भारत और चीन के बीच तनाव से शेयर बाजार हुआ धड़ाम - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 1 सितंबर 2020

भारत और चीन के बीच तनाव से शेयर बाजार हुआ धड़ाम

sensex-fall-after-indo-china-tense
मुंबई 31 अगस्त, पूर्वी लद्दाख में सीमा पर फिर से भारत और चीन के सैनिकों के बीच झड़प होने की खबर से शेयर बाजार शुरूआती तेजी खोकर दो फीसदी से अधिक गिरावट लेकर सोमवार को बंद हुआ। शुरूआती कारोबार में जबदस्त तेजी के साथ बीएसई का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 40 हजार अंक के स्तर को पार कर गया था लेकिन इसके बाद भारत और चीन के सैनिकों के बीच झड़प की खबर आने से निवेशकों में निराशा छा गयी। इसी दौरान शुरू हुयी बिकवाली के दबाव में सेंसेक्स 839.02 अंक गिरकर 39 हजार अंक के मनोवैज्ञानिक स्तर से नीचे 38628.29 अंक के निचले स्तर पर आ गया। 



नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का निफ्टी भी 305.15 अंकों की गिरावट लेकर 11387.50 अंक पर रहा। इसके साथ ही शेयर बाजार में पिछले छह दिनाें से जारी तेजी पर भी ब्रेक लग गया। सेंसेक्स में शामिल अधिकांश कंपनियां गिरावट में रही। बीएसई के सभी समूह भी लाल निशान में रहे। इस दौरान रियलटी में सबसे अधिक 4.70 प्रतिशत, हेल्थकेयर 4. 62 प्रतिशत, बेसिक मटेरियल्स 4.26 प्रतिशत, सीडी 3.74 प्रतिशत, धातु 3.46 प्रतिशत, पावर 3.79 फीसदी की गिरावट रही। आईटी समूह में सबसे कम 0.63 प्रतिशत की गिरावट हुयी। बीएसई में कुल 3015 कंपनियों में कारोबार हुआ जिसमें से 2329 लाल निशान में और 536 हरे निशान में रही जबकि 150 में कोई बदलाव नहीं हुआ। वैश्विक स्तर पर मिलाजुला रूख रहा जिसमें ब्रिटेन का एफटीएसई 0.61 प्रतिशत, हांगकांग का हैंगसेंग 0.96 प्रतिशत और चीन का शंघाई कंपोजिट 0.24 प्रतिशत फिसल गया जबकि जर्मनी का डैक्स 0.66प्रतिशत चढ़ गया।

कोई टिप्पणी नहीं: