एनडीए बिहार में जमीन खो चुकी है : दीपंकर भट्टाचार्य - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 17 अक्तूबर 2020

एनडीए बिहार में जमीन खो चुकी है : दीपंकर भट्टाचार्य

मो. सलीम भी होंगे पार्टी के स्टार प्रचारक.

nda-lost-trust-dipankar-bhattacharya
पटना 17 अक्टूबर, भाकपा-माले महासचिव काॅ. दीपंकर भट्टाचार्य ने कहा है कि एनडीए के नेताओं के बयानों से ऐसा साफ दिख रहा है कि उन्होंने बिहार विधानसभा चुनाव में जमीन पूरी तरह खो दी है. नीतीश कुमार कहते हैं कि बिहार में उद्योगों का विकास इसलिए नहीं हो सका क्योंकि यहां समुद्र तट नहीं है. वहीं, भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा केवल और केवल माले व वामपंथियों पर अनाप-शनाप हमला करने के अभियान में लगे हुए हैं. जिन क्षेत्रों में माले अथवा वामपंथ के उम्मीदवार नहीं है, वहां भी वे इस प्रकार का लगातार बयान दे रहे हैं.  इससे जाहिर होता है कि चुनाव के शुरूआती दौर में ही एनडीए खेमे हताशा में है और भाजपा-जदयू के नेता जनता के असली सवालों से भाग रहे हैं. यह चुनाव विश्वासघाती नीतीश सरकार को सबक सिखाने का चुनाव है. विगत 15 वर्षों में इस सरकार ने जनता से केवल विश्वासघात किया है. भाजपा आज बिहार को यूपी बनाना चाहती है. बिहार चुनाव से उनके सांप्रदायिक-नफरत भरे अभियान को करारा जवाब मिलेगा.स्टार प्रचारकों की लिस्ट में मो. सलीम भी - इंसाफ मंच के राष्ट्रीय संयोजक और उत्तरप्रदेश के चर्चित जन नेता मो. सलीम भी पार्टी के स्टार प्रचारक होंगे. फिलहाल वे भोजपुर में माले व महागठबंधन के उम्मीदवारों के पक्ष में चुनाव प्रचार में लगे हुए हैं. सिवान, बलरामपुर, औराई आदि सीटों के चुनाव प्रचार में उनकी मुख्य भागीदारी होगी. दिल्ली भाकपा-माले राज्य कमिटी के सचिव रवि राय अगिआंव विधानसभा से महागठबंधन समर्थित माले प्रत्याशी मनोज मंजिल के चुनावी अभियान को संभाल रहे हैं. आरवाईए के पूर्व महासचिव ओम प्रसाद और वर्तमान महासचिव नीरज कुमार भी मनोज मंजिल के लिए डोर टू डोर कंपेन कर रहे हैं. पालीगंज में आइसा के राष्ट्रीय अध्यक्ष व जेएनयूएसयू के पूर्व महासचिव एनसाईं बालाजी, पूर्व जेएनयूएसयू अध्यक्ष गीता कुमारी आदि छात्र नेताओं के नेतृत्व में छात्र-युवाओं की एक पूरी टीम उतरी हुई है. झारखंड से भी कई माले कार्यकर्ता चुनाव प्रचार में पटना पहुंच चुके हैं.

कोई टिप्पणी नहीं: