विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 03 सितम्बर - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 3 सितंबर 2020

विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 03 सितम्बर

फसल क्षति सर्वे कार्य पूर्ण पारदर्शी हो

vidisha news
कलेक्टर डॉ पंकज जैन ने आज जिले में फसलों की क्षति के सर्वे कार्यो की समीक्षा की। नवीन कलेक्ट्रेट के बेतवा सभागार कक्ष में आयोजित इस बैठक में कृषि वैज्ञानिक, अपर कलेक्टर श्री वृदांवन सिंह, समस्त एसडीएम एवं कृषि विभाग के अधिकारी मौजूद थे।  कलेक्टर डॉ पंकज जैन ने कहा कि सर्वे की रिपोर्ट केन्द्र सरकार को भेजी जानी है।  जिले में फसल क्षति संबंधी कार्य पूर्ण पारदर्शी हो, सर्वे कार्य के सम्पादन हेतु दल गठित किए गए है। निर्धारित मापदण्डो का अनुपालन कर फसलों की क्षति सर्वे रिपोर्ट शीघ्र प्रस्तुत करें ताकि समयावधि में रिपोर्ट केन्द्र सरकार को भेजी जा सकें। कलेक्टर डॉ पंकज जैन ने फसल प्रभावित के कारण आगे फसलों पर क्या प्रभाव पडे़गा के संबंध में पावर प्रेजेन्टेशन के माध्यम से जानकारी प्राप्त की।  खरीफ 2020 में फसलों के नुकसान की अनुमानित जानकारियां पावर प्रेजेन्टेशन के माध्यम से प्रस्तुत की गई जिसमें फसल क्षति से फसलों पर होने वाले प्रभाव, कारणों से अवगत कराते हुए बताया गया कि जिले में सोयाबीन फसल में कीट व्याधि व अतिवृष्टि से क्षति हुई है जिसमें मुख्य रूप से कीट व्याधि - कीट सेमीलूपर टोबैको केटरपिलर से फसल की पत्तियों को, व्हाईट फ्लाई कीट द्वारा पत्तियों का रस चूसने से पौधा कमजोर हो जाता है एवं फसलों में येलो मैजिक बीमारी का वाहक होता है जिससे सम्पूर्ण फसल पीली होने के कारण पौधो में प्रकाश संश्लेषण क्रिया प्रभावित होती है। गर्डल बीटल तने के कोमल भाग में रिंग बनाकर अंडे देती है, रिंग के ऊपर का भाग सूख जाता है एवं इल्ली तने के अंदर प्रवेश कर जाती है और तने का अंदर का भाग खोखला कर देती है। जिससे सम्पूर्ण पौधा सूख जाता है। स्टेम फ्लाई तने के ऊपरी भाग से लार्वा, तने के अन्दर प्रवेश करता है एवं तने का अन्दर का भाग खोखला कर देती है जिससे पौधा सूख जाता है। येलो मैजिक बीमारी से पौधे की पत्तियां पीली पड़ जाती है जिससे प्रकाश संश्लेषण की क्रिया पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ता है। उड़द, मूंग की फसल को कीट सेमीलूपर टौबेको केटरपिलर, व्हाईट फ्लाई एवं येलो मैजिक से क्षति पहुंचती है। धान की फसल अतिवृष्टि के कारण प्रभावित होती है। बाढ़ से 120 हेक्टेयर रकवा प्रभावित हुआ है। पौधो के ऊपर मिट्टी की पतली परत जम गई है जिससे प्रकाश संश्लेषण की क्रिया प्रभावित हो रही है। आगामी दस दिवसों में फसलों में क्षति का अनुमानित प्रतिशत के संबंध में बताया गया कि सोयाबीन की फसल 50 से 70 प्रतिशत, उड़द, मूंग की फसल 60 से 70 प्रतिशत तथा धान की फसल 15 से 20 प्रतिशत प्रभावित हुई है। 



सर्वे दल
जिले में अतिवृष्टि, बाढ़ तथा कीटव्याधि से क्षति हुई फसलों का सर्वे कार्य के लिए प्रत्येक अनुविभाग क्षेत्र में दल गठित किए गए है। हरेक दल में ग्राम के पटवारी, सचिव तथा कृषि विभाग के आरएईओ को शामिल किया गया है। प्रत्येक अनुविभाग क्षेत्र में 90 से 100 दल गठित किए गए है। दल प्रत्येक ग्राम में संयुक्त रूप से भ्रमण कर सारा एप के माध्यम से फसल क्षति का सर्वे कर अगले तीन दिवस में सर्वे कार्य पूर्ण फसल क्षति पत्रक तहसीलदार को उपलब्ध कराएंगे।

कलेक्टर द्वारा सर्वे दल की मानिटरिंग

sehore news
कलेक्टर डॉ पंकज जैन ने सर्वे दल के कार्यो की गुरूवार को भ्रमण कर जायजा लिया। कलेक्टर डॉ जैन ने कुंआखेडी एवं लालाखेडी में पहुंचकर अतिवर्षा, बाढ़ से हुई क्षति के सर्वे कार्य को सम्पादित करने वाले सर्वे दल के कार्यो की जानकारी दी। कलेक्टर डॉ जैन ने स्वंय प्रभावितों से संवाद कर सर्वे दल के द्वारा किए जा रहे कार्यो का परीक्षण किया है। कलेक्टर डॉ जैन ने लालाखेडी ग्राम में चिकित्सकों को शिविर लगाने के निर्देश दिए है ताकि बाढ से प्रभावित के स्वास्थ्य पर किसी भी प्रकार से प्र्रतिकूल असर ना पडे़। भ्रमण के दौरान विदिशा जनपद सीईओ श्री केबी मालवीय भी साथ मौजूद थे।
  
कोरोना पॉजिटिव प्रकरण में होम आइसोलेट किया जाएगा

कलेक्टर डॉ पंकज जैन ने आज जिला स्तरीय अंर्तविभागीय बैठक में कोविड 19 की गाइड लाइन का पालन करते हुए पॉजिटिव प्रकरण जिसे होम आइसोलेट किया जाएगा के संबंध में लिए गए निर्णय की जानकारी दी। नवीन कलेक्ट्रेट के बेतवा सभागार कक्ष में सम्पन्न हुई इस बैठक में अपर कलेक्टर श्री वृदांवन सिंह समेत समस्त एसडीएम व स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी मौजूद थे। बैठक में बताया गया कि कोविड 19 के पॉजिटिव प्रकरणों में से अनेक लक्षण रहित अथवा कम लक्षण वाले संक्रमित व्यक्तियों द्वारा होम आइसोलेशन हेतु मांग की जाती है उन्हें लक्षणिक उपचार, मनोवैज्ञानिक सहायता प्रतिरोधक क्षमता बढाने वाले औषधियां, समुचित भोजन, स्वच्छ वातावरण तथा लक्षणो की निगरानी की आवश्यकता होती है। अतः जिले में पॉजिटिव केस के चिन्हित होने पर सेनेटाइजेशन वायो वेस्ड का पालन, कोविड 19 की गाइड लाइन का पालन करते हुए पॉजिटिव प्रकरण जिसे होम आइसोलेट किया जाए एवं संबंधित के पास दस पीपीई किट तथा दस एन-95 मास्क एवं उसके परिवार के लिए पर्याप्त थ्री लेयर मास्क स्वंय उपलब्धता सुनिश्चित करेंगे एवं प्रतिदिन स्वास्थ्य संबंधी समस्या को जानने हेतु वीडियो कांलिग आरआरटी, एमएमयू से की जाएगी।

निर्माण कार्यो की समीक्षा शनिवार को

कलेक्टर डॉ पंकज जैन ने सितम्बर माह में आयोजित समीक्षा बैठकों के आयोजनों की तिथियां जारी कर दी है। जिसके अनुसार पांच सितम्बर शनिवार की सायं चार बजे से जिन विभागो के कार्यो की समीक्षा करेंगे उनमें लोक निर्माण विभाग, ब्रिज, पीआईयू, डब्ल्यूआरडी, पीएचई, एमपीईवी, हाउसिंग बोर्ड, पीएमजीएसवाय शामिल है। उक्त विभागों की समीक्षा नवीन कलेक्ट्रेट के सभागार कक्ष में आयोजित की गई है।

दो फरार आरोपियों पर दस-दस हजार का इनाम घोषित

पुलिस अधीक्षक श्री विनायक वर्मा ने थाना करारिया में दर्ज अपराध क्रमांक 176/16 के फरार दो आरोपियों की सूचना देने अथवा गिरफ्तारी में मदद कराने वालो को क्रमशः दस-दस हजार रूपए की राशि इनाम में देने की घोषणा की है। पुलिस अधीक्षक श्री वर्मा के द्वारा जारी उद्घोषणा में उल्लेख है कि थाना करारिया में दर्ज अपराध क्रमांक 176/16 का फरार आरोपी सरवन पुत्र गनेशराम अहिरवार उम्र 30 वर्ष निवासी असदाई थाना मुगलसराय प्रतिरूपित मान सत्यप्रकाश पुत्र लक्ष्मीनारायण उम्र 36 वर्ष निवासी कोटरा और सुखवीर पुत्र मंगतु उम्र 25 वर्ष निवासी रूसल्ला अरोन प्रतिरूपित नाम जीवन पुत्र गुलाब उम्र 29 वर्ष निवासी कोटरा की सूचना देने अथवा गिरफ्तारी में सहयोग करने वालो को क्र्रमशः दस-दस हजार रूपए की राशि प्रदाय की जाएगी। सूचना देने वाला व्यक्ति चाहे तो उसका नाम गोपनीय रखा जाएगा।

अंतिम वर्ष सेमेस्टर की समस्त परीक्षाएं ओपन बुक प्रणाली से

बरकतउल्ला विश्वविद्यालय के परीक्षा नियंत्रक द्वारा जारी अधिसूचना की जानकारी देते हुए जिला अग्रणी शासकीय कन्या महाविद्यालय की प्राचार्य श्रीमती मंजू जैन ने बताया कि उच्च शिक्षा विभाग के आदेशानुसार सत्र 2019-20 की स्नातक, स्नातकोत्तर की अंतिम वर्ष, सेमेस्टर की समस्त परीक्षाएं ओपन बुक प्रणाली से आयोजित की जा रही है। समस्त स्नातक अंतिम वर्ष, सेमेस्टर एवं समस्त स्नातकोत्तर अंतिम सेमेस्टर परीक्षा सत्र 2019-20 के प्रश्न पत्र दस सितम्बर 2020 को अपलोड किया जाएगा। उत्तर पुस्तिका जमा कराने की तारीख 15 एवं 16 सितम्बर नियत की गई है। स्नातक अंतिम वर्ष सेमेस्टर की जिन प्रश्नपत्रों की परीक्षाएं सम्पन्न हो चुकी थी उनकी परीक्षाएं पुनः आयोजित नही होगी। शेष प्रश्न पत्रों की परीक्षाएं आयोजित की जा रही है। समस्त प्रश्न पत्र विश्वविद्यालय की बेवसाइटू www.bubhopal.ac.in पर एक साथ प्रातः आठ बजे अपलोड किए जाएंगे। विद्यार्थी अपने प्रश्न पत्र चिन्हित कर डाउनलोड करें। छात्र के मध्य से अपने स्टूडेंट इनफो. सिस्टम (एसआईएस) के माध्यम से अपने प्रवेश पत्र डाउनलोड कर सकेंगे। लिखित उत्तर पुस्तिका जमा करने हेतु संग्रहण केन्द्रों की सूची विश्वविद्यालय की बेवसाइट पर उपलब्ध है। ओपन बुक प्रणाली के अन्य दिशा निर्देश भी विश्वविद्यालय की बेवसाइट पर उपलब्ध है। छात्र ततसंबंध में विश्वविद्यालय द्वारा समय-समय पर जारी दिशा निर्देश को सतत अवलोकन बेवसाइट पर कर सकते है। परीक्षार्थी लिखित उत्तर पुस्तिका संग्रहण केन्द्र पर जमा करके पावती प्राप्त करे। ऐसे परीक्षार्थी जो अपनी उत्तरपुस्तिका संग्रहण केन्द्र में जमा नही कर पा रहे है या परिक्षेत्र से वाहन निवास कर रहे है वे अपनी उत्तरपुस्तिकाएं डाक/कोरियर के माध्यम से 16 सितम्बर तक डाक कोरियर से बुक किया जाना सुनिश्चित करें तथा संबंधित जिला अग्रणी महाविद्यालय के पते पर प्रेषित करें। 



कार्य पूर्णतः प्रमाण पत्र जारी करें

जिला पंचायत सीईओ श्री मयंक अग्रवाल ने बुधवार को सहायक यंत्री एवं उप यंत्री के कार्यो की समीक्षा की। उन्होंने कहा कि निर्माण कार्य पूर्णतः आश्य के प्रमाण पत्र शीघ्र जारी करें। बैठक में मनरेगा के कार्य, प्रधानमंत्री आवास, स्वच्छ भारत मिशन में सामुदायिक शौचालय परिसर, गौ-शाला निर्माण, सांसद निधि एवं विधायक निधि तथा जनभागीदारी के वर्ष 2012-13 से 2018-19 तक के निर्माण कार्यो की समीक्षा की गई है।बैठक में बताया गया कि मनरेगा योजना में कुल 1398 निर्माण कार्यो के पूर्णतः प्रमाण पत्र आन लाइन जारी किए गए है जबकि सांसदनिधि, विधायकनिधि एवं जनभागीदारी के वर्ष 2012-13 से 2018-19 तक के कुल 365 निर्माण कार्य पूर्ण हुए है। तदानुसार जनपदवार जानकारी क्रमशः सिरोंज में 28, नटेरन में 32, बासौदा में 55, ग्यारसपुर में 195, लटेरी में 25, कुरवाई में पांच तथा विदिशा में 25 कार्य पूर्ण कराए गए है। उपरोक्त कार्यो की पूर्णतः प्रमाण पत्र जारी किए जा चुके है।

जिले में अब तक 939.4 मिमी औसत वर्षा दर्ज

जिले में अब तक 939.4 मिमी औसत वर्षा दर्ज हुई है कि जानकारी देते हुए अधीक्षक भू-अभिलेख ने बताया कि तीन सितम्बर को जिले में 30.5 मिमी औसत वर्षा दर्ज हुई है। तहसीलों में स्थापित वर्षामापी यंत्रो पर तीन सितम्बर गुरूवार को दर्ज वर्षा की जानकारी तदानुसार विदिशा, में 19 मिमी, बासौदा में 46.2 मिमी, कुरवाई में 117 मिमी, ग्यारसपुर में 37 मिमी, गुलाबगंज में 25 मिमी वर्षा दर्ज हुई हैं शेष अन्य तहसील सिरोंज, लटेरी, एवं नटेरन मेंं वर्षा नगण्य रही।

गिरदावरी संबंधी आपत्तियां दस तक आमंत्रित

खरीफ फसल गिरदावरी वर्ष 2020 से संबंधित जानकारी के आधार पर मोबाइल एप के माध्यम से गिरदावरी की जाकर प्रविष्टियां दर्ज की गई है। पटवारियों के द्वारा की गई फसल गिरदावरी में यदि किसी कृषक को दावा अथवा आपत्ति दर्ज करानी है तो वे अपने दावे आपत्तियां संबंधित तहसीलदार को दस सितम्बर तक प्रस्तुत कर सकते है।

भूमि स्वामी एवं बटाईदार दोनो के अनुबंध कॉपी अब तहसीलदार को देनी होगी

सामान्य तौर से कृषकों और भू-स्वामियों द्वारा अपनी भूमि अन्य व्यक्तियों को धन या फसल का अंश भूमि स्वामी को देकर भूमि दे दी जाती है जिसे सामान्य तौर पर बटाई, सिकमी, अन्य स्थानीय नामो से जाना जाता है। ततसंबंध में मध्यप्रदेश भूमि स्वामी एवं बटाईदारो के हित संरक्षण अधिनियम 2016 के अनुरूप भूमि बटाई पर दिए जाने की मान्यता प्रदान की गई है। अब भूमि स्वामी बटाईदार दोनो के हितो का संरक्षण करता है अब कोई भी भूमि स्वामी अपनी भूमि बटाई पर देने या किसी व्यक्ति द्वारा बटाई पर लेने की वैधानिकता तभी मानी जाएगी जब दोनो पक्षो के द्वारा मध्यप्रदेश भूमि स्वामी बटाईदारो के हित संरक्षण अधिनियम 2016 के नियम चार के तहत अनुबंध निष्पादित किया हो और एक प्रति संबंधित क्षेत्र के तहसीलदार को उपलब्ध कराई हो। कोई भी बटाईदार, भूमि बटाई पर लेकर यदि वह फसल क्षति की देय राहत राशि, बीमा राशि और कृषि उपज का उपार्जन हेतु शासन द्वारा तभी स्वीकार माना जाएगा जब भूमि स्वामी और बटाईदार के मध्य उपरोक्त अधिनियम के अंतर्गत अनुबंध निष्पादित हुआ हो और विधिवत अनुबंध के अभाव में उपरोक्त हित लाभ दिया जाना संभव नही होगा। अतः हितवद्व व्यक्ति उपरोक्त अधिनियम के तहत कार्यवाही करना सुनिश्चित करेंगे। 

मास्क पहनने की बहुउपयोगिता से अवगत 

vidisha news
कोरोना वायरस कोविड 19 के संक्रमण को फैलने से रोकने के उपायों से आमजनों को अवगत कराने हेतु जिले में महिला एवं बाल विकास विभाग के माध्यम से शहरी व ग्रामीण क्षेत्रों में प्रचार प्रसार किया जा रहा है जिसमें मास्क पहनने की बहुउपयोगिता को सार्थक करते हुए मास्क अवश्य पहनें। सोशल डिस्टेन्सिग का पालन करें तथा समय अंतराल में हाथो को साबुन से धोएं या सेनेटाइजर का उपयोग करें। महिला एवं बाल विकास विभाग के जिला कार्यक्रम अधिकारी श्री बृजेश शिवहरे ने आज रामद्वारा क्षेत्र में अपने विभागीय अधिकारी व अमले के साथ भ्रमण कर दुकानदारो व अधिवक्ताओं के साथ-साथ आमजनों को मास्क पहनने से होने वाले फायदों को गिनाया। साथ ही मास्क का उपयोग करने का आव्हान किया है। 

गुरूवार को 23 सेम्पल पॉजिटिव प्राप्त हुए

मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ केएस अहिरवार ने बताया कि गुरूवार को कोरोना वायरस कोविड 19 के 23 सेम्पल पॉजिटिव प्राप्त हुए है। विकासखण्डवार प्राप्त सेम्पलों की संख्या इस प्रकार से है। बासौदा में नौ, विदिशा एवं सिरोंज में क्रमशः छह-छह, कुरवाई, ग्यारसपुर में क्रमशः एक-एक पॉजिटिव सेम्पल प्राप्त हुआ है। 

कोई टिप्पणी नहीं: