सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 01 सितम्बर - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 1 सितंबर 2020

सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 01 सितम्बर

सोशल डिस्टेंस का पालन कर समाज ने अनोखे तरीके से सौंपा ई-ज्ञापन
  • सोशल मीडिया के माध्यम से जनप्रतिनिधियों को बताई समस्या

sehore news
सीहोर। सोशल मीडिया का सही उपयोग कर कोरोना संक्रमण के चलते अखिल भारतीय धोबी रजक महासंघ ने अनोखे तरीके से ई-ज्ञापन सौंपकर जनप्रतिनिधियों को अपनी समस्याओं से अवगत कराया। व्हाट्स्ाअप पर ई-ज्ञापन भेजकर अपनी मांगें रखी गई। अखिल भारतीय धोबी रजक महासंघ के जिलाध्यक्ष गोविन्द मालवीय, महामंत्री राकेश मालवीय ने बताया कि कोरोना संक्रमण के चलते इससे बचने का एक ही तरीका है, एक दूसरे से निस्चित दूरी रखी जाए, वही जहा तक हो सके दूसरो के संपर्क में न आई। इसी के चलते मंगलवार को समाज के लोगों ने इन्दौर नाका स्थित समाज के घाट के सोन्दर्यकरण, समाज के लिए घाट निर्माण, धर्मशाला निर्माण, संत गाडगे महाराज की प्रतिमा स्थापना व अन्य समस्याओं को लेकर सरकार की गाईडलाइन को ध्यानमें रखते हुए सोशल मीडिया के माध्यम से ई-ज्ञापन सौंपा गया। समाजजनो ने नगरपालिका अध्यक्ष अमिता अरोरा, पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष जसपाल अरोरा, क्षैत्र की पार्षद कांता गुलाब मालवीय को उनके व्हाट्सअप नंबर पर समस्याओं को हल करने ज्ञापन भेजा। समाज के इम्रतलाल मालवीय ने बताया कि सुबह 11 बजे से लेकर एक बजे तक 230 से अधिक समाज के लोगो ने अपनी बात जनप्रतिनिधियों तक पहुंचाई। नपा अध्यक्ष और पूर्व जिंप अध्यक्ष जसपाल अरोरा ने ज्ञापन को संज्ञान में लेकर सोशल मीडिया के माध्यम से ही अवगत कराया कि जल्द ही मांगों को लेकर कार्य शुरू किए जाएगें। सोशल मीडिया पर ज्ञापन सौंपने वालो में मनोज कन्नौजिया, सुमत लाल करोरिया, महेन्द्र मकरेया, प्रहलाद मालवीय, विरेन्द्र मालवीय, अरूण मालवीय, दिनेश मालवीय, रितिक मालवीय, समीर मालवीय, राहुल मालवीय, मनीष मालवीय, अंकित मालवीय, उद्देश्य मालवीय, नरेन्द्र बरेठा, मोनू मालवीय, संदीप मालवीय, धर्मेन्द्र मालवीय, राजेन्द्र मालवीय सहित अखिल भारतीय धोबी रजक महा संघ के अन्य सदस्य वा सामाजिक लोग शामिल है।

बेरोजगार चयनित अभ्यार्थियों ने मुख्यमंत्री से की शिक्षक भर्ती प्रक्रिया को शीघ्र शुरू करने की मांग

sehore news
सीहोर। मध्य  प्रदेश  शिक्षक पात्रता  परीक्षा  उत्तीर्ण अभ्यार्थी संघ ने प्रदेश  सरकार  से  कोरोना  खौफ के चलते बंद शिक्षक भर्ती प्रक्रिया को शीघ्र शुरू करने की मांग की। मध्य  प्रदेश  शिक्षक पात्रता  परीक्षा  उत्तीर्ण अभ्यार्थी संघ ने कलेक्ट्रेट पहुंचकर मुख्यमंत्री शिवराज  सिंह चौहान  के नाम  डिप्टी कलेक्टर  प्रगति  वर्मा को ज्ञापन दिया। बेरोजगार चयनित अभ्यार्थियों ने कहा की शिक्षा  की गुणवत्ता  को बढ़ाने   के  लिए शासकीय स्कूलों  में  शिक्षिकों  के रिक्त पदों  पर उच्च माध्यमिक  के 19200  और माध्यमिक  शिक्षक  भर्ती के 11374 से अधिक शिक्षको को पदस्त किया जाए।  बेरोजगार चयनित अभ्यार्थियों ने कहा की 9 सालों के बाद वर्ष  18 में  शिक्षक पात्रता  परीक्षा  उत्तीर्ण कर शासकीय  शिक्षक बनने का  सपना पूरा  हो  रहा  था।  प्रदेश सरकार  के द्वारा  जुलाई 2020 में  चयनित  अभ्यार्थियों के  दस्तावेज   सत्यापन शुरू  किया  गया  लेकिन  कोविड 19 के कारण  सरकार ने उच्च माध्यमिक  के 19 हजार दो सौ और माध्यमिक  शिक्षक  भर्ती के 11 हजार तीन सौ  से अधिक शिक्षको की भर्ती प्रक्रिया को  रोक  दिया। चयनित अभ्यार्थियों के द्वारा  कई बार क्षेत्रीय  विधायक  और जिला  कलेक्टर को ज्ञापन दिया लेकिन सरकार ने ध्यान नहीं दिया। ज्ञापन देने वालों  में  नवेद हुसैन, लक्ष्मीनारायण आहुजा,  विनीत कौशल,  अशोक  वर्मा,  अब्दुल  कादीर,  राजेश  मेवाड़ा  आदि शामिल रहे।

बेरोजगार हुए खटीक समाज के सैकड़ों लोग नगर पालिका ने लगाई सुअर पालन पर रोक
  • प्रशासन से मांगा रोजगार के लिए दस लाख रूपये का लोन
sehore news
सीहोर। खटीक समाज के नागरिकों का जीवन यापन मुश्किल हो गया है।  नगर पालिका ने शहर में सुअर पालन पर प्रतिबंध लगा दिया है। जिस के चलतेे वर्षो से सुअर पालन कर रोजी रोटी कमा रहे खटीक समाज के  नागरिक बेरोजगार हो गए है। खटीक सोनकर समाज के नागरिकों  ने  मंगलवार को सेवादल कांग्रेस के जिलाध्यक्ष नरेंद्र खंगराले के नेतृत्व में कलेक्ट्रेट पहुंचकर डिप्टी कलेक्टर प्रगति वर्मा को ज्ञापन देकर जिला प्रशासन से रोजगार उपलब्ध कराने की मांग की है। खटीक समाज  के प्रत्येक  परिवार को दस  दस लाख  रूपये  का ऋण  और पांच  पांंच  एकड़  कृषि  भूमि एवं   खटीक समाजके  शिक्षिक सदस्यों को  शासकीय  नौकरी दने की मांग की गई। सोनकर खटीक समाजसेवी दीपक सोनकर ने कहा की नगर पालिका के  कर्मचारियों के द्वारा केवल खटीक समाज के सुअर  पालक नागरिकों  के  हीं सुअरों  को  पकड़ा जा रहा है जबकी उन सुअरों  को  पकड़ कर क्या   किया जा रहा है बताया नहीं जा रहा है नगर पालिका के कुछ कर्मचारी सुअरों  का  अवैधानिक व्यावसाय भी कर रहे है लेकिन  उन पर कार्रवाहीं नहीं की जा  रहीं है। खटीक समाज सुअर पालन छोडऩे को तैयार है जिला  प्रशासन समाज  के लोगों  को  अन्य रोजगार  करने  के लिए कृ़षि  उपयोगी जमीन  और दस लाख रूपये का शासकीय ऋण  उपलब्ध  कराए औक्र समाज  के  शिक्षित नागरिकों  को  शासकीय  नौकरी उपलब्ध कराई जाए। ज्ञापन सौपने वालों में राम दुलारे सोनकर गंगाराम सोनकर, ताराचंद सोनकर, शेखर सोनकर, जानी सोनकर गोपाल खटीक, अभिषेक  सोनकर, मुकेश  खटीक,  सोनू सोनकर,  सतीष खटीक, अक्षय  सोनकर, जीतू  सोनकर, दिलीप  खटीक, ग्हरिलाल खटीक,आकाश सोनकर, शनि खटीक, धमेंद्र सोनकर, राहुल खटीक,  संदीप सोनकर, मोनू सोनकर, अशोक खटीक आदि खटीक सोनकर समाज के  नागरिक शामिल रहे।

फसल बीमा से वंचित हजारों किसानों को विधायक सुदेश राय के अनुरोध पर मुख्यमंत्री ने दी बढ़ी राहत
किसान 7 सितंबर सोमवार तक करा सकते है खराब हुई फसलों का बीमा  
sehore news
सीहोर। विधायक सुदेश राय के कृषक हितैशी अनुरोध को तत्काल मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने स्वीकार किया। मुख्यमंत्री के द्वारा प्रधानमंत्री फसल बीमा की तारिख 31 अगस्त से बढ़ाकर 7 सितंबर सोमवार तक करने की घोषणा कर दी गई। किसान हितैशी विधायक सुदेश राय ने मंगलवार को हाईवे से होकर जा रहे मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के समक्ष प्रधानमंत्री फसल बीमा से वंचित रह गए हजारों किसानों का पक्ष रखा। विधायक सुदेश राय के नेतृत्व में  भाजपा कार्यकर्ताओं और किसानों के द्वारा मुख्यमंत्री का पुष्प मालओं से भव्य स्वागत किया गया।   विधायक सुदेश राय ने अतिकम बारिश एवं अतिवृष्टी के कारण बर्बाद हुई फसलों का बीमा कराने से वंचित रह गए किसानों को लेकर कृषि मंत्री कमल पटेल से भी चर्चा की गई। मुख्यमंत्री श्री चौहान से भी बीमा कराने से वंचित   रह गए किसानों को सात दिनों का समय देने का अनुरोध किया। विधानसभा क्षेत्र सीहोर सहित जिले भर के हजारों किसानों ने विधायक सुदेश  राय का फसल बीमा  की तारिख मुख्यमंंत्री  के माध्यम  से  बढवाने  पर   आभार व्यक्त किया। मुख्यमंत्री के स्वागत के मौके पर बड़ी संख्या में विधायक  सुदेश  राय  के साथ भाजपा कार्याकर्ता किसान और गणमान्य  नागरिक एवं  प्रशासनिक अधिकारी कर्मचारी उपस्थित रहे। 

लाईट टेंट हाउस डेकोरेशन एसोसिएशन ने जिला प्रशासन से मांगी राहत मुख्यमंत्री के नाम दिया डिप्टी कलेक्टर को सौपा ज्ञापन

sehore news
सीहोर। लाईट टेंट हाउस डेकोरेशन एसोसिएशन ने मंगलवार को कलेक्ट्रेट  पहुंचकर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के नाम डिप्टी कलेक्टर प्रगति वर्मा को ज्ञापन दिया। एसोसिएशन अध्यक्ष मनोज कन्नोजिया ने बताया की कोरोना काल में निर्मित आर्थिक एवं व्यवसायिक संकट की स्थिति को देखते हुए समस्त मांगलिक कार्य में उपस्थिति संख्या बढ़ाने एवं आर्थिक सहायता प्रदान की मांग मुख्यमंत्री से की गई है।   टेंट हाउस व्यवसायी भी काफी प्रभावित हुए हैं क्योंकि संपूर्ण प्रदेश में मांगलिक सामाजिक राजनीतिक धार्मिक एवं अन्य कार्यक्रमो पर पूर्णता प्रतिबंधित है इस वजह से हम टेंट लाइट व्यवसायियों पर आर्थिक रूप से संकट आ पड़ा है निक्षित रूप से हमारी संस्था में कार्य करने वाले कर्मचारियों एवं मजदूरों के सामने परिवार के भरण पोषण की समस्या आ खड़ी है।  कर्ज की अदायगी दुकान किराया गोदाम किराए आदि राशियों का भुगतान करने में  लाईट टेंट हाउस डेकोरेशन वाले असमर्थ हो चुके हैं। टेंट लाइट व्यवसाई के माध्यम से काफी लोगों को रोजगार के अवसर प्राप्त होते हैं जैसे लोडिंग वाहन लेबर कारीगर इत्यादि शामिल है। जिले के कमजोर टेंट व्यवसाई अपने दैनिक जीविका चलाने में असमर्थ हो गए हैं उनके लिए 25 लाख रुपये का लोन कम से कम कागजी कार्रवाई व बिना जमानत के जिला सहकारी केंद्रीय बैंक द्वारा उपलब्ध करवाया जाए।  प्रथम वर्ष में व्याज वा बाकी की अगले 3 वर्ष में समान किस्तों में अदायगी की जा जाना सुनिश्चित भी किया जाए। इसी प्रकार अन्य मांगे भी शामिल है ज्ञापन देने वालों में सचिव रवि ठकराल, हरभजन सिंह, ब्रजमोहन सोनी आदि उपस्थित रहे।

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान आज सीहोर जिले के शाहगंज आएंगे

मुख्यमंत्री मध्यप्रदेश शासन श्री शिवराज सिंह चौहान 02 सितंबर 2020 बुधवार को सीहोर जिले के भम्रण पर रहेंगे। जारी दौरा कार्यक्रम अनुसार मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान 02 सितंबर को प्रात: 11:30 बजे भोपाल से हेलीकाप्टर द्वारा प्रस्थान कर प्रात:11:50 बजे सीहोर जिले के शाहगंज पहुंचेंगे। जहां डूब प्रभावित क्षेत्रों का भ्रमण एवं राहत शिविरों का अवलोकन करेंगे। सायं अपरान्ह 3 बजे शाहगंज से हेलीकाप्टर द्वारा भोपाल के लिए प्रस्थान करेंगे।

आज 39 की रिपोर्ट पॉजीटिव प्राप्त हुई, वर्तमान में कुल पॉजीटिव एक्टिव व्यक्तियों की संख्या 205

sehore news
मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकार डॉक्टर सुधीर कुमार डेहरिया ने बताया कि  आज 39 व्यक्तियों की कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजीटिव प्राप्त हुई है। जिसमें सीहोर के 7 व्यक्ति की रिपोर्ट पॉजीटिव आई है जिनमें फ्रीगंज मंडी, खजांची लाईन, बडा बाजार, वार्ड नंबर 13 ब्रहमपुरी के निवासी हैं। इछावर के 13 व्यक्तियों की रिपोर्ट पॉजीटिव आई है जो ढाबलामाता, दिवडिया, ब्रिजिशनगर, झालपीपली धाईखेड़ा, वीरपुरा, भाउंखेड़ी, कांकरखेड़ा, फांगिया के निवासी हैं। आष्टा के 12 व्यक्ति जो मेहतवाड़ा सेल फैक्ट्री, बड़ा बाजार सिद्धिकगंज, साईं कॉलोनी, वार्ड नंबर 18, बिलपान, डोडी, लसुडियाखास एवं कोठरी के निवासी हैं। श्यामपुर के स्थानीय से 1 एवं 1 निपानिया कला से पॉजीटिव व्यक्ति मिला है।  बुदनी से 3 व्यक्तियों की रिपोर्ट पॉजीटिव आई है एवं नसरुल्लागंज के लाड़कुई तथा जमोनिया से से 1-1 व्यक्ति की रिपोर्ट पॉजीटिव आई है। जिले में कोरोना पॉजीटिव/एक्टिव व्यक्तियों की संख्या 205 है। आज 8 व्यक्तियों को डिस्चार्ज किया गया है। जिले में अब तक स्वस्थ होने के उपरांत डिस्चार्ज किए गए व्यक्तियों की संख्या 476 है। जिले में कोरोना संक्रमित व्यक्तियों की मृत्यु संख्या 20 है। आज 553 व्‍यक्तियों के  सैम्पल कोरोना जांच हेतु लिए गए है। सीहोर शहरी क्षेत्र से आज  47 श्यामपुर के 143 आष्टा से 161 नसरूल्लागंज के 94 एवं बुदनी के 48 इछावर के 60 व्यक्तियों के कोरोना जांच हेतु सैम्पल लिए है। आज पॉजीटिव मिले नए कंटेनमेंट जोन सहित समस्त कंटेनमेंट एवं बफर जोन में स्वास्थ्य दलों द्वारा सघन स्वास्थ्य सर्वे किया जा रहा है। वहीं पॉजीटिव मिले व्यक्तियों के करीबी संपर्क वाले व्यक्तियों की पहचान कर उनकी सूची तैयार की जा रही है। प्रत्येक कंटेनमेंट जोन में सर्वे के लिए एक से दो दल लगाए गए है। सर्वे दल के प्रभारी चिकित्सा अधिकारियों को बनाया गया है तथा स्वास्थ्य सर्वे दल में ए.एन.एम., आशा कार्यकर्ता, आंगनबाडी कार्यकर्ताओं की ड्यूटी लगाई गई है।  जिले में कुल कोरोना पॉजीटिव व्यक्तियों की संख्या 701 है जिसमें से 20 की मृत्यु हो चुकी है 476 स्वस्थ्‍ होकर डिस्चार्ज हो गए है तथा वर्तमान में 205 पॉजीटिव व्यक्तियों का उपचार चल रहा है।  आज कुल 553 सैंपल जांच हेतु लिए गए। जिले से अब तक कुल 13152 सेम्पल जांच के लिए भेजे गए थे जिनमें से 0812 सेंपलों की रिपोर्ट अब तक निगेटिव प्राप्त हुई है। आज 731 सैंपलों की रिपोर्ट निगेटिव प्राप्त हुई है। कुल 2580 सैंपलों की रिपोर्ट आना शेष है। पैथालॉजी द्वारा कोरोना वायरस सेंपल की रिजेक्ट संख्या कुल 59 है। जिले में कुल कंटेंमेंट एरिया 212 है जिनमें से 71 एक्टिव एवं 141 इनेक्टिव एरिया हैं। जिले में जो व्यक्ति होम क्वारंटाइन में है उनके निवास स्थान से सीधे संवाद हेतु जिला स्तरीय कोविड-19 काल सेंटर स्थापित किया गया है जिसका संपर्क नंबर.7247704181 है कोविड-19 से संबंधित जानकारी इस संपर्क नंबर पर ली व दी जा सकती है। वहीं जिला चिकित्सालय सीहोर में टेलीमेडिसीन के लिए संपर्क नंबर 07562-401259 जारी किया गया है तथा राज्य स्तर पर 104/181 नंबर पर काल करके भी टेलीमेडिसीन सेवा का लाभ लिया जा सकता है 104  नंबर पर ई.परामर्श सेवा का भी लाभ लिया जा सकता है। ई.संजीवनी ओपीडी सेवा हेतु www.esanjeevaniopd.in पंजीयन कराया जा सकता है। कलेक्ट्रेट कार्यालय सीहोर में भी जिला स्तरीय काल सेंटर बनाया गया है जिसका संपर्क नंबर 07562.226470 है तथा होम क्वारंटाइन व्यक्तियों तथा उनके परिजनों के लिए हेल्पलाइन नंबर 18002330175 जारी किया गया है। जिस पर संस्थागत क्वारंटाइन अथवा होम क्वारंटाइन व्यक्ति अथवा उनके परिजन इमोशनल वेलनेस अथवा साईकोलाजिकल सपोर्ट एवं अन्य जरूरी परामर्श मानसिक सेवा प्रदाताओं से निःशुल्क प्राप्त कर सकते है।


कलेक्टर ने ली बुदनी में अधिकारियों की बैठक दिए आवश्यक निर्देश  

sehore news
कलेक्टर श्री अजय गुप्ता ने बुदनी में अधिकारियों की बैठक ली। बैठक में उन्होंने जिला स्तर के सभी अधिकारियों को अगले 24 घंटे में सभी विभागों को स्थानीय स्तर पर सभी आवश्यक सुविधाएं उपलब्ध कराने हेतु निर्देशित किया। उन्होंने राजस्व विभाग को बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में समस्त फसल परिसंपत्ति आदि की हानि का सर्वे करके अपना प्रतिदिन सौंपने के लिए निर्देशित किया। कलेक्टर ने खाद्य विभाग के अधिकारियों को बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों के समस्त लोगों को राशन उपलब्ध कराने के लिए एवं विद्युत विभाग को बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों की विद्युत व्यवस्था सुचारू रूप से प्रारंभ कराए जाने के लिए निर्दे‍शित किया। पीएचई विभाग को पेयजल के लिए पानी की व्यवस्था सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। कलेक्टर श्री गुप्ता ने महिला बाल विकास विभाग को आंगनवाड़ी कार्यकर्ता के माध्यम से गांव की सभी महिलाओं एवं बच्चों का पोषण आहार आदि बुनियादी आवश्यकताएं की पूर्ति करन सूचित करने के लिए निर्देशित किया। इसी प्रकार स्वास्थ विभाग को बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में डोर टू डोर जाकर हेल्थ चेकअप करने एवं एंटी मलेरिया स्प्रे करवाने के निर्देश दिए। श्री गुप्ता ने ग्रामीण विकास को निर्देशित किया कि सभी से कोरडिनेट करके आवश्यक सभी आवश्यकताएं पूर्ति कराना सूचित करें और साथ ही बाढ़ प्रभावित बस्तियों के लोगों का रहना, भोजन साफ-सफाई आदि सुनिश्चित करें। इसी प्रकार जिले के समस्त विभागों को बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में आवश्यक बुनियादी आवश्यकताएं पूरी करने के लिए अगले 24 घंटे का अल्टीमेटम दिया है।

मुख्यमंत्री जी द्वारा व्हीसी के माध्यम से समीक्षा आज  

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान के द्वारा वीडियो कांफ्रेसिंग के माध्यम से समीक्षा बैठक 2 सितम्बर की सांय 4 बजे से आयोजित की गई है। वीडियो कांफ्रसिंग में जिन बिन्दुओं पर समीक्षा की जाएगी उनमें बाढ एवं आपदा राहत, समर्थन मूल्य पर धान खरीदी, कानून व्यवस्था एवं कालाबाजारी तथा मिलावट के विरूद्व अभियान, ट्रांसफार्मर एवं बिजली संबंधी शिकायतों का निपटारा, नवीन पात्रता पर्चीधारी हितग्राहियों को खाद्यान्न वितरण, पथ विक्रेता उत्थान योजना (शहरी एवं ग्रामीण), वनाधिकार पट्टो के संबंध में, बिजली बिलो में राहत तथा विद्युत संबंधी शिकायतो का निराकरण, किसान, दुग्ध उत्पादकों एवं मछली पालको को क्रेडिट कार्ड एवं ऋण उपलब्धता, स्व-सहायता समूहों का सशक्तिकरण, अविवादित नामांतरण एवं बंटवारा तथा जेईई/नीट परीक्षार्थियों की परिवहन व्यवस्था इत्यादि वीडियो कांफ्रेसिंग की एजेण्डा में शामिल है।

मुख्य नगरपालिका अधिकारी एवं पुलिस प्रशासन की उपस्थिति में हुआ गणेश प्रतिमाओं का विसर्जन

sehore news
कलेक्टर श्री अजय गुप्ता के निर्देश अनुसार अनन्त चतुर्दशी पर मुख्य नगरपालिका अधिकारी की उपस्थिति में गणेश प्रतिमाओं का विसर्जन किया गया। नगरपालिका द्वारा नगर के सभी वार्डों से 5 वाहनों द्वारा गणेश जी की प्रतिमाऐं विसर्जन स्थल ले जाई गई और विसर्जित की गईं। इस दौरान सुरक्षा की दृष्टि से यहां पुलिस बल भी तैनात किया गया।

राष्ट्रीय पोषण माह के रूप में मनाया जाएगा सितंबर माह

पोषण अभियान के अंतर्गत महिलाओं और बच्चों के पोषण स्तर की बेहतरी के उद्देश्य से इस वर्ष भी सितंबर माह को राष्ट्रीय पोषण माह के रूप में मनाया जायेगा। उल्लेखनीय है कि वर्ष 2018 में प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने पोषण अभियान को प्रारंभ किया था। इसका मुख्य उद्देश्य जन आंदोलन और जनभागीदारी से कुपोषण को मिटाना है। इस वर्ष पोषण माह 2020 दो मुख्य उद्देश्य पर आधारित है। पहला अति कुपोषित बच्चों को चिन्हित और उनकी मॉनिटरिंग करना तथा दूसरा किचन गार्डन को बढ़ावा देने के लिए पौधारोपण अभियान है। प्रदेश स्तर पर इस वर्ष पोषण माह के दौरान में विभिन्न गतिविधियों का आयोजन किया जाएगा। पोषण माह के दौरान आयोजित की गई गतिविधियों की दैनिक प्रविष्टि भारत सरकार के जन आंदोलन पोर्टल http://poshan abhiyan.gov.in पर किया जाएगा। संचालक महिला बाल विकास श्रीमती स्वाति मीणा नायक ने सभी जिला कार्यक्रम अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि पोषण माह के दौरान सघन अभियान संचालित कर बच्चों की ग्रोथ मॉनिटरिंग सुनिश्चित करें। कोरोना संक्रमण काल में बच्चों की ग्रोथ मॉनिटरिंग प्रभावित हुई है। उन्होंने बच्चों को सूचीबद्ध करने, शारीरिक माप का रिकॉर्ड संधारण करने गंभीर कुपोषित बच्चों का पोषण प्रबंधन तथा निगरानी एवं मूल्यांकन सुनिश्चित करने के निर्देश दिए हैं।

शादी के पांच साल बाद मां बनी बरखा तो फूली नही समाई रौशनी क्लिनिक से गुंजी घर में किलकारियां (सफलता की कहानी)

sehore news
जिला चिकित्सालय में प्रत्येक बुधवार को संचालित संचालित रौशनी क्लिनिक में निःशुल्क उपचार के उपरांत एक महिला की को वो तमाम खुशियां मिल गई जिसकी उसे बरसों से तलाश थी। रौशनी क्लिनिक से उसकी उम्मीद जागी और उसकी सुनी गोद भर गई। रौशनी क्लिनिक में निःशुल्क उपचार के बाद उसने स्वस्स्थ बालक को जन्म दिया जिससे उसकी खुशी का ठिकाना नहीं रहा। बच्चें की किलकारियों ने घर रौनक ला दी। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ.सुधीर कुमार डेहरिया नें जानकारी दी कि श्रीमती बरखा पति श्री आनंद कौशल उम्र 24 वर्ष को विवाह के 5 साल हो चुके थे विवाह को 5 बरस हो गऐ थे किंतु  उसे कोई संतान नहीं थी। बरखा की सास अपने बडे़ बेटे के बच्चे को टीका लगवाने आंगनतवाबाडी क्रमांक 89 वार्ड नंबर 20 सीहोर में लेकर पहुंची जहां उसने अपनी बहु और बेटे की व्यथा आशा कार्यकर्ता श्रीमती भारती राठौर को बताई। तब आषा कार्यकर्ता ने रौशनी क्लिनिक के बारे में महिला की सास को विस्तार से बताया कि जिला चिकित्सालय स्थित रौशनी क्लिनिक में  निःसंतानता का निःशुल्क उपचार एवं जांच की जाती है। सास अपनी बहु बरखा को प्रत्येक बुधवार को जिला चिकित्सालय में संचालित रौशनी क्लिनिक में लेकर पहुंची एवं समस्त जांच व उपचार करवाया। डीपीएचएन श्रीमती गायत्री राव द्वारा बरखा का निरंतर फॉलोअप लिया गया एवं महिला का निरंतर उपचार श्रीमती संध्या राजगीर महिला चिकित्सा अधिकारी द्वारा किया गया। 21 अगस्त को बरखा ने जिला चिकित्सालय सीहोर में सामान्य प्रसव द्वारा स्वस्थ बालक को जन्म दिया जिसका वजन 3 किलो ग्राम था मां और बच्चे दोनों स्वस्थ है। बच्चे को जन्म के बाद आवष्यक टीके लग चुके है तथा जच्चा-बच्चा को अस्पताल से छुट्टी दे दी गई।

संबंल योजना को और अधिक प्रभावी और सुगम बनाने के निर्देश  

श्रम मंत्री श्री बृजेन्द्र प्रताप सिंह ने प्रदेश के श्रमिकों को सामाजिक सुरक्षा सुनिश्चित कराने के लिए मुख्यमंत्री जनकल्याण संबंल योजना के संचालन एवं क्रियान्वयन को और अधिक प्रभावी और सुगम बनाने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि श्रमिकों के लिए रोजगार पोर्टल पर सरल हिन्दी भाषा में यूजर मेन्युअल एवं डेमों को दर्शाया जाये। जिससे सामान्य व्यक्ति को भी पंजीयन कराने में कोई कठिनाई न हो। मंत्री श्री सिंह ने कहा कि रोजगार सेतु पोर्टल की सुविधाओं को एप के माध्यम से प्राप्त करने के लिए एन.आई.सी के सहयोग से सरलीकृत माबईल एप का निर्माण भी किया जाये।  मंत्री श्री सिंह ने श्रम विभाग की समीक्षा करते हुए कहा कि भारत सरकार के नीति आयोग द्वारा बनाये जा रहे उन्नति पोर्टल एवं अन्य राज्यों के पोर्टल का अध्ययन कर उनके आधार पर मध्यप्रदेश के रोजगार सेतु पोर्टल को अद्यतन किया जाये, साथ ही भारत सरकार के उन्नति पोर्टल के साथ एकीकरण किया जाये, जिससे राज्य के प्रवासी श्रमिकों को उन्नति पोर्टल की सेवाओं का लाभ मिल सकें। उन्होंने कहा कि रोजगार सेतु पोर्टल का प्रचार-प्रसार प्रिन्ट एवं इलेक्ट्रानिक मीडिया के द्वारा किया जाये, जिससे अधिक से अधिक श्रमिकों को इसका लाभ मिल सकें। मंत्री श्री सिंह ने कहा कि जानकारी के अभाव में राज्य में वापस आये प्रवासी श्रमिक जो पंजीयन से वंचित रह गए हो, उनके लिए रोजगार और अन्य योजनओं का लाभ लेने के लिए सीमित अवधि के लिए रोजगार सेतु पोर्टल पर पंजीयन करने की सुविधा उपलब्ध करवायी जाये। श्रम विभाग के प्रमुख सचिव श्री उमाकांत उमराव ने बताया कि एक मार्च 2020 के बाद प्रदेश में लौटकर आये प्रवासी श्रमिकों का पंजीयन के लिए 27 मई से 06 जून, 2020 तक अभियान चलाया गया, जिसमें कुल 7 लाख 30 हजार 311 प्रवासी श्रमिकों का पंजीयन किया गया है। उन्होंने कहा कि श्रमिकों को कार्य की प्रकृति, शैक्षणिक योग्यता, अनुभव, कुशलता के आधार पर रोजगार के अवसर उपलब्ध कराये जाते हैं। कारखानों, वाणिज्यिकर स्थापनाओं, एम.एस.एम.ई, नियोक्ताओं, ठेकेदारों, प्लेसमेंट एजेंसियों, बिल्डरों इत्यादि जिन्हें श्रमिकों की आवश्यकता होती है, उनको पंजीकरण की सुविधा उपलब्ध कराई गई है, जिससे श्रमिकों को अपनी योग्यता एवं कुशलता के आधार पर रोजगार प्राप्त होता है। पंजीकृत श्रमिकों को केन्द्र और राज्य सरकार की विभिन्न कलयाणकारी योजनाओं में सामाजिक सुरक्षा और हितलाभ प्रदान किया जाता है।

कृषि वैज्ञानिकों ने किसानों को दी उपयोगी सलाह

आर ए के महाविद्यालय के डॉ पीएस रघुवंशी ने जानकारी देते हुए बताया कि विगत दिवस स्थानीय कृषि महाविद्यालय सीहोर में संचालित अखिल भारतीय संमन्वित सोयाबीन अनुसंधान परियोजना द्वारा इछावर विकासखंड के ग्राम जोगलाखेड़ी, अतरालिया एवं कल्याणपुरा में डाले गए सोयाबीन फसल का अग्रमि पंक्ति प्रदर्शनी का महाविद्यालय के वैज्ञानिकों डॉ एसआर रामगिरी, डॉ एमडी व्यास एवं श्री त्रिलोचन सिंह ने अवलोकन किया। वैज्ञानिकों ने वर्तमान में सोयाबीन फसल विशेषकर 9560 जो कृषकों द्वारा कृषक पद्धति से लगाई गई है इस फसल में आ रही समस्या जैसे पीला होना एवं मुरझाने के बारे में निदान सुझाया गया। किन्तु महाविद्यालय द्वारा विकासित आरवीएस 23 एवं जेएस 20-08 में यह समस्या नहीं देखी गई किन्तु आरपीएस- 18 किसम में आंशिक रूप से फसल में पीलापन दिखाई दिया। उन्होंने बताया कि समस्या के निदान के लिए उसमें फफूंद जनित रोगों के लिए पूर्व मिश्रित टेबूकोनाझोल+सल्फर 1 किग्रा, प्रति हेक्टर या टेबूकोनाझोल 625 मिली का छिड़काव करें इसके साथ ही एनपीके ढाई किलो ग्राम प्रति हेक्टर की दर से मिलाएं।  

कोई टिप्पणी नहीं: