सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 22 सितम्बर - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 22 सितंबर 2020

सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 22 सितम्बर

आवास योजना के प्रमाण पत्र देने के बाद भूली नपा,  किराए से रह रहे लोगों को नहीं मिला योजना का लाभ

sehore news
सीहोर. प्रधानमंत्री आवास योजना के प्रमाण पत्र शहर में किराए के मकान में रह रहे गरीबों को नपा ने प्रदान किए थे, लेकिन चार साल बीत गए इस पर कोई कार्रवाई नहीं की गई है। इसको लेकर हितग्राहियों ने नपा में पहुंचकर ज्ञापन दिया।\ ज्ञापन में बताया कि चार साल पहले प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत शहर में किराए से रहने वाले गरीब मजूदर परिवारों को 2022 तक आवास का लाभ दिया जाएगा। इसके लिए नगर पालिका परिषद सीहोर ने प्रमाण पत्र प्रदान किए थे। लेकिन आ तक इस हेतु किसी भी प्रकार की भूमि का चयन नहीं किया गया है और ना ही कोई गतिविधि शुरू की गई है। जबकि निकट ही आष्टा नगर पालिका में उक्त गरीब लोगों के आवास बनकर भी तैयार हो चुके हैं। इसी प्रकारण अन्य नगर पालिकाओं में भी काम हुआ है। हमारी ही नगर पालिका में हम गरीबों के लिए कुछ नहीं हुआ। हितग्राहियों ने अपील की है कि उक्त योजना को लागू व क्रियान्वयन कर हमें आवास उपलब्ध कराए जाए। आपको विदित है कि कोरोना महामारी की बजह से गरीबों का रोजगार पूरी तरह से चौपट हो चुके हैं। हम लोग किराया भी चुका पाने में भी असमर्थ हैं। भीषण कर्ज में दबे हुए हैं। यदि हमें आवास उपलब्ध हो जाते हैं तो हमें बहुत ही राहत मिलेगी। कम से कम हमारी अपनी छत तो होगी। मांग करने वालों में लता मालवीय, रजनी विश्वकर्मा, लक्ष्मी सूर्यवंशी, संगीता मालवीय, दिनेश, सोनू, सुशीला बाई, राजेश, नरेंद्र कुमार, लाड़सिंह, धर्मेंद्र आदि हैं।



आंकलन कर सहीं बीमा राशि नहीं दी तो हाईवे पर चक्काजाम करेंगे पांच गांव के हजारों किसान किसानों ने कलेक्ट्रेट में प्रशासन को दी चैतावनी

sehore news
सीहोर। बीमा कंपनी के द्वारा किसानों को वितरण की गई आधी अधुरी हास्यस्पद राशि के बाद किसानों का गुस्सा फूटकर सामने आ रहा है। कलेक्ट्रेट पहुंचकर मंगलवार को इछावर तहसील के हल्का क्रंमाक आठ के ग्राम दुर्गपुरा ,सुनारखेड़ी, विशनखेड़ा, कालिया खेड़ी, अमलाह के सैकड़ों  किसानों ने सही आंकलन कर उचित फसल बीमा  राशि  देने की मांग नहीं माने जाने पर इंदौर भोपाल हाईवे अमलाह में चक्का जाम कर विरोध प्रदर्शन करने की चैतावनी दी है। किसानों ने कहा की इछावर तहसील ग्राम दुर्गपुरा,सुनारखेड़ी विशनखेड़ा कालिया खेड़ी में प्रधानमंत्री खरीफ  फसल बीमा 2019 की बीमा राशि किसी भी किसान के खाते में नहीं आई है। जबकि बीमा कंपनी को इछावर तहसील के सभी हलकों में 50 प्रतिशत से अधिक नुकसान होने की रिपोर्ट भेजी गई थी। किसानों ने बताया की पूर्व वर्ष 2019 में शासन के द्वारा हल्का नम्बर  8  में नुकसान की मुआवजा राशि प्रदान की गई है। किसानों ने कहा कि फसल में जो कटिंग होती है वह सही नहीं होती है। इस कटिंग में उंची उपरी जमीन भूमि वाले खेतों के साथ साथ नीचे वाली जमीन के खेतों में भी काप कटिंग की जाना अनिवार्य किया जाना चाहिए। जिससे की सही नुकसान का आंकलन हो सके। ज्ञापन देने वालों  में गोपाल पटेल, अचल सिंह,  प्रेम सिंह, जगदीश  प्रसाद,  महेश, लीलाधर, चंदर सिंह, वीर सिंह,धर्म सिंह,आदि कई किसान शामिल रहे।

किसानों के बैंक खातों में पहुंची तकनीकी गलती से कम राशि अन्नदाता नहीं हो परेशान कराया जाएगा राशि वितरण में सुधार
 सबको साख सबका विकास कार्यक्रम बोले विधायक सुदेश  राय किसानों को किया क्रेडिट कार्ड का वितरण
sehore news
सीहोर। आवासीय स्कूल के सभागार में मंगलवार को आयोजित सबका  साथ सबका विकास कार्यक्रम के दौरान किसानों को संबोधित करते हुए विशेष  अतिथि विधायक सुदेश राय ने कहा की किसानों के बैंक खातों में भेजी गई फसल बीमा राशि में बड़ी तकनीकी गड़बड़ी सामने आई है। किसान हितैशी मूख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान अन्नदाताओं को बहुत कुछ दे रहे है। किसान चिंता नहीं करें इस त्रृटी को सूधारने के लिए सरकार ने कढ़े कदम उठाने के लिए कमर कस ली है। विधायक सुदेश राय ने कहा कि किसानों को नुकसान के आंकलन के अनुसार हीं बीमित राशि भेजी जाने के लिए कलेक्टर के माध्यम से बीमा कंपनी से चर्चा जा  रहा है जल्दी हीं किसानों की समस्या का समाधान कराया जाएगा। उन्होने कहा कि किसान अन्न के रूप में भोजन देता है किसानों को किसी भी प्रकार की परेशानी मुख्यमंत्री आने नहीं देंगे। भविष्य में प्रीमियम राशि और नुकसान के आंकलन पर हीं किसानों को पर्याप्त राशि उपलब्ध कराने के लिए योजना तैयार की जा रहीं है। सहकारिता विभाग द्वारा जिला मुख्यालय पर आवासीय खेलकुद संस्थान में आयोजित कार्यक्रम के मुख्य अतिथि विधायक करण सिंह वर्मा एवं विशेष अतिथि विधायक सुदेश राय, विधायक आष्टा रघुनाथ सिंह मालवीय, जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक संचालक रवि मालवीय सीताराम यादव,राजकुमार गुप्ता, राजेश राठौर ने प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के हितग्राहियों को किसान क्रेडिट कार्ड वितरण किया। किसानों को शून्य प्रतिशत ब्याज पर ऋण देने के लिए सहकारी बैंक के सुदृढ़ीकरण के लिए 800 करोड़ राशि प्रदान की गई। कार्यक्रम के दौरान उपायुक्त सहकारिता भूपेन्द्र सिंह द्वारा सहकारिता विभाग एवं जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक मर्यादित का प्रगति प्रतिवेदन किसानों के समक्ष रखा गया। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा लाईव प्रसारण को सभी किसानों ने बड़े उत्साह से सुना कार्यक्रम में  कलेक्टर अजय गुप्ता, पुलिस अधीक्षक शशीन्द्र चौहान, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत हर्ष सिंह सहित अन्य अधिकारी कर्मचारी उपास्थित रहे।

"सबको साख-सबका विकास" कार्यक्रम के अन्तर्गत किसानों को किसान किया क्रेडिट कार्ड का वितरण

sehore news
प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के हितग्राहियों को किसान क्रेडिट कार्ड वितरण तथा किसानों को शून्य प्रतिशत ब्याज पर ऋण देने के लिए सहकारी बैंक के सुदृढ़ीकरण के लिए 800 करोड़ राशि प्रदान कार्यक्रम अन्तर्गत मंगलवार को "सबको साख सबका विकास" कार्यक्रम सहकारिता विभाग द्वारा जिला मुख्यालय पर आवासीय खेलकुद संस्थान में आयोजित किया गया। कार्यक्रम के दौरान मुख्य अतिथि के रूप में इछावर विधायक श्री करण सिंह वर्मा एवं विशेष अतिथि सीहोर विधायक श्री सुदेश राय, विधायक आष्टा श्री रघुनाथ सिंह मालवीय, जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक संचालक श्री रवि मालवीय, श्री सीताराम यादव, श्री राजकुमार गुप्ता, श्री राजेश राठौर आदि उपस्थित थे। कार्यक्रम के दौरान उपायुक्त सहकारिता श्री भूपेन्द्र सिंह द्वारा सहकारिता विभाग एवं जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक मर्यादित सीहोर का प्रगति प्रतिवेदन किसानों के समक्ष रखा गया इस दौरान इछावर विधायक श्री वर्मा, सीहोर विधायक श्री राय, श्री रवि मालवीय द्वारा कार्यक्रम को संबोधित किया गया। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा लाईव प्रसारण को सभी किसानों ने बड़े उत्साह से सुना, उसके उपरांत जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक मर्यादित से संबंधित पांच हितग्राहियों को अतिथियों द्वारा किसान क्रेडिट कार्ड का वितरण किया गया। इस मौके पर कलेक्टर श्री अजय गुप्ता, पुलिस अधीक्षक श्री शशीन्द्र चौहान, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री हर्ष सिंह सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे। "सबको-साख सबका विकास" कार्यक्रम जिला मुख्यालय के साथ ही बैंक प्रधान कार्यालय मुख्यालय पर आयोजित किया गया जिसमें बैंक अध्यक्ष श्रीमती उषा सक्सेना, श्री रमेश सक्सेना सहित किसान शामिल हुए। कार्यक्रम बैंक की 20 शाखाओं, 108 सहकारी संस्थाओं, 283 पीडीएस दुकानों, 497 ग्राम पंचायतों, 312 दुग्ध समितियों, 20 मत्स्य संस्थाओं, 8 विपणन संघ मुख्यालय एवं 5 विपणन संस्थाएं, 20 बीज संस्थाओं में बड़े उत्साह से कार्यक्रम आयोजित किया गया।

35 व्‍यक्तियों की कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजीटिव प्राप्त हुई, वर्तमान में कोरोना एक्टिव/पॉजीटिव की संख्या 518 है

sehore news
मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉक्टर सुधीर कुमार डेहरिया ने बताया कि 35 व्यक्तियों की कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजीटिव प्राप्त हुई है। सीहोर से 26 व्यक्तियों की कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजीटिव प्राप्त हुई है। संक्रमित व्यक्ति पटेल कॉलोनी, गंज, कस्तूरबा स्कूल क्षेत्र, बड़ा बाजार, नारायण कंपाउंड, कस्बा इंग्लिशपुरा, शिवाजी कॉलोनी, जनता कॉलोनी, दांगी स्टेट, गल्ला मंडी, सिंधी कॉलोनी क्षेत्र के रहने वाले है। आष्टा विकासखंड से 05 की रिपोर्ट पॉजीटिव प्राप्त हुई है जो कन्नोद रोड़ आष्टा, झींगाखेड़ी, अरनिया एवं स्थानीय आष्टा के निवासी हैं। नसरुल्लागंज अन्तर्गत 3 व्यक्ति पॉजीटिव मिले हैं जो भिलाई एवं कोलार कॉलोनी के निवासी हैं। इछावर अन्तर्गत अमलाहा से 1 व्यक्ति की रिपोर्ट पॉजीटिव प्राप्त हुई है। जिले में एक्टिव/ पॉजीटिव व्यक्तियों की कुल संख्या 518 हो गई है। आज कोविड केयर सेंटर सीहोर से 26 व्यक्तियों को रिकवर होने के उपरांत डिस्चार्ज किया गया है। जिनमें सीहोर के 3, बुदनी से 02, नसरुल्लागंज के 1 व्यक्ति तथा 20 व्यक्तियों को होम आईसोलेशन की निर्धारित अवधि पूर्ण होने के उपरांत डिस्चार्ज किए गए हैं। जिले में रिकवर होने के उपरांत डिस्चार्ज किए गए व्यक्तियों की संख्या बढ़कर 821 हो गई है। जिले में कोरोना संक्रमण से मृत्यु की संख्या 28 हो गई है। आज 419 व्यक्तियों के सैम्पल कोरोना जांच हेतु लिए गए है। सीहोर शहरी क्षेत्र से आज 53 सैम्पल जांच हेतु लिए गए है। श्यामपुर से 139 सैमल लिए गए है, आष्टा से 78, नसरूल्लागंज के 69,  बुदनी के 36 तथा इछावर के 44 सैम्पल कोरोना जांच हेतु लिए गए है। आज पॉजीटिव मिले नए कंटेनमेंट जोन सहित समस्त कंटेनमेंट एवं बफर जोन में स्वास्थ्य दलों द्वारा सघन स्वास्थ्य सर्वे किया जा रहा है। वहीं पॉजीटिव मिले व्यक्तियों के करीबी संपर्क वाले व्यक्तियों की पहचान कर उनकी सूची तैयार की जा रही है। प्रत्येक कंटेनमेंट जोन में सर्वे के लिए एक से दो दल लगाए गए है । सर्वे दल के प्रभारी चिकित्सा अधिकारियों को बनाया गया है तथा स्वास्थ्य सर्वे दल में ए.एन.एम. आशा कार्यकर्ता, आंगनबाडी कार्यकर्ताओं की ड्यूटी लगाई गई है। जिले में कुल कोरोना पॉजीटिव व्यक्तियों की संख्या 1367 है जिसमें से 28 की मृत्यु हो चुकी है 821 स्वस्थ होकर डिस्चार्ज हो गए है तथा वर्तमान में 518 पॉजीटिव व्यक्तियों का उपचार चल रहा है।  आज कुल 419 सैंपल जांच हेतु लिए गए। जिले से अब तक कुल 21184 सेम्पल जांच के लिए भेजे गए थे जिनमें से 18487 सेंपलों की रिपोर्ट अब तक निगेटिव प्राप्त हुई है। आज 257 सैंपलों की रिपोर्ट निगेटिव प्राप्त हुई है। कुल 1259 सैंपलों की रिपोर्ट आना शेष है। पैथालॉजी द्वारा कोरोना वायरस सेंपल की रिजेक्ट संख्या कुल 71 है। जिले में कुल कंटेंमेंट एरिया 364 है जिनमें से 102 एक्टिव एवं 262 इनेक्टिव एरिया हैं। जिले में जो व्यक्ति होम क्वारंटाइन में है उनके निवास स्थान से सीधे संवाद हेतु जिला स्तरीय कोविड-19 काल सेंटर स्थापित किया गया है जिसका संपर्क नंबर-7247704181 है कोविड-19 से संबंधित जानकारी इस संपर्क नंबर पर ली व दी जा सकती है। वहीं जिला चिकित्सालय सीहोर में टेलीमेडिसीन के लिए संपर्क नंबर 07562-401259 जारी किया गया है तथा राज्य स्तर पर 104/181 नंबर पर काल करके भी टेलीमेडिसीन सेवा का लाभ लिया जा सकता है। 104 नंबर पर ई-परामर्श सेवा का भी लाभ लिया जा सकता है। ई-संजीवनी ओपीडी सेवा हेतु www.esanjeevaniopd.in पंजीयन कराया जा सकता है। कलेक्टेट कार्यालय सीहोर में भी जिला स्तरीय काल सेंटर बनाया गया है जिसका संपर्क नंबर 07562-226470 है तथा होम क्वारंटाइन व्यक्तियों तथा उनके परिजनों के लिए हेल्पलाइन नंबर 18002330175 जारी किया गया है। जिस पर संस्थागत क्वारंटाइन अथवा होम क्वारंटाइन व्यक्ति अथवा उनके परिजन इमोशनल वेलनेस अथवा साईकोलाजिकल सपोर्ट एवं अन्य जरूरी परामर्श मानसिक सेवा प्रदाताओं से निःशुल्क प्राप्त कर सकते है।

जिले में अब तक 1345.6 मि.मी. औसत वर्षा

जिले में आज 22 सितंबर, 2020 की प्रात:8 बजे समाप्त पिछले चौबीस घन्टों में 5.8 मिलीमीटर औसत वर्षा दर्ज की गई है। इसे मिलाकर 1 जून से अभी तक जिले में 1345.6 मि.मी औसत बारिश रिकार्ड की जा चुकी है जबकि गत वर्ष इस अवधि में 1625.6 मि.मी बारिश रिकार्ड की गई थी। अधीक्षक, भू-अभिलेख से मिली जानकारी के अनुसार पिछले चौबीस घन्टों में सीहोर में 5, आष्टा में 4, इछावर में 2, नसरुल्लागंज में 18, बुधनी में 9, रेहटी में, 8 मिमी बारिश दर्ज की गई है। जबकि श्यामपुर एवं जावर में वर्षा की स्थिति शून्य रही। आंकड़ों के मुताबिक जिले में अभी तक सीहोर में 1498.2, श्यामपुर में 928, आष्टा में 1339.6,  जावर में 1112,  इछावर में 1315,  नसरुल्लागंज में 1240, बुदनी में 1516 एवं रेहटी में 1816 मिमी बारिश दर्ज की गई है। गत वर्ष इस अवधि में सीहोर में 1919.2, श्यामपुर में 1478.2, आष्टा में 1621, जावर में 1266.9, इछावर में 1615, नसरुल्लागंज में 1857,  बुधनी में 1526 रेहटी में 1721.8 मिमी बारिश दर्ज की गई थी।

फिट इंडिया फ्रीडम रन 2 अक्टूबर तक

भारत सरकार के निर्देशों के अनुसार खेल एवं युवक कल्याण विभाग द्वारा स्वतंत्रता दिवस से फिट इंडिया फ्रीडम रन कार्यक्रम शुरू किया गया है। यह कार्यक्रम गांधी जयंती 2 अक्टूबर 2020 तक जारी रहेगा। खेल एवं युवा कल्याण अधिकारी ने बताया कि फिट इंडिया फ्रीडम रन में भाग लेने के लिए इच्छुक व्यक्ति अपना ऑनलाइन पंजीयन वेबसाइट www.fitindia.gov.in पर स्वयं कर सकते हैं। इसमें प्रतिभागी को अपने रूट का चयन तथा दौड़ के दौरान निर्धारित स्थल पर ब्रेक लेने, दौड़ की दूरी एवं गति का निर्धारण स्वयं करना है। प्रतिभागी अपनी फ्रीडम दौड़ का पूरा विवरण रनिंग एप में रख सकते हैं जिसे फिट इंडिया वेबसाइट में व्यक्तिगत प्रोफाइल बनाकर अपलोड करना होगा। प्रत्येक प्रतिभागी को दौड़ के लिए प्रमाण पत्र प्रदान किये जायेंगे  

जिले की बुधनी तहसील में प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना के अन्तर्गत अधिकार अभिलेख का वितरण 2 अक्टूबर को  

कलेक्टर श्री अजय गुप्ता द्वारा मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत बुदनी को निर्देशित किया गया है कि जिले की बुधनी तहसील के जिन ग्रामों को अधिकार अभिलेख का अंतिम प्रकाशन कर दिया गया है, उन ग्रामों के हितग्राहियों को 2 अक्टूबर 2020 के कार्यक्रम में जाड़ा जाना है। कलेक्टर श्री गुप्ता द्वारा प्रधानमंत्री द्वारा अधिकार अभिलेख का वितरण के इस कार्यक्रम के सफल आयोजन के लिए संबंधित अधिकारियों को निर्देश जारी किए गए हैं। कलेक्टर श्री गुप्ता द्वारा निर्देशित किया गया है कि संबंधित प्रत्येक ग्राम में इंटरनेट, टीबी, लैपटॉप आदि की व्यवस्था की जाए जिससे हितग्राही कार्यक्रम का प्रसारण देख सकें। कार्यक्रम में प्रधानमंत्री द्वारा जिले के स्वामित्व योजना के लिए चयनित ग्रामों में से एक ग्राम स्वामित्व योजना के एक हितग्राही से संवाद करेंगे। संवाद के लिए एक ग्राम का चयन करते हुए वीसी के माध्यम से चर्चा किए जाने के लिए Optical Fiber की Lease Line connectivity की व्यवस्था की जाना होगी। यह व्यवस्था 29 सितंबर तक पूर्ण करना सुनिश्चित करें। 30 सितंबर एवं 1 अक्टूबर को Trial भी किया जाएगा। जिले के स्वामित्व योजना के लिए चयनित ग्रामों के किसी एक ग्राम में इंटरनेट कनेक्टीविटी स्थापित करने में कठिनाई है तो संवाद NIC VC रूम में वैकल्पिक व्यवस्था करें। कार्यक्रम के दौरान जनप्रतिनधियों, राजस्व एवं पंचायत अमले की उपस्थिति सुनिश्चित करें। प्रधानमंत्री संवाद के लिए चयनित ग्राम में कार्यक्रम के दौरान अधिकार अभिलेख का वितरण हो एवं शेष ग्रामों के अधिकार अभिलेखों की प्रतियां (रंगीन) हितग्राही को प्रधानमंत्री अधिकार अभिलेख वितरण कार्यक्रम समाप्ति के बाद जनप्रतिनिधियो के द्वारा प्रदान की जाएगी। कार्यक्रम के दौरान कोविड-19 के जारी दिशा-निर्देशों का पालन करें।      

हर शनिवार बच्चों के लिए प्रश्नमंच का आयोजन होगा “व्हाट्सएप आधारित मूल्यांकन” पर राज्य-स्तरीय शैक्षिक संवाद आयोजित

राज्य शिक्षा केंद्र, स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा “हमारा घर - हमारा विद्यालय” कार्यक्रम अंतर्गत विद्यार्थियों के सीखने की प्रगति का “व्हाट्सएप आधारित मूल्यांकन” विषय पर यूट्यूब लाइव द्वारा राज्य स्तरीय शैक्षिक संवाद का आयोजन किया गया। संवाद में आयुक्त, राज्य शिक्षा केन्द्र, श्री लोकेश कुमार जाटव ने कहा कि कोविड-19 की परिस्थितियों के कारण सीखने-सिखाने की प्रक्रिया को नए परिप्रेक्ष्य में लागू करते हुए “हमारा घर - हमारा विद्यालय” कार्यक्रम संचालित किया जा रहा है। इस कार्यक्रम के अंतर्गत साप्ताहिक लर्निंग पैकेज के माध्यम से शैक्षिक गतिविधियाँ संचालित की जा रही हैं। इन शैक्षिक गतिविधियों द्वारा बच्चों के सीखने की प्रगति का निरंतर आकलन करना अत्यंत आवश्यक है। इस उद्देश्य से राज्य शिक्षा केंद्र द्वारा एक नवाचार “व्हाट्सएप आधारित मूल्यांकन” प्रारंभ किया जा रहा है। यह प्रक्रिया “कॉन्वेजीनियस संस्था” के सहयोग से प्रारंभ की गई है जहां विद्यार्थी पढ़ी हुई अवधारणाओं से सम्बंधित क्विज/प्रश्नोत्तरी व्हाट्सएप पर ही प्राप्त कर हल कर सकेंगे। दूरस्थ शिक्षा - अब और भी आसान- बच्चों के सीखने का वास्तविक स्तर सामने लाने के उद्देश्य से यह मूल्यांकन प्रारंभ किया जा रहा है। इसी को ध्यान में रखते हुए इस मूल्यांकन को बहुत ही साधारण और रुचिकर बनाया गया है। इसके प्रथम चरण में “व्हाट्सएप आधारित मूल्यांकन” भोपाल संभाग के सभी पांच जिलों में सफलतापूर्वक किया जा चुका है। द्वितीय चरण में इसका विस्तार नर्मदापुरम/होशंगाबाद में भी किया जा चुका है। इसमें छात्रों द्वारा उत्साहपूर्वक सहभागिता करने के दृष्टिगत अब तृतीय चरण में इसका विस्तार पूरे प्रदेश में किया जा रहा है। इस कार्यक्रम के अंतर्गत कक्षा 1 से 8 के हिंदी एवं गणित विषयों के लिए दस-दस प्रश्नों की क्विज की लिंक हर शनिवार को व्हाट्सएप पर भेजी जाएगी, बच्चों द्वारा पूरे सप्ताह में अपनी सुविधानुसार इसे हल किया जा सकता है, परन्तु यथासंभव सोमवार तक प्रत्येक बच्चे द्वारा इसे हल करने के लिए शिक्षकों द्वारा प्रोत्साहित किया जाएगा। यह आकलन साप्ताहिक आधार पर होगा। हर शनिवार नई क्विज का लिंक साझा किया जायेगा। राज्य स्तर से जिलेवार व्हाट्सएप नंबर साझा किये गए हैं। व्हाट्सएप आधारित मूल्यांकन में शिक्षकों की भूमिका- व्हाट्सएप आधारित मूल्यांकन में शिक्षक मूल्यांकन संबंधी दिशा-निर्देश एवं लिंक विद्यार्थियों और उनके अभिभावकों से साझा करेंगे। क्विज या प्रश्नोत्तरी को हल करने में शिक्षक विद्यार्थियों की सहायता करेंगे। वे इस प्रक्रिया में विद्यार्थियों की सहभागिता भी सुनिश्चित करेंगे। शिक्षक इसकी भी मॉनीटरिंग करेंगे कि प्रश्नों को बच्चे ही हल करें, उनके परिजन नहीं।      इस प्रकार होगा व्हाट्सएप आधारित मूल्यांकन का संचालन- कॉन्वेजीनियस संस्था के प्रतिनिधि श्री शशांक पाण्डेय ने कहा कि भोपाल और होशंगाबाद संभाग के लगभग 2 लाख बच्चों को क्विज से जोड़ा जा चुका है। यह मूल्यांकन उतना ही आसान है, जितना मित्रों और परिवार से चैट करना। विद्यार्थी अपने जिले के लिए जारी किये गए व्हाट्सएप नंबर पर मेसेज भेजेंगे। बच्चे पहले जिले का चयन करेंगे, फिर विकास खंड का चयन करेंगे। फिर बच्चे को अपनी कक्षा डालनी होगी। फिर वे अपना नाम डालेंगे। इस प्रकार पंजीकरण पूर्ण होगा। इस पूरी प्रक्रिया में स्वचालित तरीक़े से रिप्लाई प्राप्त होगा। भविष्य में समग्र आईडी ऐड करके भी यह कार्य सरलता से किया जा सकेगा। इसके बाद क्विज प्रारंभ होगा। सभी विद्यार्थियों का पंजीकरण होने के बाद वे क्रमशः हिंदी और गणित का अभ्यास कर सकते हैं। शिक्षकों को मूल्यांकन की रिपोर्ट भी मिलेगी, जिसके आधार पर वे बच्चों की खामियों और खूबियों और विषय-विशेष के ज्ञान के बारे में जान पाएंगे। उप संचालक, राज्य शिक्षा केंद्र, श्री के.पी.एस. तोमर ने सम्पूर्ण प्रक्रिया की विस्तार से जानकारी देते हुए कहा कि डिजिलेप की सामग्री को आधार मानकर ही व्हाट्सएप आधारित मूल्यांकन के प्रश्न बनाये गए हैं। मूल्यांकन के सुचारू संचालन के लिए शिक्षकों के साथ ही अभिभावकों को भी इसे समझाना होगा। उन्होंने आरआरएसएस यानी रिसीव, रीड, शेयर, सपोर्ट का विस्तृत वर्णन किया। होम लर्निंग और रेमेडिअल टीचिंग द्वारा शिक्षक विद्यार्थियों को सक्षम बना रहे हैं। मोबाइल और रेडियो के माध्यम से अब शिक्षक भी पूरी प्रक्रिया से फ्रेंडली/परिचित हो गए हैं, इसलिए यह प्रक्रिया शासकीय विद्यालयों में पढ़ने वाले और कमज़ोर आयवर्ग वाले अभिभावकों के बच्चों के लिए भी बहुत अच्छा प्रयास सिद्ध होगा। इस लाइव सत्र में लगभग 35 हज़ार से अधिक शिक्षकों द्वारा सहभागिता की गई।  

कोई टिप्पणी नहीं: