मधुबनी : मधुबनी इप्टा ने रवि भूषण 'मुकुल' को सम्मानित किया - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 20 सितंबर 2020

मधुबनी : मधुबनी इप्टा ने रवि भूषण 'मुकुल' को सम्मानित किया

ipta-madhubani-honored-ravi-mukul
मधुबनी (आर्यावर्त संवाददाता) आज मधुबनी इप्टा के वरिष्ठ साथी को बिहार सरकार द्वारा सम्मान दिए जाने पर सम्मान समारोह का आयोजन किया गया। ज्ञात हो कि बिहार सरकार द्वारा इप्टा मधुबनी के वरिष्ठ साथी रवि भूषण 'मुकुल' को बिहार कला सम्मान के अंतर्गत भिखारी ठाकुर युवा पुरस्कार देने की घोषणा की गई है। इस अवसर पर  मुकुल ने कहा कि किसी भी कार्य को करने के लिए हमारे अंदर जुनून होना चाहिए, इसी को लेकर हम आगे अपनी राह तय कर सकते हैं। 



समारोह में रवि मुकुल ने कहा कि मधुबनी मेरा कर्म भूमि है। ये अवार्ड मुझे मधुबनी के नाम पर मिला है। मुझे गर्व है कि मैंने मधुबनी से शिक्षा दीक्षा ली और अपने काम मे निरंतर उसका उपयोग किया। सबसे बड़ी बात है कि आजतक मिथिलांचल में पहली बार मिलने से मुझे काफी खुशी है। मुझे इस बात का भी गर्व है कि बिहार छोड़कर मैं नहीं गया और एक सार्थक परिश्रम के कारण मुम्बई से चयन के लिए बिहार आते हैं।  कार्यक्रम में इप्टा मधुबनी के अध्यक्ष अरविंद प्रसाद ने कहा कि मुकुल को सम्मान मिलने से पूरा इप्टा परिवार गौरवान्वित है। वह इप्टा मधुबनी के एक क्रांतिकारी साथी हैं। बिहार इप्टा के राज्य सचिव इंद्र भूषण रमण बमबम ने कहा कि मुकुल का लगाव हमेशा मधुबनी इप्टा से रहा है। मुकुल किसी भी कार्य को अच्छी तरह से क्रियान्वित करने में काफी सक्षम है। इप्टा मधुबनी के सचिव अर्जुन राय ने कहा कि इस सम्मान के लिए मुकुल भैया का मार्गदर्शन हमे हमेशा मिलता रहता हूं। आशा है भैया हमेशा उच्च सम्मान से सम्मानित होंगे। कार्यक्रम में मधुबनी इप्टा के सुरेश बैरोलिया, श्रीप्रसाद दास, मनोज कुमार, विकास कुमार, चन्दन मिश्रा, जामिलूर रहमान, कौशल नायक, विक्रांत, अभिषेक, प्रभात, रंजीत, रौशन, पंचम, मृत्युंजय, रमेश, पीयूष, पूजा, मालविका, श्रेया, मुन्नी, काजल सहित अनेक साथी उपस्थित थे।

कोई टिप्पणी नहीं: