मधुबनी : बिहार के युवाओं को जुमला नहीं नौकरी चाहिए : समीर महासेठ - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 30 अक्तूबर 2020

मधुबनी : बिहार के युवाओं को जुमला नहीं नौकरी चाहिए : समीर महासेठ

youth-need-jobs-samir-mahaseth
मधुबनी 29 अक्टूबर, राजग सरकार के मंत्री कहते है कि करोड़ो लोगो को रोजगार देंगे तो अभी तक दिया क्यों नही? कहते हैं कि विकास की गंगा बहा देंगे लेकिन अब तक गंगा की सफाई के नाम पर करोड़ो खर्च कर दिए ना ही गंगा को स्वच्छ कर सके और ना ही विकास की गंगा बहा सके. हाँ  विकास को इन्होंने उसी गंगा में जरूर बहा दिया। राजद के प्रवक्ता और महागठबंधन से मधुबनी के उम्मीदवार समीर कुमार महासेठ ने केंद्रीय मंत्री नित्यानंद राय के रहिका में दिए बयान पर तीखा हमला बोला है। उन्होंने कहा कि रोजगार के नाम पर केंद्र की भाजपा सरकार ने लोगों को पकौड़े के दुकान दिए और लॉक डाउन कर उसी दुकान को बंद कर भूखों मरने को छोड़ दिया। बिहार की डबल इंजन नीतीश सरकार रोजगार के मामले में डिरेल हो गई. आखिर ये बेपटरी हो चुके डबल इंजन के झूठ से कब तक बिहार के आवाम को ठगते रहेंगे। मंत्री जी कहते हैं हम करोड़ो लोगों को रोजगार देंगे वहीँ मुख्यमंत्री कहते हैं कि बिहार समुद्र के किनारे होता तभी विकास संभव था, पटरी से उतर चुकी झूठों की सरकार को अपने प्रवासी मजदूरों से पूछना चाहिए था की बिना समुद्र के पंजाब और हरियाणा ने कैसे विकास किया जहाँ वो पलायन कर नौकरी के लिए जाते हैं, लेकिन झूठीआश्वासन वाले सरकार को इन सब से कोई मतलब नही है।

समीर महासेठ ने कहा कि झूठे सुशासन और झूठी विकास की सरकार ने ना ही उद्योग लगाए, ना ही निवेश कराया तो झूठ की बुनियाद पर बिहार के युवाओं को कैसे नौकरी देगी ये क्यों नहीं बताते नीतीश कुमार। उन्होंने जदयू पर सीधा हमला करते हुए कहा कि 2015 के चुनाव में महागठबंधन को बड़े बहुमत से लोगों ने चुना था, बिहार विकास के लिए राजद कृत संकल्पित था. हमने अपने विकास के एजेंडे पर काम करना शुरू भी कर दिया था कि पलटू मुख्यमंत्री बिहार के लोगों को धोखा देते हुए पलट गए, हमारे कई योजनाओं पर कार्य शुरू हो चूका था लेकिन नीतीश कुमार ने उन सभी योजनाओं को रोक दिया जिस कारण कई कार्य आधे अधूरे रुक गए. उन्होंने कहा कि महागठबंधन की सरकार बनने पर सभी विकास कार्यों को पूरा किया जाएगा, सभी सरकारी विभाग में खाली पड़े रिक्तियों को भरा जाएगा। विकास और रोजगार के लिए संकल्पित महागठबंधन जुमलों से नहीं कार्यों से लोगों को परिणाम देगी।

कोई टिप्पणी नहीं: