani
मधुबनी (आर्यावर्त संवाददाता) जिला कांग्रेस कमिटी अध्यक्ष प्रो शीतलाम्बर झा ने एक प्रेस विज्ञप्ति जारी कर  कहा है कि जिला कांग्रेस कमिटी ,मधुबनी ने चुनाव की तैयारी पूर्व से ही कर रखी है ,कांग्रेस पार्टी के कार्यकर्ताओं ने पूरी ताकत से चुनाव लड़ने के मन बना चुकी है,जिला कांग्रेस द्वारा लगातार जिलापदधिकारियों, प्रखण्ड के अध्यक्षों, मोर्चा संगठन एवम कांग्रेस के बरिष्ट नेताओं के साथ बैठक कर चुनाव की रणनीति तैयार की है,प्रखंड स्तर पर भी कांग्रेसजनों की बैठक कर तैयारी की गई है।जिला के सभी बूथों पर बूथ कमिटी ,पंचायत कमिटी,प्रखंड कमिटी पूर्व से निर्धारण हो चुका है। प्रो झा ने कहा है कि देश ,राज्य एवम जिला में कोरोना काल हो या बाढ़ हो कांग्रेसजनों ने बढ़ चढ़ कर पीड़ित लोगों को मदद करने का प्रयास किया है,इस दौरान लगातार वर्चुअल मीटिंग जिला के कांग्रेसजनों के साथ हुई है ,वर्चुअल रैली को पार्टी के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष , छात्रों,नौजवानों,किसानों,बेरोजगरो, महिलाओं सहित शोषित पीड़ितों के देश के एक मात्र आवाज माननीय श्री राहुल गांधी जी भी संबोधित कर चुके है ,मधुबनी जिला में लगभग 1 दर्जन वर्चुअल बैठक हुई है जिसमे केंद्रीय नेतृत्व एवम प्रदेश नेतृत्व ने संबोधित कर कांग्रेसजनों को उत्साहित किया है।



प्रो झा ने कहा है कि मधुबनी जिला में कांग्रेस पार्टी लगातार जनहित के मुद्दों को लेकर आंदोलन करती रही है और जनता की आवाज बनी है जिससे लोगों में कांग्रेस पार्टी के प्रति विश्वास काफी बढ़ी है। प्रो झा ने कहा है कि इसवार के चुनाव में मधुबनी की जनताओं को नीतीश कुमार एवम बीजेपी को जवाब देना होगा कि यहाँ की मातृभाषा मैथिली की पढ़ाई प्राइमरी में क्यों नही हुई,मैथिली पुस्तकों की छपाई क्यों बन्द हुई,मैथिली शिक्षकों की वहाली क्यों नही हुआ,मिथिला का मखाना को बिहार के मखाना घोषित कर मिथिला की पहचान को मिटाने का प्रयास क्योँ हुआ मधुबनी जिला एवम मिथिलांचल के सभी उद्योग आजतक बन्द क्यों है,रैयाम,लोहट,सकरी चीनी मील बन्द कियों है,पंडौल सुता मील,गूलकोज फैक्ट्री बन्द क्यों है।बेरोजगरो को रोजगार क्यों नही मिला,मधुबनी का खादी विश्वप्रसिद्ध है बन्द क्यों है,मधुबनी का एकमात्र स्टेडियम मृतप्रायः क्यों है,मधुबनी जिला का स्वास्थ्य विभाग मरणा सन्न क्यों है,मिथिलांचल में एक भी उद्योग क्यों नही लगा ,सभी विकास का काम सिर्फ नालन्दा में ही क्यों।इन सभी बिंदुओं पर नीतीश बीजेपी को जवाब जनता को देना होगा,देश के अन्नदाता किसान मजदूरों की उपेक्षा सहित अन्य ज्वलन्त मुद्दा पर कांग्रेस पार्टी सरकार को जनता के बीच मुद्दा बनाएगी। पहले मैथिली को अनिवार्य विषय,अब संस्कृति,उर्दू को अनिवार्य विषय से क्यों हटाया,कांग्रेस के समय मे सभी विषय अनिवार्य था जवाब देना होगा।

कोई टिप्पणी नहीं: