बच्चों को भी पहनने होंगें हेलमेट - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 28 अक्तूबर 2020

बच्चों को भी पहनने होंगें हेलमेट

helmet-for-chidren-bangluru
बैंगलोर ( विजय सिंह ) ,आर्यावर्त, 28 अक्टूबर अब कर्णाटक में चार वर्ष से अधिक उम्र के बच्चों को भी दुपहिया वाहन की सवारी के दरम्यान हेलमेट पहनना जरूरी होगा। इस आशय का एक निर्णय आज कर्णाटक राज्य सड़क परिवहन विभाग द्वारा आज लिया गया। इस फैसले में कहा गया है कि दुपहिया वाहन के सभी सवारियों (चार वर्ष से अधिक उम्र के बच्चों सहित) के लिए अब हेलमेट पहनना अनिवार्य होगा। परिवहन विभाग के अनुसार राज्य में बढ़ते सड़क दुर्घटना के मद्देनज़र यह निर्णय लिया गया है। इस नियम का उल्लंघन करने वालों का चालान काटने सहित तीन महीने के लिए ड्राइविंग लाइसेंस स्थगित कर दिया जाएगा। कर्णाटक में विगत पांच वर्षों में 2.2 लाख लोग सड़क दुर्घटना के  शिकार हुए जिनमें से 54000 से ज्यादा लोगों की मृत्यु हो गयी। सड़क परिवहन और उच्च मार्ग मंत्रालय के आंकड़ें भी यही दर्शाते हैं। हालाँकि विभाग द्वारा लगातार सुधार कार्यक्रमों से दुर्घटनाओं में कमी आई है पर अभी भी इस दिशा में काफी सुधार की आवश्यकता है। आंकड़ों के मुताबिक वर्ष 2018 में कर्णाटक में 41707 सड़क दुर्घटनाएँ हुईं,जिनमें 10990 लोग मारे गए  जबकि वर्ष 2017 में 42542 लोग सड़क दुर्घटना के शिकार हुए और मौतों की संख्या 10609 रही। वहीँ वर्ष 2016 में 44403 सड़क दुर्घटना में मृतकों की संख्या 11133 रही। वर्ष 2015 में 44011 दुर्घटनाओं में 10856 लोगों की मौतें हुईं जबकि वर्ष 2014 में 43713 सड़क दुर्घटनाओं में 10452 लोग असमय काल के गाल में समां गए।

कोई टिप्पणी नहीं: