बिहार : आठ वर्ष की पोती के साथ दुष्कर्म कर रिश्ते को शर्मशार कर दिया - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 28 अक्तूबर 2020

बिहार : आठ वर्ष की पोती के साथ दुष्कर्म कर रिश्ते को शर्मशार कर दिया

minor-rape-bihar
नरकटियागंज। सहोदरा थाना क्षेत्र के एक गांव में चचेरे दादा ने आठ वर्ष की पोती के साथ दुष्कर्म कर रिश्ते को शर्मशार कर दिया है। घटना रविवार की शाम की है। आम के बगीचे में ले जाकर बच्ची के साथ दुष्कर्म करने के बाद आरोपित दादा घर से फरार हो गया है। पीडि़ता की मां ने बताया कि उसकी आठ वर्षीय बच्ची के साथ उसके 65 वर्षीय चचेरे ससुर ने आम के बगीचे में ले जाकर दुष्कर्म किया है। घटना के बाद से वे घर छोड़ कर फरार है। हालांकि मुखिया के प्रयास पर सहोदरा पुलिस पीडि़ता के घर पहुंच कर मामले की जांच कर रही है। सहोदरा थाना क्षेत्र में एक आठ वर्षीय बच्ची के साथ उसके 65 वर्षीय बड़े दादा ने दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया है। घटना के बाद आरोपी बड़ा दादा घर छोड़ कर फरार है। पुलिस आरोपी की तलाश कर रही है। घटना को लेकर पीड़िता की मां ने सहोदरा थाना में एक आवेदन देकर एफआईआर दर्ज कर न्याय दिलाने की गुहार लगाई है। पुलिस मामले की छानबीन कर रही है। थानाध्यक्ष अशोक साह ने बताया कि घटना रविवार रात की है। अभी तक पीड़िता या उसके परिजनों द्वारा आवेदन नहीं मिला है। आवेदन मिलते ही कार्रवाई की जाएगी। पीड़िता को मेडिकल जांच के लिए भेज दिया गया है। घटना का खुलासा तब हुआ, जब पीड़िता की मां ने उसके अंग से खून निकलते देखा तो पीड़िता मां को पूरी घटना की जानकारी दी। पीड़िता के दादा ने बताया कि आरोपी उसका बड़ा भाई है। उसके बड़े बेटे की शादी हुई तो उसकी पत्नी को हवस का शिकार बनाया अपने साथ रखने लगा। ग्रामीणों के विरोध पर वह महिला कही चली गई। काफी दिनों तक नहीं आई तो उस लड़के की दूसरी शादी की। उसके साथ भी वहीं किया। जिसके बाद दूसरी पतोहू भी मायके चली गई। यहां तक कि आरोपी ने गांव की कई महिलाओं व लड़कियों को भी हवस का शिकार बना चुका है। उसके बड़े ससुर के ट्रैक्टर से उसकी तीन वर्षीय बच्ची का पैर टूट गया था। जिसको इलाज कराने के लिए आरोपी ने घायल बच्ची व पीड़ता को लेकर नरकटियागंज गया था। वापस घर जाते समय दूसरे किसी की बाइक से पैर टूटी बच्ची को घर भेज दिया। पीड़ता को रोक कर रात होने का इंतजार करने लगा। आम के बगीचे में बच्ची के साथ दुष्कर्म किया है। पीड़िता की मां ने बताया कि आरोपी की गलत निगाह काफी दिनों से उस पर और उसकी बड़ी बेटी पर थी। इसी वजह से जब तीन वर्षीय बच्ची का पैर टूटा तो वह खुद आरोपी के साथ नहीं गई और बच्ची के साथ अपनी आठ वर्षीय बेटी को भेज दिया। लेकिन जिसका भय था वहीं हुआ। आरोपी ने बेटी को अपने हवस का शिकार बना लिया। धमौरा पंचायत के मुखिया रामबिहारी महतो की पहल पर पीड़ता के घर पर सोमवार को दस बजे पहुंची पुलिस ने घटना की छानबीन की। मामले को गंभीरता से लेते हुए पीड़िता के साथ उसकी मां व उसके दादा दादी को मेडिकल जांच के लिए बेतिया भेज दिया है। साथ ही पुलिस ने पीड़ता के रात में पहने कपड़ेे को अपने कब्जे में लेकर मामले की तहकीकात कर रही है।

कोई टिप्पणी नहीं: