बेतिया : मिस्सा सोमवार से शनिवार तक तीन बार मिस्सा - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 21 सितंबर 2020

बेतिया : मिस्सा सोमवार से शनिवार तक तीन बार मिस्सा

कैथेड्रल ऑफ़ द नेटिविटी ऑफ़ द ब्लेस्ड वर्जिन मेरी नामक चर्च के अंदर
missa-in-church
बेतिया . क्रिश्चियन भक्तों को बड़े ही हर्ष के साथ जानकारी दी गयी है कि सोमवार 21सितम्बर से करीब 6 माह के बाद कैथेड्रल ऑफ़ द नेटिविटी ऑफ़ द ब्लेस्ड वर्जिन मेरी नामक चर्च के अंदर मिस्सा बलिदान चढ़ाया जायेगा.मगर इसमें अधिक से अधिक एक सौ व्यक्ति ही भाग ले सकते हैं. कैथेड्रल ऑफ़ द नेटिविटी ऑफ़ द ब्लेस्ड वर्जिन मेरी नामक चर्च के अंदर मिस्सा सोमवार से शनिवार तक की व्यवस्था की गयी है. सुबह का पहला मिस्सा 05:30 बजे,सुबह का दूसरा मिस्सा 06:30 बजे और शाम का मिस्सा संध्या 05:00 बजे से. शनिवार का शाम का मिस्सा सिर्फ महिलाओं के लिए संध्या 05:00 बजे से (यह मिस्सा बलिदान, रविवारीय मिस्सा होगा). वहीं रविवार का पहला मिस्सा 05:30 बजे से सिर्फ पुरूषों के लिए.रविवार का दूसरा मिस्सा 07:00 बजे से सिर्फ महिलाओं के लिए. रविवार का शाम का मिस्सा एवं आशीष 04:45 बजे से सिर्फ पुरूषों के लिए.



इसके लिए नियम बनाया गया है. बिना मास्क का चर्च परिसर में आने की अनुमति नहीं है. मास्क का प्रयोग करते समय नाक एवं मुंह अच्छी तरह ढक ले. चर्च के अंदर शारीरिक दूरी (कम से कम 1 गज) बनाकर बैठे. चर्च के अंदर बैच पर सिर्फ दो ही व्यक्ति बैठे. बैच पर लाल रंग का X का निशान बना है वहां पर न बैठे. चर्च के अंदर जमीन या सीढ़ियों पर बैठना मना है. किसी भी मूर्ति या तस्वीर को छूना  मना है. चर्च परिसर में इधर उघर न थूके तथा गंदगी न फैलाएं. चर्च के अंदर आने के पहले अपने हाथ को सेनेटाईज करें या साबुन से हाथ धोएं. दस वर्ष से कम उम्र के बच्चों तथा साठ वर्ष के अधिक आयु के अधिक आयु के व्यक्ति चर्च आने से परहेज करे. यदि किसी को बुखार,खांसी या सर्दी के लक्षण दिखाई दें वैसे व्यक्ति कृपया चर्च के अंदर न करें. पवित्र परमप्रसाद हाथ में ही भक्ति के साथ ग्रहण करें. चर्च में पवित्र परमप्रसाद ग्रहण करते समय स्टीकर पर खड़े होकर शारीरिक दूरी बनाये रखे. शनिवार के दिन बीमार या वृद्ध व्यक्ति को पवित्र परमप्रसाद ग्रहण करना चाहते हैं वे कृपया इसकी सूचना पल्ली कार्यालय में दें. आप अपनी सुरक्षा के लिए अपने पास सेनेटाईजर लेकर आने का कष्ट करें. समय समय पर सूचना एवं आवश्यक निर्देश चर्च में दिये जाएंगे.कृपया करके ध्यान से इसका अनुपालन करें तथा अपना सहयोग दें. आज बेतिया पल्ली का महागिरजाघर लॉकडाउन के पश्चात  21 सितंबर से सरकार के द्वारा जारी किए गए दिशा निर्देशों का पालन करते हुए खोलने का निर्णय लिया गया है.महागिरजाघर खुलने के पूर्व, बेतिया पैरिश यूथ के सदस्यों की मदद से आज सम्पूर्ण गिरजाघर को सेनिटाइज़ किया गया तथा सामाजिक दूरी बनाए रखने के लिए प्रत्येक बेंच पर स्टिकर लगाए गए और परम प्रसाद लेने में भी सामाजिक दूरी का पालन हो सके इसके लिए भी खड़े होने के स्थान पर स्टिकर लगाए गए.

कोई टिप्पणी नहीं: