बिहार : दीघा राजद कार्यालय के सामने पप्पू राय के नेतृत्व में लालटेन जलाए - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 9 सितंबर 2020

बिहार : दीघा राजद कार्यालय के सामने पप्पू राय के नेतृत्व में लालटेन जलाए

केंद्र और राज्य सरकार को बेरोजगारी के मुद्दे पर घेरने के लिए तेजस्वी ने बुधवार को रात में 9 बजे सबसे लालटेन, दीपक या मोमबत्ती जलाने का आह्वान किया था. तेजस्वी के इस आह्वान को जबरदस्त जनसमर्थन मिला है. तेजस्वी खुद अपनी मां पूर्व सीएम राबड़ी देवी के साथ उनके आवास पर सारी लाइटें बंद कर लालटेन जला रहे हैं. दीघा विधानसभा राजद कार्यालय के सामने पप्पू राय के नेतृत्व में लालटेन जलाए.
rjd-protest-in-digha-with-lalten
पटना,09 सितम्बर .बिहार विधानसभा चुनाव को लेकर तेजस्वी यादव ने बेरोजगारी को सबसे बड़ा मुद्दा बनाया है. केंद्र और राज्य सरकार को बेरोजगारी के मुद्दे पर घेरने के लिए तेजस्वी ने बुधवार को रात में 9 बजे सबसे लालटेन, दीपक या मोमबत्ती जलाने का आह्वान किया था. तेजस्वी के इस आह्वान को जबरदस्त जनसमर्थन मिला है. तेजस्वी खुद अपनी मां पूर्व सीएम राबड़ी देवी के साथ उनके आवास पर सारी लाइटें बंद कर लालटेन जला रहे हैं. दीघा विधानसभा राजद कार्यालय के सामने पप्पू राय के नेतृत्व में लालटेन जलाया गया. इस मौके पर तेजस्वी ने कहा कि बिहार ही नहीं पूरे देश का नौजवान बेरोजगारी के कारण त्रस्त है. नौजवानों के संघर्ष के साथ आरजेडी खड़ी है. बिहार में अगर हकीकत की बात की जाये तो बिहार आज बेरोजगारी का केंद्र बन चुका है. नीतीश कुमार आज तक रोजगार नहीं दे पाएं. सरकारी विभागों में पोस्ट खाली पड़े हैं, जिसका आंकड़ा राजद ने कई बार सरकार के सामने रखा. बिहार के नौजवानों ने जिन लोगों को  सत्ता पर बैठाया उन्होंने बेरोजगार युवाओं को कुछ भी नहीं दिया. यहां की सरकार को अपनी कुर्सी की चिंता है. नौजवानों से कोई मतलब नहीं है. नीतीश कुमार के शासन काल में सबसे ज्यादा युवक पीड़ित हैं. नीतीश कुमार के कार्यकाल के दौरान शिक्षा की स्थिति बदतर हो गई है. यहां 5 साल में भी ग्रेजुएशन की डिग्री पूरी नहीं हो रही है. बिहार के बेरोजगार युवक जब सरकार से इसके बारे में सवाल उठाते हैं तो उनकी पुलिस नौजवानों के ऊपर लाठी बरसाती है. तेजस्वी ने कहा कि नीतीश कुमार ने हाल ही में वर्चुअल रैली किया, जो पूरी तरह फेल साबित हुई. सोशल मीडिया में उनके रैली को लाइक से ज्यादा डिसलाइक मिला. 



नीतीश कुमार बिहार में हत्या को प्रमोट कर रहे हैं. एससी और एसटी तबके से आने वाले लोगों की हत्या होने पर उनके परिवार के किसी एक सदस्य को नौकरी देने की बात कह रहे हैं. इससे अपराधियों का मनोबल बढ़ेगा. जिन लोगों को जीते जी नौकरी नहीं दे पाएं, उनको मरने के बाद नौकरी क्या देंगे.   नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव के मुहीम से सभी बेरोजगार जुड़े हैं. रात 9 बजे 9 मिनट के लिए घरों की लाइट बंद कर बेरोजगारी के खिलाफ आवाज़ उठाने के लिए दीपक जलाया जा रहा है. मंगलवार को तेजस्वी यादव ने फेसबुक लाइव के माध्यम से यह अपील की थी कि आम लोग उनकी आवाज़ को मजबूती दें. बेरोजगारी के खिलाफ एकसाथ आएं और अपने-अपने घरों की लाइट ऑफ कर दीया जलाएं. बेरोजगारी, गरीबी, भुखमरी और मजदूरों के पलायन के खिलाफ आरजेडी ने आंदोलन शुरू किया है. विधानसभा चुनाव को लेकर पार्टी बड़ी तैयारी में जुटी हुई है. जनता से जुड़े हर एक मुद्दे को तेजस्वी लगातार उठा रहे हैं. आपको बता दें कि ऐसा ही कुछ नजारा तब देखने को मिला था जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोरोना काल के शुरूआती दौर में लोगों से दीया जलाने की अपील की थी. बेरोजगारी जैसी बड़ी समस्या को लेकर तेजस्वी ने मंगलवार को ही कहा था कि इन समस्याओं के समाधान के लिए राजद ब्लू-प्रिंट तैयार कर रही है. इसे जल्द ही राज्यवासियों के सामने पेश किया जायेगा. उन्होंने दावा कि इसबार उनकी सरकार बनी तो वे युवाओं के साथ आर्थिक न्याय करेंगे. तेजस्वी का कहना है कि अभी से काम की शुरुआत करते हुए पोर्टल और टोल फ्री नंबर जारी किया गया है.

कोई टिप्पणी नहीं: