मधुबनी : मधुबनी रेलवे स्टेशन पर आंदोलनकारियों ने किया चक्का जाम - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 25 सितंबर 2020

मधुबनी : मधुबनी रेलवे स्टेशन पर आंदोलनकारियों ने किया चक्का जाम

left-bandh-madhubani-for-farmer
मधुबनी (आर्यावर्त संवाददाता) अखिल भारतीय किसान संयुक्त संघर्ष समिति के आह्वान पर किसान विधेयक वापस लेने सहित किसानों-मजदूरों के अन्य सवालों पर देशव्यापी बन्द में मधुबनी में अखिल भारतीय किसान सभा एवं समर्थन में सीपीआई एवं सीपीएम के कार्यकर्ताओं द्वारा मधुबनी रेलवे स्टेशन पर सैकड़ो आंदोलनकारियों द्वारा प्रतिरोध मार्च निकाला गया । किसान अध्यादेश वापस लो, किसान मजदूर का कर्ज माफ करो , किसानों के कृषि योग्य जमीन को पूंजीपतियों के हाथों बेचना बंद करो ,मजदूरों के खिलाफ कानून को निरस्त करो , देश मे बढ़ रहे बेरोजगारी एवम आर्थिक विषमता के जिम्मेवार प्रधानमंत्री इस्तीफा करो , सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों को निजीकरण करना बंद करो सहित केंद्र सरकार के किसान-मजदूर विरोधी गगनचुम्बी नारो के साथ 600-700 के लगभग में आंदोलनकारी #जयनगर-राजेन्द्र नगर इंटरसिटी का परिचालन बाधित किये । रेलवे प्रशासन के पहल पर ट्रेन चालू हुआ । 



आंदोलनकारी पुनः जुलूस के शक्ल में मधुबनी बाजार में प्रतिरोध मार्च करते हुए थाना चौक से मधुबनी समाहरणालय के दोनों गेट को बंद करब दिए । उसी क्रम में मधुबनी-दरभंगा मुख्य मार्ग भी समाहरणालय के सामने घंटो बाधित रहा । प्रतिनियुक्त मजिस्ट्रेट एवं मधुबनी पुलिस प्रशासन द्वारा सभी आंदोलनकारियों को तत्काल गिरफ्तारी की घोषणा करते हुए सभी आंदोलन कारियों को नगर थाना ,मधुबनी लाया गया । आंदोलनकारियों की संख्या लगभग 700 के करीब था ।लगभग एक घंटे के बाद सभी आंदोलनकारियों को रिहा किया गया ।  आज रात्रि से ही लगातार वर्षा के कारण एकत्रित आंदोलनकारियों को एक जगह जमा होने में भारी परेशानी का सामना करना पड़ा । फिर भी मधुबनी शहर , हरलाखी ,बेनीपट्टी ,पंडौल ,रहिका सहित जिले के विभिन्य प्रखंडों के किसान ,मजदूर इस आंदोलन में भाग लिए । आन्दोलन का नेतृत्व किसान सभा के राज्य सचिव मनोज मिश्रा , अखिल भारतीय किसान सभा के जिला मंत्री लक्ष्मण चौधरी , किसान नेता राकेश कुमार पांडेय ,हरिनाथ यादव ,अरविंद प्रसाद , मो नसीम ट्रेड यूनियन , AITUC जिला महासचिव सत्यनारायण राय , सीताराम शर्मा , मंगल राम , मातवर सहनी ,सूर्यनारायण झा एवं अन्य कई साथी भाग लिए । सीपीआई जिला मंत्री मिथिलेश झा ,महिला समाज के महासचिव राजश्री किरण ,शहर मंत्री मोती लाल शर्मा , बैद्यनाथ ठाकुर ,रामचंद्र दास सहित सैकड़ों सीपीआई कार्यकर्ताओं द्वारा किसान आंदोलन के समर्थन में रेल रोको एवं विभिन्य कार्यक्रम में भाग लेते हुए गिरफ्तारी दी गई ।

कोई टिप्पणी नहीं: