महागठबंधन के नेताओं ने प्रत्याशी की गिरफ्तारी को गलत बताया और विरोध किया - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 15 अक्तूबर 2020

महागठबंधन के नेताओं ने प्रत्याशी की गिरफ्तारी को गलत बताया और विरोध किया

protest-for-mahagathbandhan-candidate-arrest
औराई. बिहार विधानसभा चुनाव के लिए औराई विधानसभा सीट से नामांकन करने वाले महागठबंधन प्रत्याशी आफताब आलम को ​पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. औराई के भाकपा माले प्रत्याशी पर सरकारी कार्य में बाधा पहुंचाने का एक पुराना मामला कटरा थाने में दर्ज है. वहीं प्रत्याशी का आरोप है कि उनके खिलाफ साजिश की जा रही है.  माले केन्द्रीय कमेटी सदस्य मीना तिवारी व जिला सचिव कृष्णमोहन सहित अन्य वाम व महागठबंधन के नेताओं ने कहा कि मुजफ्फरपुर जिले की औराई विधानसभा से महागठबंधन के भाकपा माले प्रत्याशी आफताब आलम को आज कलेक्ट्रेट में नामांकन करने के बाद गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया.कहा गया कि माले प्रत्याशी आफताब आलम दो महीने पूर्व जनता के सवाल पर दर्जनों लोगों के साथ धरना दिये थे.उनको आरोपी बनाकर केस दर्ज कर लिया गया.यह एक अत्यंत ही सामान्य मुकदमे है जिसमें कामरेड को गिरफ्तार कर लिया गया.उन नेताओं की मांग है कि कॉ. आफताब आलम (औराई विधानसभा, भाकपा-माले के उम्मीदवार) को तुरंत उन्हें जेल भेजने के बदले पुलिस-प्रशासन तुरंत रिहा करे.जनता के लोकप्रिय नेता व महागठबंधन के उम्मीदवार की गिरफ्तारी से जनता में भारी आक्रोश है. चुनाव में उनकी बेवजह गिरफ्तारी भी बड़ा मुद्दा बनेगा.एनडीए को हराने और महागठबंधन को जिताने का जोश अपने प्रिय नेता व उम्मीदवार की  गिरफ्तारी के बाद और बढ़ गया है.बिहार के वोटरों से आग्रह किया गया है कि  जदयू -भाजपा सरकार के मुखिया नीतीश के राज में जारी दमन के खिलाफ भाकपा माले महागठबंधन को विजायी बनाएं. कटरा थाने में दर्ज है केस पुलिस ने बताया कि आफताब आलम पर 20 अगस्त 2020 को कटरा थाने में सरकारी कार्य में बाधा डालने को लेकर मुकदमा दर्ज हुआ था.महागठबंधन के भाकपा माले प्रत्याशी आफताब आलम आज कलेक्ट्रेट में नामांकन करने के लिए पहुंचे थे. नामांकन करने के बाद जैसे ही आफताब बाहर आए, तो पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया. हालांकि इस दौरान भाकपा माले के कार्यकर्ताओं में आक्रोश दिखाई दिया, लेकिन पुलिस ने किसी की भी नहीं सुनी और आफताब को कोर्ट में पेशी के लिए लेकर चली गई.  आफताब ने बताया कि एक हत्या के मामले में वे शांतिप्रिय तरीके से प्रदर्शन कर रहे थे. जिसके लिए पुलिस ने उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज कर ली थी. उसी मामले में आज आफताब आलम की गिरफ्तारी हुई है. हालांकि आफताब का कहना है कि उनके खिलाफ ये राजनीतिक साजिश है. बता दें कि आरजेडी ने अपने मौजूदा विधायक का टिकट काटकर ये सीट भाकपा माले प्रत्याशी आफताब आलम को दी है.

कोई टिप्पणी नहीं: