राजनाथ ने बैठक कर पूर्वी लद्दाख में स्थिति की समीक्षा की - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 1 सितंबर 2020

राजनाथ ने बैठक कर पूर्वी लद्दाख में स्थिति की समीक्षा की

rajnath-meeting-on-ladakh
नयी दिल्ली 01 सितम्बर, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने पूर्वी लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा पर ताजा घटनाक्रम के मद्देनजर आज यहां एक उच्च स्तरीय बैठक में मौजूदा हालात की समीक्षा की। सूत्रों के अनुसार श्री सिंह ने सैन्य प्रमुखों और राष्ट्रीय सुरक्षा से जुड़े अधिकारियों के साथ वास्तविक नियंत्रण रेखा की ताजा स्थिति पर बातचीत की और भविष्य की योजना पर भी चर्चा की। सूत्रों ने बताया कि बैठक में सेना प्रमुख जनरल मनोज मुकुंद नरवणे ने रक्षा मंत्री को 29 और 30 अगस्त की दरम्यिानी रात पेगांग झील के दक्षिणी किनारे पर चीनी सेना की हरकतों की जानकारी दी। रक्षा मंत्रालय ने सोमवार को एक वक्तव्य जारी कर कहा था कि चीन के सैनिकों ने पूर्वी लद्दाख में एक बार फिर नापाक हरकत करते हुए 29 और 30 अगस्त की रात दोनों देशों के बीच बनी सहमति का उल्लंघन कर यथास्थिति को बदलने की कोशिश की जिसका भारतीय सैनिकों ने करारा जवाब दिया और विफल कर दिया है।

सेना प्रमुख ने इस मुद्दे पर चीन के साथ कमांडर स्तर पर हो रही बातचीत के बारे में भी जानकारी दी। उल्लेखनीय है कि ताजा घटनाक्रम के कारण दोनों देशों की सेनाओं के बीच पिछले तीन महीने से भी अधिक समय से चले आ रहे गतिरोध के लंबे खिंचने की आशंका है क्योंकि इससे सीमा पर एक बार फिर तनाव बढ गया है और दोनों देशों की सेना अपना जमावड़ा बढाने में लगी है।

कोई टिप्पणी नहीं: