मधुबनी : रोजी रोटी नीतीश सरकार के लिए ये कोई मुद्दा नहीं : समीर महासेठ - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 28 अक्तूबर 2020

मधुबनी : रोजी रोटी नीतीश सरकार के लिए ये कोई मुद्दा नहीं : समीर महासेठ

जल संसाधन मंत्री ने सरकार की हकीकत बयां करने वाला बयान देकर नीतीश सरकार की कोरोना काल में की गई लापरवाही की खोली पोल ,

employeement-no-isue-for-nitish

मधुबनी, 28 अक्टूबर,
बिहार के जल संसाधन मंत्री संजय झा ने कोरोना आपदा से त्राहिमाम हुए अप्रवासी बिहारी, गरीब, मजदूर के रोजी रोटी शिक्षा स्वास्थ्य की समस्याओं का मखौल उड़ाते हुए कहा है कि "कोरोना कभी बिहार के लिए मुद्दा नहीं रहा", यह बेहद शर्मनाक और बिहार के गरीब आवाम का मज़ाक उड़ाना है. कोरोना आपदा में बिना पूर्व तैयारी के भाजपा सरकार ने पुरे देश को लॉक डाउन कर दिया और बंद हो गया गरीब, मजदूर, दिहाड़ी मजदूर  के साथ मध्यमवर्ग के जीवनयापन माध्यम. रोजगार की ऎसी बंदी कि बिहार से हज़ारो मिल दूर रहने वाले अप्रवासी घर वापिस आने को बाध्य होने लगे तब न तो उनके पास पैसे थे ना ही वाहन। ट्रेन बस सभी बंद तो अप्रवासी पैदल ही अपने गाँव की और निकल पड़े. ऎसी आपदा में पूर्व उप मुख्यमंत्री तेजस्वी आगे आये थे और बिहार सरकार से आग्रह किया था कि सरकार अनुमति दे तो राजद बसों की व्यवस्था करेगी और बिहार के सभी लोगों को वापिस लाएगी लेकिन मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने तेजस्वी के आग्रह को अनसुना कर बिहारियों को सड़क पर भूख प्यास से तिल तिल मरने को छोड़ दिया गया. लोग पैदल घर भी आये तो उनके लिए रहने खाने दवाई स्वास्थ्य की व्यवस्था के नाम पर "लूट का क्वारेंटाइन सेंटर" किया गया. विश्व स्वास्थ्य संगठन कि कोरोना का आपदा वापिस आ सकता है के बावजूद मंत्री संजय झा के कोरोना को लेकर दिए बयान सूबे और जिले की आवाम के साथ खिलवाड़ है. सरकार अपनी असफलता को छुपाने के लिए इस तरह के बयानबाजी से पुरे बिहार के जनता के जान को खतरे में डाल रही है. राजद प्रवक्ता और मधुबनी से महागठबंधन प्रत्याशी ने कहा कि राजद की सरकार बनने पर कोरोना आपदा के नाम पर हुए अनियमितता की जांच कराई जायेगी, दोषियों पर सख्त करवाई होगी।

कोई टिप्पणी नहीं: