बिहार : लोजपा की उम्मीदवार रेणुका देवी के पोस्टर पर नरेंद्र मोदी और चिराग - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 15 अक्तूबर 2020

बिहार : लोजपा की उम्मीदवार रेणुका देवी के पोस्टर पर नरेंद्र मोदी और चिराग

बाराचट्टी विधानसभा से लोजपा की उम्मीदवार रेणुका देवी का पोस्टर सामने आया है।जिसें चिराग पासवान के साथ ही साथ नरेंद्र मोदी की तस्वीर का भी इस्तेमाल किया गया है.....

ljp-poster-with-modi-chirag
बाराचट्टी,15 अक्टूबर। बिहार भाजपा की ओर से सुशील कुमार मोदी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में स्पष्ट रूप से चिराग पासवान को चेतावनी दी कि 4 पार्टियों को छोड़ कोई प्रधानमंत्री के फोटो का इस्तेमाल करता है तो वह शिकायत लेकर चुनाव आयोग भी जा सकते हैं। लेकिन सुशील कुमार मोदी के इस बयान का बहुत असर पड़ने की उम्मीद नहीं है। सच यह है कि बिना पीएम प्रोटोकॉल के फोटो का इस्तेमाल रोक पाना संभव नहीं, क्योंकि लोजपा केन्द्र में गठबंधन में शामिल पार्टी है। लोजपा के द्वारा बाराचट्टी विधानसभा से उम्मीदवार रेणुका देवी का पोस्टर में चिराग ने प्रधानमंत्री की तस्वीर लगाकर एनडीए को सीधी चुनौती दे दी। LJP कैंडिडेट के पोस्टर में PM मोदी की तस्वीर देख एनडीए भड़क गया है। बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष संजय जायसवाल ने चेतावनी देते हुए कहा कि बिहार में एनडीए में सिर्फ चार पार्टियां ही है और पीएम की तस्वीर का इस्तेमाल सिर्फ यहीं पार्टियां कर सकती है।जो भी दूसरी पार्टी पीएम की तस्वीर का इस्तेमाल कर रहे हैं उनके खिलाफ चुनाव आयोग कार्यवाई करेगा।  बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि हमारे स्टार प्रचारक प्रधानमंत्री है और सीएम उम्मीदवार नीतीश कुमार हैं। इस दौरान संजय जायसवाल ने नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव पर भी जमकर हमला बोला।उन्होंने कहा कि तेजस्वी यादव 20 हजार वोट से इस बार विधानसभा चुनाव हारेंगे। वहीं HAM प्रवक्ता दानिश रिजवान ने लोजपा नेताओं पर पीएम नरेंद्र मोदी की तस्वीर का गलत इस्तेमाल करने का आरोप लगाया है। इसके खिलाफ दानिश रिजवान आज चुनाव आयोग जाएंगे।इसे लेकर दानिश रिजवान ने कहा कि मना करने के बाद भी लोजपा पीएम मोदी की तस्वीर का इस्तेमाल कर रही है।जोकि पूरी तरह से गलत है। इसलिए इसकी शिकायत हम चुनाव आयोग में करेंगे।

इस दौरान दानिश रिजवान ने लोजपा के चिराग पासवान पर हमला बोलते हुए कहा कि जिसने बिहार के लिए कुछ नहीं किया वहीं दुसरे गठबंधन के नेताओं के सहारे लड़ता है।बता दें कि बाराचट्टी विधानसभा से लोजपा की उम्मीदवार रेणुका देवी का पोस्टर सामने आया है। जिसें चिराग पासवान के साथ ही साथ नरेंद्र मोदी की तस्वीर का भी इस्तेमाल किया गया है। प्रधानमंत्री के फोटो का इस्तेमाल करके वोट लेंगे और नीतीश कुमार की आलोचना करेंगे, यह लोजपा की रणनीति है। लोजपा बिहार में अपने 143 उम्मीदवार उतार रही है।उसे भाजपा और जदयू के बीच सीटों को लेकर हुए तालमेल या बंटवारे से कोई लेना देना नहीं है, लेकिन लोजपा ने यह कहकर जदयू को मुश्किल में डाल दिया है कि चुनाव के बाद उसके विधायक भाजपा को समर्थन देंगे। लोजपा ज्यादातर उम्मीदवार वैसी जगहों पर ही उतारेगी जहां जदयू के उम्मीदवार होंगे। अब लोजपा ने यह भी कहा कि नरेन्द्र मोदी देश के प्रधानमंत्री हैं और उनके विजन से हम बहुत प्रभावित हैं।इसलिए चुनाव में उनके फोटो का इस्तेमाल करेंगे। इस मामले ने बिहार की सियासत को गर्म कर दिया। संजय कुमार जायसवाल ने प्रेस से कहा कि नीतीश कुमार बिहार में एनडीए के नेता हैं और जो उन्हें नहीं मानता है वह एनडीए में नहीं है। उनका इशारा लोजपा और चिराग पासवान की तरफ था ।आनन-फानन में सुशील कुमार मोदी का बयान भी आया। उन्होंने लोजपा का नाम लिए बिना चेतावनी दी कि चार दलों के अलावा कोई भी दल नरेन्द्र मोदी के फोटो का इस्तेमाल चुनाव में करेगा तो वे चुनाव आयोग भी जा सकते हैं।लेकिन सवाल है कि सुशील मोदी के यह कहने से क्या होगा? बिहार चुनाव आयोग के एक अफसर ने कहा कि यह मामला चुनाव आयोग के सामने आएगा तो आयोग के वरिष्ठ अफसर इस पर फैसला लेंगे।अभी से कुछ भी नहीं कहा जा सकता है। भाजपा अगर यह कहेगी कि नरेन्द्र मोदी के फोटो का इस्तेमाल लोजपा नहीं कर सकती है तो उसका कारण भी तो बताना ही होगा। पटना हाईकोर्ट के सर्वदेव सिंह कहते हैं कि लोजपा और भाजपा का गठबंधन टूटा कहां है? लोजपा गठबंधन में शामिल है केन्द्र में, इसलिए गठबंधन के मुखिया नरेन्द्र मोदी के फोटो का इस्तेमाल कर सकती है और उनके द्वारा किए गए कार्यों को भी गिना सकती है। वे कहते हैं कि भाजपा को कोई दिक्कत है तो वह गठबंधन तोड़ सकती है। परमिशन तो तब जरूरी होती जब नरेन्द्र मोदी गठबंधन से बाहर के नेता होते। खुश करने के लिए कोई कुछ बयान दे सकता है। सीनियर वकील मणिभूषण सेंगर कहते हैं कि भाजपा और लोजपा का गठबंधन टूटा नहीं है। इसलिए प्रधानमंत्री के फोटो का इस्तेमाल रोक नहीं सकते। वे एक बात और कहते हैं, वह यह कि प्रधानमंत्री प्रोटोकॉल के तहत फोटो का इस्तेमाल करने पर रोक लग सकती है। अगर ऐसा हुआ तो चिराग पासवान, प्रधानमंत्री के फोटो का इस्तेमाल चुनाव में नहीं कर पाएंगे।

कोई टिप्पणी नहीं: