सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 14 सितम्बर - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 14 सितंबर 2020

सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 14 सितम्बर

भगवत रसिक स्व. श्री मैथिलीशरण यादव की शोकसभा  सम्पन्न

sehore news
सामाजिक व धार्मिक गतिविधियों में बेहद रुचि रखने वाले व रामचरितमानस की संगीतमय प्रस्तुति देने वाले भगवत रसिक प्रिय स्वर्गीय श्री मैथिलीशरण यादव जो होमगार्ड सैनिक थे। जिन्होंने अपनी सेवाएं जिले के विभिन्न थानों में देते हुए अपने कार्यों से लोगों को प्रभावित किया और लोगों के मन में अपनी जगह बनाई। स्व. श्री मैथिलीशरण यादव ने नेहरू युवा केंद्र की गतिविधियों से युवाओं को राष्ट्रनिर्माण की गतिविधियों से जोडने का सराहनीय कार्य किया गया। उनके आकस्मिक देहावसान होने पर हम हम सब अत्यंत दुखी हैं और ईश्वर से उनको अपनी शरण में  स्थान देने की प्रार्थना करते हैं। साथ ही स्वर्गीय मैथिलीशरण जी के परिजनों को यह दुखद घड़ी में संबल प्रदान करने हेतु प्रार्थना करते हैं। उक्त प्रार्थना स्वर्गीय श्री मैथिलीशरण यादव को श्रद्धा सुमन अर्पित करने हेतु ऑनलाइन वेबीनार के माध्यम से शोक सभा आयोजित की गई।  शोकसभा में नेहरू युवा केंद्र संगठन श्योपुर जिला समन्वयक विनोद चतुर्वेदी, शिक्षाविद मनोज द्विवेदी, महेश भारद्वाज भोपाल, नेहरू युवा केंद्र दतिया के जिला युवा समन्वयक कपिल सेन, वरिष्ठ लेखाधिकारी नेहरू युवा केंद्र नीमच अरविंद सक्सेना, वरिष्ठ समाजसेवी वीरेन्द्र शर्मा, रामजीशरण राय सामाजिक कार्यकर्ता, समाजसेवी अशोककुमार शाक्य, समाजसेवी सरदारसिंह गुर्जर, बलवीर पांचाल, प्रतिभा बुन्देला, शीतल रायकवार, दया मोर, डॉ. बबीता विजपुरिया, पुष्पा गुगोरिया, रंजना भटनागर, एड कल्पनाराजे बैस, उमा नौगरैया, लवकुश शर्मा इंदरगढ़ जितेंद्र सविता, अखिलेश गुप्ता, पत्रकार प्रशांत गुप्ता, पीयूष राय, सुबोध शर्मा सरसई, खुशबू यादव, दीक्षा लिटौरिया, प्रीति वर्मा आदि ने श्रद्धांजलि अर्पित की। 



डिप्रेशन में है निजी स्कूलों के प्राईवेट टिचर कोचिंग क्लासेस बंद,आर्थिक संकट है सर पर
अशासकीय शिक्षक संघ ने दिया मुख्यमंत्री के नाम विधायक सुदेश राय को 20 मागों का ज्ञापन
sehore news
सीहोर। रोजगार नही होने से अशासकीय शिक्षिक डिप्रेशन में है। मस्तिष्क में कई बुरे विचार आ रहे है। शिक्षिकों को आर्थिंक समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। कोचिंग संस्थान भी लम्बे समय से बंद है। बीते 6 माह से बंद निजी स्कूल संचालक भी शिक्षिकों को वेतन नहीं दे रहे है। अशासकीय शिक्षिक संघ ने मुख्यमंत्री के नाम विधायक सुदेश राय को कोचिंग संस्थान कोविड-19 सुरक्षा के साथ खोलने की अनुमति देने की मांग को लेकर ज्ञापन दिया है। अशासकीय शिक्षिकों ने विधायक श्री राय के समक्ष परेशानियों को रखते    हुए कहा  कि जब मॉल,जिम, बाजार खुल सकते है,बस चल सकती है, नेताओ की बड़ी बड़ी सभाएं हो सकती है तो हम कोचिंग संस्थान क्यों नही खोल सकतें। नियम बनाएंगे उन नियमो का पालन करेंगे  और विद्यार्थियों से भी कराएंगे। एक बेंच एक स्टूडेंट के नियम का पालन करके हम भी सुचारू रूप से कोचिंग चला सकते है । क्लास में 10 से 15 बच्चो को बैठाकर सोशल डिस्टेसिंग पालन करेंगे। उन्होने कहा  कि हमारे पास जीविका चलाने का एक मात्र साधन कोचिंग संस्थान है जो की विगत 6 माह से बंद है । परिवार का पालन पोषण करना मुश्किल हो गया है । कोचिंग संचालन भवन किराया बिजली बिल साफ सफाई खर्च देखरेख तथा निजी मकानोंं में रहने वाले  शिक्षिकों  को  रूम किराया भरना पड़ रहा  है। बेरोजगारी की समस्या खड़ी हो गई है रोजगार नही होने से मानसिक क्षति हो रही है । परिवार ठीक से जीवन यापन नही कर पा रहा है । कई बार हमारे मष्तिष्क में आत्महत्या के विचारो का आगमन भी होता है । जिन प्राइवेट स्कूल में हम शिक्षक है वहां से भी हमे कोई आर्थिक मदद नही दी जा रही है । ज्ञापन देते समय राकेश कौशल,भूपेंदर परमार, मोहन व्यास, अब्दुल कादिर,विजय सिंह, राम नरेश कुशवाहा, पंकज कुमार तोमर, आदर्श विजयवर्गीय,  संजय राठौर,सीन अहुजा, विनीत कुशवाहा, संदीप शर्मा, अभिसेक मालवीय, शिवेन्द्र शर्मा प्रदीप विश्वकर्मा, प्रमोद मालवीय,अशीष परमार,देवराज मालवीय ,मनोज कलमोदीय,गौरव मातुर,अंकुर परमार,श्याम सर आदि अशासकीय शिक्षिक शामिल रहे।

गुरूद्वारा में भाजपा जिलाध्यक्ष ने की अरदास परिसर में झाडू लगाकर दिया स्वच्छता संदेश  
सिख समाज ने किया सरोपा भेंटकर मंडल उपाध्यक्ष के नेतृत्व में स्वागत    
sehore news
सीहोर। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का जन्म दिवस भाजपा के द्वारा सेवा सप्ताह के रूप में मनाया जा रहा है। गंगा आश्रम स्थित गुरूद्वारा में सोमवार को सिख  समाज के द्वारा सेवा कार्यक्रम आयोजित किया गया। भाजपा कार्यकर्ताओं ने भाजपा मंडल उपाध्यक्ष सन्नी सरदार के नेतृत्व में अरदास के उपरांत गुरूद्वारा परिसर में झाडू लगाकर स्वच्छता का संदेश दिया। सिख समाज के द्वारा भाजपा जिलाध्यक्ष रवि मालवीय,जिला भाजपा प्रवक्ता राजकुमार गुप्ता, वरिष्ठ भाजपा नेता राजेश राठौर, कमलेश  कटारे, सीहोर मंडल अध्यक्ष  पिं्रस राठौर आष्टा  मंडल अध्यक्ष अतुल शर्मा का सरोपा भेंटकर पुष्प मालाओं से सम्मान किया। भाजपा जिलाध्यक्ष श्री मालवीय ने कहा की सिख समाज के सभी गुरू सम्मान के पात्र है उन्होने देश की रक्षा के लिए बलिदान किया है। गुरू गोविंद सिंह जी ने अपने पूरे परिवार को  देश और हिन्दू धर्म  की रक्षा के  लिए कुर्बान कर दिया। मंडल अध्यक्ष श्री राठौर ने कहा की गुरू के दरबार में हमेशा मत्था टेकने आता हूं मेरी सभी अरदास पूरी होती है। कार्यक्रम का संचालन राजेंद्र सिंह लांबा ने किया। आभार मंडल उपाध्यक्ष सन्नी सरदार  ने व्यक्त किया।  सेवा सप्ताह स्वच्छता कार्यक्रम में प्रमुख रूप से सेवादार गुरूमीत  सिंह ,इंकबाल  सिंह तलवार, मुन्ना रतन, मंजीत सिंह सेठी,चन्ना  सरदार, कुलदीप  सिंह राजपाल, गुरूचरण सिंह कुलदीप सिंह, मंजीत सिंह, दीलीप सलूजा, रईस  शेख, अक्षय राय,धमेंद्र पुरिया, विजय विश्वकर्मा, मन्नू श्रीवास्तव, भोलू राजपाल नीतिन पहलवान, सोनू राठौर सुनीता राठौर, हर्षा राठौर, नूतन राठौर,  अनिल पारे, आशीष पचौरी सहित सिख समाज के नागरिक और भाजपा कार्यकर्ता सम्मिलित रहे।  

तहसील कार्यालय सीहोर तीन दिवस के लिए निषेध  

अनुविभागीय दण्डाधिकारी सीहोर ने जानकारी देते हुए बताया कि नायाब तहसीलदार सीहोर को कोरोना वायरस से पॉजीटिव पाए जाने के कारण कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम एवं नियंत्रण के लिए तहसील कार्यालय 3 दिवस के लिए बंद कर दिया गया है। तहसील कार्यालय में 3 दिवस तक आमजन का आना-जाना प्रतिबंधित रहेगा। सिर्फ शासकीय संचालन के लिए ही तहसील कार्यालय खुला रहेगा। यह आदेश तत्काल प्रभावशील है।   

मध्यप्रदेश में राष्ट्रभाषा को पूरा सम्मान मुख्यमंत्री श्री चौहान ने दी हिन्दी दिवस पर बधाई

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने हिन्दी दिवस के अवसर पर समस्त राष्ट्रभाषा प्रेमियों को बधाई दी है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि देश के प्रमुख हिन्दी प्रांतों में शामिल होने के नाते मध्यप्रदेश में हिन्दी जन-जन की भाषा के रूप में स्थापित है। आंचलिक बोलियों के व्यापक प्रचलन के बाद भी राष्ट्रभाषा हिन्दी के प्रति प्रत्येक नागरिक का सम्मान व्यक्त होता है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्रदेश में शासकीय स्तर पर भी हिन्दी को पूरा सम्मान और प्रोत्साहन प्राप्त है। अधिकांश पत्राचार भी हिन्दी में होता है। मध्यप्रदेश में वर्ष 2011 में हिन्दी विश्वविद्यालय की स्थापना की गई। विश्व में हिन्दी की प्रतिष्ठा स्थापित करने वाले हमारे पूर्व प्रधानमंत्री अटल जी के नाम से इस विश्वविद्यालय का नामकरण किया गया। इसके साथ ही संस्कृति, स्कूल शिक्षा, उच्च शिक्षा, जनसंपर्क आदि विभागों ने हिन्दी साहित्य, शिक्षा, पत्रकारिता के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्यों पर पुरस्कार और सम्मान भी प्रदान किए हैं। मध्यप्रदेश में हिन्दी की पताका लहराती है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने राष्ट्रभाषा हिन्दी को समृद्ध बनाने के लिए प्रत्येक प्रदेशवासी की सहभागिता की अपेक्षा भी की है।

ऑनलाईन आवेदन की अंतिम तिथि आज  

भारत सरकार महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा असाधारण क्षमता और उत्कृष्ट उपलब्धि के लिए बाल शक्ति पुरस्कार प्रदाय किया जाता है तथा बच्चों के विकास, सुरक्षा तथा कल्याण के क्षेत्र में कार्य करने वाले व्यक्तियों तथा संस्थाओं को बाल कल्याण पुरस्कार 2021 मे प्रदाय किए जाना है। जिला कार्यक्रम अधिकारी महिला एवं बाल विकास विभाग ने बताया कि पुरस्कार की मार्गदर्श्कि तथा आवेदन के सम्बन्ध में विस्तृत दिशा-निर्देश भारत सरकार की वेबसाइट http://www.nca-wcd.nic.in  पर देखी जा सकती है। आनलाईन आवेदन की अंतिथि तिथि 15 सितम्बर 2020 है। बाल शक्ति पुरस्कार 2021 के लिए आयु 5 से 18 वर्ष (31.8.2020 तक), नवाचार, शिक्षा, खेल, कला एवं संस्कृति, समाजसेवा एवं बहादुरी में सर्वोत्तम उपलब्धियों के लिए। बाल कल्याण पुरस्कार (व्यक्तिगत) बच्चों के कल्याण के क्षेत्र में 7 वर्षों से कार्यरत, बाल कल्याण पुरस्कार (संस्थागत) हेतु बाल संरक्षण, बाल कल्याण, बाल विकास के क्षेत्र में दस वर्षों में सकारात्मक प्रभाव एवं कार्य के लिए आनलाईन आवेदन किए जा सकते हैं।     

स्वरोजगार स्थापना हेतु बेबिनार (ऑन-लाइन प्रशिक्षण)  

उद्यमिता विकास केन्द्र म.प्र. (सेडमैप) भोपाल द्वारा सीहोर जिले के युवाओं जो स्वयं का उद्योग, व्यवसाय स्थापित करना चाहते के लिए एक आन-लाइन प्रशिक्षण (बेविनार) उद्यमिता जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन 23 सितंबर से 25 सितंबर 2020 तक समय दोपहर 2 बजे से सायं 5 बजे तक किया जा रहा है। जिसमें शासन द्वारा दी जा रही सुविधाओं, स्वरोजगार स्थापना हेतु ऋण आदि की जानकारी विस्तृत रूप से दी जावेगी। जिसमें 18 वर्ष या अधिक उम्र के इच्छुक महिला एवं पुरूष भाग ले सकते हैं। बेविनार में स्वरोजगार स्थापना हेतु विभिन्न विषय विशेषज्ञों द्वारा जिले में पाये जाने वाले कच्चा माल, भौतिक संसाधनों आदि पर आधारित उद्योग व्यवसायों को स्थापित कर स्वरोजगार प्राप्त कर सकते है साथ ही लोकल फार वोकल अभियान की ओर अग्रसर होकर अपना उद्यम स्थापित कर सकते हैं। उक्त प्रशिक्षण आन-लाइन (बेविनार) आधारित रहेगा जिसमें प्रशिक्षण पश्चात विभाग द्वारा प्रमाण-पत्र भी प्रदाय किया जावेगा साथ ही स्वरोजगार स्थापना हेतु शासन की विभिन्न विभागों मे संचालित योजनाओं में ऋण आवेदन करने हेतु तथा स्वयं के उद्योग आधार पंजीयन करने में सेडमैप द्वारा सहयोग प्रदाय किया जावेगा। उक्त कार्यक्रम से संबंधित विस्तृत जानकारी उद्यमिता विकास केन्द्र म.प्र. (सेडमैप) के जिला समन्वयक श्री तल्हा उसमानी के मोबाइल नं. 8770183673 पर  या जिला व्यापार एवं उद्योग केंद्र सीहोर से प्राप्त की जा सकती है।       

धान, ज्वार बाजरा का समर्थन मूल्य पर पंजीयन आज से प्रारंभ किसान 15 अक्टूबर तक करा सकते हैं पंजीयन  

जिला आपूर्ति अधिकारी सीहोर ने जानकारी देते हुए बताया कि खरीफ विपणन वर्ष-2020-21 में समर्थन मूल्य पर FAQ गुणवत्ता की धान एवं मोटे (ज्वार, बाजरा)अनाज कह खरीदी की जाएगी। जिसका समर्थन मूल्य धान 1868, ज्वार 2620 एवं बाजरा 2150 रुपये है। उपार्जन के लिए किसान 15 सितंबर 2020 से 15 अक्टूबर तक अपना पंजीयन करा सकते हैं। उपार्जन केन्द्रों पर पंजीयन प्राप्त 10:30 बजे से सांयकाल 5:30 बजे तक समस्त कार्य दिवसों में करवा सकते हैं। जिले में 10 केन्द्र स्थापित किए गए हैं। जिनमें प्राथमिक कृषि साख सहकारी समिति मर्या.रेहटी, बोरदी, बायां, माथनी, बुदनी, शाहगंज, जवाहरखेड़ा, बकतरा एवं प्राथमिक कृषि साख सहकारी समिति मर्या गादर शामिल हैं। कृषक अपना पंजीयन एमपी किसान एप, ई-उपार्जन पंजीयन एप, ई-उपार्जन कियोस्क कॉमन सेंटर, लोक सेवा केन्द्र पर जाकर करा सकते हैं। उन्होंने बताया कि प्राथमिक कृषि सहकारी साख संस्थाएं विगत खरीफ एवं रबी विपणन मौसम में जिन किसानों द्वारा समर्थ मूल्य पर खाद्यान्न विक्रय करने के लिए ई- उपार्जन पोर्टल पर पंजीयन कराया गया था ऐसे किसानों को खरीफ विपणन वर्ष 2020-21 में पंजीयन के लिए दस्तावेज देने की आवश्यकता नहीं है। किसान के विगत वर्ष के पंजीयन में उल्लेखित आधार नंबर, बैंक खाता, मोबाईल नंबर, में किसी प्रकार के परिवत्रन की आवश्यकता होने पर संबंधित पर संबंधित दस्तावेज प्रमाण स्परूप पंजीयन केन्द्र पर लाना होगा। वनाधिकार पट्टाधारी सिकमी दार किसानों को वन पट्टा एवं सिकमी अनुबंध की प्रति उपलब्ध कराना होगी। सिकमीधारी कृषक एवं वन पट्टाधारी किसान पंजीयन की सुविधा केवल समिति स्तर पर उपलब्ध होंगी। ऐसे किसान जिन्होंने वर्षों में रबी, खरीफ पंजीयन नहीं कराया है उन्हें समिति स्तर पर पंजीयन के लिए आधार नंबर, बैंक खाता, मोबाईल नंबर की जानकारी केन्द्र पर उपलब्ध कराना होगी। जनधन, ऋण, नाबालिक, बंद एवं अस्थायी रूप से रोके गए खाते आदि में पंजीयन मान्य नहीं होगा।      

सम्पूर्ण प्रदेश में 16 सितम्बर को मनेगा अन्न उत्सव
प्रदेश के 37 लाख नये हितग्राहियों को होगा खाद्यन्न वितरण आरंभ, मुख्यमंत्री श्री चौहान ने की तैयारियों की समीक्षा, ऑटो चालकों को हितग्राही सूची में जोड़ने के निर्देश
मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि 16 सितम्बर का दिन प्रदेश के 37 लाख लोगों के लिए आशा-उत्साह और आनंद का दिन है। इन सभी को पात्रता पर्ची प्रदान कर अन्न उत्सव के अंतर्गत राशन वितरण आरंभ किया जाएगा। कोरोना काल में यह बड़ी राहत है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने हितग्राहियों की पात्रता श्रेणी के अंतर्गत ऑटो चालकों को जोड़ने के निर्देश भी दिए। मुख्यमंत्री श्री चौहान 16 सितम्बर को प्रदेश में खाद्य सुरक्षा अधिनियम के अंतर्गत सम्मिलित हुए 37 लाख नए हितग्राहियों को पात्रता पर्ची और राशन वितरण कार्यक्रम के लिए जारी तैयारियों की समीक्षा कर रहे थे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि इसके बाद भी जो जरूरतमंद होगा उसे इस अभियान से जोड़ा जाएगा। राज्य सरकार हर गरीब के साथ खड़ी है। कार्यक्रम आयोजन में पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग तथा नगरीय निकायों का भी सहयोग लिया जाएगा।

समन्वय भवन में आयोजित राज्यस्तरीय कार्यक्रम के मुख्य अतिथि होंगे मुख्यमंत्री श्री चौहान- अन्नपूर्णा योजना के अंतर्गत अन्न उत्सव के नाम से आयोजित राज्यस्तरीय कार्यक्रम का मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान 16 सितम्बर को प्रातः 11.45 बजे भोपाल के समन्वय भवन में शुभारंभ करेंगे। मुख्यमंत्री श्री चौहान हितग्राहियों से चर्चा भी करेंगे। प्रदेश के प्रत्येक जिले में आयोजित कार्यक्रम में राज्य के मंत्रीगण, सांसद तथा विधायकगण एक साथ खाद्यन्न वितरण का शुभारंभ करेंगे। इसके साथ ही सभी ग्राम पंचायतों और वार्डों में भी अन्न उत्सव मनाया जाएगा। राज्यस्तरीय कार्यक्रम और मुख्यमंत्री के उद्बोधन का सीधा प्रसारण दूरदर्शन सहित सभी प्रमुख इलेक्ट्रॉनिक चेनल्स और वेबकॉस्ट के माध्यम से फेसबुक/ट्विटर पर सीधा प्रसारण होगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने निर्देश दिए है कि सभी आयोजन स्थल पर कोरोना से बचाव की सावधानियों का अनिवार्यतरू पालन सुनिश्चित किया जाए। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने आयोजन में दिव्यांगजन, वृद्धजन, महिलाओं आदि की सुविधा का ध्यान रखने के निर्देश भी दिए।

9 जिलों में जुड़े एक लाख से अधिक हितग्राही- बैठक में जानकारी दी गई कि राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम 2013 के अंतर्गत फेरी वाले, हम्माल, तुलावटी, केश शिल्पी, बीपीएल कार्ड धारक, बीड़ी श्रमिक, साइकिल रिक्शा और हाथ ठेला चालक जैसी 25 श्रेणी के 37 लाख पात्र हितग्राही अन्न उत्सव से लाभान्वित होंगे। प्रदेश में इन्दौर, मुरैना, जबलपुर, भोपाल, ग्वालियर, भिण्ड, छिंदवाड़ा, छतरपुर तथा सागर में  एक-एक लाख से अधिक नवीन हितग्राहियों को जोड़ा गया है। प्रदेश में 25 हजार 176 उचित मूल्य दुकानें संचालित हैं। मुख्यमंत्री निवास पर आयोजित बैठक में अपर मुख्य सचिव पंचायत एवं ग्रामीण विकास श्री मनोज श्रीवास्तव, प्रमुख सचिव खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति श्री फैज अहमद किदवई तथा अन्य अधिकारी उपस्थित थे।     

श्रमिकों के हित में संचालित योजनाओं का प्रभावी क्रियान्वयन सुनिश्चित हो
अवैध उत्खनन, परिवहन एवं भण्डारण को सख्ती से रोकें, खनिज साधन, श्रम मंत्री श्री बृजेन्द्र प्रताप सिंह के अधिकारियों को निर्देश
खनिज साधन एवं श्रम मंत्री श्री बृजेन्द्र प्रताप सिंह ने विभागीय अधिकारियों को निर्देश दिये कि श्रमिकों के हित में शासन द्वारा चलाई जा रहीं योजनाओं का प्रभावी क्रियान्वयन सुनिश्चित किया जाये। श्रमिकों को योजनाओं का लाभ सहज रूप से मिले, इसके लिये अधिकारी सतत उनके सम्पर्क में रहे। खनिज अधिकारियों को निर्देश दिये गये कि किसी भी जिले में खनिज का अवैध परिवहन, उत्खनन एवं भण्डारण न हो। इसे सख्ती से रोका जाये और दोषी के विरूद्ध कार्यवाही करें। श्रम मंत्री श्री सिंह ने कहा कि मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कोरोना काल में प्रदेश के श्रमिकों और प्रवासी श्रमिकों के लिये बहुत कार्य किये हैं। श्रमिकों के लिये भोजन व्यवस्था, रोजगार की उपलब्धता के साथ उन्हें उनके निवास स्थान तक पहुँचाया गया है। इस महती कार्य में शासन और प्रशासन ने मिलकर श्रमिकों को हरसंभव सहायता उपलब्ध करवाई। स्थानीय स्तर पर काम दिलाने के लिये मनरेगा में आवश्यकतानुसार रोजगारमूलक कार्य प्रारंभ किये गये और श्रमिकों को उनके कौशल के अनुरूप रोजगार दिलाने के लिये रोजगार सेतु पोर्टल भी बनाया गया। मंत्री श्री सिंह ने कहा कि विभागीय अधिकारियों का यह दायित्व है कि रोजगार सेतु पोर्टल में पंजीकृत श्रमिकों को अधिक से अधिक रोजगार दिलवाये। बैठक में विभागीय योजनाओं की समीक्षा के साथ औद्योगिक स्वास्थ्य एवं सुरक्षा, श्रम कल्याण मण्डल एवं कर्मचारी राज्य बीमा सेवा की संचालित गतिविधियों की भी समीक्षा की गई। बैठक में उपस्थित अधिकारियों द्वारा विभागीय प्रतिवेदन प्रस्तुत कर महत्वपूर्ण सुझाव भी दिये गये। खनिज विभाग की समीक्षा में मंत्री श्री सिंह ने अधिकारियों को कड़ी हिदायत दी कि माहवार निर्धारित लक्ष्य के अनुरूप राजस्व प्राप्ति सुनिश्चित की जाये। जिन जिलों में निर्धारित लक्ष्य से राजस्व प्राप्ति कम होगी उन जिलों के अधिकारियों से स्पष्टीकरण प्राप्त किया जाये। उन्होंने निर्देश दिये कि अवैध उत्खनन, परिवहन एवं भण्डारण की गतिविधियों पर विभागीय अधिकारी सजग रहे और प्रकरण दर्ज कर कठोर कार्यवाही भी सुनिश्चित करें, जिससे शासन की राजस्व क्षति को रोका जा सके।

ई-ऑफिस प्रणाली लागू करने वाली देश की पहली विद्युत वितरण कंपनी

मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी भोपाल देश की पहली ऐसी बिजली वितरण कंपनी है जिसमें कंपनी कार्यक्षेत्र के कॉर्पोरेट कार्यालय से लेकर क्षेत्रीय मुख्य महाप्रबंधक एवं वृत्त कार्यालयों में  ई-ऑफिस प्रणाली से काम किया जा रहा है। कंपनी द्वारा 27 जुलाई से एनआईसी ई-ऑफिस प्रणाली के माध्यम से सफलतापूर्वक ई-फाइल एवं पत्राचार किया जा रहा है। विगत डेढ़ महीने से चल रही ई -ऑफिस प्रणाली की समूचे मध्यप्रदेश मे सराही जा रही है। गौरतलब है कि ई-ऑफिस प्रणाली के साथ-साथ मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी में एक दर्जन से भी अधिक आईटी के ऐसे अनुप्रयोग लागू हैं जो कि देश के पॉवर सेक्टर में एक मिसाल बन गए हैं। कंपनी द्वारा बनाए गए ई-अनुप्रयोगों में उच्चदाब से लेकर निम्नदाब, कृषि उपभोक्ता, गैर घरेलू उपभोक्ता और अन्य श्रेणी के सभी उपभोक्ताओं को आनलाइन आवेदन करने पर भार में वृद्धि/कमी के साथ ही नवीन कनेक्शन भी उपलब्ध कराये जा रहे हैं। इसी प्रकार आनलाइन बिल भुगतान के अनेक विकल्प उपभोक्ताओं को उपलब्ध कराये गये हैं जिसका उपयोग करीब 7 से 8 लाख उपभोक्ता कर रहे हैं। गाँवों में कामन सर्विस सेन्टर के माध्यम से बिल भुगतान की सुविधा, UPAY एप, मैन्टीनेन्स एप, सेल्फ मीटर रीडिंग सुविधा, इन्टरप्राईसेस रिसॉर्सेस प्लानिंग जैसे अनेक अनुप्रयोग कंपनी में लागू किए गए हैं जिसका उपभोक्ता और कंपनी को निरन्तर लाभ मिल रहा है। ऊर्जा मंत्री श्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने कोरोना काल के दौरान मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी द्वारा ऑफिस की कार्यप्रणाली को परम्परागत फाइल वर्क्स से ई-ऑफिस प्रणाली की तरफ शिफ्ट किये जाने और कॉर्पोरेट कार्यालय के सभी अनुभागों के साथ ही कंपनी के क्षेत्रीय मुख्य महाप्रबंधक एवं वृत्त कार्यालयों द्वारा ई-ऑफिस प्रणाली के माध्यम से सफलतापूर्वक काम शुरू करने पर कंपनी के अधिकारियों और कर्मचारियों को बधाई दी है। उन्होंने कहा कि मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी ने उपभोक्ताओं के हित में महत्वपूर्ण कार्य किया है। ई-ऑफिस प्रणाली के लागू होने से उपभोक्ताओं के कार्य जल्दी हो रहे है और कार्यालयीन कार्य में समय की बचत हो रही  है। साथ ही भौतिक रूप से फाइल का मूवमेंट नहीं होने व मानव रहित व्यवस्था होने से संक्रमण आदि से भी बचा जा रहा है।

प्रदेश में प्रधानमंत्री श्री मोदी के जन्म दिवस के अवसर पर जनकल्याण कार्यक्रमों की श्रृंखला
16 से 23 सितम्बर तक प्रतिदिन होंगे हितग्राही लाभान्वित, कोरोना काल में प्रारंभ तकनीक का उपयोग जारी रहे : मुख्यमंत्री श्री चौहान
मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने 16 सितम्बर को होने वाले मुख्यमंत्री अन्नापूर्णा योजना अन्न उत्सव और 17 सितम्बर से प्रधानमंत्री श्री मोदी के जन्मदिवस पर एक सप्ताह के जनकल्याण कार्यक्रमों के आयोजन की तैयारियों की समीक्षा की। कार्यक्रमों के जिला स्तर पर आयोजन के स्वरूप के संबंध में विस्तृत निर्देश भी दिए गए। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कलेक्टर्स को जनकल्याण कार्यक्रमों की श्रृंखला को सफल बनाने के निर्देश दिए। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि 16 सितम्बर को लाइव कार्यक्रम के माध्यम से प्रदेश के 37 लाख नवीन उपभोक्ताओं को पात्रता पर्ची और राशन पैकेट प्रदान करने का कार्य इन लोगों की जिन्दगी बदलने का अभिनव प्रयास है। यह किसी एक विभाग का कार्यक्रम न होकर राज्य सरकार का महत्वपूर्ण अभियान है, जिसे ग्रामीण विकास, राजस्व, कृषि और अन्य सभी विभाग भी सफल बनाने के लिए जुट जाएं। प्रति सदस्य पाँच किलो गेहूँ, चावल के साथ ही प्रति परिवार एक किलो नमक और 1.5 लीटर केरोसीन का वितरण किया जाएगा। लाभार्थियों को नवम्बर 2020 तक पी.एम.जी.के.ए.वाय. में प्रति सदस्य पाँच किलो अतिरिक्त खाद्यान्न और एक किलो दाल प्रति परिवार नि:शुल्क प्राप्त होगी। बैठक में मुख्य सचिव श्री इकबाल सिंह बैंस उपस्थित थे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि कोरोना काल में तकनीकी के सार्थक उपयोग से जनकल्याणकारी कार्यक्रमों का लाभ और संदेश अधिक से अधिक लोगों तक पहुंचाने के प्रयास किए जा रहे हैं। इस श्रृंखला में प्रदेश के स्ट्रीट वेण्डर्स के कल्याण और प्रधानमंत्री आवास योजना के हितग्राहियों को गृह प्रवेश के कार्यक्रम प्रधानमंत्री श्री मोदी के संबोधन और हितग्राहियों से बातचीत के साथ सफलतापूर्वक सम्पन्न हुए हैं। यह सिलसिला जारी रहेगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि तकनीक की सहायता से सोशल मीडिया, इलेक्ट्रानिक मीडिया, वेबकास्ट जैसे माध्यम प्रदेश के नागरिकों को इन कार्यक्रमों से जोड़ रहे हैं। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि अधिक से अधिक लोगों को जोड़कर रिकार्ड स्थापित किया जाए। इसके लिए प्री-रजिस्ट्रेशन के माध्यम से अधिकाधिक लोगों को जोड़ा जाए। यह सरकारी कार्यक्रमों को पारदर्शिता के साथ लागू करने का भी सशक्त माध्यम है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने प्रमुख सचिव खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति श्री फैज अहमद किदवई को अन्न उत्सव के संबंध में जिला स्तर पर की जा रही तैयारियों की समीक्षा करने के निर्देश दिए है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कुछ कलेक्टर्स से चर्चा कर अन्न उत्सव की तैयारियों की जानकारी प्राप्त की। इस अवसर पर बताया गयाकि जिला स्तर पर अन्न उत्सव में 200 हितग्राही सहित कुल 300 लोग शामिल होंगे। जिला स्तर पर कार्यक्रम पूर्वान्ह 11.30 से 12.15 बजे तक रहेगा। राज्य स्तरीय कार्यक्रम 12.30 बजे से प्रारंभ होगा जो लगभग 50 मिनिट चलेगा। जिलों में राशन की दुकान के स्तर पर हितग्राहियों को लाभान्वित किया जाएगा।

 17 से 23 सितम्बर को होने वाले जनकल्याण के कार्यक्रम- प्रधानमंत्री श्री मोदी के जन्मदिवस के दिन 17 सितम्बर को प्रदेश के आंगनवाड़ी केन्द्रों में दुग्ध वितरण का कार्य होगा। चिन्हित किए गए कुपोषित बच्चों को इसका लाभ दिलवाया जाएगा। प्रदेश में करीब 4 लाख ऐसे बच्चों की पहचान की गई है। प्रदेश में 18 सितम्बर को 22 लाख 51 हजार किसानों को फसल बीमा की राशि के 4 हजार 688 करोड़ रूपए वितरित किए जाएंगे। इसी तरह 19 सितम्बर को लगभग 30 हजार वनाधिकार पट्टों का वितरण किया जाएगा। प्रदेश के करीब 47जिलों के पात्र वनवासी हितग्राही इसका लाभ लेंगे। स्व-सहायता समूहों को 20 सितम्बर को लाभान्वित किया जाएगा। इन्हें सशक्तीकरण के लिए करीब 150 करोड़ रूपए की राशि प्रदान की जाएगी। प्रदेश के ग्रामीण क्षेत्र के स्ट्रीट वेण्डर्स को 10 हजार रूपए की ऋण राशि प्रदान करने के लिए 21 सितम्बर को कार्यक्रम होंगे। इसी तरह 22 सितम्बर को प्रदेश के 16 हजार 184 मेधावी बच्चों के खातों में 25 हजार रूपए के मान से लेपटॉप के लिए राशि का अंतरण किया जाएगा। इस कार्यक्रम से बच्चों के अभिभावक, शिक्षक भी जुड़ेंगे। जनकल्याण कार्यक्रम में 23 सितम्बर को प्रधानमंत्री किसान योजना के हितग्राहियों को लाभान्वित किया जाएगा। इस कार्यक्रम से सहकारी संस्थाएं जुड़कर प्रदेश में करीब 900 स्थानों पर कार्यक्रम का संयोजन करेंगी।

मुख्यमंत्री श्री चौहान के निर्देश-  प्रधानमंत्री श्री मोदी के आव्हान के अनुरूप सभी कार्यक्रमों में सिंगल यूज प्लास्टिक और पानी की बोतल का उपयोग न करें। मध्यप्रदेश को गरीब कल्याण के इन कार्यक्रमों की दृष्टि से उदाहरण बनाया जाए। सभी विभाग पूरी क्षमता से इन कार्यक्रमों को क्रियान्वित करने में सहयोग करें। कोरोना काल में इस तकनीक का अधिकतम लाभ लिया जाए। कलेक्टर सभी कार्यक्रमों का समन्वय और संयोजन करें।

लक्षण दिखाई देने पर फीवर क्लिनिक में शीघ्र जांच कराने की अपील सार्थन लाईट एप डाउनलोग कर रहे सुरक्षित  

मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ.सुधीर कुमार डेहरिया ने जन सामान्य से अपील की है कि सभी व्यक्ति अपने एनड्राईड मोबाइल पर सार्थक लाईट एप अवष्य डाउनलोड करें। सार्थक लाईट एप में नजदीकी फीवर क्लिनिक का पूर्ण पता प्रभारी अधिकारी का मोबाइल नंबर फीड है जिसके आधार पर उपचार एवं जांच से संबंधित उचित सलाह ली जा सकती है। डॉ.डेहरिया ने कहा कि सर्दी, खांस, बुखार एवं सांस लेने में तकलीफ होने पर करीब के फीवर क्लिनिक में जाकर कोविड-19 की अतिषीघ्र निःषुल्क जांच कराई जा सकती है। सीएमएचओ डॉ.डेहरिया ने पॉजीटिव आने वाले सभी व्यक्तियों से अपील की है कि कोविड पॉजीटिव आने पर इस बात का संदेश सोशल मीडिया पर डालकर अपने संपर्क में आए व्यक्तियों को स्वयं की जांच शासकीय चिकित्सालय में जाकर कराने का संदेश दें। जिससे करीबी व्यक्तियों को शीघ्र ही उचित उपचार प्रदान कर स्वास्थ्य लाभ मिल सकें। डॉ.डेहरिया ने कहा संक्रमण की स्थिति को देखते हुए सभी व्यक्ति मास्क का उपयोग अनिवार्य रूप से करें, समय-समय पर सेनिटाईजर अथवा साबुन से हाथ धोएं तथा सोषल डिस्टेंश का पालन करें उन्होंने कहा वैश्विक महामारी के इस दौर में  सावधानी ही बचाव हैं।    

सार्वजनिक स्थानों एवं घाटों पर स्नान करना पूर्णत: प्रतिबंधित कलेक्टर ने किया प्रतिबंधात्मक आदेश जारी

कलेक्टर श्री अजय गुप्ता द्वारा जिले में कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम एवं बचाव को दृष्टिगत भारतीय दंड प्रक्रिया संहिता 1973 की धारा 144 के तहत प्रतिबंधात्मक आदेश जारी किए हैं। जारी आदेशानुसार जिले की संपूर्ण राजस्व सीमा क्षेत्र में सर्वपितृ अमावस्या त्यौहार को देखते हुए सार्वजनिक स्थानों एवं घाटों पर स्नान करना पूर्णता: प्रतिबंधित किया गया है। यह आदेश तत्काल प्रभावशील है। आदेश का उल्लंघन करने वाले व्यक्ति के विरुद्ध धारा 188 के तहत दंडनीय कार्यवाही एवं आपदा प्रबंधन अधिनियम की धारा 517 के तहत कार्रवाई की जाएगी।

38 यक्तियों की कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजीटिव प्राप्त हुई
वर्तमान में कोरोना एक्टिव/पॉजीटिव की संख्या 407 है 2 के मौत की सूचना प्राप्त हुई, संक्रमण से कुल मौतें 25
sehore news
मुख्य  चिकित्सा अधिकारी डॉक्टर  सुधीर कुमार डेहरिया ने बताया कि 38 व्यक्तियों की कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजीटिव प्राप्त हुई है। सीहोर से 15 व्यक्तियों की कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजीटिव प्राप्त हुई है। संक्रमित व्यक्ति सांईनाथ मंदिर गंज, नेहरू कालोनी,राजोरिया मोहल्ला, ब्रम्हपुरी, बडी ग्वालटोली, हाउसिंग बोर्ड, इंग्लिशपुरा, पटवारी कालोनी, गाडी अड्डा के रहने वाले है। श्यामपुर विकासखण्ड अंतर्गत 05 व्यक्तियों की कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजीटिव प्राप्त हुई है। जो भटोनी, बिजोरी, कचनारिया के निवासी है। आष्टा विकासखण्ड से 11 व्यक्तियों की कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजीटिव मिली है। संक्रमित व्यक्ति डोराबाद, फारेस्ट आफिस, वार्ड नंबर 16, रायल कालोनी, जावर के निवासी है। इछावर के ढाबलामाता जोड़ इछावर, वार्ड नंबर 13, दिवड़िया, महारानी लक्ष्मी बाई वार्ड इछावर निवासी कुल 6 व्यक्तियों की रिपोर्ट पॉजीटिव प्राप्त हुई है। नसल्लागंज से 01 व्यक्ति की कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजीटिव प्राप्त हुई है। जिले में एक्टिव/ पॉजीटिव व्यक्तियों की कुल संख्या 407 हो गई है। 02 संक्रमित व्यक्तियों के मौत की सूचना प्राप्त हुई है। सीहोर के पुलिस लाईन निवासी एक 50 वर्षिय पुलिस कर्मी की कल रात उपचार के दौरान जिला चिकित्सालय स्थित आईसोलेषन वार्ड में मृत्यु हो गई। उनका कोरोना पॉजीटिव टेस्ट दिनांक 13 सितंबर की रात को किया गया था जहां रिपोर्ट भी रात्रि में ही पॉजीटिव आई थी। उपचार के दौरान पुलिस कर्मी की  मृत्यु हो गई। वहीं आष्टा कालोनी चैरोहा निवासी एक व्यक्ति की भोपाल में उपचार के दौरान मृत्यु हो गई। 4 सितंबर को कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजीटिव प्राप्त हुई थी 12 सितंबर 2020 को उपचार के दौरान भोपाल के एम्स में उपचार के दौरान मृत्यु की सूचना आज पोर्टल पर प्राप्त हुई है। जिले में कोरोना संक्रमण से मृत्यु की संख्या बढ़कर 25 हो गई है। आज कोविड केयर सेंटर सीहोर से 8 व्यक्तियों को रिकवर होने के उपरांत डिस्चार्ज किया गया है। जिसमें से बुदनी के 6, श्यामपुर 1 तथा इछावर को 1 व्यक्ति शामिल है। 8 व्यक्तियों को भोपाल के अन्य चिकित्सालयों से उपचार के दौरान तथा होम आईसोलेषन में भर्ती व्यक्तियों को रिकवर होने के उपरांत आईसोलशन अवधि पूर्ण होने पर किया गया है। जिले में रिकवर होने के उपरांत डिस्चार्ज किए गए व्यक्तियों की संख्या बढ़कर 652 हो गई है। आज 370 व्यक्तियों के  सैम्पल कोरोना जांच हेतु लिए गए है। सीहोर शहरी क्षेत्र से आज  55 सैम्पल जांच हेतु लिए गए है। श्यामपुर से 78 सैमल लिए गए है, आष्टा से 70, नसरूल्लागंज के 64, बुदनी के 43 तथा इछावर के 60 सैम्पल कोरोना जांच हेतु लिए गए है। आज पॉजीटिव मिले नए कंटेनमेंट जोन सहित समस्त कंटेनमेंट एवं बफर जोन में स्वास्थ्य दलों द्वारा सघन स्वास्थ्य सर्वे किया जा रहा है। वहीं पॉजीटिव मिले व्यक्तियों के करीबी संपर्क वाले व्यक्तियों की पहचान कर उनकी सूची तैयार की जा रही है। प्रत्येक  कंटेनमेंट जोन में सर्वे के लिए एक से दो दल लगाए गए है । सर्वे दल के प्रभारी चिकित्सा अधिकारियों को बनाया गया है तथा स्वास्थ्य सर्वे दल में ए.एन.एम. आशा कार्यकर्ता, आंगनबाडी कार्यकर्ताओं की ड्यूटी लगाई गई है। जिले में कुल कोरोना पॉजीटिव व्यक्तियों की संख्या 1084 है जिसमें से 25 की मृत्यु हो चुकी है 652 स्वस्थ होकर डिस्चार्ज हो गए है तथा वर्तमान में 407 पॉजीटिव व्यक्तियों का उपचार चल रहा है।  आज कुल 370 सैंपल जांच हेतु लिए गए। जिले से अब तक कुल 18246 सेम्पल जांच के लिए भेजे गए थे जिनमें से 16031 सेंपलों की रिपोर्ट अब तक निगेटिव प्राप्त हुई है। आज 287 सैंपलों की रिपोर्ट निगेटिव प्राप्त हुई है। कुल 1066 सैंपलों की रिपोर्ट आना शेष है। पैथालॉजी द्वारा कोरोना वायरस सेंपल की रिजेक्ट संख्या कुल 65 है। जिले में कुल कंटेंमेंट एरिया 321 है जिनमें से 92 एक्टिव एवं 229 इनेक्टिव एरिया हैं। जिले में जो व्यक्ति होम क्वारंटाइन में है उनके निवास स्थान से सीधे संवाद हेतु जिला स्तरीय कोविड-19 काल सेंटर स्थापित किया गया है जिसका संपर्क नंबर-7247704181 है कोविड-19 से संबंधित जानकारी इस संपर्क नंबर पर ली व दी जा सकती है। वहीं जिला चिकित्सालय सीहोर में टेलीमेडिसीन के लिए संपर्क नंबर 07562-401259 जारी किया गया है तथा राज्य स्तर पर 104/181 नंबर पर काल करके भी टेलीमेडिसीन सेवा का लाभ लिया जा सकता है। 104  नंबर पर ई-परामर्श सेवा का भी लाभ लिया जा सकता है। ई-संजीवनी ओपीडी सेवा हेतु www.esanjeevaniopd.in पंजीयन कराया जा सकता है। कलेक्टेट कार्यालय सीहोर में भी जिला स्तरीय काॅल सेंटर बनाया गया है जिसका संपर्क नंबर 07562-226470 है तथा होम क्वारंटाइन व्यक्तियों तथा उनके परिजनों के लिए हेल्पलाइन नंबर 18002330175 जारी किया गया है। जिस पर संस्थागत क्वारंटाइन अथवा होम क्वारंटाइन व्यक्ति अथवा उनके परिजन इमोशनल वेलनेस अथवा साईकोलाजिकल सपोर्ट एवं अन्य जरूरी परामर्ष मानसिक सेवा प्रदाताओं से निःशुल्क प्राप्त कर सकते है।

कोई टिप्पणी नहीं: