बिहार : और सरकार और गैर सरकारी संस्थाओं को आयना दिखाने लगे - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 17 अक्तूबर 2020

बिहार : और सरकार और गैर सरकारी संस्थाओं को आयना दिखाने लगे

सोशल मीडिया फेसबुक पर रायशुमारी में द्वितीय स्थान पर रहने वाले सुभम कुमार सन्नी ने दीघा विधानसभा के सुधि वोटरों के निर्णायक सुझाव को शिरोधार्य कर चुनाव लड़ने का फैसला लिया.द्वितीय चरण के प्रत्याशी के रूम नामांकन कर लिया है.आज अंतिम दिन है....

bihar-election
पटना. उनका 6 मार्च 1994 को जन्म हुआ हैं.उनका नाम है सुभम कुमार सन्नी.सिविल इंजीनियर है. एलएनटी में काम किये.इंजीनियर बाबू को समाज सेवा करने का जुनून सवार हो गया है. उन्होंने   BeingHelper संस्था निर्माण किये.संस्था के संस्थापक की हैसियत से ऐसा कारनामा कर रहे हैं जो सरकार और गैर सरकारी संस्थाओं को आयना दिखाने लगे हैं. संस्था के संस्थापक के द्वारा नि:स्वार्थ सेवा हो रहा है. हरेक दिन स्कूटी से निकल मलीन बस्तियों में जाकर बच्चों को शिक्षित करते हैं.इस दरम्यान बच्चों की जिंदगी बेहतर से बेहतर हो संस्कार भरने का प्रयास करते. दिन के उंजियाले में शिक्षा का पाठ पढ़ाने के बाद रात्रिपहर में भोजन की व्यवस्था करते हैं.उनके और भी साथी हैं जो संस्थापक के कार्यों में हाथ बंटाते हैं.सभी का मकसद है कोई व्यक्ति भूखे सोए नहीं.हरेक दिन राह में पड़े बुजुर्ग और मंदबुद्धि लोगों  या दिव्यांग व्यक्तियों काे तुरंत सहायता करना.लक्षित समूह के स्लम बस्ती में रहने वाले बच्चे एवं बुजुर्गों के बीच में शाम में भोजन उपलब्ध करवाना.

बता दें कि BeingHelper में हेल्प रोटरी क्लब ऑफ पाटलिपुत्र के द्वारा भी किया जाता है.इनके माध्यम से सहयोग से धन्य होकर भोजन का वितरण किया जाता .रोजाना तकरीबन 150 बच्चों के बीच में भोजन वितरित किया जाता है.इस कोरोना काल की महामारी समय में मलील बस्ती में रहने वाले बहुत सारे मजदूरों का कामकाज भी अब बंद हो चुका था.वहीं  सरकारी स्कूलों के माध्यम से इन स्कूली बच्चों को एक समय का भोजन कराया जाता था जो वह भी बंद हो चुका था. संस्थापक ने कहा कि फिर भी टीम BeingHelper लगातार इन बच्चों तक एक समय का भोजन का प्रबंध रोटरी क्लब के द्वारा करायी जा रही है इसके लिए रोटरी क्लब ऑफ पाटलिपुत्र के तमाम सदस्यों का तहे दिल से धन्यवाद दिया जाता हूं . उनका भी बच्चों को शिक्षित करना, संस्कार सीखाना, रात्रि में भोजन का वितरण करना.हर एक दिन बुजुर्ग और मंदबुद्धि या दिव्यांग व्यक्तियों का तुरंत सहायता करना है. लावारिस पड़े लोग रोड पर जो रहते हैं उनकी सहायता करना,बाढ़ हो या जलजमाव या चमकी बुखार जैसी बीमारियां उस अवस्था में जाकर राहत सामग्री का वितरण करना और विधायको,सांसदों ,वार्ड पार्षदों को मोटिवेट करना और भी बहुत सारी चीजें हमारे संस्था से जुड़ी कार्य है. उन्होंने कहा कि हमलोग तकरीबन 7 साल से लोकल संपर्क में रहते हैं. अगर किन्ही के घरों में जन्मदिन होता है तो हमलोग संपर्क करते हैं.इसी तरह शादी, सालगिरह, पूण्यतिथि,ऑफिस का उद्घाटन, कुछ सुख- दुख के समय में जाकर लोगों से मिलकर आग्रह करते हैं कि आप मलील बच्चों और राह में पड़े लोगों के सहायतार्थ 100 लोगों का भोजन की व्यवस्था करवा दें और उनके साथ जश्न मनाएं.वितरण कार्य कुर्जी मोड़ से होते हुए गांधी मैदान, स्टेशन रोड से डाक बंगला चौराहा,बैली रोड से सगुना मोड़ और दानापुर से दीघा तक भ्रमण किया जाता है. 8 अक्टूबर से रेग्गुलर घर पर बना खाना बांट रहे हैं.हरेक दिन दो स्कूटी पर चार टीम के सदस्य निकलते हैं और चारों तरफ घूम घूम कर ढूंढ ढूंढ कर इंसान को खाना पहुंचाने का काम करते हैं.हमारी तरफ से नि:शुल्क सेवा दी जाती है.खाना घर पर ही बनता है जिसमें मसाला भी कम होता है और तेल भी.    

समाज सेवा करने के बाद राजनीति में जाकर और अधिक बेहतर ढंग से मानव सेवा कर सके तो सोशल मीडिया फेसबुक पर रायशुमारी में द्वितीय स्थान पर रहे.राजद के प्रत्याशी बनने की अभिलाषा रखने दीघा के पप्पू राय जी को राजद से टिकट नहीं मिलने पर नाराज होकर अपनी पत्नी सुनीता देवी को  निर्दलीय चुनाव लड़ाने का फैसला किया और बोला कि लड़ेंगे भी जीतेंगे भी, क्योंकि लोगों का पूर्ण समर्थन मेरे साथ है. सुनीता देवी को प्रथम स्थान मिला.तीसरे स्थान सिटिंग एमएलए संजीव चौरसिया,चौथे स्थान पर जदयू प्रवक्ता राजीव रंजन और पूर्व की विधायिका पूनम देवी थीं. सोशल मीडिया फेसबुक पर रायशुमारी में द्वितीय स्थान पर रहने वाले सुभम कुमार सन्नी ने दीघा विधानसभा के सुधि वोटरों के निर्णायक सुझाव को शिरोधार्य कर चुनाव लड़ने का फैसला लिया.द्वितीय चरण के प्रत्याशी के रूम नामांकन कर लिया है.आज अंतिम दिन है. निर्दलीय प्रत्याशी सुभम कुमार सन्नी कहते हैं कि ना बड़ी गाड़ियां है, ना ही मेरे पास भीड़ है.है तो बस हाथ में एक हेलमेट और स्कूटी. इसी को लेकर निकल पड़ते हैं.इन संसाधनों के बल पर जन संपर्क कर रहे हैं.वोट देने का अधिकार प्राप्त हुआ है मगर घटना होने के कारण इधर-उधर भटकते रहते हैं.आखिरकार हम भी एक इंसान है. मगर सरकार के द्वारा किसी भी तरह की सहायता नहीं की जाती है. झुग्गी झोपड़ी वाली जनता. Positive Politics  क्या होता है यह हम युवा जरूर दिखाएंगे.  बिहार विधानसभा के द्वितीय चरण में 94 सीट पर 03 नवंबर को होने वाले चुनाव के लिए आज अधिसूचना जारी कर दी गई. बिहार में विधानसभा की 243 में से 94 सीट के लिए अधिसूचना के अनुसार उम्मीदवार 16 अक्टूबर तक नामांकन पत्र दाखिल किये.नामांकन पत्रों की जांच 17 अक्टूबर को होगी और 19 अक्टूबर तक उम्मीदवार अपना नाम वापस ले सकेंगे.

दूसरे चरण में जिन 94 सीटों पर मतदान होना है उनमें नौतन, चनपटिया, बेतिया, हरसिद्धि (सुरक्षित), गोविंदगंज, केसरिया, कल्याणपुर, पिपरा, मधुबन, शिवहर, सीतामढ़ी, रुनीसैदपुर, बेलसंड, मधुबनी, राजनगर (सु), झंझारपुर, फुलपरास, कुशेश्वरस्थान (सु), गौराबौराम, बेनीपुर, अलीनगर, दरभंगा ग्रामीण, मीनापुर, कांटी, बरूराज, पारु, साहिबगंज, बैकुंठपुर, बरौली, गोपालगंज, कुचायकोट, भोरे(सु), हथुआ, सीवान, जीरादेई, दरौली (सु), रघुनाथपुर, दरौंदा, बड़हरिया, गोरियाकोठी, महाराजगंज, एकमा, मांझी, बनियापुर, तरैया, मड़हौरा, छपरा, गरखा (सु), अमनौर परसा, सोनपुर, हाजीपुर, लालगंज, वैशाली, राजापाकर (सु), राघोपुर, महनार, उजियारपुर, मोहिउद्दीन नगर, विभूतिपुर, रोसड़ा (सु), हसनपुर, चेरिया बरियारपुर, बछवाड़ा, तेघरा, मटिहानी, साहेबपुर कमाल, बेगूसराय, बखरी (सु), अलौली (सु), खगड़िया, बेलदौर, परबत्ता, बिहपुर, गोपालपुर, पीरपैंती (सु), भागलपुर, नाथनगर, अस्थावां, बिहारशरीफ, राजगीर (सु), इस्लामपुर, हिलसा, नालंदा, हरनौत, बख्तियारपुर, दीघा, बांकीपुर, कुम्हरार, पटना साहिब, फतुहा, दानापुर, मनेर और फुलवारी शरीफ (सु) शामिल हैं. गौरतलब है कि बिहार विधानसभा की 243 सीटों के लिए तीन चरण में 28 अक्टूबर, 03 नवंबर और 07 नवंबर को मतदान कराया जाना है.दस नवंबर को मतगणना होगी और चुनाव की प्रक्रिया 12 नवंबर तक पूरी हो जायेगी. बिहार विधानसभा का वर्तमान कार्यकाल 29 नवंबर 2020 को समाप्त हो रहा है. सुभम कुमार सन्नी माथे पर तिलक हाथ में हेलमेट और नामांकन भरने वाला फाइल , मेरे पास पैसे नहीं है जो मैं एक झुंड लेकर जाता और आप सभी को  भीड़ दिखा पाता.बस एक युवा सोच है दीघा विधानसभा क्षेत्र में बदलाव लाने का और जब तक बदलाव नहीं लाऊंगा तब तक रुकने वाला नहीं .आप सब का आशीर्वाद और सहयोग की आवश्यकता है .

कोई टिप्पणी नहीं: